facebook-pixel

एमएफए Master of Fine Arts कोर्स क्या है ?

Share Us

71
एमएफए Master of Fine Arts कोर्स क्या है ?
04 Aug 2022
4 min read
TWN In-Focus

Post Highlight

एमएफए Master of Fine Arts मास्टर ऑफ फाइन आर्ट्स यानि फाइन आर्ट्स में Postgraduate या फाइन आर्ट्स में मास्टर डिग्री होता है। जिसे फाइन आर्ट्स की पोस्ट ग्रेजुएशन भी कहते हैं। इसमें फाइन आर्ट्स से संबंधित उच्च स्तरीय शिक्षा प्राप्त की जा सकती है। इस कोर्स को फाइन आर्ट्स में बैचलर डिग्री हासिल करने के बाद किया जा सकता है। इस कोर्स की अवधि 2 वर्ष होती है और इस कोर्स के द्वारा कलाकारी से सबंधित किसी भी क्षेत्र में करियर बनाया जा सकता है। इस कोर्स को अनेकों प्रकार के हुनरो को सीखने के लिए किया जा सकता है जैसे जो लोग गायन, डांस, अभिनय जैसे क्षेत्रों में अपना भविष्य बनाना चाहते हैं तो उनके लिए यह कोर्स काफी अच्छा है। आज किसी भी क्षेत्र में चले जाओ हर जगह प्रोफेशनल व्यक्ति को ही प्राथमिकता दी जाती है। किसी भी हुनर को प्रोफेशनल रूप देने के लिए हुनर सीखने के साथ-साथ डिग्री होना भी जरुरी है। क्योंकि डिग्री रोजगार प्राप्त करने के लिए आवश्यक होती है। इस डिग्री के द्वारा आप इस क्षेत्र में बेहतर करियर बना सकते हैं। यदि आप MFA डिग्री को प्राप्त कर लेते हैं तो आपको आसानी से अच्छी सैलरी मिल जायेगी। इसके अलावा आप अपना खुद का बिज़नेस भी शुरू कर सकते हैं। MFA की डिग्री के बाद आप विदेश में भी आसानी से नौकरी प्राप्त कर सकते हैं। तो आइये इस आर्टिकल में एमएफए से संबंधित पूरी जानकारी प्राप्त करते हैं। 

Podcast

Continue Reading..

आज के समय में इतने सारे कोर्स हैं कि स्टूडेंट्स भी समझ नहीं पाते हैं कि हमारे लिए कौन सा कोर्स सही है और कौन सा नहीं। बस एक बार कोर्स के बारे में सही से जानकारी प्राप्त करने के बाद आप उस कोर्स को आसानी से कर सकते हैं। ऐसे ही एक कोर्स है MFA एमएफए यानि Master of Fine Arts। आजकल जानकारी प्राप्त करने के लिए बहुत सारे सोर्सेज हैं, जहाँ से आप अच्छी तरह से पूरी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं लेकिन पहले ऐसा नहीं था। जैसे पहले फाइन आर्ट्स को सीखने के लिए पहले से काम कर रहे किसी अनुभवी व्यक्ति से सीखना पड़ता था। क्योंकि इसके लिए कोई विशेष शिक्षण संस्थान उपलब्ध नहीं थे लेकिन अब फाइन आर्ट्स के किसी भी हुनर को सीखने के लिए कॉलेजों के द्वारा विभिन्न प्रकार की डिग्रियां कराई जाती है। चलिए जानते हैं कि एमएफए कोर्स क्या है, इसकी योग्यता, फीस क्या है और इस कोर्स के बाद जॉब की क्या संभावनाएं हैं । 

एमएफए क्या है ? What is MFA? 

