facebook-pixel
Success Personal Development

Unacademy App-  सीखें और बनाएं अपना करियर

Success Personal Development

Unacademy App-  सीखें और बनाएं अपना करियर

unacademy-app-learn-and-build-your-career

Post Highlights

हम सभी जानते हैं कि बीते कुछ सालों में शिक्षा (education) के क्षेत्र में काफी परिवर्तन (change) आया है और ये परिवर्तन कोरोना काल की वजह से बच्चों के लिए ज्यादा उतार चढ़ाव वाला रहा। स्कूल में ऑनलाइन शिक्षा शुरू हो गयी और सारे स्कूल बंद कर दिए गए थीं । पिछले दो सालों से बच्चे ऑनलाइन प्लेटफॉर्म्स के माध्यम से शिक्षा प्राप्त कर रहे हैं। जिसका असर उनकी जीवन शैली पर भी हुआ है। हालांकि, अब बच्चों को भी ऑनलाइन तरीके से पढ़ाई समझ आने लगी और जब शिक्षक हर एक छोटी चीज़ को अच्छे से समझा के पढ़ाये तब तो बात ही अलग है। आज हम आपको ऐसे ही ऑनलाइन शिक्षा देने वाले एक लोकप्रिय प्लेटफार्म अनअकैडमी के बारे में बताएंगे। जानने के लिए पढ़ते रहिए -थिंक विथ नीस।

अनअकैडमी (Unacademy) एक ऑनलाइन शिक्षा का प्लेटफार्म (online learning platform) है जिसमे आप घर बैठकर ऑनलाइन वीडियो (online video) और लाइव सेशन (live sessions) के माध्यम से शिक्षा प्राप्त कर सकते हैं। अनअकैडमी केवल स्कूल के बच्चों के लिए ही नहीं बल्कि कॉलेज के छात्रों एवं कॉम्पटेटिव परीक्षा (comptative exams) की तैयारी करने वाले छात्रों के लिए भी है। वर्ष 2015 में अनएकेडमी ऐप की शुरुआत की गयी थी, इसके पहले 2010 में यह एक यूट्यूब चैनल के रूप में काम करता था, जहाँ बच्चे मुफ्त शिक्षा (Free education) प्राप्त कर सकते थे। अनअकैडमी एक बहुत बड़ा ऑनलाइन एजुकेशन प्लेटफॉर्म है जहाँ लाखों शिक्षक और विद्यार्थी एक साथ जुड़े हैं। अनअकैडमी पर अब तक 1000 से ज्यादा शिक्षक और 50 लाख से ज्यादा छात्र रजिस्टर्ड हैं।

अनअकैडमी भारत का सबसे बड़ा ऑनलाइन शिक्षण प्लेटफार्म (platform) है। जैसे की पहले बताया कि अनअकैडमी की शुरुआत यूट्यूब चैनल (Youtube channel) के रूप में हुई थी जिसे 2010 में गौरव मुंजल (Gaurav Munjal) ने बनाया था। इसके बाद 2015 में रोमन सैनी (Roman Saini) और हेमेश सिंह (Hemesh Singh)  ने इस यूट्यूब प्लेटफार्म को ज्वाइन किया और तीनों ने मिलकर अनअकैडमी (Unacademy) को एक प्राइवेट कंपनी बना दिया। तब से लेकर आज तक अनअकैडमी शिक्षा के क्षेत्रों में काम कर रहा है। कोरोना काल के बाद से शिक्षा का क्षेत्र डिजिटल (Digital education) हो गया है। हालांकि, आज-कल के छात्रों और हम सभी लोगों को भी अपने कार्यों को डिजिटल तरीकों से करना पसंद आने लगे हैं। आज हमें किसी चीज की जानकारी प्राप्त करनी होती है तो हम किताब के बजाय इंटरनेट पर सर्च कर लेते हैं इससे हमारा समय भी बचता है और सटीक जबाब भी हमे मिल जाता है।

