facebook-pixel
Coursera Image_2

सुंदर पिचाई - Google को नया मुकाम देने वाली हस्ती

Share Us

348
सुंदर पिचाई - Google को नया मुकाम देने वाली हस्ती
10 Jun 2022
8 min read
TWN In-Focus

Post Highlight

आज सुंदर पिचाई Sundar Pichai, का जन्मदिन है जो एक भारतीय हैं और दुनिया की सबसे बड़ी कंपनी Google के CEO है, ये हम भारतीयों के लिए बेहद ही गर्व की बात है। कहा जाता है कि पूत के पांव पालने में नजर आ जाते हैं। इस कहावत को चरितार्थ करते हुए आईआईटी, खड़गपुर से अपनी इंजीनियरिंग की पढ़ाई (1989-93) के दौरान सुंदर हमेशा अपने बैच के टॉपर रहे। सुंदर का पहला प्यार तो इलेक्ट्रानिक्स ही था। उन्होंने क्रोम लांच किया, क्रोम वेब ब्राउजर लांच किया और साल भर में वेब बेस्ड क्रोम ओएस भी नेटबुक्स के लिए लांच किया। इसके अलावा गूगल एप्स व एंड्रायड संभाला, 2012 में गूगल एप्स को संभाला और साल भर में एंड्रायड का पदभार भी संभाल लिया। उनके स्मरणीय कार्यों की बात करें तो उन्होंने जीमेल, गूगल मैप एप्स बनाए, गूगल के सभी उत्पादों के लिए एंड्रायड एप भी तैयार किए। दुनिया में ऐसा कोई भी व्यक्ति नहीं होगा जिसे गूगल के बारे में मालूम नहीं होगा। इतने बड़े सर्च इंजन के सीईओ हैं सुंदर पिचाई। आज 10 जून 2022 को उनके जन्मदिन के अवसर पर हम आप सबको उनके जीवन के संघर्षो और उनसे प्राप्त सफलताओं और महत्वपूर्ण उपलब्धियों से परिचित कराने जा रहे है। 

Podcast

Continue Reading..

आज की इस इंटरनेट की दुनिया में शायद ही कोई ऐसा हो जो गूगल Google का उपयोग न करता हो। बच्चा-बच्चा  गूगल का उपयोग कर रहा है । गूगल दुनिया का सबसे बड़ा सर्च इंजन Search Engine है। और इस साल 2020-21 के आंकड़े के अनुसार पूरी दुनिया में होने वाले इंटरनेट सर्च में से 90 % से अधिक सर्च अकेले गूगल में होता है और भारत में तो ये आंकड़ा 98 % है। हममें से किसी को भी यदि कोई जानकारी चाहिए तो हम तुरंत उस जानकारी के बारे में जानने के लिए गूगल पर सर्च करते हैं और गूगल बस क्लिक करते ही हमें वो जानकारी दे देता है। हम और आप जो एंड्राइड फ़ोन यूज़ करते हैं वो भी गूगल की ही देन है और इसके अलावा जीमेल, प्ले स्टोर, गूगल मैप्स और गूगल ड्राइव Gmail, Play Store, Google Maps and Google Drive ये सब गूगल की ही सर्विसेज Google's services हैं लेकिन क्या आपको पता है कि इस दिग्गज आईटी कंपनी गूगल के सीईओ कौन हैं और कैसे वो इस उच्च पद तक पहुँचे। और आज का दिन इसलिए भी ख़ास है क्योंकि आज इस ऐतिहासिक कम्पनी का नेतृत्व करने वाले गूगल के सीईओ CEO of Google सुंदर पिचाई का जन्मदिन है  Birthday of Sundar Pichai है। तो चलिए आज के इस ख़ास मौके पर इस आर्टिकल में हम सबसे बड़ी कंपनी गूगल के सीईओ सुंदर पिचाई Sundar Pichai के बारे में जानते हैं। और ये भी समझते है की सुंदर पिचाई की सफलता की कहानी  Sundar Pichai Success Story क्यों महत्वपूर्ण है और हम उससे क्या सीख सकते है। 

सुंदर पिचाई का जीवन परिचय (Biography of Sundar Pichai)

