facebook-pixel
Coursera Image_2

Income Tax Officer कैसे बने?

Share Us

318
Income Tax Officer कैसे बने?
27 May 2022
7 min read
TWN In-Focus

Post Highlight

एक आयकर अधिकारी Income Tax Officer (ITO) एक आधिकारिक अधिकारी या आयकर विभाग का इंस्पेक्टर होता है, जो केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड Central Board of Direct Taxes (CBDT) के कर से जुड़े मामलों को देखता है। आयकर अधिकारी को कर विशेषज्ञ या आमतौर पर आईटीओ (ITO) के रूप में जाना जाता है। एक आयकर अधिकारी में बेहतरीन विश्लेषण व गणना करने के गुण होते हैं, जो कर गबन को पकड़ने के लिए बेहद आवश्यक होते हैं। इनकम टैक्स अधिकारी की पोस्ट बहुत ही जिम्मेदारी वाली पोस्ट होती है इसलिए आपको इनकम टैक्स अधिकारी बनना है तो इसके लिए कड़ी मेहनत के साथ-साथ आपको इसकी चयन प्रक्रिया आदि के बारे में भी पता होना जरुरी है। तो "Income Tax Officer कैसे बनें", इस लेख से आप इस इस बारे में पूरी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। 

Podcast

Continue Reading..

आयकर अधिकारी (Income Tax Officer) जिसका नाम सुनते ही लोग अक्सर डर जाते हैं। कर का एक विशेष कार्य क्षेत्र आयकर विभाग के अंतर्गत आता है। अधिकतर लोग टाइम पर टैक्स का भुगतान नहीं करते हैं जो कि हमारा एक नागरिक के रूप में मुख्य कर्तव्य है और यह देश की तरक्की में एक मुख्य भूमिका निभाता है। यानि इनकम टैक्स Income Tax हमारे देश की आय का प्रमुख स्रोत होता है। आयकर अधिकारी का कार्य यह देखने का होता है कि कोई भी व्यक्ति एवं संस्थान कर नियमों का पालन सही से कर रहा है या नहीं। यानि इनके पास एक अहम् जिम्मेदारी होती है। भारत सरकार के तहत आयकर विभाग में जाना कई लोगों का सपना होता है। आयकर अधिकारी उन उम्मीदवारों के लिए एक शानदार करियर अवसर great career opportunity है जो प्रतिष्ठित सरकारी संगठनों में उच्च पद पर सेवा करना चाहते हैं। अब आप जानना चाहेंगे कि आयकर अधिकारी कैसे बन सकते हैं और इसकी क्या प्रक्रिया है। तो चलिए आज जानते हैं (Income Tax Officer) आयकर अधिकारी कैसे बन सकते हैं और इसके लिए क्या योग्यता चाहिए ? 

कौन होता है इनकम टैक्स ऑफिसर ?

आयकर विभाग सरकार के लिए प्रत्यक्ष कर संग्रह करने के लिए जिम्मेदार सरकारी एजेंसी है। आयकर अधिकारी राजस्व विभाग, वित्त मंत्रालय Department of Revenue, Ministry of Finance के तहत कार्य करता है। आयकर अधिकारी मंत्रालय के तहत सर्वोच्च पदों में से एक होता है। आयकर अधिकारी कर संग्रहित tax collected करने के साथ-साथ यह भी सुनिश्चित करता है कि सभी व्यक्ति व संस्थान कर नियमों का पालन कर रहे हैं या नहीं। एक आयकर अधिकारी (ITO) एक आधिकारिक अधिकारी या आयकर विभाग का इंस्पेक्टर होता है, जो केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड Central Board of Direct Taxes (CBDT) के कर से जुड़े मामलों को देखता है। आयकर अधिकारी को कर विशेषज्ञ tax specialist भी कहा जाता है। आयकर अधिकारी व्यापारी व व्यक्तिगत खातों की जांच करके यह सुनिश्चित करता है कि तय नियमों के अनुरूप कर की राशि का भुगतान किया गया है या नहीं। यानि यह भारत सरकार द्वारा लगाए गए डायरेक्ट टैक्स या इनकम टैक्स की वसूली को निर्धारित करता है और वो  किसी भी व्यापार या व्यक्तिगत खाते की जांच के लिए आधिकारित होता है। यह निर्धारण करता है कि किसी व्यापार या व्यक्ति द्वारा सही प्रकार से आयकर का भुगतान किया गया है या नहीं। एक आयकर अधिकारी में बेहतरीन विश्लेषण व गणना करने के गुण Excellent analysis and calculation skills होते हैं, जो कर गबन को पकड़ने के लिए बेहद आवश्यक होते हैं। इनकम टैक्स इंस्पेक्टर व्यापार और व्यक्तिगत टैक्स एकाउंट्स की बारीकी से विश्लेषण और जांच करते हैं कि क्या कर दाता द्वारा कर की राशि का सही से भुगतान किया जा रहा है या नहीं।

इनकम टैक्स ऑफिसर कैसे बनें?