ये सभी जानते हैं कि हर एक छात्र को अपना भविष्य (Career) बनाने के लिए एक गुरु की आवश्यकता होती है क्योंकि गुरु के माध्यम से ही एक छात्र को सही दिशा मिलती है। टेक्नोलॉजी के इस युग में दुनिया भर के शिक्षक (educator) इंटरनेट के माध्यम से अपना ज्ञान बाट रहे हैं। ऑनलाइन शिक्षा के इसी सफर में सबसे तेज़ है भारत का सबसे बड़ा लर्निंग प्लेटफार्म अनअकैडमी।

Unacademy Image

कैसे शुरू हुआ अनअकैडमी का सफर?

साल 2010 में जब गौरव मुंजाल ने हॉबी के तौर पर यूट्यूब पर Unacademy शुरू किया था तब यूट्यूब पर मुंजाल ने जावा कोडिंग Java coding की क्लास शुरू की थी। हालांकि, तब वह इंजीनियरिंग के स्टूडेंट थे। इसके बावजूद कंप्यूटर साइंस से जुड़े सवालों के मामले में Quora पर उनके सबसे ज्यादा फॉलोअर थे। और Unacademy शुरू करने से पहले वह दो स्टार्टअप शुरू करके बेच चुके थे।

अनअकैडमी के को-फाउंडर हीमेशन सिंह और रोमन सैनी के साथ मुंजाल ने 2015 में एक ब्रांड के तौर पर अनअकैडमी (Unacademy) का रजिस्ट्रेशन कराया था। पहले Unacademy की ब्रांडिंग उनकी कंपनी सॉर्टिंग हैट टेक्नोलॉजीज (Sorting Hat Technologies) के तहत की गई थी। शुरुआत में छात्र शिक्षा प्राप्त करने के लिए अनअकैडमी Unacademy की क्लास फ्री में ले सकते थे, लेकिन 2019 से इसे सब्सक्रिप्शन बेस्ड कर दिया गया। अब Unacademy अनअकैडमी के वीडियो क्लास और लाइव क्लास उपलब्ध हैं। और हर चौथी क्लास में छात्रों से सवाल भी किये जाते हैं जिससे उनके सीखने की प्रक्रिया तेज़ हो। हर हफ्ते छात्रों के मॉक टेस्ट होते हैं। अनअकैडमी Unacademy के कोर्स का सब्सक्रिप्शन 20 डॉलर प्रति महीने से शुरू होता है और 150 डॉलर प्रति महीने तक जाता है। अनअकैडमी में सिविल सर्विसेज और इंजीनियरिंग की भी तैयारी कराई जाती है। गौरव मुंजाल का कहना है कि उनका सपना था कि 30 साल के होने से पहले वह Unacademy को यूनिकॉर्न (1 अरब डॉलर वैल्यू वाली कंपनी) बनाना चाहते थे और ये सपना उन्होंने पूरा कर लिया है।

Gaurav Munjal Image

अनअकैडमी के साथ कैसे जुड़ें?

आप अनअकैडमी Unacademy में दो प्रकार से जुड़ सकते हैं अगर आप अनअकैडमी Unacademy में कोई कोर्स करना चाहते हैं या परीक्षा की तैयारी करना चाहते हैं तो आप अनअकैडमी Unacademy में छात्र Student के रूप में जुड़ सकते हैं, इसके लिए आपको Unacademy Learning App को डाउनलोड करना पड़ेगा और उसमें रजिस्टर करना पड़ेगा। इसके अलावा अगर आप अनअकैडमी Unacademy में ऑनलाइन पढ़ाना चाहते हैं तो आप इसमें शिक्षक Educator के रूप में जुड़ सकते हैं इसके लिए आपको अनअकैडमी ऐप Unacademy Educator App को डाउनलोड करके उसमें रजिस्टर करना पड़ेगा। हालांकि इन दोनों एप्लीकेशन में रजिस्टर करना बहुत ही आसान है लेकिन अगर तब भी आपको किसी प्रकार की समस्या आ रही है तो, इस आर्टिकल में नीचे दिए गए स्टेप्स को Follow कर सकते हैं।