सुंदर पिचाई का जन्म 12 जुलाई 1972 को तमिलनाडु के चेन्नई शहर की मदुरई Madurai of Chennai city of Tamil Nadu में हुआ था हुआ। आज सुंदर पिचाई की उम्र Sundar Pichai age 50 साल की है. सुंदर पिचाई एक मध्यवर्गीय परिवार में पैदा हुए थे। उनके पिता इलेक्ट्रिक इंजीनियर थे जिनकी तनख्वाह बस इतनी थी कि वह अपने खुद के घर का खर्चा चला सके। उनके पिता का नाम रघुनाथ पिचाई Raghunath Pichai है, और उनकी माता का नाम लक्ष्मी पिचाई Laxmi Pichai है जो कि एक Housewife हैं। उनकी पत्नी का नाम अंजलि पिचाई Anjali Pichai है और उनके दो बच्चे हैं, एक बेटा जिसका नाम काव्य पिचाई और एक बेटी जिसका नाम किरन पिचाई Kiran Pichai है। 

सुंदर पिचाई की शिक्षा

सुंदर पिचाई जी की पढ़ाई की बात करें तो सुंदर पिचाई ने अपनी स्कूली पढ़ाई जवाहर स्कूल से की थी और वहां से इन्होने 10वीं की। फिर वाना वानी स्कूल Vana Vani school में गए और वहां से 12वीं की। सुंदर पिचाई ने 1993 में आईआईटी खड़गपुर IIT Kharagpur से बीटेक किया। उन्होंने अपने बैच में सिल्वर मेडल Silver medal हासिल किया था। इसके बाद स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी Stanford University से एमएस और पेन्सिलवेनिया विश्वविद्यालय के व्हार्टन स्कूल Wharton School of the university of Pennsylvania से एमबीए किया। व्हार्टन स्कूल में पढ़ाई के दौरान उन्हें दो स्कॉलरशिप मिली। यह पढ़ाई में इतनी तेज थे कि ये स्कूल से अपने कॉलेज तक हर जगह टॉप करते रहे और हर जगह अपना नाम फैलाते रहे। इनका दिमाग भी बहुत ही तेज था, मैथ जैसे सब्जेक्ट के क्वेश्चन के जवाब सुंदर पिचाई मुंह जबानी बता दिया करते थे और चीजों को अपने माइंड में रख लिया करते थे। वह हर चीज को अपने दिमाग में आराम से याद कर लिया करते थे। 

सुंदर पिचाई के बारे में

वह पहले भारतीय मूल के नागरिक थे जिन्हें गूगल में सबसे बड़ी जिम्मेदारी मिली। सुंदर पिचाई दुनिया के सबसे अधिक सैलरी लेने वाले CEO हैं। Google के CEO Sundar Pichai को शुरू से ही टेक्नोलॉजी से प्यार था। इस वजह से वो अभी दुनिया के सबसे बड़े टेक जायंट में से एक Google और उसकी पैरेंट कंपनी Alphabet Inc के CEO हैं। बड़ी कंपनी के CEO होने की वजह से Sundar Pichai की कमाई करोड़ों में है। सुंदर पिचाई को गूगल पैसे (सैलरी) के अलावा हर साल गूगल के शेयर का कुछ हिस्सा भी देता है। यह डील की वजह से होता है, जब सुंदर पिचाई गूगल के सीईओ बनाए जा रहे थे तो गूगल के फंडर्स ने उनसे यह वादा किया था कि उन्हें सैलरी के अलावा गूगल शेयर Google share भी दिए जायेंगे।

सुंदर पिचाई ने टेक जगत को एक नया मुकाम दिया है। सुंदर पिचाई अपनी तेज याददाश्त, मृदुभाषी, टीम समर्पण team dedication, जबरदस्त प्रतिभा के लिए जाने जाते हैं। प्रसिद्ध अमेरिकी कंपनी रबा इंक Famous American company Raba Inc. ने उन्हें सलाहकार बोर्ड में बतौर सदस्य मनोनीत किया है। सुंदर पिचाई ने Google कंपनी में काफी बड़े-बड़े प्रोजेक्ट पर काम किए और इससे इन्हें काफी ज्यादा नाम मिला, और तो और उन्हें माइक्रोसॉफ्ट और ट्विटर Microsoft and Twitter जैसी कंपनियों के CEO बनने का ऑफर आया। गूगल के को-फाउंडर लॉरी पैज Google co-founder Larry Page ने सुंदर पिचाई को गूगल का सीईओ घोषित करते हुए कहा था कि "मैं खुद को भाग्यशाली मानता हूं कि हमारे बीच ऐसी प्रतिभाशाली शख्सियत है। उनकी लोकप्रियता का अंदाज इस बात से लगाया जा सकता है कि गूगल में ऐसा एक भी व्यक्ति मिलना मुश्किल है जो सुंदर को पसंद नहीं करता हो या उनसे प्रभावित नहीं हो।"