एमएफए की फुल फॉर्म Master of Fine Arts है। एमएफए एक मास्टर डिग्री कोर्स master's degree course है यानि फाइन आर्ट्स में Postgraduate होना है। इस कोर्स को फाइन आर्ट्स में स्नातक डिग्री करने के पश्चात किया जाता है। इस कोर्स की अवधि 2 वर्ष की होती है। इस कोर्स में फाइन आर्ट्स से संबंधित शिक्षा प्रदान की जाती है। इसमें फाइन आर्ट्स से संबंधित उच्च स्तरीय शिक्षा प्राप्त की जा सकती है। 

इस कोर्स को फाइन आर्ट्स में बैचलर डिग्री करने के बाद किया जाता है। Master of Fine Arts कोर्स के द्वारा आप कलाकारी से सबंधित किसी भी क्षेत्र में करियर बना सकते हैं। इस कोर्स को अलग अलग हुनर सीखने के लिए किया जा सकता है। जो लोग गायन, डांस, अभिनय जैसे क्षेत्रों में अपना भविष्य बनाना चाहते हैं उनके लिए यह कोर्स एक बहुत ही अच्छा विकल्प है।

आज किसी भी क्षेत्र में चले जाओ हर जगह प्रोफेशनल व्यक्ति को ही प्राथमिकता दी जाती है। किसी भी हुनर को प्रोफेशनल रूप देने के लिए हुनर सीखने के साथ-साथ डिग्री होना भी जरुरी है। क्योंकि डिग्री, रोजगार प्राप्त करने के लिए आवश्यक होती है। इस डिग्री के द्वारा आप इस क्षेत्र में बेहतर करियर बना सकते हैं। यदि आप MFA डिग्री को प्राप्त कर लेते हैं तो आपको आसानी से अच्छी सैलरी मिल जायेगी। इसके अलावा आप अपना खुद का बिज़नेस भी शुरू कर सकते हैं। MFA की डिग्री के बाद आप विदेश में भी आसानी से नौकरी प्राप्त कर सकते हैं। इस तरह इस कोर्स की डिग्री प्राप्त करना एक बहुत ही अच्छा विकल्प माना जाता है।

एमएफए कोर्स के लिए योग्यता Eligibility For MFA Course

एमएफए कोर्स के लिए कुछ योग्यताएं जरुरी हैं जो कि निम्न हैं -

  • आपके पास स्नातक डिग्री के रूप में बीएफए कोर्स की डिग्री होना आवश्यक है। 

  • स्नातक डिग्री में कम से कम 50% अंक होने जरुरी हैं। 

  • इसके अलावा फाइन आर्ट्स से संबंधित विषयों में बीए स्नातक डिग्री के बाद भी मास्टर डिग्री में प्रवेश दिया जाता है।

  • कुछ कॉलेज इस डिग्री के लिए प्रवेश परीक्षा आयोजित करते हैं।

  • कुछ कॉलेज स्नातक डिग्री में प्राप्त अंकों के आधार पर मेरिट लिस्ट के आधार पर प्रवेश देते हैं। 

कितने साल का कोर्स है एमएफए 

एमएफए 2 वर्ष का पाठ्यक्रम है। यह कॉलेज के अनुसार सालाना और सेमेस्टर में बांटा जाता है। 2 वर्ष के पाठ्यक्रम में टोटल 4 सेमेस्टर semester होते हैं। प्रत्येक सेमेस्टर के बाद परीक्षा आयोजित की जाती है और हर सेमेस्टर 6 महीने का होता है। 

एमएफए कोर्स विशेषज्ञता MFA Course Specialization

एमएफए कोर्स को विभिन्न प्रकार के विषय विशेषज्ञता के साथ किया जा सकता है। MFA Course की प्रमुख विषय विशेषज्ञताओं के कुछ नाम नीचे दिए गए हैं। 

MFA in Acting

MFA in Visual Communication

MFA in Photography

MFA in Pottery and Ceramics

MFA in Dance

MFA in Design

MFA in Filmmaking

MFA in Creative Writing

MFA in Applied Arts

MFA in Painting

MFA in Art History

MFA in Textile Design

एमएफए कोर्स के बाद जॉब की संभावनाएं 

एमएफए कोर्स के बाद जॉब के बहुत सारे विकल्प आपके सामने खुल जाएंगे। इस मास्टर डिग्री के द्वारा आपको कई प्रकार की जॉब मिल जायेगी। यहाँ पर हम आपको नीचे कुछ जॉब के बारे में बता रहे हैं जहाँ पर एमएफए कोर्स को पूरा करने के बाद आसानी से जॉब कर सकते हैं। 

ग्राफिक डिजाइनर (Graphic Artist / Designer)

