पर्यावरण के अनुकूल कॉलेज छात्र बनने के तरीके

Share Us

7983
पर्यावरण के अनुकूल कॉलेज छात्र बनने के तरीके
31 Jul 2021
8 min read

Blog Post

लगभग हम सभी जानते हैं कि गोइंग ग्रीन या ईको फ्रेंडली का क्या मतलब है लेकिन जब आप हाई स्कूल या कॉलेज के छात्र होते हैं, तो कभी-कभी ऐसा लगता है कि आपको पर्यावरण के अनुकूल बनने के लिए बहुत प्रयास करना पड़ेगा। विश्वविद्यालय में पर्यावरण के अनुकूल जीवन शैली का नेतृत्व करना एक चुनौती हो सकती है। लेकिन हमारी पीढ़ी के लिए यह महत्वपूर्ण है कि हम जिम्मेदारी लें और जितना हो सके अपने पर्यावरण की रक्षा करें। तो आइए देखते हैं, हम पर्यावरण के अनुकूल कॉलेज छात्र कैसे बन सकते हैं –

लगभग हम सभी जानते हैं कि गोइंग ग्रीन या ईको फ्रेंडली का क्या मतलब है लेकिन जब आप हाई स्कूल या कॉलेज के छात्र होते हैं, तो कभी-कभी ऐसा लगता है कि आपको पर्यावरण के अनुकूल बनने के लिए बहुत प्रयास करना पड़ेगा। विश्वविद्यालय में पर्यावरण के अनुकूल जीवन शैली का नेतृत्व करना एक चुनौती हो सकती है। लेकिन हमारी पीढ़ी के लिए यह महत्वपूर्ण है कि हम जिम्मेदारी लें और जितना हो सके अपने पर्यावरण की रक्षा करें। तो आइए देखते हैं, हम पर्यावरण के अनुकूल कॉलेज छात्र कैसे बन सकते हैं –

1. पेपर का इस्तेमाल कम करें

हम असाइनमेंट,परीक्षा, रिसर्च में सबसे ज्यादा पेपर का ही इस्तेमाल करते हैं।पेपर का कम इस्तेमाल कर आप पैसे और पर्यावरण दोनों ही बचा सकते हैं।जब तक जरूरी न हो, कभी भी नई किताबें न खरीदें। उपयोग की गई पुस्तकें आपको कम खर्च कर के मिल जाएंगी।

आइए देखते है आप रोजमर्रा की जिंदगी में पेपर का कम इस्तेमाल कैसे कर सकते हैं -

i. आप ई - नोट्स ले सकते हैं।

ii. पेपर के दोनों साईड लिखना शुरू करें।

iii. टिशू पेपर की जगह आप कॉटन के रूमाल रख सकते हैं।

iv. आप पेपर को ऐसी जगह बेच सकते हैं, जहां वे रीसायकल होते हैं।

2.शीतल पेय (Soft -drinks) में कटौती करें

आप शीतल पेय की जगह पानी या हर्ब इनफ्यूज्ड पानी ले सकते हैं।यह आपको हाइड्रेट और स्वस्थ रखेगा। शीतल पेय प्लास्टिक के बॉटल में आते हैं और इनके कार्बन फुटप्रिंट्स भी ज्यादा होते हैं और यह सेहत के लिए भी बिलकुल अच्छे नहीं होते हैं।

3. रियूजेबल बॉटल का इस्तेमाल करें

आप रोज पानी पीने के लिए नई प्लास्टिक की बॉटल खरीदते हैं।इसके बजाय आप एक रियूजेबल बॉटल खरीद सकते हैं और जहां भी आप जाए उस बॉटल को आप वहाँ ले जा सकते हैं।यदि आपको प्लास्टिक की पानी की बोतल खरीदनी है, तो काम पूरा होने के बाद उसे कूड़ेदान के बजाय रीसाइक्लिंग बिन में फेंकना सुनिश्चित करें। 

4.एलईडी बल्ब इस्तेमाल में लाएं

एलईडी बल्ब की कीमत सीएफएल बल्बों की तुलना में थोड़ी अधिक होती है, लेकिन इनके इस्तेमाल से बिजली के बिल में बचत होती है। एल ई डी अन्य बल्बों की तुलना में अधिक समय तक चलते हैं और अधिक प्रकाश उत्पन्न करते हैं।

5. जब संभव हो पैदल चलें या सार्वजनिक परिवहन लें

कई छात्र सोचते हैं कि उन्हें कॉलेज में एक कार की आवश्यकता है, लेकिन सच बात तो यह है कि अधिकांश परिसर पैदल चलने वालों के अनुकूल हैं, और अगर फिर भी आपको जरूरत है तो आप साइकिल को इस्तेमाल में ला सकते हैं।

6. ज्यादा से ज्यादा पेड़ लगाए

पेड़ लंबे समय तक ऑक्सीजन प्रदान करके, वायु की गुणवत्ता में सुधार, जलवायु सुधार, जल संरक्षण, मिट्टी का संरक्षण करके पर्यावरण में योगदान करते हैं। क्योंकि आप एक कालेज के छात्र हैं आप ज्यादा से ज्यादा लोगों को पेड़ लगाने के लिए जागरूक कर सकते हैं।

यह कुछ आसान तरीके हैं, जिन्हे अपनाकर कोई भी कॉलेज छात्र जीवन शैली में बड़े बदलाव किए बिना पर्यावरण के अनुकूल हो सकता है। वास्तव में, अपने कार्बन पदचिह्न को कम करने का प्रयास करने से आपके बजट पर भी सकारात्मक परिणाम होता है।