अगर आप स्नातक Graduate की पढ़ाई पूरी कर चुके हैं और आपकी आयु 30 वर्ष से कम है, तो आपके लिए आयकर अधिकारी बनने का पहला कदम होगा। आयकर निरीक्षक बनने के लिए, उम्मीदवारों को SSC द्वारा कराई जाने वाली CGL कंबाइंड ग्रेजुएट लेवल परीक्षा Combined Graduate Level Exam देनी होती है। कर्मचारी चयन आयोग Staff Selection Commission विभिन्न सरकारी विभागों में भर्ती के लिए संयुक्त स्नातक स्तर (CGL) परीक्षा आयोजित करता है। आयकर निरीक्षकों की नियुक्ति SSC CGL परीक्षा के माध्यम से की जाती है। भारत में आयकर विभाग यानी इनकम टैक्स ऑफिस के कर्मचारियों एवं अधिकारों की बहुत इज्जत की जाती है। इनकम टैक्स डिपार्टमेंट में करियर बनाने के लिए या आयकर विभाग में किसी ऑफिसर का पद प्राप्त करने के लिए आपको कठिन परिश्रम करने की आवश्यकता होती है। यहाँ पर हम आपको पात्रता मापदंड, परीक्षा संरचना, वेतन और सभी विवरण प्रदान कर रहे हैं, जो आपको अपने सपने पूरे करने में मदद करेंगे। इनकम टैक्स इंस्पेक्टर बनने के लिए पात्रता मानदंड के बारे में जानना जरुरी है। परीक्षा देने के लिए उम्मीदवारों को कर्मचारी चयन आयोग द्वारा निर्धारित मापदंडों का पालन करना होता है। आयकर निरीक्षक का पद पाने के लिए, आपको परीक्षा प्रारूप (Exam Pattern), योग्यता, शैक्षणिक योग्यता, चयन प्रक्रिया, परीक्षा संरचना, वेतन और आयु सीमा सहित निम्नलिखित पात्रता मापदंडों को पूरा करना होगा और इनके बारे में पता होना जरुरी है।

आयकर अधिकारी बनने के लिए परीक्षा

यदि आप आयकर विभाग में इनकम टैक्स ऑफिसर बनना चाहते हैं तो आपको यह जानना बहुत ही जरुरी है कि आप किस परीक्षा के माध्यम से Income Tax Officer बन सकते हैं। आप दो परीक्षाओं के माध्यम से इनकम टैक्स डिपार्टमेंट में अधिकारी बन सकते हैं। इसके लिए एक तो SSC CGL का एग्जाम होता है और दूसरा यूपीएससी का एग्जाम होता है। आपको इनकम टैक्स ऑफिसर बनने के लिए इन परीक्षाओं में से SSC CGL परीक्षा दे सकते हैं जो कि यूपीएससी के बजाय आसान होती है। इसके द्वारा आप आयकर विभाग में इंस्पेक्टर या टैक्स असिस्टेंट बनते हैं।

यूपीएससी की जो परीक्षा होती है वो काफी कठिन होती है। इसको सिविल सर्विसेज एग्जाम Civil Services Exam कहते हैं। इस परीक्षा को पास करने के लिए आपको बहुत ही ज्यादा मेहनत की जरुरत होती है और यूपीएससी के द्वारा आप IRS अधिकारी बनते हैं। यह A ग्रेड का अधिकारी होता है और ये आईएएस रैंक के ही अधिकारी होते हैं। यानि आप यूपीएससी की परीक्षा के माध्यम से आयकर विभाग में सबसे उच्च पद प्राप्त कर सकते हैं। 

योग्यता (Eligibility)

आयु सीमा (Age limit)-

इस पद (आयकर इंस्पेक्टर व अधिकारी) के लिए आवेदन करनें वाले अभ्यर्थियों की न्यूनतम आयु 21 वर्ष व अधिकतम 27 वर्ष होनी चाहिए। वहीं, आरक्षित वर्ग के आवेदकों को आयु में एससी, एसटी को पांच वर्ष, ओबीसी को तीन वर्ष तथा पीडब्लूडी को दस वर्ष की छूट दी जाती है। साथ ही भारत सरकार या रक्षा सेवाओं में कार्यरत अभ्यर्थियों को भी आयु में छूट दी जाती है।

शैक्षणिक योग्यता Educational Qualifications-

उम्मीदवारों को पात्रता की तारीख तक किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से किसी भी विषय में स्नातक (ग्रेजुएशन) की डिग्री होनी चाहिए। आयकर विभाग में अधिकारी बननें के लिए आवेदन करने वाला अभ्यर्थी भारत का नागरिक होना आवश्यक है।