अनअकैडमी लर्निंग ऐप (Unacademy Learning App) का इस्तेमाल कैसे करें:

सबसे पहले आप अनअकैडमी लर्निंग ऐप (Unacademy Learning App) को प्ले स्टोर (Play Store) से डाउनलोड कर लीजिये।

ऐप App को डाउनलोड करके आप साइन अप (Sign Up) का बटन दबाकर इसमें (Sign Up) कर लें।

इसके उपरान्त आप जो भी कोर्स करना चाहते हैं या फिर किसी भी परीक्षा (Exam) की तैयारी करना चाहते हैं उसे सर्च कर सकते हैं और उस कोर्स से संबंधित वीडियो (Related Video) देख सकते हैं।

इसके अलावा आप अनअकैडमी (Unacademy) में अपने पसंदीदा Teacher को सर्च करके उन्हें फॉलो (Follow) कर सकते हैं और उनकी सभी कक्षाओं में में पढ़ाई कर सकते हैं।

अनअकैडमी एजुकेटर ऐप (Unacademy Educator App) का इस्तेमाल कैसे करें:

अनअकैडमी एजुकेटर ऐप का इस्तेमाल करना बहुत आसान है। सबसे पहले आप गूगल प्ले स्टोर से इस ऐप को डाउनलोड करिए।

इसके बाद आप इसमें अपनी बेसिक डिटेल्स (Basic Details) भरकर साइन अप (Sign Up) कर लीजिये।

इस प्रकार से आपका प्रोफाइल एक शिक्षक के रूप में (Profile As A Teacher Enroll) करने के लिए तैयार हो जाएगा।

आप अपना प्रोफाइल पिक्चर (Profile Picture Set) लगा सकते हैं और डिस्क्रिप्शन (Description) में अपने पढ़ाने के अनुभव को डाल सकते हैं।

इसके बाद आपको तीन मिनट का डेमो विडियो अपलोड करना पड़ेगा, जिससे पता चल सके कि आप कैसा पढ़ाते हैं।

इसके बाद अनअकैडमी (Unacademy) आपकी प्रोफाइल (Profile) और वीडियो (Video) को अच्छे से चेक करता है और सब कुछ सही होने पर आपको अनअकैडमी (Unacademy) में शिक्षक के लिए अनुमति (Approval) दे देता है। अगर आपको एक बार अप्रूवल नही मिलता है, तो आप दूसरी बार भी अप्लाई (Apply) कर सकते हैं। और इस प्रकार से आप अनअकैडमी ऐप (Unacademy Educator App) में अपना कोर्स बनाकर घर बैठे पैसे कमा सकते हैं। 

अनअकैडमी में कौन–कौन से कोर्स उपलब्ध हैं?

अनअकैडमी में आप कई तरह के कोर्सेज को पढ़ सकते हैं। जैसे - यूपीएससी (UPCS), आईएएस (IAS),एसएससी, बैंक पीओ (Bank PO) और क्लर्क (Clerk), स्टेट पीसीएस (State PCS), कैट (CAT), नीट (NEET), मेडिकल एग्जाम (Medical exam), एम्स एंट्रेंस एग्जाम (AIIMS entrance exam), आईआईटी (IIT), जेईई (JEE), गेट (GATE), यूजीसी नेट (UGC NET), डिफेन्स (Defence) , इसके अलावा 10 और 12वीं कक्षा के साथ अन्य एग्जाम की तैयारियों के लिए कोर्सेज भी उपलब्ध हैं। इसके साथ ही आप मैथ, साइंस,सामन्य ज्ञान, रीजनिंग,करंट अफेयर्स,इतिहास,राजनीति आदि विषय भी पढ़ सकते हैं।

