facebook-pixel

चटपटे व्यंजन का व्यवसाय

Share Us

695
चटपटे व्यंजन का व्यवसाय
17 Nov 2021
6 min read
TWN In-Focus

Post Highlight

स्वाद मन mood बदलकर मनुष्य के स्वभाव में भी बदलाव ला देता है। स्वादिष्ट व्यंजन प्रत्येक मनुष्य की चाह होती है। आज तो समय ऐसा है कि लोग फास्ट फूड की ओर ज़्यादा झुक रहे हैं। यही कारण है कि लोग चाउमीन, मोमोज, गोलगप्पे जैसे लज़ीज़ व्यंजनों को अधिक पसंद करते हैं। यह ऐसा व्यवसाय बन सकता है, जिसका आने वाले समय में और भी अधिक विस्तार हो सकता है।

Podcast

Continue Reading..

भारत हमेशा से अतिथि देवो भव देश रहा है। चाहे स्वागत किसी मनुष्य का करना हो, किसी की सभ्यता का या फिर भोजन का, भारत हमेशा तैयार रहता है। खाने के मामले में तो भारत हमेशा लाइन में आगे ही पाया जाता है। यही कारण है कि खाने की जितनी विविधता भारत में पायी जाती है, शायद ही कहीं और पायी जाती होगी। खाने के परिपेक्ष में तो भारत सबसे अधिक लोकप्रिय है। यहां तक कि खाने में प्रयोग होने वाले मसाले भी भारत में सबसे अधिक उत्पादित होते हैं। भारत में कुछ व्यंजन अधिक ही प्रिय हैं, जैसे कि चाइनीज़ व्यंजन। जैसे-जैसे समाज का परिवेश बदल रहा है, वैसे-वैसे इन व्यंजनों की मांग देश में बढ़ती जा रही है। हर गली, हर नुक्कड़ पर हमें इन व्यंजनों के ठेले और दुकान मिल ही जाते हैं तथा इस क्षेत्र में बहुत ही कम ऐसा होता है जब कोई दुकान जो घाटे का शिकार हुई होगी। वह भी केवल सही प्रबंधन ना होने के कारण। इन व्यंजनों को विदेशों में भी इतना ही प्यार मिलता है। ऐसे में यदि हम चाइनीज़ व्यंजन को पैसे कमाने का आधार बनाएं तो, क्या हम अपने लिए अच्छा व्यवसाय नहीं ढूंढ़ लेंगे। चलिए आइए सही प्रबंधन के साथ चाइनीज़ भोजन का स्वाद अपने व्यवसाय में भी डाला जाए और स्वयं को सफल उद्यमी की गिनती में शामिल किया जाए।

चाइनीज़ खाने बनाने के तरीके सामान्य भोजन या फिर हम कह सकते हैं कि सब्जी, रोटी, दाल जैसे भोजनों से बहुत भिन्न होते हैं। यदि हम इन व्यंजनों के माध्यम से वास्तव में पैसे कमाना चाहते हैं, तो हमें सही रूप से इन्हें बनाने आना चाहिए। हमें यह पता होना चाहिए कि कितने समय तक हमें इसे पकाना है तथा कितनी मात्रा में वस्तुओं ingredients को इस्तेमाल करना है। चाइनीज़ खानों में अधिकतम स्वाद इन्हीं छोटी चीज़ों पर ध्यान देकर आता है। 

चाइनीज़ खानों में कुछ व्यंजन बहुत तीखे बनते हैं, तो कुछ में तीखा बिल्कुल भी नहीं रहता, परन्तु कभी-कभी लोग स्वादानुसार भी खाने में थोड़ा बदलाव चाहते हैं, ऐसे में इस बात का ध्यान रखना भी आवश्यक है कि एक व्यंजन में विभिन्नताएं रखें। यह आपको ग्राहक के करीब ले जाएगा। चाउमीन, मोमोज, मैक्रोनी, पास्ता आदि कई ऐसे डिशेज Dishes हैं, जो कई प्रकार से बनाए जाते हैं और लोग उसे पसन्द करते हैं। 

इसके साथ ही व्यंजन बनाने में प्रयोग किए जाने वाले व्यंजन की गुणवत्ता को ध्यान में रखें, यह किसी भी डिश का स्वाद ख़राब कर सकता है और आपके व्यवसाय को भी। इसके साथ ये सारे कार्य आप किस स्थान पर शुरू करते हैं, यह बहुत ही महत्वपूर्ण विषय है तथा इस पर प्रत्येक दुकानदार को ध्यान देना चाहिए। इससे आपके ग्राहकों की संख्या में इज़ाफ़ा होगा। किसी चौराहे के नज़दीक अपनी दुकान को खोलते हैं तो आप फ़ायदे में रहेंगे। क्योंकि ऐसे स्थानों पर अधिक भीड़ इकट्ठा होती है तथा इन व्यंजनों को खाने वालों की संख्या भी अधिक होती है।

स्वाद मन mood बदलकर मनुष्य के स्वभाव में भी बदलाव ला देता है। स्वादिष्ट व्यंजन प्रत्येक मनुष्य की चाह होती है। आज तो समय ऐसा है कि लोग फास्ट फूड की ओर ज़्यादा झुक रहे हैं। यही कारण है कि लोग चाउमीन, मोमोज, गोलगप्पे जैसे लज़ीज़ व्यंजनों को अधिक पसंद करते हैं। यह ऐसा व्यवसाय बन सकता है, जिसका आने वाले समय में और भी अधिक विस्तार हो सकता है।