facebook-pixel

जीएसटी सुविधा केंद्र का व्यवसाय कैसे शुरू करें?

Share Us

212
जीएसटी सुविधा केंद्र का व्यवसाय कैसे शुरू करें?
04 Jul 2022
6 min read
TWN Special

Post Highlight

वस्तु एवं सेवा कर या जीएसटी (GST) Goods and Service Tax भारत सरकार की नई अप्रत्यक्ष कर व्यवस्था है। भारत में जीएसटी लागू करने का इरादा व्यापार के लिए अनुपालन को आसान बनाना था। कोई भी वस्तु निर्माण से लेकर अंतिम उपभोग तक कई चरणों के माध्यम से गुज़रती  है। आज जीएसटी के बारे में जानना हर किसी के लिए जरुरी हो गया है। यानि जीएसटी से संबंधित जानकारी होना हर किसी की जरुरत बन गया है। जीएसटी सुविधा केंद्र में किसी भी जरूरतमंद का कार्य आसानी से हो जाता है। जीएसटी सुविधा केंद्र GST Suvidha Kendra  खोलने के लिए आप लाइसेंस प्रदान करने वाली कंपनियों से फ्रेंचाइजी ले सकते हैं। देश का कोई भी नागरिक किसी जानी-मानी कंपनी के साथ कांटेक्ट करके आसानी से जीएसटी सुविधा केंद्र खोल सकता है। इस व्यवसाय को शुरू करना मतलब आपके लिए यह अच्छी कमाई का जरिया हो सकता है। इसके द्वारा आप हर महीने 50,000 रुपए से अधिक की कमाई आसानी से कर सकते हैं। इस आर्टिकल में हम आपको बताने जा रहे हैं जीएसटी सुविधा केंद्र के बारे में, जिसकी फ्रेंचाइजी लेने के बाद आप आसानी से जीएसटी सुविधा केंद्र का व्यवसाय शुरू कर सकते हैं। 

Podcast

Continue Reading..

आज के समय में हर कोई चाहता है कि वह बिज़नेसमैन बने और पैसे कमाए। कोई ऐसा बिजनेस जो आसान भी हो और कमाई भी अच्छी हो। तो आज इस आर्टिकल में ऐसे बिज़नेस के बारे में बताएंगे जिसे आप आसानी से कर सकते हैं और इसमें कमाई भी अच्छी है। वह बिज़नेस है जीएसटी सुविधा केंद्र GST Suvidha Kendra,आप आसानी से जीएसटी सुविधा केंद्र का व्यवसाय प्रारंभ कर सकते हैं। यदि आप अपना स्वरोजगार शुरू करना चाहते हैं तो आप GST सुविधा केंद्र फ्रेंचाइजी ले सकते हैं। जीएसटी से संबंधित सुविधाओं के बारे में जानना आज के समय में हर व्यक्ति की जरूरत बन गया है। GST लागू होने से अक्सर व्यापारियों, उद्योगपतियों और छोटे कारोबारियों Traders, industrialists and small businessmen को कई सारी परेशानियों का सामना करना पड़ता है। इसलिए इस व्यवसाय को शुरू करना आपके लिए फायदेमंद हो सकता है। चलिए जानते हैं कि कैसे आप जीएसटी सुविधा केंद्र का व्यवसाय शुरू करके लोगों की समस्याओं को हल कर सकते हैं और इसके साथ ही बेहतरीन कमाई भी कर सकते हैं। 

जीएसटी सुविधा केंद्र GST Suvidha Kendra क्या है?

देखा जाये तो जीएसटी भारत के इतिहास में सबसे बड़े कर सुधारों में से एक है। पूरे देश में 01 जुलाई 2017 में भारत में सबके लिए एक कर माल और सेवा कर या जीएसटी पेश किया गया था। जीएसटी का पूरा नाम गुड्स एंड सर्विस टैक्स (GST) Goods and Service Tax 'वस्तु एवं सेवा कर’ है। जीएसटी सुविधा केंद्र एक कॉमन सर्विस सेंटर की तरह है जहाँ GST फाइल करने के अंतर्गत अन्य भी कई तरह की सुविधाएँ प्राप्त होती है। जीएसटी सुविधा केंद्र में आपकी समस्याओं का हल आसानी से हो जाता है। देश भर में GST लागू होने से लोगों को कई सारी मुश्किलों का सामना करना पड़ता है। यहाँ पर आप जो भी काम कराते हैं उसके अनुसार आपको हर काम के लिए अलग-अलग शुल्क देना होता है। GST संचालक के अंतर्गत यह केंद्र खोलकर महीने में अच्छी कमाई की जा सकती है। यानि आप इस बिज़नेस में 40,000 से 50,000 रुपए तक महीने की कमाई आसानी से कर सकते हैं। इस सुविधा केंद्र को खोलना और चलाना बेहद आसान है। जीएसटी सुविधा केंद्र एक तरह से लाइसेंस प्राप्त केंद्र होता है, जिसकी शुरूआत करने के लिए नियुक्ति एवं स्वीकृति जीएसटी सुविधा प्रोवाइडर द्वारा की जाती है। 

