facebook-pixel

जानिए इन टॉप 10 जॉब ओरिएंटेड कोर्सेज के बारे में

Share Us

134
जानिए इन टॉप 10 जॉब ओरिएंटेड कोर्सेज के बारे में
19 Sep 2022
7 min read
TWN In-Focus

Post Highlight

एक अच्छा करियर बनाने के लिए एक अच्छी जॉब पाना हर किसी का सपना होता है। स्टूडेंट्स जॉब के लिए बेस्ट कोर्स करना चाहते हैं जिससे वह अपनी रुचि के क्षेत्र में अपना अच्छा करियर बना पाए। लेकिन आज कॉर्पोरेट जगत में काम को करने के लिए आपके पास व्यावहारिक स्किल्स भी होनी चाहिए। इसका फायदा यह होता है कि आपको आसानी से जॉब मिल जाती है और इसके लिए आपको इन टॉप जॉब ओरिएंटेड कोर्सेज की जानकारी होनी चाहिए। क्योंकि आज के स्टूडेंट्स कुछ हट के अलग फील्ड में करियर बनाने में ज्यादा दिलचस्पी रखने लगें हैं। जॉब ऑरिएंटेड कोर्स से न सिर्फ जॉब के नए ऑप्शन खुल रहे हैं बल्कि ये कोर्सेज करियर बिल्डिंग में भी सहायक साबित हो रहे हैं। अब स्टूडेंट्स पारंपरिक कोर्सेज की जगह जॉब ऑरिएंटेड कोर्स को करने में ज्यादा दिलचस्पी ले रहे हैं। जॉब ओरिएंटेड कोर्सेज के बाद मिलने वाली जॉब मार्केट में डिमांड में हैं। तो चलिए इस आर्टिकल में विस्तार से इन टॉप 10 जॉब ओरिएंटेड कोर्स Top 10 Job Oriented Courses के बारे में जानते हैं जिसके बाद इन बेस्ट ओरिएंटेड कोर्स के द्वारा आप अपनी पसंदीदा जॉब में करियर बना सकते हैं।

Podcast

Continue Reading..

धीरे धीरे समय बदल रहा है और समय के साथ साथ छात्रों के विचारों में भी काफी बदलाव आ रहा है। पहले की तरह आज स्टूडेंट्स सिर्फ इंजीनियरिंग Engineering और मेडिकल Medical के ही क्षेत्र में नहीं जाना चाहते हैं बल्कि उनके पास और भी बहुत सारे विकल्प हैं। स्टूडेंट्स में पारंपरिक कोर्स को लेकर माइंडसेट काफी चेंज हो गया है। मतलब साफ़ है कि स्टूडेंट्स अब पारंपरिक कोर्सेज जैसे मेडिकल, इंजीनियरिंग सीए या फिर सीएस जैसे कोर्स के अलावा अब जॉब ऑरिएंटेड कोर्स Job oriented course में ज्यादा रूचि ले रहे हैं। छात्रों को इन जॉब ऑरिएंटेड कोर्स के बाद अच्छी जॉब good job मिल जाती है और सैलरी भी काफी अच्छी है। यानि आज जॉब ऑरिएंटेड कोर्स के बाद छात्र अच्छा करियर बना रहे हैं। 

बेस्ट टॉप 10 जॉब ऑरिएंटेड कोर्स Best Top 10 Job Oriented Courses

1. पीजी डिप्लोमा इन आर्काइव्स कीपिंग PG Diploma In Archives Keeping

आप पीजी डिप्लोमा इन आर्काइव्स कीपिंग अन्नामलाई ओपन यूनिवर्सिटी से कर सकते हैं। इस कोर्स के अंतर्गत जो भी स्टूडेंट्स होते हैं उन्हें भारत और विदेशी आर्काइवल मैटीरियल के थ्योरी और तरीकों के बारे में समझाया जाता है। यदि आपको इस कोर्स में एडमिशन लेना है तो आपको हिस्ट्री History या आर्कियोलॉजी Archeology में स्नातकोत्तर होना जरूरी है। इस कोर्स को करने के बाद आप रेप्रोग्राफी Reprography, कंजर्वेसन और आर्काइवल साइंस से संबंधित सेक्टर में लेक्चरर, अर्काइविस्ट, पब्लिक रिलेशन ऑफिसर Public relations officer, इंफॉर्मेंशन मैनेजर्स, रिकॉर्ड्स मैनेजर्स और लाइब्रेरियन Information Managers, Records Managers and Librarians आदि में अपना करियर संवार सकते हैं। 

2. पीजी डिप्लोमा इन प्रिवेंटिव ऐंड प्रोमोटिव हेल्थकेयर PG Diploma In Preventive And Promotive Healthcare

