अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस 2023: स्वास्थ्य, शांति और कल्याण का उत्सव 

Share Us

2012
अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस 2023: स्वास्थ्य, शांति और कल्याण का उत्सव 
21 Jun 2023
5 min read

Blog Post

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस योग की प्राचीन प्रथा का वैश्विक उत्सव है। इस वर्ष यह दिन 21 जून को पड़ता है, जो उत्तरी गोलार्ध में वर्ष का सबसे लंबा दिन है। अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस 2023 International Yoga Day 2023 की थीम "मानवता के लिए योग"  "Yoga for Humanity".है। यह विषय लोगों को एकजुट करने और दुनिया में शांति और सद्भाव को बढ़ावा देने के तरीके के रूप में योग के महत्व पर जोर देता है।

शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य के लिए योग के कई लाभ हैं। यह लचीलेपन, शक्ति और संतुलन को बेहतर बनाने में मदद कर सकता है। यह तनाव, चिंता और अवसाद को कम करने में भी मदद कर सकता है। योग नींद, एकाग्रता और समग्र कल्याण में सुधार करने में भी मदद कर सकता है।

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के लिए चुनी गई तारीख ग्रीष्म संक्रांति summer solstice के साथ मेल खाती है, जो दुनिया भर की कई संस्कृतियों में बहुत महत्व का समय है। ग्रीष्म संक्रांति वर्ष का सबसे लंबा दिन और विकास और प्रचुरता के मौसम की शुरुआत का प्रतीक है।

यह योग की शक्ति का जश्न मनाने का एक सही समय है जो हमें अपने भीतर से जुड़ने और अपनी पूरी क्षमता हासिल करने में मदद करता है।

इस वर्ष के अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस का नेतृत्व प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी Prime Minister Narendra Modi  21 जून को संयुक्त राष्ट्र मुख्यालय में करेंगे। यह पहली बार है जब प्रधानमंत्री द्वारा इस स्थान पर योग सत्र आयोजित किया जाएगा। इस कार्यक्रम में दुनिया भर से हजारों लोगों के भाग लेने की उम्मीद है।

मुझे आशा है कि आप अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस 2023 मनाने और मन, शरीर और आत्मा की शक्ति को अपनाने में मेरा साथ देंगे।

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस International Yoga Day लोगों को एकजुट करने और स्वास्थ्य और कल्याण को बढ़ावा देने के लिए योग की शक्ति का जश्न मनाने का दिन है। यह एक साथ आने और शांति और सद्भाव की भावना से योग का अभ्यास करने का दिन है।

यदि आप अपने शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य को बेहतर बनाने के तरीके की तलाश कर रहे हैं, तो योग एक बेहतरीन विकल्प है। यह एक सुरक्षित और प्रभावी अभ्यास है जिसका आनंद सभी उम्र के लोग उठा सकते हैं।

योग भारत में 5,000 साल के इतिहास के साथ मन और शरीर का अभ्यास है। "योग" शब्द संस्कृत मूल "युज" से आया है, जिसका अर्थ है "जोड़ना" या "एकजुट करना"। योग एक समग्र अभ्यास है जो शरीर, मन और आत्मा को जोड़ता है। यह आपके आंतरिक स्व से जुड़ने और संतुलन और सद्भाव की स्थिति प्राप्त करने का एक तरीका है।

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस 2023: स्वास्थ्य, शांति और कल्याण का उत्सव International Day of Yoga 2023:

भारतीय इतिहास में योग Yoga in Indian History

योग के शुरुआती संदर्भ हिंदू धर्म Hinduism के पवित्र ग्रंथों वेदों में पाए जा सकते हैं। वेदों में योगाभ्यासों के कई संदर्भ हैं, जैसे ध्यान, श्वास अभ्यास और आसन। योग उपनिषदों में एक अधिक औपचारिक अभ्यास के रूप में विकसित होना शुरू हुआ, जो 800 और 500 ईसा पूर्व के बीच लिखे गए थे। उपनिषदों में योग पर कुछ सबसे महत्वपूर्ण दार्शनिक ग्रंथ हैं।

योग का इतिहास history of yoga लंबा और जटिल है, जिसकी जड़ें सिंधु घाटी सभ्यता Indus Valley Civilization (3300-1300 ईसा पूर्व) में देखी जा सकती हैं। योग के शुरुआती संदर्भ हिंदू धर्म के पवित्र ग्रंथों वेदों में पाए जा सकते हैं। वेदों में योगाभ्यासों yogic practices के कई संदर्भ हैं, जैसे ध्यान, श्वास अभ्यास और आसन।