कब बने गूगल के सीईओ और उनके द्वारा किये कार्य 

साल 2004 में सुंदर पिचाई ने गूगल ज्वाइन किया था। सुंदर पिचाई ने गूगल टूलबार और क्रोम Google Toolbar and Chrome को विकसित करने में अहम भूमिका निभाई। कुछ ही सालों में गूगल क्रॉम Google chrome दुनिया का सबसे पॉपुलर इंटरनेट ब्राउजर popular internet browser बन गया। 2014 में उन्हें गूगल के सभी प्रॉडक्ट्स और प्लेटफॉर्म से जुड़ी अहम जिम्मेदारी सौंपी गई। इस दौरान लोकप्रिय प्रॉडक्ट्स जैसे गूगल टूलबार, क्रॉम, डेस्कटॉप सर्च, गैजेट्स, गूगल पैक, गूगल गियर्स, फायरफॉक्स एक्सटेंशन आदि चार्ज उनके पास रहा। इसके बाद साल 2015 में उन्हें दुनिया की दिग्गज आईटी कंपनी गूगल का सीईओ CEO of the world's largest IT company Google बनाया गया। फिर जुलाई 2017 में सुंदर पिचाई अल्फाबेट के बोर्ड ऑफ डायरेक्टर Alphabet's Board of Directors में शामिल हुए जो कि गूगल की पैरेंट कंपनी है। इन पिछले सालों में सुंदर पिचाई ने गूगल में काम करके कई बेहतरीन प्रॉडक्ट्स को विकसित किया है। 

गूगल के बारे में (About Google)

गूगल एक अमेरिकी कंपनी American company है और यह दुनिया का सबसे बड़ा खोज इंजन है गूगल का हेडक्वार्टर एम्फीथिएटर पार्कवे माउंटेन व्यू कैलिफ़ोर्निया यू एस (U.S) Google Headquarters Amphitheater Parkway Mountain View California US में स्थित है गूगल दुनिया के सबसे वैल्युएबल ब्रांड में काफी ऊँचे पायदान पर है। 

90 के दशक में बहुत से सर्च इंजन और कंपनियों की शुरुआत हुई थी उन्हीं में से एक search engine google है जिसने इंटरनेट की दुनिया में अपना राज जमा रखा है। गूगल के बिना हमारा Smartphone और हम खुद अधूरे हैं क्योंकि Internet google की मदद से चलता है। सोचिये अगर गूगल नहीं होता तो हम इन सब कामों को नहीं कर सकते थे जैसे ऑफिस का काम, बैंकिंग सिस्टम, इंटरनेट वीडियो आदि। Google ज्यादातर इंटरनेट से जुड़ी सर्विसेज और प्रोडक्ट्स बनाती है जैसे ऑनलाइन विज्ञापन टेक्नोलॉजी, क्लाउड कंप्यूटिंग, हार्डवेयर, सॉफ्टवेयर Online Advertising Technology, Cloud Computing, Hardware, Software और Search Engine जिसमे ये सबसे फेमस है। भारत में गूगल का कार्यालय बंगलुरु, हैदराबाद, मुंबई और गुड़गांव Bangalore, Hyderabad, Mumbai and Gurgaon में है। वर्तमान में गूगल में करीब 119,000 कर्मचारी हैं। फिलहाल इस कंपनी का मार्केट कैप (Google Market Cap) 1.94 ट्रिलियन डॉलर है। गूगल विश्वभर में फैले अपने डाटा-केन्द्रों से 10 लाख से ज्यादा सर्वर चलाता है और 10 अरब से ज्यादा खोज-अनुरोध और पेटाबाइट उपभोक्ता-सम्बन्धी जानकारी (डेटा) स्टोरेज करता है। 

गूगल का मालिक कौन है Who Owns Google

अब बात करते हैं गूगल के मालिक की, तो गूगल के मालिक लैरी पेज व सर्गेई ब्रिन हैं। वैसे बहुत से ऐसे लोग हैं जिन्होंने गूगल के बहुत अधिक शेयर खरीद रखे हैं। लैरी पेज व सेर्गेई ब्रिन larry page, Sergey Brin, ने 22 साल पहले 4 सितंबर 1998 में इसे लांच किया था।