हेल्थकेयर सेक्टर में आज कई स्टूडेंट अपना करियर बनाना चाहते हैं। क्योंकि इसमें जॉब की अत्यधिक संभावनाएं हैं। यदि आप ग्रेजुएट हैं तो प्रिवेंटिव ऐंड प्रोमोटिव हेल्थकेयर में डिप्लोमा कोर्स कर सकते हैं। ये तो आज हम सब जानते हैं कि हर व्यक्ति आज परेशान है कोई चिंता से, कोई बीमारी से, कोई नौकरी से। मतलब इन सब चीज़ों के कारण बीमारियाँ अत्यधिक बढ़ रही हैं। आज लोग अवसाद, मोटापा, हृदय रोग, कैंसर, ब्लड प्रेशर आदि बीमारियों से घिरे हैं। इसलिए हेल्थकेयर सेक्टर से संबंधित कोर्स काफी डिमांड में हैं और इनकी डिमांड बढ़ती ही जा रही है। इस कोर्स के द्वारा स्टूडेंट्स को लाइफस्टाइल कैसे रखा जाये और डिजीज से मुकाबला करने के बारे में सिखाया जाता है और साथ ही लाइफस्टाइल में सुधार कैसे लाया जाए इस बारे में बताने के लिए समय समय पर प्रोग्राम्स आयोजित किये जाते हैं। इसमें कार्डियक केयर, हेल्थ ऐंड डिजीज मैनेजमेंट, कैंसर रिस्क फैक्टर मैनेजमेंट, हेल्थ सायकोलॉजी ऐंड स्ट्रेस मैनेजमेंट, एक्सरसाइज हेल्थ ऐंड लाइफस्टाइल असेंसमेंट, न्यूट्रिशन आदि के बारे में बताया जाता है। इस कोर्स के लिए आपको साइकोलॉजी, बायो-साइंस या फिजियो थैरेपी में ग्रेजुएट होना आवश्यक है। 

3. डिप्‍लोमा इन डिजिटल मार्केटिंग Diploma In Digital Marketing

हम सब जानते हैं कि आज का जो समय चल रहा है वो डिजिटल पीरियड है। डिजिटल मार्केटिंग में आजकल लोग अपने भविष्य को एक नयी दिशा दे रहे हैं। क्योंकि इस सेक्टर में आजकल आपको बहुत सारी जॉब मिल जाएंगी। डिप्‍लोमा इन डिजिटल मार्केटिंग इस कोर्स को करने के बाद आपके करियर की राह काफी आसान हो जायेगी। इस कोर्स को आप 12वीं के बाद भी कर सकते हैं। इस कोर्स को आप लगभग 3 से 12 महीने में पूरा कर सकते हैं या फिर ग्रेजुएशन के बाद स्टूडेंट्स डिजिटल मार्केटिंग में डिप्लोमा कोर्स कर सकते हैं। इस कोर्स को करने के बाद मैनेजर, एग्जीक्यूटिव, स्पेशलिस्ट आदि के रूप में नौकरी कर सकते हैं। यदि आप चाहें तो इस कोर्स को करने के बाद आप अपना कोई बढ़िया बिजनेस भी कर सकते हैं। 

4. डिप्लोमा इन एजुकेशन टेक्नोलॉजी (डीईटी) Diploma In Education Technology

इस कोर्स को आप एक वर्ष से लेकर तीन वर्ष की अवधि में पूरा कर सकते हैं। इस कोर्स के अंतर्गत एजुकेशनल सेटिंग्स में मल्टीमीडिया के बारे में बताया जाता है। यानि वर्तमान शिक्षण पद्धति में मल्टीमीडिया के इस्तेमाल के बारे में बताया जाता है। एमपी भोज यूनिवर्सिटी शिक्षकों को टेक्नोलॉजी के क्षेत्र में आगे बढ़ने के लिए डिप्लोमा इन एजुकेशन टेक्नोलॉजी कोर्स करवाती है। यह कोर्स शिक्षक और एजुकेर्ट्स के लिए है। इस कोर्स में मल्टीमीडिया, ग्राफिक्स टूल्स और एमएस-ऑफिस की ट्रेनिंग दी जाती है। इस कोर्स को एम.पी. भोज यूनिवर्सिटी से कर सकते हैं। 

Also Read : जानिये दुनिया के 10 सबसे कठिन एग्जाम्स के बारे में

5. डिप्लोमा इन फूड एंड बेवरेज सर्विस मैनेजमेंट Diploma In Food And Beverage Service Management

12वीं पास स्टूडेंट्स फूड ऐंड वेबरेज सर्विस मैनेजमेंट का डिप्लोमा कोर्स कर सकते हैं। इस कोर्स के अंतर्गत स्टूडेंट्स को फूड ऐंड वेबरेज सर्विस, फूड ऐंड वेबरेज सर्विस इक्वीपमेंट, प्रैक्टिकल ट्रेनिंग, फूड सर्विस मैथड, इक्वीपमेंट नॉलेज आदि के बारे में बताया जाता है। इस कोर्स में एडमिशन आपके 12वीं के मार्क्स और इंटरव्यू के आधार पर होता है। इस कोर्स की अवधि करीब एक वर्ष होती है। इस कोर्स को करने के बाद आपको जॉब मिलने में ज्यादा परेशानी नहीं होगी और आपका भविष्य सुरक्षित रहेगा। 

