छोटा रेस्टोरेंट खोलने के लिए जरूरी चीजें

Share Us

21683
छोटा रेस्टोरेंट खोलने के लिए जरूरी चीजें
02 Aug 2023
7 min read

Blog Post

रेस्टोरेंट बिज़नेस Restaurant Business हमेशा से ही बिज़नेस में उतरने वाले लोगों का एक पसंदीदा क्षेत्र रहा है। चलाना आसान नहीं है और इसके लिए आपको कई दिनों तक घंटों काम भी करना पड़ेगा, ये सब जानते हुए भी ज्यादातर उद्यमियों entrepreneurs का यह पसंदीदा बिज़नेस business रहा है।

अगर भारत की बात करें तो कुछ आंकड़ों के अनुसार भारत की रेस्टोरेंट इंडस्ट्री restaurant industry तीव्र गति से बढ़ने वाली इंडस्ट्री है। रेस्टोरेंट इंडस्ट्री के बढ़ने के मुख्य कारण में शहरीकरण, जीवनशैली में हो रहे बदलाव, आमदनी में बढ़ोतरी, कामकाजी जनसँख्या में हो रही वृद्धि आदि हैं।

इन्हीं सब कारणों के कारण आज लोग रेस्टोरेंट में खाना खाना ज्यादा पसंद करते हैं। 

आप में से कई लोगों ने ये नोटिस किया होगा कोविड 19 आने के बावजूद भी कुछ ऐसे बिज़नेस थे, जो फल फूल रहे थे जिसमें मेडिकल शॉप्स और रेस्टोरेंट के अलावा और भी कई व्यवसाय शामिल हैं।

बात अगर सिर्फ रेस्टोरेंट बिजनेस की करें तो यह एक ऐसा बिज़नेस है जिसे अगर आप सही तरीके से शुरू करते हैं तो यह आपको कई सालों तक बेहद शानदार रिटर्न दे सकता है।

अपना रेस्टोरेंट लॉन्च करने से कुछ दिन पहले या फिर कुछ महीनों पहले आपको कड़ी मेहनत करनी होगी। तब जाकर आप एक अच्छा रेस्टोरेंट खोल सकते हैं।

आज हम आपको कुछ ऐसी चीजों के बारे में बताना वाले हैं, जो रेस्टोरेंट बिजनेस Restaurant Business को चलाने के लिए काफी काम आती हैं, इनका ध्यान रखकर आप अपनी प्रक्रिया को आसान बना सकते हैं।

Covid-19 से पहले, भारतीय उद्यमियों और व्यापारियों के लिए रेस्टोरेंट बिज़नेस Restaurant Business सबसे अच्छे विकल्पों में से एक था। स्ट्रीट फूड स्टॉल से लेकर फूड कोर्ट food court और मैकडॉनल्ड्स से लेकर डॉमिनोज तक ना जाने कितने फूड बिज़नेस food business हैं जो आज भी जम कर तरक्की कर रहे हैं। 

ये बात तो आज हम सब जानते हैं कि भारत में रेस्टोरेंट बिज़नेस restaurant business शुरू करना एक लाभदायक अवसर है क्योंकि शायद ही कोई ऐसा होगा जिसे स्वादिष्ट भोजन का शौक ना हो। शायद यही कारण है कि आज युवा उद्यमियों के लिए यह सबसे पसंदीदा व्यवसाय बन गया है।

रेस्टोरेंट बिज़नेस चलाना आसान नहीं है और इसके लिए आपको कई दिनों तक घंटों काम भी करना पड़ेगा, ये सब जानते हुए भी ज्यादातर उद्यमियों का यह पसंदीदा बिज़नेस रहा है।

अगर भारत की बात करें तो कुछ आंकड़ों के अनुसार भारत की रेस्टोरेंट इंडस्ट्री restaurant industry तीव्र गति से बढ़ने वाली इंडस्ट्री है। रेस्टोरेंट इंडस्ट्री के बढ़ने के मुख्य कारण में शहरीकरण, जीवनशैली में हो रहे बदलाव, आमदनी में बढ़ोतरी, कामकाजी जनसँख्या में हो रही वृद्धि आदि हैं।

इन्हीं सब कारणों के कारण आज लोग रेस्टोरेंट में खाना खाना ज्यादा पसंद करते हैं। हां, पर ये बात भी है कि एक रेस्टोरेंट शुरू करना और उसे चलाना कठिन है क्योंकि इस बिज़नेस में कंपटीशन बहुत ज्यादा है। 

बात रेस्टोरेंट Restaurant खोलने की हो या फिर किसी भी खाने-पीने से जुड़े व्यवसाय की सबसे पहले आपको इसके लिए तैयारी करनी पड़ती है। इस से कोई फर्क नहीं पड़ता कि, आप एक छोटा रेस्टोरेंट खोल रहे हैं या फिर एक बड़ा रेस्टोरेंट खोल रहे हैं।

रेस्टोरेंट को खोलने से पहले आपको कई तरह की चीजों का ध्यान रखना पड़ता है, जैसे कि, सामान, जगह, कर्मचारी, यह एक लंबी प्रक्रिया है और यह प्रक्रिया कठिन है। 

अपना छोटा रेस्टोरेंट लॉन्च  Small Restaurant Launch करने से कुछ दिन पहले या फिर कुछ महीनों पहले आपको कड़ी मेहनत करनी होगी। तब जाकर आप एक अच्छा रेस्टोरेंट खोल सकते हैं।

आज हम आपको कुछ ऐसी चीजों के बारे में बताना वाले हैं, जो रेस्टोरेंट बिजनेस Restaurant Business को चलाने के लिए काफी काम आती हैं, इनका ध्यान रखकर आप अपनी प्रक्रिया को आसान बना सकते हैं।

