समय पर बीमा क्लेम ना मिलने पर क्या करें?

Share Us

1376
समय पर बीमा क्लेम ना मिलने पर क्या करें?
17 Nov 2021
8 min read

Blog Post

सभी लोग बीमा Insurance इसलिए लेते हैं ताकि विकट परिस्थिति में उनकी समस्या का हल निकल सके। बीमा कई तरह की आकस्मिक परेशानियों से निजात दिलाने का एक बढ़िया रास्ता है, लेकिन कई बार बीमा कंपनियां Insurance Companies कुछ कारण बताकर आपको क्लेम Claim प्रदान नहीं करती। ऐसे करें समाधान…

सभी लोग बीमा Insurance इसलिए लेते हैं ताकि विकट परिस्थिति में उनकी समस्या का हल निकल सके। बीमा कई तरह की आकस्मिक परेशानियों से निजात दिलाने का एक बढ़िया रास्ता है, लेकिन कई बार बीमा कंपनियां Insurance Companies कुछ कारण बताकर आपको Claim प्रदान नहीं करती। जिसका खामियाजा आप को भुगतना पड़ता है। जब कंपनियां आपको क्लेम नहीं देती तो आपके मन में एक ही विचार आता है कि यह बीमा मैंने खरीदा ही क्यों था? जब सही समय पर आपको बीमा का क्लेम Insurance Claim ना मिले तो इसका उद्देश्य और औचित्य समझ में ही नहीं आता।

कई बार कंपनियां इसे लेकर कई कारण बताती हैं जो ग्राहक Customer के समझ में नहीं आते। यदि आपके साथ भी कुछ ऐसा घटा है, तो आज आपको हम ऐसी जानकारी देने वाले हैं कि आने वाले भविष्य में आप के बीमा क्लेम को लेकर अगर कोई परेशानी आती है तो आप इन उपायों से तुरंत निदान कर पाएंगे।

कहाँ होगी शिकायत 

जब आपको सही समय पर क्लेम नहीं मिलता तो आपको शिकायत करने के लिए बीमा कंपनी की बीमा शिकायत निवारण यूनिट में आवेदन देना होगा। नियमों के मुताबिक आपको कंपनी 1 महीने में जवाब देती हैं। अगर आपको लंबे समय तक जवाब नहीं मिलता तो आप आईआरडीए IRDA के ऑनलाइन इंटीग्रेटेड ग्रीवेंस मैनेजमेंट सिस्टम पर अपनी शिकायत को रजिस्टर कर सकते हैं। इसके साथ ही अगर आपको ज्यादा परेशानी आ रही है, तो आप बीमा कंपनी के खिलाफ शिकायत दर्ज कराने के लिए आईआरडीए के कस्टमर केयर नंबर 18004254732 पर कॉल कर सकते हैं, यहां आपको उचित जानकारी दी जाएगी।

15 दिनों में जवाब ना मिले तो

अगर 15 दिनों के भीतर आपको जवाब नहीं मिलता तो आप शिकायत दर्ज कराने के लिए आईजीएमएस की वेबसाइट igms.irda.gov.in पर जाकर शिकायत कर सकते है। विशेषज्ञों के मुताबिक कंपनियां जवाब देने में देरी तो नहीं करती, लेकिन अगर देरी की जाती है तो आप इस पर शिकायत जरूर कर सकते हैं।

परेशान न हो इस अधिकारी से मिले

अगर आप ज्यादा परेशानी महसूस कर रहे हैं तो आप बीमा लोकपाल अधिकारी के पास जाकर मिल सकते हैं। अगर आपको इंश्योरेंस से जुड़ी किसी भी समस्या में समाधान नहीं मिल पा रहा है, तो आप लोकपाल अधिकारी से मिले, पूरे देश में 17 बीमा लोकपाल मौजूद हैं, आप यहां जाकर अपनी समस्या बता सकते हैं और समाधान भी कर सकते हैं। इसके लिए आप किसी वकील या फिर विशेषज्ञ को साथ ले जा सकते हैं और उनकी सेवाएं लेकर अपनी समस्या पर पूर्ण समाधान निकाल सकते हैं।

कब लें कानूनी मदद

अगर आप सभी समाधान कर चुके हैं और लोकपाल अधिकारी के पास भी जा चुके हैं और फिर भी आप संतुष्ट नहीं हैं, तो आप अदालत का दरवाजा खटखटा सकते हैं, कानूनी कार्रवाई कर सकते हैं। कानूनी कार्रवाई के दौरान ग्राहक को उसकी समस्या का समाधान जरूर मिल सकता है। इसके अलावा यहां एक विशेष बात जो ध्यान रखने वाली है वह यह कि अगर लोकपाल के फैसले से बीमा कंपनी खुश नहीं है तो बीमा कंपनी अदालत का दरवाजा नहीं खटखटा सकती, कंपनी को लोकपाल का फैसला किसी भी हालत में मानना होगा।

उम्मीद करते हैं कि हमारे द्वारा दी गई जानकारी से आप संतुष्ट होंगे और अगर आने वाले भविष्य में और मौजूदा स्थिति में आप किसी बीमा क्लेम की परिस्थिति में परेशान चल रहे हैं, तो यह जानकारी आपको समाधान जरूर देगी।