facebook-pixel
Coursera Image_2

प्लास्टिक खाद्य पैकेजिंग के उपयोग से बचें

Share Us

1958
 प्लास्टिक खाद्य पैकेजिंग के उपयोग से बचें
14 Jan 2022
6 min read

Post Highlight

प्लास्टिक खाद्य पैकेजिंग की शुरुआत करीब 1950 में हुई थी और उसके बाद से ज्यादातर सुपरमार्केट में इसका इस्तेमाल होने लगा। भले ही आपको यह सुनके खराब लगे लेकिन सच यही है कि प्लास्टिक रैप पर्यावरण के लिए कहीं से भी अच्छा नहीं है। आपको बता दें कि ज्यादातर प्लास्टिक उत्पाद plastic products तो उसी साल बेकार हो जाते हैं, जिस साल उनका उत्पादन production होता है और बाद में यही कचरा समुद्र में जाता है।

Podcast

Continue Reading..

फलों, सब्जियों और ज्यादातर खाद्य सामग्री को आपने प्लास्टिक रैप से लपेटा हुआ देखा होगा, पर क्या आपने कभी सोचा है कि खाद्य सामग्री food products को प्लास्टिक कवर से क्यों लपेटा जाता है? इसका उत्तर है उन्हें लंबे समय तक ताजा रखने के लिए। जैसे- जब हम खीरे को प्लास्टिक रैप से लपटते हैं तो वह ज्यादा दिनों तक फ्रेश रहता है। प्लास्टिक खाद्य पैकेजिंग plastic food packaging सबसे ज्यादा सुपरमार्केट में की जाती है लेकिन जब हम उन्हीं फलों और सब्जियों को घर पर लाते हैं तो हम भी उनकी फ्रेशनेस को बरकरार रखने के लिए प्लास्टिक रैप का इस्तेमाल करते हैं। 

प्लास्टिक खाद्य पैकेजिंग की शुरुआत करीब 1950 में हुई थी और उसके बाद से ज्यादातर सुपरमार्केट में इसका इस्तेमाल होने लगा। जब आप किसी से कहेंगे कि प्लास्टिक पैकेजिंग plastic packaging से पर्यावरण को खतरा है तो आपको यह जवाब मिलेगा कि ये प्लास्टिक रैप सस्टेनेबल होता है और इससे पर्यावरण को कम नुकसान पहुंचता है। जवाब गलत नहीं है लेकिन ऐसी चीज़ का इस्तेमाल ही क्यों करना जिससे पर्यावरण को नुकसान पहुंचे। भले ही आपको यह सुनके खराब लगे लेकिन सच यही है कि प्लास्टिक रैप पर्यावरण के लिए कहीं से भी अच्छा नहीं है। आपको बता दें कि ज्यादातर प्लास्टिक उत्पाद plastic products तो उसी साल बेकार हो जाते हैं, जिस साल उनका उत्पादन production होता है और बाद में यही कचरा समुद्र में जाता है। 

हम प्लास्टिक खाद्य पैकेजिंग का इस्तेमाल पूरी तरह से तो बंद नहीं कर सकते हैं लेकिन इनका इस्तेमाल कम जरूर कर सकते हैं। आइए जानते हैं कि प्लास्टिक खाद्य पैकेजिंग के उपयोग को कैसे कम किया जाए-

1. ग्लास कंटेनर का इस्तेमाल करें use glass container

ग्लास कंटेनर का इस्तेमाल करना सबसे बेस्ट ऑप्शन है क्योंकि प्लास्टिक की तरह यह जल्दी खराब नहीं होते और लंबा टिकते हैं। प्लास्टिक की तुलना में यह थोड़े महंगे जरूर होते हैं लेकिन इनके इस्तेमाल से पर्यावरण और आपके स्वास्थ्य दोनों पर ही नकारात्मक प्रभाव नहीं पड़ता है।

2. टिन फॉयल tin foil

टिन फॉयल भले ही सबसे ज्यादा सस्टेनेबल  उपाय ना हो लेकिन प्लास्टिक रैप की तुलना में यह कई गुना बेहतर है।

3. ऑयल क्लॉथ oil cloth

ऑयल क्लॉथ एक सस्टेनेबल ऑप्शन sustainable alternative है क्योंकि आप इन्हें कई बार इस्तेमाल कर सकते हैं और इन्हें इस्तेमाल करना भी बेहद आसान है। प्लास्टिक रैप एक बार इस्तेमाल करने से ही खराब हो जाता है लेकिन ऑयल क्लॉथ ज्यादा टिकता है। 

कई लोग यह सोचते हैं कि सिर्फ उनके सस्टेनेबल लाइफस्टाइल sustainable lifestyle अपनाने से वह क्या बदलाव ला पाएंगे लेकिन उन्हें ये समझना चाहिए कि जब आप एक बार किसी चीज़ को बदलना चाहते हैं तो आपके आस पास के लोग भी आपसे प्रभावित होकर वही चीज़ करते हैं इसीलिए अगर प्लेनेट को बचाना है तो हम सभी को अपने प्लास्टिक फुटप्रिंट plastic footprint को कम करना होगा। भले ही यह एक छोटी शुरुआत होगी लेकिन ये एक बड़ा बदलाव लाएगी। 

#GoGreenForTheBigBlue