जीएसपी लाइसेंस प्राप्त कंपनियां दे सकती हैं जीएसटी सुविधा केंद्र की फ्रेंचाइजी 

जीएसटी सुविधा केंद्र को खोलने के लिए गुड्स एंड सर्विस टैक्स नेटवर्क (GSTN) द्वारा प्राइवेट कंपनीज को Goods & Service Tax Provider (GSP) का लाइसेंस प्रदान किया जाता है। इन कंपनियों के माध्यम से कोई भी व्यक्ति जीएसटी सुविधा केंद्र खोल सकता है। जीएसपी लाइसेंस प्राप्त कंपनियां हीं “GST Suvidha Kendra” जीएसटी सुविधा केंद्र की फ्रेंचाइजी दे सकती हैं। यानि जीएसटी की सर्विस प्रदान करने वाली बहुत सारी कंपनी होती हैं और प्राइवेट कंपनीज भी इस प्रक्रिया को शुरू करने के लिए लाइसेंस की प्राप्ति कर सकती हैं। इन्ही कंपनी की सहायता से कोई भी इच्छुक व्यक्ति अपना खुद का GST सुविधा केंद्र खोल सकता है। इस सुविधा केंद्र की फ्रैंचाइज़ी खोलने हेतु केवल GSP लाइसेंस वाली कंपनी ही सहायक है। जीएसटी सेवा केंद्र खोलने से आपको रोजगार के साथ-साथ आय का अच्छा स्रोत मिल जायेगा। यहाँ पर छोटे और मध्यम व्यापारी अपने जीएसटी से जुड़े काम आसानी से करवा सकते हैं। 

जीएसटी सुविधा केंद्र फ्रेंचाइजी देने वाली कंपनियां

ऐसी काफी सारी कंपनियां हैं जो जीएसटी सुविधा केंद्र खोलने के लिए फ्रेंचाइजी सर्विस देती हैं। इनमें से कुछ जानी मानी कंपनियां जैसे -वीके वेंचर , वक्रांजी, सीएससी ,वैनविक टेक सलूशन VK Venture, Vakrangee, CSC, Vanvik Tech Solution आदि हैं जो जीएसटी सुविधा केंद्र की फ्रेंचाइजी GST Suvidha Kendra Franchisee देने में सहायता करती हैं। वहीं कुछ कंपनियां ऐसी भी हैं जो कि पार्टनरशिप में भी काम करती हैं जैसे बोट्री सॉफ्टवेयर Botry Software, मास्टर जीएसटी MasterGST, वेप डिजिटल सर्विसेज Vape Digital Services और मास्टर इंडिया Master India आदि। 

जीएसटी सुविधा केंद्र खोलने के लिए आवेदन की प्रक्रिया

जीएसटी सुविधा केंद्र खोलने के लिए आवेदन पत्र भरने की प्रक्रिया निम्न है -

  • जीएसटी केंद्र खोलने के लिए आपको सबसे पहले GST फ्रेंचाइजी देने वाली कंपनी की आधिकारिक वेबसाइट Official Website of the GST Franchisee Company पर जाना होगा। 

  •  फिर आपके सामने होम पेज खुल जाएगा जहां पर आपको ‘कांटेक्ट अस’ contact us के ऑप्शन के नीचे ‘रिक्वेस्ट कॉल बैक’ Request Call back का विकल्प दिखाई देगा जिस पर आपको क्लिक करना है। 

  • इसके बाद आपके सामने एक फॉर्म आएगा इस फॉर्म में आपको अपना नाम ,फ़ोन नंबर ,ईमेल आईडी ,स्टेट और डिस्ट्रिक्ट आदि जानकारी भरनी होगी। 

  • जैसे ही आप उस फॉर्म को पूरी तरह से भर लें यानि जानकारी भरने के बाद आपको Request Call Back पर क्लिक करना होगा 

  • कंपनी के पास आपका मैसेज पहुंचते ही कंपनी के रिप्रेजेंटेटिव द्वारा आपके रजिस्टर्ड नंबर पर एक कॉल आएगा और फिर उस कॉल में आपको कंपनी से संबंधित सारी जानकारियां दी जाएंगी। 

  • बस अब ये पूरा प्रोसेस होने के बाद आप आसानी से अपना जीएसटी सुविधा केंद्र खोल सकते हैं। 

जीएसटी सर्विस केंद्र के लिए जरुरी पात्रता Required Eligibility for GST Service Center