एक और बात Google के संस्थापक Larry Page और sergey Brin दुनिया के 10 सबसे अमीर लोगो की लिस्ट में हमेशा बने रहते हैं। आज गूगल पूरी दुनिया में व्यापक रूप से फैला हुआ है। दरअसल लैरी पेज व सर्गेई ब्रिन ने 1996 में स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी में अपनी पीएचडी की पढ़ाई के दौरान गूगल सर्च इंजन को एक प्रोजेक्ट के तौर पर पेश किया था और आज यह दुनिया का सबसे बड़ा सर्च इंजन बन गया है। अगर कहा जाए कि इन 23 सालों में गूगल ने इंटरनेट की दुनिया पर राज किया है तो शायद गलत नहीं होगा। 2004 में ब्रिन और पेज ने गूगल को पब्लिक कर दिया। यानी गूगल का कोई एक मालिक नहीं है बल्कि कई सारे शेयरहोल्डर हो गए हैं। सबसे ज्यादा शेयर की बात की जाए तो लैरी पेज के पास इस वक्त सबसे ज्यादा शेयर हैं। उनके पास 19.9 मिलियन क्लास A शेयर्स हैं। और 20 मिलियन C क्लास के शेयर है। 

पद्म भूषण सम्मान से नवाजा गया 

भारत सरकार ने इसी साल गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर विभिन्न क्षेत्रों में देश का नाम रोशन करने वाले लोगों को नागरिक सम्मान देने की घोषणा की थी। इनमें गूगल के पहले भारतीय सीईओ सुंदर पिचाई को भारत सरकार ने पद्म भूषण सम्मान Padma Bhushan Award से नवाजा है। सुंदर पिचाई को यह सम्मान ट्रेड और इंडस्ट्री की कैटेगरी Category of trade and industry में उनके उल्लेखनीय योगदान को ध्यान में रखते हुए दिया गया है। 

सुंदर पिचाई का भारत से रिश्ता

बीबीसी के साथ इंटरव्यू में कुछ समय पहले सुंदर पिचाई ने कहा था कि मैं अमेरिकी नागरिक हूं लेकिन भारत मेरे अंदर की गहराईयों में बसा है। वह अपने परिवार की आर्थिक स्थिति के बारे में बताते हैं कि अमेरिका आने के लिए मुझे अपने पिता की एक साल की सैलरी खर्च करनी पड़ी थी तब जाकर मैं स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी पहुंच पाया। वो कहते हैं तब मैं पहली बार प्लेन में बैठा था। वो छात्रों को कहते हैं कि बस आप आशावादी बनें और खुले विचारों के साथ जियें तभी जाकर आप आगे बढ़ पाएंगे। सुंदर पिचाई ने कोरोना वायरस रिलीफ प्रोग्राम corona virus relief program में इंडिया को डोनेशन donation भी दिया है।

