ई-कॉमर्स व्यवसाय कैसे शुरू करें

Share Us

3198
ई-कॉमर्स व्यवसाय कैसे शुरू करें
24 Feb 2022
8 min read

Blog Post

आज के समय में ऑनलाइन व्यापार (online business) या ई-कॉमर्स व्यवसाय सबके लिए अत्यधिक लाभदायक है। यदि आप ऑनलाइन व्यापार की सभी प्रक्रियाओं को जान लें तो आप इस व्यवसाय में सफलता प्राप्त कर सकते हैं। आज ई-कॉमर्स कंपनियों को ही ऑनलाइन बिजनेस को ऊंचाइयों पर ले जाने का श्रेय जाता है। इस आर्टिकल के माध्यम से आप ई-कॉमर्स व्यवसाय या ऑनलाइन व्यापार के बारे में सभी बातें अच्छे से जान सकते हैं और ऑनलाइन बिक्री के माध्यम से आसानी से अपने व्यवसाय का विस्तार कर सकते हैं।

आज के समय में जो शब्द सबसे ज्यादा प्रचलन में है वो है ऑनलाइन बिज़नेस। पहले की तुलना में आज के बिज़नेस में बहुत सारी चीज़ें बदल चुकी हैं। पहले लोग मार्केट में जाते थे और फिर खरीदारी करते थे लेकिन आज सब कुछ ऑनलाइन हो चुका है। अब बिज़नेस करने का और शॉपिंग करने का तरीका भी बदल गया है। समय के साथ हर चीज में बदलाव जरूर आता है। अब आप एक जगह बैठकर बिज़नेस भी कर सकते हैं और शॉपिंग भी। ये सारी सुविधाएं हमे मिली हैं ई-कॉमर्स E-commerce के द्वारा। चलिए जानते हैं क्या है ई-कॉमर्स व्यवसाय और इसे कैसे शुरू करें। 

E-Commerce Business क्या होता है?

सबसे पहले हम E-commerce business ई-कॉमर्स बिज़नेस के बारे में जान लेते हैं। E-commerce,ई-कॉमर्स को हम इलेक्ट्रॉनिक कॉमर्स electronic commerce भी कहते हैं। यदि हम इंटरनेट तथा अन्य इलेक्ट्रॉनिक माध्यमों के द्वारा कोई भी उत्पाद, सेवाएं बेचते और खरीदते हैं तो उसे E-commerce कहते हैं। फिजिकल प्रोडक्ट्स के साथ-साथ इलेक्ट्रॉनिक ग़ुड्स तथा सेवाओं goods and services का व्यापार भी ई-कॉमर्स में ही आता है। ई-कॉमर्स बिज़नेस का मतलब होता है ऑनलाइन बिज़नेस करना। ई-कॉमर्स ने आज हर काम को आसान कर लिया है। बस एक क्लिक करने पर आपका हर काम हो जाता है। जो भी सामान आप को लेना है उसको चुनिए, पेमेंट कीजिये और बस हो गयी आपकी शॉपिंग। इस तरह से ई-कॉमर्स से आज के समय में बहुत फायदे हैं। दरअसल इसकी शुरुवात 1979 में अमेरिका America से हुई थी और आज इंटरनेट के ज़माने में यही बिज़नेस सबसे ज्यादा सफल बिज़नेस है। कई बड़ी-बड़ी कंपनियों जैसे अमेजन Amazon, स्नेपडील Snapdeal, मिंत्रा Myntra, बिगबास्केट Bigbasket, फ्लिपकार्ट Flipkart, पेटीएम Paytm, गूगल पे google pay आदि ने ऑनलाइन शॉपिंग यानि E-commerce को एक बहुत ऊँचे स्तर तक पहुंचा दिया है और इस तरह से ई-कॉमर्स क्रांति की शुरुआत हुई। जिससे लोगों को काफी आसानी हुई है। 

ई-कॉमर्स व्यवसाय कैसे शुरू करें

 यदि आप ई-कॉमर्स व्यवसाय शुरू करने के बारे में सोच रहे हैं तो यह बहुत ही अच्छा समय है। क्योंकि आज मार्केट में ऑनलाइन बिजनेस ऊंचाइयों को छू रहा है। आज ज्यादातर लोग ऑनलाइन खरीददारी करना ही पसंद करते हैं। इसके साथ ही ऑनलाइन व्यापार (online business) लाभदायक है। यह आसान भी है, और इसमें कम निवेश की आवश्यकता है। ऑनलाइन कारोबार (E commerce) शुरू करने से पहले कुछ चीजों पर ध्यान देना बहुत जरूरी है। इससे संबंधित हर चीज की जानकारी आपको होनी चाहिए जिससे आपको बाद में नुकसान न झेलना पड़े। यदि आप ऑनलाइन व्यवसाय के सभी पहलुओं को जान लेंगे तो आपको जरूर सफलता प्राप्त होगी। अपना बिज़नेस शुरू करने के लिए आपको एक परफेक्ट बिज़नेस प्लान और बिज़नेस मॉडल तैयार करने और इनके बारे में पूरी जानकारी के साथ रिसर्च करने की भी आवश्यकता होती है। आपको यह जानना भी महत्वपूर्ण है कि कहां निवेश करना है और कहां नहीं। ई-कॉमर्स बिजनेस की शुरुआत आप दो तरीके से कर सकते हैं-