पटकथा लेखक (Script writer) 

फर्नीचर डिजाइनर (Furniture Designer)

स्वतंत्र कार्यकर्ता (Freelance Workers)

संगीत अध्यापक (Music Teacher)

वरिष्ठ ग्राफिक डिजाइनर (Senior Graphic Designer)

अभिनेता (Actor )

एनिमेटर (Animator)

चित्रकार (Painter )

कार्टूनिस्ट (Cartoonist)

स्केचिंग कलाकार (Sketching Artist)

गायक (Singer)

रचनात्मक निर्देशक (Creative Director)

ड्राइंग टीचर (Drawing Teacher)

कला निर्देशक (Art Director)

3डी कलाकार (3d Artist)

सेट डिजाइनर (Set Designer)

स्केचिंग आर्टिस्ट एसोसिएट प्रोफेसर (Sketching Artist Associate Professor)

संपादक (Editor)

कला अध्यापक (Art Teacher)

मल्टीमीडिया मास्टर (Multimedia master)

एमएफए की फीस MFA Fees

एमएफए कोर्स की फीस की बात करें तो एमएफए कोर्स फीस शिक्षण संस्थान पर निर्भर करती है। यानि फीस अलग-अलग शिक्षण संस्थान द्वारा स्टूडेंट्स को दी जाने वाली सुविधाओं या उनके इंफ्रास्ट्रक्चर Infrastructure पर निर्भर करती है। दरअसल हर कॉलेज का पाठ्यक्रम दूसरे शिक्षण संस्थान से अलग होता है तथा कॉलेज की सुविधाएं भी अन्य कॉलेज से अलग होती हैं। इस वजह से प्रत्येक कॉलेज में एमएफए कोर्स फीस अलग-अलग होती है। लेकिन सामान्य अनुमान के हिसाब से इस कोर्स की फीस लगभग ₹20000 से लेकर ₹200000 तक होती है। सरकारी कॉलेज की बात की जाये तो यह फीस लगभग ₹10000 से लेकर ₹30000 तक होती है और प्राइवेट कॉलेजों में यह फीस लगभग ₹60000 से लेकर 200000 तक होती है।

भारत में शीर्ष एमएफए कॉलेज Top MFA Colleges in India

भारत में ये कुछ शीर्ष एमएफए कॉलेज हैं जो निम्न हैं -

BHU Varanasi – Banaras Hindu University बनारस हिंदू विश्वविद्यालय

LPU Jalandhar – Lovely Professional University लवली प्रोफेशनल यूनिवर्सिटी जालंधर

ITM University, Gwalior आईटीएम विश्वविद्यालय, ग्वालियर

KK University, Nalanda

JMI New Delhi – Jamia Millia Islamia जामिया मिलिया इस्लामिया नई दिल्ली

DBRAU Agra – Dr. BR Ambedkar University

Amity University, Kolkata एमिटी यूनिवर्सिटी, कोलकाता

Noida International University, Greater Noida नोएडा इंटरनेशनल यूनिवर्सिटी, ग्रेटर नोएडा

BU Jhansi – Bundelkhand University

Mumbai University – University of Mumbai

University of Hyderabad, Hyderabad हैदराबाद विश्वविद्यालय

Rabindra Bharati University, Kolkata

एमएफए की सैलरी कितनी होती है ? Salary of MFA

एमएफए में मास्टर डिग्री हासिल करने के बाद आपके पास जॉब के बहुत सारे विकल्प होंगे। आपकी डिग्री के आधार पर जॉब्स अलग अलग कई क्षेत्रों में आपको मिल जायेगी। आपकी सैलरी कितनी होगी यह आपकी जॉब पर निर्भर करता है। यदि औसतन सैलरी की जाये तो भारत में फाइन आर्ट्स में मास्टर डिग्री प्राप्त करने के बाद कम से कम ₹5,00,000 से लेकर ₹6,00,000 तक प्रतिवर्ष सैलरी प्राप्त कर सकते हैं। वहीं अगर आप विदेश में इस डिग्री के साथ भारत से अधिक कमाई कर सकते हैं। क्योंकि विदेशों में फाइन आर्ट्स को काफी अहमियत दी जाती है।