सुंदर पिचाई के बारे में कुछ मुख्य बातें 

सुंदर पिचाई अच्छे क्रिकेटर जाने जाते हैं। उन्होंने हाई स्कूल क्रिकेट टीम में कप्तानी करते हुए तमिलनाडु राज्य का क्षेत्रीय टूर्नामेंट Tamil Nadu State Regional Tournament जीता। सुंदर पिचाई को साइबल स्कॉलर और पामर स्कॉलर उपाधियों से सम्मानित किया जा चुका है। उन्होंने कंसल्टेंट कंपनी मैकिन्जी Mckinsey Company में कई साल काम किया। सुंदर की स्मरणशक्ति बहुत ही तेज है। कहा जाता है कि जब तमिलनाडु में इनके घर पर 1984 में पहली बार टेलीफ़ोन लगा था, तब सभी रिश्तेदार किसी दूसरे का नंबर भूल जाने पर सुंदर की याददाश्त का सहारा लेते थे। आज भी उनसे उन नंबरों के बारे में पूछे जाने पर उनको वो नंबर याद हैं। सबसे बड़ी बात उनमें टीम समर्पण की प्रबल भावना है। उन्होंने मरिसा मेयर के साथ काम करते वक्त टीम के प्रति समर्पण दिखाया और खुद को साबित किया। उनकी जबरदस्त प्रतिभा के कारण ही प्रसिद्ध अमेरिकी कंपनी रबा इंक ने उन्हें सलाहकार बोर्ड में बतौर सदस्य मनोनीत किया। सुंदर पिचाई के करियर में दो चीज़ें मील का पत्थर साबित हुईं उन्होंने जीमेल और गूगल मैप ऐप्स Gmail and Google Map Apps तैयार किए जो रातोंरात लोकप्रिय हो गए। पिचाई ने गूगल के सभी प्रॉडक्ट्स के लिए एंड्रॉयड ऐप भी इजाद किया। इसके बाद इनका पूरा ध्यान गूगल के ब्राउज़र क्रोम पर रहा। उन्होंने क्रोम वेब ब्राउजर लांच किया और साल भर में वेब बेस्ड क्रोम ओएस भी नेटबुक्स के लिए लांच किया। फिर 2012 में गूगल एप्स को संभाला और साल भर में एंड्रायड का पदभार भी संभाल लिया। इन्ही सब बातों की वजह से सुंदर पिचाई की पावर से आज कोई भी अनभिज्ञ नहीं है। Google का CEO बनने की सफलता के पीछे सुंदर पिचाई के सरल स्वभाव का भी बहुत बड़ा हाथ है। 

गूगल नेट वर्थ (Google Net Worth)

गूगल की टोटल नेट वर्थ Google net worth $1682 बिलियन डॉलर है। गूगल हर दिन $121 मिलियन डॉलर कमाई करता है और केवल विज्ञापन के जरिए Google कितनी तेजी से आगे बढ़ रहा है इसका अंदाजा आप इसके शेयर प्राइज से लगा सकते हैं। आप इस बात से समझ सकते हैं कि 2004 में गूगल के एक शेयर की कीमत $54 USD थी और आज 2021 में इसके एक शेयर की कीमत $2524.19 USD है जो कि बहुत अधिक है। 

सुंदर पिचाई की नेटवर्थ और बेस सैलरी 

आपको बता दें कि Celebrity Net Worth के अनुसार सुंदर पिचाई की नेटवर्थ Sundar Pichai Net Worth लगभग 600 मिलियन डॉलर है। यदि इसे भारतीय रुपये में बदलें तो ये लगभग 45 अरब रुपये है। सुंदर पिचाई ने टेक इंडस्ट्री में काम करते हुए काफी पैसे कमाए हैं। उन्होंने 2015 से 2020 के बीच हर साल 1 बिलियन डॉलर (लगभग 75 अरब रुपये) से ज्यादा की कमाई की। सुंदर पिचाई Google में काफी अहम् पद पर होने के साथ साथ कई प्रोजेक्ट्स पर काम कर चुके हैं। सुंदर पिचाई की बेस सैलरी 2 मिलियन डॉलर (लगभग 15 करोड़ रुपये) है। उन्होंने बोनस और स्टॉक ग्रांट के जरिए भी मोटी कमाई की है। उन्हें अन्य भत्तों के तौर पर लगभग 37 करोड़ रुपये (50 लाख डॉलर) मिलते हैं। 

ये भी पढ़े: "Dell Technologies" के फाउंडर माइकल डेल की कहानी

सुंदर पिचाई हमेशा कहते हैं कि जीवन में सफलता हासिल करने के लिए आपके पास इच्छाशक्ति होनी बहुत जरूरी है। संकट के समय में जो नहीं घबराता है उसे कामयाब होने से कोइ नहीं रोक सकता। एक साधारण से इंसान का अपनी छमताओं को इतने बड़े पैमाने पर बढाकर दुनियां में अपनी अलग पहचान बनाना वाकई सबके लिए प्रेरणा स्रोत है। और आज इस शिखर पर पहुँचने के बाद भी उनकी सादगी और सहजता लोगों के लिए मिसाल है। सुंदर पिचाई की सफलता और उपलब्धयां Sundar Pichai's success and achievements उनकी इन्ही खूबियों की कारण और अधिक बढ़ रहीं है और दिन प्रति दिन नए कीर्तिमान स्थापित कर रहीं हैं । आज सुंदर पिचाई जी के जन्मदिन के अवसर पर Think with Niche उन्हें इस लेख के माध्यम से बहुत-बहुत बधाई देता है जिनके कारण भारत का नाम पूरी दुनियां में रौशन हो रहा है।