योग उपनिषदों में एक अधिक औपचारिक अभ्यास के रूप में विकसित होना शुरू हुआ, जो 800 और 500 ईसा पूर्व के बीच लिखे गए थे। उपनिषदों  Upanishads,में योग पर कुछ सबसे महत्वपूर्ण दार्शनिक ग्रंथ हैं। ये ग्रंथ वास्तविकता की प्रकृति, व्यक्ति और ब्रह्मांड के बीच संबंध और मुक्ति के मार्ग पर चर्चा करते हैं।

इसके बाद की शताब्दियों में, योग का विकास और विकास जारी रहा। योग के नए स्कूल उभरे, प्रत्येक अभ्यास के लिए अपने स्वयं के अनूठे दृष्टिकोण के साथ। योग के कुछ सबसे महत्वपूर्ण विद्यालयों में शामिल हैं:

योग का सबसे लोकप्रिय रूप Most popular form of yoga

हठ योग: यह पश्चिम में योग का सबसे लोकप्रिय रूप है। हठ योग शारीरिक मुद्राओं, सांस लेने के व्यायाम और ध्यान पर केंद्रित है।

विनयसा योग: इस प्रकार का योग श्वास को गति से जोड़ता है। विनयसा योग कक्षाएं अक्सर तेज-तर्रार और गतिशील होती हैं।

अयंगर योग: इस प्रकार का योग सटीकता और संरेखण पर जोर देता है। छात्रों को सही संरेखण प्राप्त करने में मदद करने के लिए अयंगर योग कक्षाएं अक्सर ब्लॉक और पट्टियों जैसे प्रोप का उपयोग करती हैं।

अष्टांग योग: इस प्रकार का योग एक जोरदार और चुनौतीपूर्ण अभ्यास है। अष्टांग योग कक्षाएं आमतौर पर सेट अनुक्रमों की एक श्रृंखला में सिखाई जाती हैं।

योग दुनिया के सभी कोनों में फैल गया है, और अब लाखों लोग हैं जो हर देश में योग का अभ्यास करते हैं। योग एक शक्तिशाली अभ्यास है जो लोगों को उनके शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य में सुधार करने में मदद कर सकता है, और यह लोगों को अपने भीतर से जुड़ने और शांति और कल्याण की भावना प्राप्त करने में भी मदद कर सकता है।

Also Read: आइये अतुल्य भारत के सांस्कृतिक वैभव को जानें

भारतीय संस्कृति पर योग का प्रभाव Influence of Yoga on Indian Culture

भारतीय संस्कृति पर योग का गहरा प्रभाव रहा है। योग का अभ्यास भारतीय समाज में गहराई से अंतर्निहित है, और इसे शारीरिक, मानसिक और आध्यात्मिक कल्याण प्राप्त करने के एक तरीके के रूप में देखा जाता है। योग को परमात्मा से जुड़ने के तरीके के रूप में भी देखा जाता है।

योग ने भारतीय संस्कृति के अन्य पहलुओं जैसे कला, वास्तुकला और साहित्य को भी प्रभावित किया है। उदाहरण के लिए, कमल की स्थिति, जो एक सामान्य योग मुद्रा है, को अक्सर भारतीय कला में चित्रित किया जाता है। कमल की स्थिति हिंदू और बौद्ध मंदिरों में भी देखी जाती है।

योग एक जीवित परंपरा है जो विकसित और विकसित होती रहती है। यह एक अभ्यास है जिसका आनंद सभी उम्र और क्षमताओं के लोग उठा सकते हैं। योग आत्म-परिवर्तन का एक शक्तिशाली साधन है, और यह लोगों को अधिक सुखी, स्वस्थ और अधिक संतोषप्रद जीवन जीने में मदद कर सकता है।

योग की उत्पत्ति Origin of Yoga

योग की सटीक उत्पत्ति अज्ञात है, लेकिन ऐसा माना जाता है कि इसकी उत्पत्ति भारत में हुई थी। योग के शुरुआती संदर्भ हिंदू धर्म के पवित्र ग्रंथों वेदों में पाए जा सकते हैं। वेदों में योगाभ्यासों के कई संदर्भ हैं, जैसे ध्यान, श्वास अभ्यास और आसन। योग उपनिषदों में एक अधिक औपचारिक अभ्यास के रूप में विकसित होना शुरू हुआ, जो 800 और 500 ईसा पूर्व के बीच लिखे गए थे। उपनिषदों में योग पर कुछ सबसे महत्वपूर्ण दार्शनिक ग्रंथ हैं।