  • GST सेवा केंद्र के लिए सबसे पहले आपको भारतीय नागरिक होना चाहिए।

  • जीएसटी सुविधा केंद्र खोलने / GST Suvidha Kendra Franchise के लिए आवेदक को कम से कम बारहवीं पास होना चाहिए। 

  • इसके लिए आवेदक को कंप्यूटर और MS Excel की बेसिक जानकारी होनी चाहिए। साथ ही अकाउंट और जीएसटी का ज्ञान होना भी जरुरी है। 

  • जीएसटी सुविधा केंद्र खोलने के लिए आवेदक के पास दो कंप्यूटर, एक प्रिंटर, स्कैनर, कार्ड स्वाइप मशीन, मोर्फो डिवाइस, इंटरनेट कनेक्शन Computer, A Printer, Scanner, Card Swipe Machine, Morpho Device, Internet Connection होना आवश्यक है।

  • केंद्र खोलने हेतु नागरिक के पास लगभग 100 -150 वर्ग मीटर की जगह होना भी आवश्यक है।

जीएसटी सुविधा केंद्र में उपलब्ध सेवाएं Services Available in GST Suvidha Kendra

GST सुविधा केंद्र में कई प्रकार की सुविधाएँ दी जाती हैं-

वित्तीय सेवाएं Financial Services-

वित्तीय सेवाएं जैसे उद्योग आधार, सीए सर्टिफिकेशन, जीएसटी नम्बर के लिए रजिस्ट्रेशन करने की सुविधा, इनकम टैक्स रिटर्न और ऑडिट, जीएसटी रिटर्न फाइलिंग, डीएससी और अकाउंटिंग आदि। 

सरकारी सेवाएं– 

सरकारी सेवाएं जैसे बीमा ,पेंशन से जुड़ी सुविधाएँ ,वोटर कार्ड आईडी से संबंधित सेवाएं ,ई नागरिक और ई डिस्ट्रिक सेवाएं , डिजिटल इंडिया, आधार कार्ड से संबंधी सेवाएं ,ई कोर्ट आदि सरकारी सेवाएं प्राप्त की जा सकती हैं। 

अन्य सेवाएं –

 GST के अलावा क्रेडिट कार्ड सेवा, आधार मनी ट्रांसफर, रिजल्ट, मनी ट्रांसफर, प्री-पेड कार्ड सर्विस, ट्रेन और फ्लाइट टिकट ​बुकिंग और अन्य ऑनलाइन सेवाएं। इसके अलावा अन्य सुविधा जैसे दस्तावेजों को स्कैन करना, डिजिटल सिग्नेचर बनाना यहां तक कि बिजली बिल का भुगतान करना, पैन कार्ड बनवाना, डीटीएच एवं मोबाइल रिचार्ज करना आदि भी कर सकते हैं। 

Also Read :  स्टार्टअप्स के लिए फंडिंग के 14 आसान तरीके

जीएसटी सुविधा केंद्र खोलने के लाभ

  • कोई भी व्यक्ति जीएसटी केंद्र आसानी से खोल सकता है।

  • सिर्फ कुछ उपकरणों की मदद से आसानी से जीएसटी सेवा केंद्र खोला जा सकता है। इसके लिए आपको अधिक खर्च करने की जरुरत नहीं होती है। मतलब GST सेवा केंद्र को खोलने की लागत बहुत ही कम है।

  • आप दूसरे ग्राहकों का GST रजिस्ट्रेशन भी करवा सकतें हैं। वही वह अगर Return फाइल करना चाहतें हैं तो वो भी सुविधा केंद्र में आसानी से हो जायेगा।

  • जीएसटी से जुड़ी सभी सुविधाएं उपभोक्ताओं तक पहुंचाने के लिए जीएसटी सुविधा प्रोवाइडर से आपको एक सॉफ्टवेयर प्राप्त होता है इसके द्वारा आप उपभोक्ताओं की आसानी से मदद कर सकते हैं। 

  • इससे रोजगार के माध्यम बढ़ेंगे और देश में बढ़ रही बेरोजगारी दर को भी रोका जा सकेगा।

  •  आप हर महीने 40,000 से अधिक रूपये तक की कमाई प्रतिमाह आसानी से कर सकतें हैं।

जीएसटी सुविधा केंद्र शुरू करने के लिए निवेश

जीएसटी सुविधा केंद्र GST Suvidha Kendra खोलने के लिए आपको सबसे पहले जगह के लिए निवेश करना पड़ेगा। फिर आपको वो सब उपकरण चाहिए जो इसके लिए जरुरी हैं वो सब आपको खरीदने होंगे। फिर जीएसटी सुविधा केंद्र में एम्प्लॉयी को रखने पर उनकी सैलरी आदि के लिए पैसों का निवेश करना पड़ेगा। आपको कम से कम 30 से 40 हजार रूपये तक का खर्चा करना पड़ सकता है।