facebook-pixel

फूड ब्रांड्स के लोगो लाल और पीले रंग के क्यों होते हैं?

Share Us

243
फूड ब्रांड्स के लोगो लाल और पीले रंग के क्यों होते हैं?
29 Aug 2022
6 min read

Post Highlight

मैकडॉनल्ड्स McDonald's अपने रेड और येलो लोगो McDonald's Red And Yellow Logo के लिए जाना जाता है। अपने लोगो में लाल और पीले रंग को इस्तेमाल करने वाला यह एकमात्र फूड फ्रेंचाइजी food franchise नहीं हैं। इसके अलावा बर्गर किंग Burger King, पिज्जा हट Pizza hut, वेंडीज Wendy’s, डेयरी क्वीन Dairy Queen, डोमिनोज पिज्जा Domino's Pizza, Arby’s और केएफसी KFC ये सभी फूड फ्रेंचाइजी भी अपने लोगो में लाल रंग का इस्तेमाल करते है। मार्केटिंग एक्सपर्ट्स लाल और पीले रंग की पेयरिंग को Ketchup And Mustard Theory कहते हैं। इन रंगो के इस संयोजन को देखकर हमारे मन में ये ख्याल आता है कि हम जो भी कर रहे हैं, उसे कुछ देर के लिए ना करें और थोड़ा समय खाने के लिए दें। रंग की भाषा, शब्दों या आकृतियों की तुलना में हमारे मस्तिष्क से पहले बात करती है क्योंकि वे सीधे हमारी भावनाओं पर काम करते हैं। आइए इस साइकोलॉजी को अच्छे से समझते हैं। 

 

Podcast

Continue Reading..

जब आप लाल या पीले रंग के बारे में सोचते हैं तो क्या आपके दिमाग में कोई ब्रांड Fast Food Brands With Red And Yellow Logo आता है? हमारा अनुमान है कि आपके मन में किसी फास्ट फूड ब्रांड Fast food brand का नाम आता है। लेकिन क्या आपने कभी सोचा है कि ये लाल या पीले रंग के क्यों होते हैं? शायद ऩही! इसका तर्क वास्तव में बहुत दिलचस्प है।

ऐसा इसीलिए होता है क्योंकि ज्यादातर फास्ट फूड ब्रांड अपने लोगो में लाल और पीले रंग का इस्तेमाल करते हैं और ये कोई संयोग नहीं है, वे लोग ऐसा जानबूझ करते हैं। इन रंगों से जो भावनाएं जुड़ी हैं वह उन ब्रांड्स के टारगेट मार्केट target market के लिए परफेक्ट है।

मैकडॉनल्ड्स McDonald's अपने रेड और येलो लोगो McDonald's Red And Yellow Logo के लिए जाना जाता है। अपने लोगो में लाल और पीले रंग को इस्तेमाल करने वाला यह एकमात्र फूड फ्रेंचाइजी food franchise नहीं हैं। इसके अलावा बर्गर किंग Burger King, पिज्जा हट Pizza hut, वेंडीज Wendy’s, डेयरी क्वीन Dairy Queen, डोमिनोज पिज्जा Domino's Pizza, Arby’s और केएफसी KFC ये सभी फूड फ्रेंचाइजी भी अपने लोगो में लाल रंग का इस्तेमाल करते है। 

इन रंगों की पॉजिटिव साइकोलॉजी positive psychology समझते हैं। पीला खुशी और मित्रता की भावनाओं को ट्रिगर करता है वहीं लाल रंग भूख को बढ़ाता है। दिन के उजाले में भी पीला रंग सबसे अधिक दिखाई देने वाला रंग है। यही वजह है कि मैकडॉनल्ड्स के लोगो McDonald's logo में जो एम M है वह दूर से भी दिख जाता है। रंग की भाषा, शब्दों या आकृतियों की तुलना में हमारे मस्तिष्क से पहले बात करती है क्योंकि वे सीधे हमारी भावनाओं पर काम करते हैं। आइए इस साइकोलॉजी को अच्छे से समझते हैं। 

केचप एंड मस्टर्ड थ्योरी Ketchup And Mustard Theory

मार्केटिंग भावनात्मक रूप से लोगों से जुड़ने के बारे में है और रंग इसमें अहम भूमिका निभाते हैं। 

फास्ट फूड ब्रांड्स के लाल और पीले रंग के लोगो Fast Food Brands With Red And Yellow Logo के पीछे एक तगड़ी साइकोलॉजी है और यही साइकोलॉजी फास्ट फूड ब्रांड्स Top fast food brands use red and yellow color को ऐसा करने पर मजबूर करती हैं। ऐसा करने से कंपनियों को फायदा होता है इसीलिए आपने नोटिस किया होगा कि ज्यादातर फ़ास्ट फ़ूड चेन अपने लोगो logo और होर्डिंग्स hoardings पर 'लाल और पीले' रंग का ही इस्तेमाल करते हैं। लाल और पीले रंग के इस इस्तेमाल को साइंस की भाषा में केचप एंड मस्टर्ड थ्योरी Ketchup And Mustard Theory कहते हैं। 