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस थीम 2023 International Yoga Day Theme 2023

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस 2023 की थीम "वसुधैव कुटुम्बकम के लिए योग" "Yoga for Vasudhaiva Kutumbakam". है। इस संस्कृत वाक्यांश का अर्थ है "विश्व एक परिवार है"। विषय लोगों को एकजुट करने और दुनिया में शांति और सद्भाव को बढ़ावा देने के तरीके के रूप में योग के महत्व पर जोर देता है।

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस का महत्व International Yoga Day Significance

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस लोगों को एकजुट करने और स्वास्थ्य और कल्याण को बढ़ावा देने के लिए योग की शक्ति का एक वैश्विक उत्सव है। यह दिन हर साल 21 जून को मनाया जाता है, जो उत्तरी गोलार्ध में साल का सबसे लंबा दिन होता है। 2015 में, संयुक्त राष्ट्र महासभा ने 21 जून को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के रूप में घोषित किया। संकल्प भारत द्वारा पेश किया गया था और 177 सदस्य राज्यों द्वारा समर्थित किया गया था।

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस योग की प्राचीन प्रथा का वैश्विक उत्सव है। यह दिन हर साल 21 जून को मनाया जाता है, जो उत्तरी गोलार्ध में वर्ष का सबसे लंबा दिन ग्रीष्म संक्रांति है। अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस 2023 की थीम "मानवता के लिए योग" है। यह विषय लोगों को एकजुट करने और दुनिया में शांति और सद्भाव को बढ़ावा देने के तरीके के रूप में योग के महत्व पर जोर देता है।

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के महत्व को निम्नलिखित बिंदुओं में संक्षेपित किया जा सकता है:

योग एक सार्वभौमिक अभ्यास है: योग एक ऐसा अभ्यास है जिसका आनंद सभी उम्र, संस्कृतियों और क्षमताओं के लोग उठा सकते हैं। यह आपके आंतरिक स्व से जुड़ने और संतुलन और सद्भाव की स्थिति प्राप्त करने का एक तरीका है।

योग स्वास्थ्य और कल्याण को बढ़ावा देता है: योग को शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य के लिए कई लाभ दिखाए गए हैं। यह लचीलेपन, शक्ति और संतुलन को बेहतर बनाने में मदद कर सकता है। यह तनाव, चिंता और अवसाद को कम करने में भी मदद कर सकता है। योग नींद, एकाग्रता और समग्र कल्याण में सुधार करने में भी मदद कर सकता है।

योग लोगों को जोड़ता है: योग एक ऐसा अभ्यास है जो जीवन के सभी क्षेत्रों के लोगों को एक साथ ला सकता है। यह दूसरों के साथ जुड़ने और समुदाय की भावना पैदा करने का एक तरीका है।

योग शांति और सद्भाव को बढ़ावा देता है: योग एक अभ्यास है जो दुनिया में शांति और सद्भाव को बढ़ावा देने में मदद कर सकता है। यह हमारी साझा मानवता से जुड़ने और एक अधिक शांतिपूर्ण दुनिया बनाने का एक तरीका है।

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस लोगों को एकजुट करने और स्वास्थ्य और कल्याण को बढ़ावा देने के लिए योग की शक्ति का जश्न मनाने का दिन है। यह एक साथ आने और शांति और सद्भाव की भावना से योग का अभ्यास करने का दिन है।

योग करने के फायदे Benefits of Practicing Yoga

ऊपर बताए गए फायदों के अलावा, योग के निम्नलिखित फायदे भी बताए गए हैं:

  • तनाव कम करता है Reduces stress

योग आपको अपनी सांस को नियंत्रित करने और अपने दिमाग पर ध्यान केंद्रित करने के तरीके सिखाकर तनाव को कम करने में मदद कर सकता है। जब आप तनावग्रस्त होते हैं, तो आपका शरीर हार्मोन जारी करता है जो आपको तनावग्रस्त, चिंतित और थका हुआ महसूस करा सकता है। योग आपको गहरी और दिमाग से सांस लेना सिखाकर इन प्रभावों का प्रतिकार करने में मदद कर सकता है। यह आपके शरीर और दिमाग को शांत करने और तनाव की भावनाओं को कम करने में मदद कर सकता है।

  • नींद में सुधार करता है Improves sleep

योग आपके शरीर और दिमाग को आराम देकर नींद में सुधार करने में मदद कर सकता है। जब आप तनावग्रस्त या चिंतित होते हैं, तो सोना या सोए रहना मुश्किल हो सकता है। योग इन भावनाओं को कम करने में मदद कर सकता है, और आपके लिए रात में अच्छी नींद लेना आसान बना सकता है।