ऑनलाइन लर्निंग ऐप के फायदे: (Advantage of unacademy app)

अनअकैडमी ऐप पर आप अपनी प्रतियोगिता परीक्षाओं की तैयारी भी अच्छा से कर सकते हैं। आप कहीं भी रहते हों, या कुछ भी करते हों इस ऑनलाइन लर्निंग प्लेटफार्म के माध्यम से आपका जब मन करे आप तब अपनी पढ़ाई पूरी कर सकते हैं।  इसके साथ ही आप इसमें अपने मन पसंद के शिक्षकों से लाइव भी पढ़ाई कर सकते हैं।  अनअकैडमी लर्निंग ऐप Unacademy learning app आपको एक प्रतिस्पर्धात्मक competitive माहौल प्रदान करता है, जहां आप एक साथ हजारों बच्चो के साथ खुद की तुलना कर सकते हैं।

ऑनलाइन लर्निंग ऐप के इस्तेमाल में आ रही समस्याएं

उपकरण एवं इंटरनेट की समस्या:

सभी के पास ऑनलाइन शिक्षा हेतु उचित संसाधन उपलब्ध नहीं होते। ऑनलाइन क्लास के एंड्राइड फोन/कम्प्यूटर/ टेबलेट, इंटरनेट कनेक्शन आदि की जरुरत होती है। भारत में ज्यादातर बच्चों के परिवार की आर्थिक स्थिति सही नहीं होती उसके चलते उनके पास डिजिटल क्लासेस के लिए आवश्यक उपकरण नहीं होते हैं। जिसके कारण ज्यादा बच्चे ऑनलाइन लर्निंग प्लेटफार्म  का इस्तेमाल करने में असमर्थ होते हैं। आपको बता दें कि राष्ट्रीय सैंपल सर्वेक्षण रिपोर्ट (National Sample Survey report) लोकल सर्कल (Local circle) नाम की एक गैर सरकारी संस्था ने एक सर्वे किया है, जिसमें 203 ज़िलों के 23 हज़ार लोगों ने हिस्सा लिया और जिनमें से 43% लोगों ने कहा कि उनके पास कम्प्यूटर, टेबलेट जैसी चीज़ें नहीं है। इसके अलावा ग्लोबल अध्ययन से पता चलता है कि केवल 24% भारतीयों के पास स्मार्टफोन है।

ग्रामीण इलाकों में दिक्कतें -

एक दिक्कत ग्रामीण नेटवर्क की भी सामने आ रही है। ग्रामीण इलाकों में अभी भी इंटरनेट की सुविधा पूरी तरह से उपलब्ध नहीं है। ज्यादातर लोगों को ऑनलाइन लर्निंग प्लेटफार्म का उपयोग करने में दिक्क्तों का सामना करना पड़ता है।

मानसिक और स्वास्थ्य सम्बन्धी समस्याएं -

ऑनलाइन लर्निंग प्लेटफार्म के माधयम से पढ़ाई करने पर छात्रों की आंखों में समस्या होने लगी है। याद करने की क्षमता भी कम हो रही है। क्योंकि बच्चा हर चीज कंप्यूटर या मोबाइल फ़ोन पर ही पढता है और नोट्स सेव कर लेता है। इसमें कोई छात्र किताबों का इस्तेमाल नहीं करता। जिसके फलसवरूप उन्हें विषय याद करने की आदत नहीं पड़ती।

ऑनलाइन लर्निंग प्लेटफार्म के नुक्सान :(Disadvantage of unacademy app)

  1. ऑनलाइन पढाई पर छात्र अपनी प्रतिक्रिया नहीं दे सकता है।
  2. ऑनलाइन पढ़ाई में समय का ध्यान नहीं रहता जिससे जीवनशैली प्रभाव पड़ता है।
  3. ऑनलाइन पढ़ाई में संचार कौशल का विकास ठीक तरह से नहीं हो पाता है।
  4. ऑनलाइन पढ़ाई केवल कुछ विषयों तक ही सीमित होती है।
  5. कंप्यूटर स्क्रीन पर निरंतर देखते रहने से आँखों में जलन की शिकायत सामने आती है।