ग्रेजुएशन के बाद अभ्यर्थी SSC CGL या सिविल सेवा की परीक्षा को पास करना जरूरी है और पद का निर्धारण उसकी रैंक पर निर्भर करता है। 

शारीरिक योग्यता physical fitness-

इसके अलावा आयकर अधिकारी के पद के लिए अभ्यर्थी को भारत सरकार द्वारा निर्धारित शारीरिक मापदंड के पैमाने के पर भी पास होना जरूरी हैI यदि आप भी आयकर विभाग में अधिकारी बनने के लिए जी जान लगाकर मेहनत कर रहे हैं तो आपके लिए यह भी जानना जरूरी है कि क्या आप इस नौकरी को प्राप्त करने के शारीरिक पैमाने पर खरे उतर रहे हैं। आयकर विभाग में अधिकारी बनने के लिए पुरुषों और महिलाओं की शारीरिक योग्यता में थोड़ा अंतर होता है।

SSC CGL का पाठ्यक्रम व चयन प्रक्रिया Syllabus & Selection Process

टियर 1 यानी प्राथमिक परीक्षा व टियर 2 यानी मुख्य परीक्षा ऑनलाइन माध्यम से कराई जाती है। इन दोनों परीक्षाओं को उत्तीर्ण करने के बाद अभ्यर्थी को एक पर्सनैलिटी/ स्किल टेस्ट या इंटरव्यू देना होता है, जिसका आयोजन SSC द्वारा अपने क्षेत्रीय कार्यालय में कराया जाता है। 

चलिए SSC CGL परीक्षा के 3 चरणों के बारे में जानते हैं -

प्रारंभिक परीक्षा (Preliminary Examination)

इस परीक्षा में अभ्यर्थी को दो पेपर देने होते हैं। प्राथमिक परीक्षा अभ्यर्थी की योग्यता जांचने का एक जरिया है। 

मुख्य परीक्षा (Main Examination)

 मुख्य परीक्षा में वो अभ्यर्थी बैठते हैं जो प्राथमिक परीक्षा में उत्तीर्ण हुए हों। यह परीक्षा दो भागों में होती है पहले भाग में अभ्यर्थी को लिखित परीक्षा देनी होती है और दूसरे भाग में पर्सनैलिटी टेस्ट देना होता है।

पर्सनालिटी टेस्ट या इंटरव्यू Interview

अगर आप मुख्य परीक्षा में सफल होते हैं तो पर्सनल इंटरव्यू परीक्षा का अंतिम चरण होता है। इसमें आपकी पर्सनालिटी व बौद्धिक क्षमताओं की परीक्षा ली जाती है। साथ ही एक स्किल टेस्ट भी लिया जाता है, जिसमे अभ्यर्थी को 15 मिनट में 2000 शब्द टाइप करने होते हैं। कटऑफ परीक्षा में शामिल होने वाले छात्रों व पदों की संख्या पर भी निर्भर करता है।

इनकम टैक्स इंस्पेक्टर चयन प्रक्रिया

SSC CGL परीक्षा के लिए चयन प्रक्रिया में 4 चरण होते हैं। प्रत्येक चरण क्वालीफाई करने के बाद, आप आयकर निरीक्षक पद के लिए पात्र होंगे।

टियर पेपर के प्रकार

टियर-I Objective Multiple Choice MCQ (प्रश्न के उत्तर के लिए दिए गए विकल्पों से एक को चुनना होता है) ऑनलाइन Computer-Based (online)

टियर-II Objective Multiple Choice (MCQ ऑनलाइन ) Computer-Based (online)

टियर-III Descriptive Paper in English/Hindi ऑफलाइन Pen and Paper mode

टियर-IV Skill Test/Computer Proficiency Test स्किल टेस्ट ऑफलाइन 

आयकर विभाग अधिकारी का मासिक वेतन Monthly salary

आयकर विभाग में सभी पोस्ट पर अलग अलग नौकरी प्रदान की जाती है। आयकर विभाग में अधिकारी बनने पर आपको 15,600/- रूपए से लेकर 39,100/- रूपए तक का वेतन दिया जाता है व इसके साथ ही आपको 6,600/- रूपए का ग्रेड पे दिया जाता है। इसके अलावा सरकार द्वारा आयकर विभाग अधिकारी को आवास, महंगाई भत्ता, वाहन सुविधा, यात्रा भत्ता, जैसी कई सारी सुविधाए दी जाती है। 

Think with Niche पर आपके लिए और रोचक विषयों पर लेख उपलब्ध हैं एक अन्य लेख को पढ़ने के लिए कृपया नीचे  दिए लिंक पर क्लिक करे-

भारत के सबसे अच्छे इंजीनियरिंग कॉलेज