Also Read : भारत की टॉप बिज़नेस करने वाली फ़ूड फ्रैंचाइज़ी

लाल और पीले रंग का महत्व Importance of Red & Yellow

मार्केटिंग एक्सपर्ट्स लाल और पीले रंग की पेयरिंग को Ketchup And Mustard Theory कहते हैं। इन रंगो के इस संयोजन को देखकर हमारे मन में ये ख्याल आता है कि हम जो भी कर रहे हैं, उसे कुछ देर के लिए ना करें और थोड़ा समय खाने के लिए दें। 

आप सोच रहे होंगे कि ये कोई बहुत बड़ी बात नहीं है और इसके पीछे एक थ्योरी बनाने का क्या मतलब लेकिन हम आपको बता दें कि ये कोई छोटी-मोटी बात नहीं है और इसके पीछे साइंस है। रिपोर्ट्स के मुताबिक़, दुनियाभर में ज्यादातर ग्राहक उत्पाद के रंग के आधार पर 60% निर्णय लेते हैं और इस दौरान अलग-अलग रंगों का इस्तेमाल करने के पीछे कई कारण होते हैं। 

वैज्ञानिकों का मानना ​​है कि ये दोनों रंग ग्राहकों को खाने के लिए प्रोत्साहित करने की क्षमता रखते हैं। पीले रंग को खुशी और उत्साह का प्रतीक माना जाता है। यह रंग दूर से ही आपका ध्यान खींचता हैं और आपके मेटाबॉलिज्म को बढ़ाता है और लाल रंग भूख को बढ़ाने में मदद करता है। लाल रंग हमें वॉर्म, हैप्पी और कंफर्टेबल warm, happy and comfortable का अहसास दिलाता है और ये सभी चीजें एक गुड लॉन्ग मील good long meal के लिए काफी ज़रूरी हैं। ये सिद्धांत भले ही 100 प्रतिशत सच ना हो लेकिन कई मार्केटिंग एक्सपर्ट marketing experts का मानना है कि लाल और पीले रंग में कुछ तो ख़ास बात है और यही कारण है कि बड़ी-बड़ी कंपनियां इन रंगों का उपयोग करती हैं। 

कॉम्पिटिशन का ज़माना है और ज्यादा से ज्यादा ग्राहकों को आकर्षित करने के लिए ज्यादातर ब्रांड केचप एंड मस्टर्ड थ्योरी Ketchup and mustard theory की मदद लेते हैं और इन रंगों का इस्तेमाल करते हैं ताकि वह बिक्री बड़ा सकें।  

लाल और पीले रंग के लोगो को इस्तेमाल करने वाले फास्ट फूड ब्रांड्स Fast food brands with red and yellow logo

मैकडॉनल्ड्स McDonald's, बर्गर किंग Burger King, केएफसी KFC, सबवे Subway और Pizza Hut, ये कुछ फेमस फूड ब्रांड्स है, जो अपने लोगो पर लाल और पीले रंग का इस्तेमाल करते हैं। भारतीय ब्रांड की बात करें तो हल्दीराम, बिकानो, Bikanervala और Nirula's ये सभी ब्रांड्स अपने लोगो और होर्डिंग्स पर लाल और पीले रंग का इस्तेमाल करते हैं। इतना ही नहीं फूड डिलीवरी ऐप जोमेटो Zomato और स्विगी Swiggy भी केचप एंड मस्टर्ड थ्योरी Ketchup and mustard theory के पीछे की साइंस को फॉलो करते हैं। जोमैटो के लोगो का रंग लाल है वहीं स्विगी के लोगो का रंग लाल और पीले का कॉम्बिनेशन यानी ऑरेंज है। 

निष्कर्ष

रंग एक ऐसा तथ्य है जो हमारी भावनाओं को नियंत्रित करता है। बिज़नेस और ब्रांडिंग business and branding में भी हर रंग एक अहम भूमिका निभाता है। लाल रंग भूख को बढ़ाता है। जरा कुछ प्रसिद्ध खाद्य ब्रांड्स food brands के बारे में सोचिए। उन्होंने लाल रंग का इस्तेमाल करके अपने ब्रांड को और सफल बना दिया। मार्केटिंग एक्सपर्ट्स लाल और पीले रंग की पेयरिंग को Ketchup And Mustard Theory कहते हैं। इन रंगो के इस संयोजन को देखकर हमारे मन में ये ख्याल आता है कि हम जो भी कर रहे हैं, उसे कुछ देर के लिए ना करें और थोड़ा समय खाने के लिए दें।