पहला खुद की एक ऑनलाइन वेबसाइट बनाकर या फिर किसी प्लेटफार्म से प्रोडक्ट लेकर अपनी वेबसाइट पर लिस्ट करके Sell सेल करना जिस पर आपको लगभग 30% से 40% कमीशन मिलता है। 

दूसरा अगर आपकी कोई शॉप है या फिर शोरूम जैसे कपड़ों का या कॉस्मेटिक का आपका खुद का व्यवसाय है तो आप ई-कॉमर्स प्लेटफार्म पर शिफ्ट करके भी अच्छा मुनाफा कमा सकते हैं। 

ऑनलाइन व्यापार शुरू करने की प्रक्रियाएं निम्न हैं, जिन्हें समझकर आप ऑनलाइन बिज़नेस शुरू करके अच्छा मुनाफा कमा सकते हैं। क्योंकि इन प्रक्रियाओं को जाने बिना आप कोई भी ई-कॉमर्स बिज़नेस शुरू नहीं कर सकते हैं। 

E-Commerce Website बनवाये (इ कॉमर्स वेबसाइट)

आपको इ कॉमर्स बिज़नेस शुरू करने के लिए एक वेबसाइट बनानी होती है। क्योकि E-commerce इ कॉमर्स बिज़नेस ऑनलाइन होता है और ऑनलाइन बिज़नेस के लिए एक वेबसाइट बनवानी पड़ती है। इसके लिए पहले आपको अपने बिज़नेस के नाम से एक डोमेन नेम Domain Name लेना पड़ता है और एक होस्टिंग की जरूरत होती है। इसके लिए आप वेबसाइट Hostinger.com पर जाकर वहां से आप डोमेन नेम और होस्टिंग खरीद सकते हैं। डोमेन नेम लेते समय ध्यान रखें उसका नाम सरल और आसान होना चाहिए जिससे कि लोगों को आसानी से याद रहे। ऑनलाइन व्यवसाय के लिए ई-कॉमर्स साइट का सही प्रकार से डिजाइन (e-commerce site design) कराना भी एक आसान बात नहीं है। क्योंकि सभी वेबसाइट डिजाइनर (website designer) ई-कॉमर्स उद्योग के बारे में कुशल और अनुभवी नहीं होते है। एक सही ई-कॉमर्स साइट प्राप्त करना बहुत महत्वपूर्ण है। अपने व्यवसाय के लिए एक सही ई-कॉमर्स स्टोर (E-commerce store) प्राप्त करने के लिए, आप किसी अच्छी वेबसाइट बिल्डर सेवा का उपयोग कर सकते हैं या एक अच्छे वेब डिज़ाइनर (web designer) से अपना वेबसाइट विकसित करवा सकते हैं। पेशेवर वेब डिजाइनर द्वारा एक इ-कॉमर्स स्टोर बनवाना या वेबसाइट बनवाना काफी अच्छा रहेगा। ध्यान रखें कि आपकी साइट में एक पेशेवर ई-कॉमर्स प्लेटफार्म की सभी विशेषताएं हों साथ ही आपको अपनी साइट को अच्छी तरह से प्रबंधित करने की भी आवश्यकता है। एक ई-कॉमर्स साइट एक ऑनलाइन व्यवसाय के लिए सब कुछ है, इसलिए आपका सबसे पहला ध्यान वेबसाइट पर होना चाहिए। अच्छे वेब डिजाइनरों द्वारा ही वेबसाइट बनवाएं और सबसे पहले वेबसाइट के बारे में अच्छे से सीखिए क्योकि ऑनलाइन बिज़नेस को चलाने के लिए आपको वेबसाइट चलानी आनी चाहिए।

जीएसटी पंजीकरण और पेमेंट गेटवे 

ईकामर्स पोर्टल पर विक्रेता बनने या मालिकाना ईकामर्स वेबसाइट शुरू करने के लिए जीएसटी पंजीकरण GST Registration अनिवार्य है। जीएसटी नंबर गवर्नमेंट सर्विस टैक्स government service tax जो कि किसी भी प्रोडक्ट को बेचने के लिए गवर्नमेंट को देना पड़ता है। जीएसटी नंबर लेने के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं या फिर किसी नजदीकी सेवा केंद्र में जाकर भी आवेदन कर सकते हैं। जीएसटी नंबर लेने के लिए आपके पास Electric bill बिजली का बिल या पानी का बिल होना चाहिए। साथ ही बैंक अकाउंट, आधार कार्ड और पैन कार्ड Bank AC, Aadhar card, Pan card की जरुरत होती है। इसके अलावा व्यवसाय के लिए बैंक खाता खोलने के लिए पहले जीएसटी पंजीकरण प्राप्त करना होगा। ईकामर्स मार्केटप्लेस पर मालिकाना ईकामर्स वेबसाइट के लिए भुगतान गेटवे प्राप्त करने के लिए बैंक खाता खोलना आवश्यक होता है। 

