कर्मचारियों को लुभाने के नए नए तरीके

Share Us

3096
कर्मचारियों को लुभाने के नए नए तरीके
23 Sep 2021
9 min read

Blog Post

अगर किसी कंपनी में नौकरी की हानि, आय में कमी, बोनस में कमी, डिमोशन ये सब चीज़ें होती हैं तो वहां पर कोई भी काम करना नहीं चाहता। लोग जल्द ही दूसरी अच्छी कंपनी में जाना चाहते हैं। इसलिए ऐसा कभी भी एक अच्छी कंपनी में नहीं होता है। अगर कर्मचारियों को लुभाना है तो एक अच्छी कंपनी को ये सब पता होना चाहिए कि हमें अगर एक कंपनी की ग्रोथ चाहिए तो बीच-बीच में अपने कर्मचारियों को आकर्षित करने के लिए अच्छे तथा लुभावने तरीकों से उनको बांध कर रखना चाहिए।

आजकल बेहतरीन प्रतिभाओं को अपने साथ बनाए रखने के लिए आईटी कंपनियों में जबरदस्त मारामारी है। कंपनी कर्मचारियों को लुभाने के लिए अलग अलग तरह से इंसेंटिव दे रही है, और ये तरीका एक तरफ से अच्छा भी है। क्योंकि ऐसा करने से अच्छे परफ़ॉर्मर सबकी नजर में आ जाते हैं। उन्हें सबसे वो सम्मान मिलता है जिसके लिए सच में वो मेहनत करते हैं। एक कंपनी की ग्रोथ उसके कर्मचारियों से ही होती है। कंपनी को कर्मचारियों का समय-समय पर ध्यान रखना चाहिए, तभी वे मन लगाकर काम करते हैं। इसी तरह अवार्ड सेरेमनी भी एक अच्छा तरीका है कर्मचारियों का मनोबल बढ़ाने के लिए। इससे भी हर कोई अपना अच्छा आउटपुट देने की कोशिश करता है। आजकल हर अच्छी कंपनी यह चाहती है कि मेरी कंपनी में अच्छे से अच्छा कर्मचारी हो। इसके लिए आई टी कंपनी में होड़ लगी हुई है। हो भी क्यों न, हर कंपनी खुद को आगे बढ़ाना चाहती है, एक प्रसिद्ध नाम चाहती है और वह नाम सिर्फ उसके कर्मचारियों के मेहनत द्वारा ही उसे मिल सकता है।

ऐसी ही एक कंपनी अपने अच्छे प्रदर्शन वाले कर्मचारियों को मर्सिडीज़ कार देने की तैयारी कर रही है। एचसीएल टेक्नोलॉजी अपने टॉप परफॉर्मर्स को मर्सिडीज़ बेंज  कार गिफ्ट में देगी। इससे पहले भी कंपनी अपने कर्मचारियों को 50 मर्सिडीज़ कारें गिफ्ट कर चुकी है। एचसीएल टेक्नोलॉजी इस वित्त वर्ष में 22,000  फ्रेशर्स की भर्ती कर रही है। हर कंपनी अपने-अपने कर्मचारियों को कंपनी में निरंतर कार्यरत रहने के लिए अच्छा पैकेज और अच्छे उपहार देती है। इसका मतलब ये भी है कि कंपनी अपने अच्छे कर्मचारियों को रोकने के लिए तरह तरह के तरीके अपना रही है, जो कर्मचारियों और कंपनी दोनों के लिए फायदेमंद है और सबसे अच्छी बात इससे अच्छे कर्मचारियों को महत्व भी मिल रहा है। आईटी सेक्टर में एट्रिशन रेट ज्यादा है।

आर्थिक दृष्टिकोण से देखा जाये तो लोग तर्कसंगत हैं और पैसे कमाने से प्रेरित हैं और पैसा एक प्रभावी प्रेरक है। पैसा ही लोगों को अप्रिय, बोरिंग, दोहरावदार नौकरियों को करने के लिए प्रेरित कर सकता है और साथ ही अच्छे प्रदर्शन के लिए प्रेरित कर सकता है। हम कह सकते हैैं कि आर्थिक दृष्टिकोण प्रभावी है। इसलिए समय-समय पर हर कंपनी अपने कर्मचारियों की सैलरी बढ़ाती है। जो जैसा प्रदर्शन करता है उसकी सैलरी उसी हिसाब से बढ़ायी जाती है। क्योंकि हर एक आदमी पैसे के लिए काम करता है। इसलिए अधिक धन प्राप्त करने का आकर्षण सबसे शक्तिशाली प्रेरक माना गया है। अधिक वेतन, फ्रिंज लाभ, कार्यकाल की सुरक्षा, सेवा की शर्तें आदि तकनीक कंपनी अपने कर्मचारियों के साथ अपनाती है।

इसके अलावा कर्मचारियों को अच्छे प्रदर्शन, अच्छी तकनीक, अच्छे कार्य और अनुशासन के आधार पर पुरस्कृत भी किया जाता है। इसे अवार्ड सेरेमनी के नाम से जाना जाता है। कई कंपनी अपने कर्मचारियों को लंच, चाय और कॉफ़ी की सुविधा भी देती है। जिससे कर्मचारी थकान को दूर करते हुए मन लगाकर काम करें। क्योंकि शरीर में थकान आने से हमारा मन भी थकावट महसूस करने लगता है, ऐसे में ज्यादा अच्छा काम नहीं हो सकता। तनाव को दूर करने के लिए ये सब सुविधाएं भी कंपनी उपलब्ध कराती है। इसके साथ ही कंपनी अपने कर्मचारियों को साल में एक या दो बार टूर पर भी ले जाती है। जिससे काम के बीच में थोड़ा गैप भी मिल जाए और फिर से तरो-ताजा होकर कर्मचारी बिना किसी तनाव के काम शुरू कर दें। काम के अनुसार पदोन्नत्ति, बोनस और ऐसी कई अन्य स्कीम से कर्मचारी कंपनी में टिके रहते हैं। इसके अलावा त्योहारों पर उनके काम के अनुसार अच्छे-अच्छे उपहार भी कंपनी देती है।