Think with Niche पर आपके लिए और रोचक विषयों पर लेख उपलब्ध हैं एक अन्य लेख को पढ़ने के लिए कृपया नीचे  दिए लिंक पर क्लिक करे-

https://www.thinkwithniche.in/blogs/details/information-about-e-commerce-website

https://www.author.thinkwithniche.com/allimages/project/thumb_994edinformation-about-e-commerce-website.jpg

अनअकैडमी (Unacademy) एक ऑनलाइन शिक्षा का प्लेटफार्म (online learning platform) है जिसमे आप घर बैठकर ऑनलाइन वीडियो (online video) और लाइव सेशन (live sessions) के माध्यम से शिक्षा प्राप्त कर सकते हैं। अनअकैडमी केवल स्कूल के बच्चों के लिए ही नहीं बल्कि कॉलेज के छात्रों एवं कॉम्पटेटिव परीक्षा (comptative exams) की तैयारी करने वाले छात्रों के लिए भी है। वर्ष 2015 में अनएकेडमी ऐप की शुरुआत की गयी थी, इसके पहले 2010 में यह एक यूट्यूब चैनल के रूप में काम करता था, जहाँ बच्चे मुफ्त शिक्षा (Free education) प्राप्त कर सकते थे। अनअकैडमी एक बहुत बड़ा ऑनलाइन एजुकेशन प्लेटफॉर्म है जहाँ लाखों शिक्षक और विद्यार्थी एक साथ जुड़े हैं। अनअकैडमी पर अब तक 1000 से ज्यादा शिक्षक और 50 लाख से ज्यादा छात्र रजिस्टर्ड हैं।

अनअकैडमी भारत का सबसे बड़ा ऑनलाइन शिक्षण प्लेटफार्म (platform) है। जैसे की पहले बताया कि अनअकैडमी की शुरुआत यूट्यूब चैनल (Youtube channel) के रूप में हुई थी जिसे 2010 में गौरव मुंजल (Gaurav Munjal) ने बनाया था। इसके बाद 2015 में रोमन सैनी (Roman Saini) और हेमेश सिंह (Hemesh Singh)  ने इस यूट्यूब प्लेटफार्म को ज्वाइन किया और तीनों ने मिलकर अनअकैडमी (Unacademy) को एक प्राइवेट कंपनी बना दिया। तब से लेकर आज तक अनअकैडमी शिक्षा के क्षेत्रों में काम कर रहा है। कोरोना काल के बाद से शिक्षा का क्षेत्र डिजिटल (Digital education) हो गया है। हालांकि, आज-कल के छात्रों और हम सभी लोगों को भी अपने कार्यों को डिजिटल तरीकों से करना पसंद आने लगे हैं। आज हमें किसी चीज की जानकारी प्राप्त करनी होती है तो हम किताब के बजाय इंटरनेट पर सर्च कर लेते हैं इससे हमारा समय भी बचता है और सटीक जबाब भी हमे मिल जाता है।

ये सभी जानते हैं कि हर एक छात्र को अपना भविष्य (Career) बनाने के लिए एक गुरु की आवश्यकता होती है क्योंकि गुरु के माध्यम से ही एक छात्र को सही दिशा मिलती है। टेक्नोलॉजी के इस युग में दुनिया भर के शिक्षक (educator) इंटरनेट के माध्यम से अपना ज्ञान बाट रहे हैं। ऑनलाइन शिक्षा के इसी सफर में सबसे तेज़ है भारत का सबसे बड़ा लर्निंग प्लेटफार्म अनअकैडमी।

Unacademy Image

कैसे शुरू हुआ अनअकैडमी का सफर?