  • ऊर्जा को बढ़ाता है Boosts energy

योग आपके परिसंचरण और लचीलेपन को बढ़ाकर आपके ऊर्जा के स्तर को बढ़ाने में मदद कर सकता है। जब आप योगाभ्यास करते हैं, तो आप अपने शरीर को कई तरह से हिलाते हैं, जो आपके परिसंचरण को बेहतर बनाने में मदद करता है। यह आपके ऊर्जा के स्तर को बढ़ाने और आपको अधिक सतर्क महसूस करने में मदद कर सकता है। योग आपके लचीलेपन को बेहतर बनाने में भी मदद कर सकता है, जो ऊर्जा के स्तर को बढ़ाने में भी योगदान दे सकता है।

  • मूड में सुधार करता है Improves mood

योग तनाव और चिंता को कम करके आपके मूड को बेहतर बनाने में मदद कर सकता है। जब आप तनावग्रस्त या चिंतित होते हैं, तो खुश या संतुष्ट महसूस करना मुश्किल हो सकता है। योग इन प्रभावों का प्रतिकार करने में मदद कर सकता है, और आपको अधिक आराम और सकारात्मक महसूस कराता है।

  • मांसपेशियों को मजबूत करता है Strengthens muscles

योग आपकी मांसपेशियों को सुरक्षित और नियंत्रित तरीके से चुनौती देकर उन्हें मजबूत करने में मदद कर सकता है। जब आप योग का अभ्यास करते हैं, तो आप अपनी मांसपेशियों का विभिन्न तरीकों से उपयोग कर रहे होते हैं, जो उन्हें मजबूत बनाने में मदद करता है। यह आपकी समग्र शक्ति और फिटनेस को बेहतर बनाने में मदद कर सकता है।

  • लचीलेपन में सुधार करता है Improves flexibility

योग आपकी मांसपेशियों और जोड़ों को खींचकर आपके लचीलेपन में सुधार करने में मदद कर सकता है। जब आप लचीले होते हैं, तो आप अपने शरीर को अधिक आसानी से हिलाने में सक्षम होते हैं, जो दर्द को कम करने और आपकी गति की सीमा में सुधार करने में मदद कर सकता है।

  • संतुलन में सुधार करता है Improves balance

योग आपके शरीर को विभिन्न स्थितियों को बनाए रखने के लिए चुनौती देकर आपके संतुलन को बेहतर बनाने में मदद कर सकता है। जब आप संतुलित होते हैं, तो आपके गिरने या पैर खोने की संभावना कम होती है। यह वृद्ध वयस्कों के लिए विशेष रूप से महत्वपूर्ण हो सकता है, जिनके गिरने का खतरा बढ़ जाता है।

  • एकाग्रता में वृद्धि Increased concentration

योग आपको अपने दिमाग पर ध्यान केंद्रित करने के तरीके सिखाकर आपकी एकाग्रता को बढ़ाने में मदद कर सकता है। जब आप योग का अभ्यास कर रहे होते हैं, तो आप अपनी सांस और अपने शरीर की गतिविधियों पर ध्यान केंद्रित कर रहे होते हैं। यह कार्यों पर ध्यान केंद्रित करने और ट्रैक पर बने रहने की आपकी क्षमता को बेहतर बनाने में मदद कर सकता है।

  • समग्र कल्याण Enhanced well-being

योग आपके शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य में सुधार करके आपके समग्र कल्याण को बढ़ाने में मदद कर सकता है। जब आप नियमित रूप से योग का अभ्यास करते हैं, तो संभावना है कि आप अधिक तनावमुक्त, ऊर्जावान और सकारात्मक महसूस करेंगे। आप दर्द, चिंता और अवसाद में कमी का भी अनुभव कर सकते हैं।

निष्कर्ष Conclusion

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस योग के कई लाभों का जश्न मनाने और दुनिया भर में अभ्यास को बढ़ावा देने का दिन है। योग शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य में सुधार के लिए एक शक्तिशाली उपकरण है, और यह दुनिया में शांति और सद्भाव को बढ़ावा देने में भी मदद कर सकता है। यदि आप अपने स्वास्थ्य और तंदुरूस्ती को बेहतर बनाने के तरीके की तलाश कर रहे हैं, तो मैं आपको योग करने के लिए प्रोत्साहित करता हूं। आपको आश्चर्य हो सकता है कि आप इसका कितना आनंद लेते हैं।