6. पीजी डिप्लोमा इन केमो-इंफॉर्मेटिक PG Diploma in Chemo-informatics

इंफॉर्मेटिक कोर्स की अवधि एक वर्ष है और स्टूडेंट्स इस कोर्स को तीन साल की अवधि में पूरा कर सकते हैं। दरअसल यह कोर्स टेक्नोलॉजी और केमिस्ट्री से मिल कर बना है। इस कोर्स को करने के बाद आप एग्रोकेमिकल, फार्मास्यूटिकल और बायोटेक्नोलॉजी इंडस्ट्री Agrochemical, pharmaceutical and biotechnology industries में जा सकते हैं। इस कोर्स में बेसिक ऑफ केमो-इंफॉर्मेटिक्स, केमो-इंफॉर्मेटिक्स टाडाबेस डिजाइन ऐंड मैनेजमेंट, डाटा सीक्क्वेंसिंग आदि के बारे में बताया जाता है। 

7. डिप्‍लोमा इन मल्टीमीडिया Diploma In Multimedia

यह कोर्स आज के समय में काफी पॉपुलर कोर्स है और अधिकतर छात्र इस कोर्स को करना पसंद कर रहे हैं। इस कोर्स को आप 12वीं के बाद कर सकते हैं। इस कोर्स की अवधि 6 महीने से एक साल की होती है। डिप्‍लोमा इन मल्टीमीडिया कोर्स करने के बाद आप एनिमेटर, ग्राफिक डिजाइनर, ब्रांड मैनेजर Animator, Graphic Designer, Brand Manager आदि नौकरी कर सकते हैं। आप इसमें 2 साल का एडवांस डिप्लोमा कोर्स भी कर सकते हैं। आजकल यह कोर्स काफी डिमांड में है। इस कोर्स को करने के बाद आप आसानी से जॉब पा सकते हैं। 

8. सिस्टेमैटिक ट्रेनिंग एंड एजुकेशन Systematic Training And Education

यह एक प्रैक्टिकल ट्रेनिंग प्रोग्राम है। सिस्टेमैटिक ट्रेनिंग एंड एजुकेशन के अंतर्गत स्टूडेंट्स को हाउस कीपिंग, फ्रंट ऑफिस, फूड ऐंड बेवरेज और किचन सर्विस House Keeping, Front Office, Food and Beverage and Kitchen Service के बारे में बताया जाता है। इसमें वेस्टर्न और इंडियन किचन के बारे में जानकारी दी जाती है। इस कोर्स के पूरा होने के बाद स्टूडेंट्स को बैचलर ऑफ टूरिजम की डिग्री दी जाती है। अभी यह प्रोग्राम ओबराय आगरा Oberoi Agra, ओबराय शिमला Oberoi Shimla, ओबराय राजविलास जयपुर, ओबराय उदयविलास उदयपुर आदि जगह पर चलाए जा रहे हैं। इससे आप ओबराय ग्रुप Oberoi Group में ही करियर बना सकते हैं। इस कोर्स के बाद स्टूडेंट्स होटल में ऑपरेशनल असिस्टेंट के रूप में भी काम कर सकते हैं। 

9. डिप्‍लोमा इन फोटोग्राफी Diploma In Photography

आजकल फोटोग्राफी में करियर बनाना भी एक बेहतरीन ऑप्शन है। यदि आप फोटोग्राफी में रूचि रखते हैं तो आप 12वीं के बाद डिप्‍लोमा इन फोटोग्राफी में अपना करियर को अच्छी राह दे सकते हैं। इस कोर्स की अवधि 6 महीने से 1 साल की होती है। इस कोर्स के बाद आप अपना खुद का बिजनेस भी शुरू कर सकते हैं। डिप्लोमा इन फोटोग्राफी कोर्स करने के बाद आपके पास जॉब के कई ऑप्शन हैं। इस कोर्स के बाद वाइल्ड लाइफ फोटोग्राफर, न्यूज फोटोग्राफर आदि में आपको अच्छी जॉब मिल जायेगी। 

10. सर्टिफिकेशन इन अकाउंड ऐंड फाइनेंस Certification In Account And Finance

आज के मौजूदा दौर में सर्टिफिकेशन इन अकाउंड ऐंड फाइनेंस के फील्ड में स्किल्ड प्रोफेशनल्स की बहुत डिमांड है। इस कोर्स में स्टूडेंट्स को बिजनेस प्रोसेस, बेसिक फाइनेंस, बेसिक वॉइस ट्रेनिंग के साथ एडवांस्ड वॉइस ट्रेनिंग की ट्रेनिंग दी जाती है। इस प्रोग्राम में स्टूडेंट्स को इस फील्ड से जुड़ी चीज़ों के बारे में और अकाउंड ऐंड फाइनेंस की बारीकियों और फाइनेंस एंड अकाउंट्स से जुड़े सभी प्रोसेस के बारे में बताया जाता है। इस कोर्स को पूरा करने के बाद छात्रों को अकाउंड, फाइनेंस, आईटी, एफएमसीजी, प्राइवेट सेक्टर Account, Finance, IT, FMCG, Private Sector आदि में जॉब आसानी से मिल जाती है।