साल 2010 में जब गौरव मुंजाल ने हॉबी के तौर पर यूट्यूब पर Unacademy शुरू किया था तब यूट्यूब पर मुंजाल ने जावा कोडिंग Java coding की क्लास शुरू की थी। हालांकि, तब वह इंजीनियरिंग के स्टूडेंट थे। इसके बावजूद कंप्यूटर साइंस से जुड़े सवालों के मामले में Quora पर उनके सबसे ज्यादा फॉलोअर थे। और Unacademy शुरू करने से पहले वह दो स्टार्टअप शुरू करके बेच चुके थे।

अनअकैडमी के को-फाउंडर हीमेशन सिंह और रोमन सैनी के साथ मुंजाल ने 2015 में एक ब्रांड के तौर पर अनअकैडमी (Unacademy) का रजिस्ट्रेशन कराया था। पहले Unacademy की ब्रांडिंग उनकी कंपनी सॉर्टिंग हैट टेक्नोलॉजीज (Sorting Hat Technologies) के तहत की गई थी। शुरुआत में छात्र शिक्षा प्राप्त करने के लिए अनअकैडमी Unacademy की क्लास फ्री में ले सकते थे, लेकिन 2019 से इसे सब्सक्रिप्शन बेस्ड कर दिया गया। अब Unacademy अनअकैडमी के वीडियो क्लास और लाइव क्लास उपलब्ध हैं। और हर चौथी क्लास में छात्रों से सवाल भी किये जाते हैं जिससे उनके सीखने की प्रक्रिया तेज़ हो। हर हफ्ते छात्रों के मॉक टेस्ट होते हैं। अनअकैडमी Unacademy के कोर्स का सब्सक्रिप्शन 20 डॉलर प्रति महीने से शुरू होता है और 150 डॉलर प्रति महीने तक जाता है। अनअकैडमी में सिविल सर्विसेज और इंजीनियरिंग की भी तैयारी कराई जाती है। गौरव मुंजाल का कहना है कि उनका सपना था कि 30 साल के होने से पहले वह Unacademy को यूनिकॉर्न (1 अरब डॉलर वैल्यू वाली कंपनी) बनाना चाहते थे और ये सपना उन्होंने पूरा कर लिया है।

Gaurav Munjal Image

अनअकैडमी के साथ कैसे जुड़ें?

आप अनअकैडमी Unacademy में दो प्रकार से जुड़ सकते हैं अगर आप अनअकैडमी Unacademy में कोई कोर्स करना चाहते हैं या परीक्षा की तैयारी करना चाहते हैं तो आप अनअकैडमी Unacademy में छात्र Student के रूप में जुड़ सकते हैं, इसके लिए आपको Unacademy Learning App को डाउनलोड करना पड़ेगा और उसमें रजिस्टर करना पड़ेगा। इसके अलावा अगर आप अनअकैडमी Unacademy में ऑनलाइन पढ़ाना चाहते हैं तो आप इसमें शिक्षक Educator के रूप में जुड़ सकते हैं इसके लिए आपको अनअकैडमी ऐप Unacademy Educator App को डाउनलोड करके उसमें रजिस्टर करना पड़ेगा। हालांकि इन दोनों एप्लीकेशन में रजिस्टर करना बहुत ही आसान है लेकिन अगर तब भी आपको किसी प्रकार की समस्या आ रही है तो, इस आर्टिकल में नीचे दिए गए स्टेप्स को Follow कर सकते हैं।

अनअकैडमी लर्निंग ऐप (Unacademy Learning App) का इस्तेमाल कैसे करें:

सबसे पहले आप अनअकैडमी लर्निंग ऐप (Unacademy Learning App) को प्ले स्टोर (Play Store) से डाउनलोड कर लीजिये।