पेमेंट गेटवे 

यदि कोई व्यक्ति आपकी वेबसाइट पर आकर किसी वस्तु को खरीदना चाहता है तो वह उस वस्तु का भुगतान किस तरह से करे, इसके लिए हमें एक पेमेंट गेटवे payment gateway की जरूरत पड़ती है जिससे कि वह पेमेंट कर सके। पेमेंट गेटवे वेबसाइट को कई बैंकों और क्रेडिट कार्ड कंपनियों से क्रेडिट कार्ड, डेबिट कार्ड, नेट बैंकिंग, इंटरनेट बैंकिंग भुगतान स्वीकार करने की अनुमति देता है। आप कैश ऑन डिलीवरी का ऑप्शन भी रखें। क्योंकि जब शुरू में कोई व्यक्ति आपकी वेबसाइट पर शॉपिंग करने के लिए आएगा है तो हो सकता है उसके मन में यह डर हो कि मेरा प्रोडक्ट सही तरीके से आएगा या नहीं लेकिन कैश ऑन डिलीवरी से कस्टमर का आप पर भरोसा बना रहेगा और भरोसे के साथ- साथ आपका नेटवर्क भी बढ़ेगा। 

Website को लोगो तक कैसे पहुंचाएं और कैसे, कहाँ ऑनलाइन बेचें?

यदि आप सोच रहे हैं कि आपके वेबसाइट बनाते ही बहुत सारे कस्टमर आपकी वेबसाइट पर आ जाएंगे, तो ऐसा नहीं है। क्योंकि इसके लिए आपको वेबसाइट को ज्यादा से ज्यादा लोगो तक पहुँचाना होगा। तभी जाकर आप बिज़नेस में सफल हो सकते हैं। बस इसके लिए कुछ बातों को आपको ध्यान में रखना होगा। 

SEO Marketing

आपको अपनी वेबसाइट पर सर्च इंजिन ऑप्टिमाइजेशन Search Engine Optimization (SEO) का प्रयोग करना होगा इसके बाद गूगल अपने आप ज्यादा से ज्यादा लोगो तक आपकी वेबसाइट को पंहुचा देगा। क्योंकि आज पूरी दुनिया सर्च इंजिन ऑप्टिमाइजेशन (SEO) का प्रयोग कर रही है। कस्टमर को इ कॉमर्स बिज़नेस e-commerce बिज़नेस के साथ जोड़ने के लिए ये आवश्यक है। 

अपनी वेबसाइट पर ट्रैफिक लेकर आए

अपनी वेबसाइट पर ट्रैफिक लेन के लिए आपको सही कीवर्ड keywords सर्च करना पड़ेगा जिससे कि आप गूगल की टॉप रैंक में आ सके। इसके लिए आप अपने काम के बारे में प्रचार कर सकते हैं। आप सोशल मीडिया, फेसबुक, टि्वटर, इंस्टाग्राम Facebook, Twitter, Instagram पर Advertisement प्रचार कर सकते हैं। जिससे आपकी वेबसाइट का ट्रैफिक बढ़ेगा। 

अच्छे कीवर्ड का प्रयोग

आप कीवर्ड रिसर्च कर सकते हैं जिससे आपको अपनी वेबसाइट का ट्रैफिक बढ़ाने में आसानी होगी। इसके लिए बहुत से पेड टूल paid tool भी हैं लेकिन कुछ फ्री भी हैं। यदि आप सर्च इंजिन ऑप्टिमाइजेशन Search Engine Optimization (SEO) की मदद से गूगल सर्च में आना चाहते है तो आपको सबसे पहले कीवर्ड की और ध्यान देना पड़ेगा और अच्छे कीवर्ड good keywords का प्रयोग करना होगा।

अब ये भी जान लेते हैं कि प्रोडक्ट को कैसे, कहाँ ऑनलाइन बेचें? ऑनलाइन बेचने के दो तरीके मुख्य हैं। एक तो आप अमेजन amazon, स्नेपडील snapdeal, मिंत्रा myntra, बिगबास्केट bigbasket, फ्लिपकार्ट Flipkart, पेटीएम Paytm, गूगल पे google pay जैसे ऑनलाइन मार्केटप्लेस के माध्यम से बेच सकते हैं। दूसरा, आप अपने स्वयं के ऑनलाइन पोर्टल या ई-कॉमर्स स्टोर के माध्यम से भी बेच सकते हैं।

Tags: E-commerce Business, E-commerce Website, Ecommerce Business In IndiaSocial Commerce Strategy