facebook-pixel

शटल - आरामदायक यात्रा का अनुभव कराने वाला स्टार्ट अप

Share Us

1113
शटल - आरामदायक यात्रा का अनुभव कराने वाला स्टार्ट अप
13 Oct 2021
9 min read
TWN Opinion

Post Highlight

शटल की तरह हर कोई स्टार्टअप कर सकता है, चाहें बिजनेस के क्षेत्र में हो या अन्य किसी क्षेत्र में। क्वालिटी एवं कस्टमर की सुविधाओं को ध्यान में रखते हुए कोई भी स्टार्टअप शुरू करके अपने भविष्य को सुरक्षित करने के साथ अन्य लोगों को भी रोजगार मुहैया करा सकते हैं।

Podcast

Continue Reading..

हमारे देश में सार्वजनिक परिवहन एक बहुत बड़ी समस्या है। वाहनों की स्थिति के साथ बुनियादी ढाँचा भी ख़राब है। आज लोग निजी वाहनों का उपयोग करना ज्यादा पसंद करते हैं। क्योंकि सार्वजनिक परिवहन के बजाय लोगों को अपने वाहन से यात्रा करना ज्यादा सुविधाजनक लगता है। हमारे देश की जनसंख्या बहुत अधिक है। जैसे दिल्ली, मुंबई, बैंगलोर, हैदराबाद आदि बड़े महानगरीय शहरों में नौकरी के साधन होने के कारण लोग यहाँ रहना पसंद करते हैं। इसलिए इन शहरों में जनसंख्या का प्रवाह अधिक है। इन महानगरीय शहरों में अब सूचना और प्रौद्योगिकी जैसे कई उद्योग हैं।

इन उद्योगों के अधिक होने के कारण सार्वजानिक परिवहन जैसे बस, मेट्रो रेल की मांग तेजी से बढ़ रही है और ये मांग को पूरा करने में असमर्थ हैं। इसलिए शटल एप्प द्वारा लोगों की मांग को कुछ हद तक पूरा किया जा सकता है। शटल एक स्टार्टअप है जो ऑन डिमांडिंग सेवा प्रदान करता है। जैसे ओला, ऊबर भी जनता को आरामदायक परिवहन सुविधा देने में कामयाब रहा उसी तरह शटल भी है। हाँ थोड़ा अंतर है शटल तथा ऊबर में। शटल के पास बसें, मिनी बसें, एसयूवी हैं, जिनको जनता अपनी इच्छा के अनुसार चुन सकते हैं। मतलब ये एक बहुत अच्छा स्टार्टअप है।

शटल की तरह हर कोई स्टार्टअप कर सकता है, चाहें बिजनेस के क्षेत्र में हो या अन्य किसी क्षेत्र में। क्वालिटी एवं कस्टमर की सुविधाओं को ध्यान में रखते हुए कोई भी स्टार्टअप शुरू करके अपने भविष्य को सुरक्षित करने के साथ अन्य लोगों को भी रोजगार मुहैया करा सकते हैं।

शटल की स्थापना दीपांशु मालवीय और अमित सिंह ने 2015 में की थी। उन्होंने सोचा कि इस प्रौद्योगिकी को एप्प के साथ जोड़ सकते हैं। जो लोगों को बस, मिनी बस में सीट आरक्षित करने का मौका दे सकता है। शटल एप्प के द्वारा आप बस में सीट आरक्षित कर सकते हैं, जैसे अपने घर से कार्यालय जाने में, कार्यालय से घर आने में, हवाई अड्डा से होटल जाने में या फिर कही और आने-जाने में। शटल जो समय स्लॉट देता है, उसके अनुसार आप बस में सीट आरक्षित कर सकते हैं। रुट प्रतिवाहन यात्रियों की संख्या और ग्राहकों की सख्या के अनुसार तय किये जाते हैं। इन बसों की मांग इतनी अधिक है कि सीटें अक्सर चौबीस घंटे पहले ही बुक हो जाती हैं। शटल बसों की आवश्यकता पर ध्यान दे रहा है। शटल ने पूरा ध्यान रखा है कि बस आरामदायक हों और वातानुकूलित हों।

शटल कोशिश करता है कि अपने यात्रियों का पूरा ध्यान रखे जिससे यात्री आराम से सफर कर सकें। उनका मकसद है लोगों को आराम दायक यात्रा का अनुभव करवाना। शटल ने लोगों की सुविधा के हिसाब से काम किया है, ये बसें परिवहन का साधन हैं। जो एक जगह से दूसरी जगह पहुंचाने में सस्ती और अच्छी हैं। इसलिए देखा जाये तो ये बसें यातायात और प्रदूषण को भी कम करती हैं। शटल की सेवा लगातार बढ़ रही है। लोग इसका पूरा उपयोग कर रहे हैं। शटल अपने यात्रियों का विशेष ध्यान रखता है खासकर महिलाओं की सुरक्षा का। इसलिए शटल महिलाओं की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए सीसीटीवी फीड जैसी सुविधाओं से ग्राहकों को सुरक्षित करवाने की कोशिश कर रहा है और वो इसमें सफल भी रहा है। शटल एक अच्छा स्टार्टअप है। इस तरह हम कोई भी स्टार्टअप शुरू करके अपने भविष्य को सुरक्षित कर सकते हैं।