ऐप App को डाउनलोड करके आप साइन अप (Sign Up) का बटन दबाकर इसमें (Sign Up) कर लें।

इसके उपरान्त आप जो भी कोर्स करना चाहते हैं या फिर किसी भी परीक्षा (Exam) की तैयारी करना चाहते हैं उसे सर्च कर सकते हैं और उस कोर्स से संबंधित वीडियो (Related Video) देख सकते हैं।

इसके अलावा आप अनअकैडमी (Unacademy) में अपने पसंदीदा Teacher को सर्च करके उन्हें फॉलो (Follow) कर सकते हैं और उनकी सभी कक्षाओं में में पढ़ाई कर सकते हैं।

अनअकैडमी एजुकेटर ऐप (Unacademy Educator App) का इस्तेमाल कैसे करें:

अनअकैडमी एजुकेटर ऐप का इस्तेमाल करना बहुत आसान है। सबसे पहले आप गूगल प्ले स्टोर से इस ऐप को डाउनलोड करिए।

इसके बाद आप इसमें अपनी बेसिक डिटेल्स (Basic Details) भरकर साइन अप (Sign Up) कर लीजिये।

इस प्रकार से आपका प्रोफाइल एक शिक्षक के रूप में (Profile As A Teacher Enroll) करने के लिए तैयार हो जाएगा।

आप अपना प्रोफाइल पिक्चर (Profile Picture Set) लगा सकते हैं और डिस्क्रिप्शन (Description) में अपने पढ़ाने के अनुभव को डाल सकते हैं।

इसके बाद आपको तीन मिनट का डेमो विडियो अपलोड करना पड़ेगा, जिससे पता चल सके कि आप कैसा पढ़ाते हैं।

इसके बाद अनअकैडमी (Unacademy) आपकी प्रोफाइल (Profile) और वीडियो (Video) को अच्छे से चेक करता है और सब कुछ सही होने पर आपको अनअकैडमी (Unacademy) में शिक्षक के लिए अनुमति (Approval) दे देता है। अगर आपको एक बार अप्रूवल नही मिलता है, तो आप दूसरी बार भी अप्लाई (Apply) कर सकते हैं। और इस प्रकार से आप अनअकैडमी ऐप (Unacademy Educator App) में अपना कोर्स बनाकर घर बैठे पैसे कमा सकते हैं। 

अनअकैडमी में कौन–कौन से कोर्स उपलब्ध हैं?

अनअकैडमी में आप कई तरह के कोर्सेज को पढ़ सकते हैं। जैसे - यूपीएससी (UPCS), आईएएस (IAS),एसएससी, बैंक पीओ (Bank PO) और क्लर्क (Clerk), स्टेट पीसीएस (State PCS), कैट (CAT), नीट (NEET), मेडिकल एग्जाम (Medical exam), एम्स एंट्रेंस एग्जाम (AIIMS entrance exam), आईआईटी (IIT), जेईई (JEE), गेट (GATE), यूजीसी नेट (UGC NET), डिफेन्स (Defence) , इसके अलावा 10 और 12वीं कक्षा के साथ अन्य एग्जाम की तैयारियों के लिए कोर्सेज भी उपलब्ध हैं। इसके साथ ही आप मैथ, साइंस,सामन्य ज्ञान, रीजनिंग,करंट अफेयर्स,इतिहास,राजनीति आदि विषय भी पढ़ सकते हैं।

ऑनलाइन लर्निंग ऐप के फायदे: (Advantage of unacademy app)

अनअकैडमी ऐप पर आप अपनी प्रतियोगिता परीक्षाओं की तैयारी भी अच्छा से कर सकते हैं। आप कहीं भी रहते हों, या कुछ भी करते हों इस ऑनलाइन लर्निंग प्लेटफार्म के माध्यम से आपका जब मन करे आप तब अपनी पढ़ाई पूरी कर सकते हैं।  इसके साथ ही आप इसमें अपने मन पसंद के शिक्षकों से लाइव भी पढ़ाई कर सकते हैं।  अनअकैडमी लर्निंग ऐप Unacademy learning app आपको एक प्रतिस्पर्धात्मक competitive माहौल प्रदान करता है, जहां आप एक साथ हजारों बच्चो के साथ खुद की तुलना कर सकते हैं।

ऑनलाइन लर्निंग ऐप के इस्तेमाल में आ रही समस्याएं

उपकरण एवं इंटरनेट की समस्या:

सभी के पास ऑनलाइन शिक्षा हेतु उचित संसाधन उपलब्ध नहीं होते। ऑनलाइन क्लास के एंड्राइड फोन/कम्प्यूटर/ टेबलेट, इंटरनेट कनेक्शन आदि की जरुरत होती है। भारत में ज्यादातर बच्चों के परिवार की आर्थिक स्थिति सही नहीं होती उसके चलते उनके पास डिजिटल क्लासेस के लिए आवश्यक उपकरण नहीं होते हैं। जिसके कारण ज्यादा बच्चे ऑनलाइन लर्निंग प्लेटफार्म  का इस्तेमाल करने में असमर्थ होते हैं। आपको बता दें कि राष्ट्रीय सैंपल सर्वेक्षण रिपोर्ट (National Sample Survey report) लोकल सर्कल (Local circle) नाम की एक गैर सरकारी संस्था ने एक सर्वे किया है, जिसमें 203 ज़िलों के 23 हज़ार लोगों ने हिस्सा लिया और जिनमें से 43% लोगों ने कहा कि उनके पास कम्प्यूटर, टेबलेट जैसी चीज़ें नहीं है। इसके अलावा ग्लोबल अध्ययन से पता चलता है कि केवल 24% भारतीयों के पास स्मार्टफोन है।

ग्रामीण इलाकों में दिक्कतें -

एक दिक्कत ग्रामीण नेटवर्क की भी सामने आ रही है। ग्रामीण इलाकों में अभी भी इंटरनेट की सुविधा पूरी तरह से उपलब्ध नहीं है। ज्यादातर लोगों को ऑनलाइन लर्निंग प्लेटफार्म का उपयोग करने में दिक्क्तों का सामना करना पड़ता है।

मानसिक और स्वास्थ्य सम्बन्धी समस्याएं -

ऑनलाइन लर्निंग प्लेटफार्म के माधयम से पढ़ाई करने पर छात्रों की आंखों में समस्या होने लगी है। याद करने की क्षमता भी कम हो रही है। क्योंकि बच्चा हर चीज कंप्यूटर या मोबाइल फ़ोन पर ही पढता है और नोट्स सेव कर लेता है। इसमें कोई छात्र किताबों का इस्तेमाल नहीं करता। जिसके फलसवरूप उन्हें विषय याद करने की आदत नहीं पड़ती।

ऑनलाइन लर्निंग प्लेटफार्म के नुक्सान :(Disadvantage of unacademy app)

  1. ऑनलाइन पढाई पर छात्र अपनी प्रतिक्रिया नहीं दे सकता है।
  2. ऑनलाइन पढ़ाई में समय का ध्यान नहीं रहता जिससे जीवनशैली प्रभाव पड़ता है।
  3. ऑनलाइन पढ़ाई में संचार कौशल का विकास ठीक तरह से नहीं हो पाता है।
  4. ऑनलाइन पढ़ाई केवल कुछ विषयों तक ही सीमित होती है।
  5. कंप्यूटर स्क्रीन पर निरंतर देखते रहने से आँखों में जलन की शिकायत सामने आती है।

Think with Niche पर आपके लिए और रोचक विषयों पर लेख उपलब्ध हैं एक अन्य लेख को पढ़ने के लिए कृपया नीचे  दिए लिंक पर क्लिक करे-

https://www.thinkwithniche.in/blogs/details/information-about-e-commerce-website

https://www.author.thinkwithniche.com/allimages/project/thumb_994edinformation-about-e-commerce-website.jpg




Newsletter

Read and Subscribe