छोटा रेस्टोरेंट खोलने के लिए जरूरी चीजें Things needed to open a small restaurant

रेस्टोरेंट खोलने के नियम Rules To Open Restaurant

1. लाइसेंस और परमिट license and permit

आपको अपना रेस्टोरेंट खोलने से पहले लाइसेंस और परमिट लेना पड़ता है। जिसकी मदद से आप अपना रेस्टोरेंट कानूनी तौर से चला सकते हैं। इसके अलावा रेस्टोरेंट में अल्कोहल Alcohol शामिल करने के लिए आपको इसका भी लाइसेंस लेना पड़ता है।

अलग-अलग देशों में इसके लिए अलग-अलग प्रक्रिया और लाइसेंस बनाए गए हैं और यह काफी महंगा हो सकता है, लेकिन यह ऐसे लाइसेंस और परमिट हैं, जिनका होना आपके रेस्टोरेंट के लिए बेहद जरूरी है।

अलग-अलग देशों और अलग-अलग राज्यों के नियमों के मुताबिक यह लाइसेंस दिए जाते हैं। इसके अलावा आपके रेस्टोरेंट का अधिकारियों द्वारा निरीक्षण भी किया जाता है, जिसके बाद आपको फूड सर्विस लाइसेंस Food Service Licence दिया जाता है।

2. खाद्य सुरक्षा प्रमाण पत्र Food Safety Certificate

यह प्रमाण पत्र आपको रेस्टोरेंट बिजनेस के लिए जरूरी है, यह दर्शाता है कि, आपका भोजन और आपके द्वारा उपयोग की जा रही रसोई और उसमें होने वाली प्रक्रिया सही है। इस तरह के प्रमाण पत्र अलग-अलग रेस्टोरेंट्स के लिए अलग-अलग होते हैं और इनका एक अलग स्तर भी होता है।

अधिकांश रेस्टोरेंट स्वच्छता प्रमाण पत्रों की कीमत करीब $800 से 1200 के बीच होती है। यह कीमत अलग-अलग देशों में अलग-अलग हो सकती है।

3. स्वास्थ्य प्रमाण पत्र Health Certificate

यह प्रमाण पत्र इस बात का सबूत होता है कि, रेस्टोरेंट ग्राहकों और कर्मचारियों के लिए स्वस्थ और सुरक्षित है। इसमें आपका ज्यादा खर्च नहीं लगता। आपके रेस्टोरेंट की जगह और स्थान पर निर्भर करता है कि, आपको कितना खर्च लगेगा, लेकिन इसमें आपकी ज्यादा लागत नहीं लगेगी।

4. विकलांगता प्रमाण पत्र Handicap Certificate

यह प्रमाण पत्र इस बात को सहमति देता है कि, विकलांग लोगों के लिए आपका रेस्टोरेंट सुरक्षित और सुलभ है। यह बहुत महत्वपूर्ण है क्योंकि आप चाहते हैं कि, आपका रेस्टोरेंट सभी की पहुंच में हो।

5. वर्क परमिट Work Permit

अगर आप विदेश में रेस्टोरेंट चला रहे हैं तो आपको वर्क परमिट जरूरी है, US restaurant association यूएस रेस्टोरेंट एसोसिएशन, इस बारे में बहुत सख्त है और अगर उन्हें पता चलता है कि, आपके रेस्टोरेंट ने परमिट नहीं लिया है, तो वह आपके रेस्टोरेंट का लाइसेंस रद्द कर सकते हैं।

रेस्टोरेंट्स के स्टाफ की स्थिति के आधार पर वर्क परमिट दिया जाता है, इससे रेस्टोरेंट खोलने की लागत बढ़ जाती है।

इसके अलावा रेस्टोरेंट स्टाफ के लोग अगर अमेरिकी नहीं है, तो आपको वर्क वीजा Work Visa के लिए भी आवेदन करना होगा। कर्मचारी की स्थिति और वेतन के आधार पर रेस्टोरेंट वीजा की लागत प्रति व्यक्ति $300 से 700 के बीच हो सकती है।

6. रेस्टोरेंट का मेन्यू तैयार करें Create Restaurant Menu

आप अपने रेस्टोरेंट में लोगों को क्या खिलाना चाहते हैं, इसके बारे में आपको पूरी जानकारी Menu के रूप में तैयार कर लेनी चाहिए। आपके रेस्टोरेंट के लिए जब आप सामान खरीदना चाहते हैं, तो आप बिना लिखे इसे नहीं कर सकते यह आपको परेशान कर सकता है।

इसलिए जब आपके पास आपके रेस्टोरेंट का मेन्यू होगा, तो आप आसानी से सब कुछ खरीद सकते हैं। आपका रेस्टोरेंट किस प्रकार का होगा और किस तरह की सेवाएं देगा इसके बारे में आपको जानकारी होनी चाहिए, इससे आपको अन्य खर्चे और चीजों को खरीदने में आसानी होती है।

यह बहुत महत्वपूर्ण है कि आप रेस्टोरेंट मेन्यू बनाएं, इससे ग्राहकों को पता चलेगा कि, आपके रेस्टोरेंट में किस तरह का खाना मिलता है।

7. रेस्टोरेंट डिजाइनिंग एंड इंटीरियर Restaurant Designing & Interior

आपने अक्सर यह महसूस किया होगा कि, जब आप कहीं खाना खाने जाते हैं और वहां आपको कुछ आकर्षक नजर आता है तो आप जरूर वहां जाने के लिए बार-बार मन बना लेते हैं, क्योंकि वह जगह आपको आकर्षक लगती है।

अपने रेस्टोरेंट को बेहतरीन बनाने के लिए आप अपने डिजाइनिंग designing और इंटीरियर Interior पर जरूर ध्यान दें, क्योंकि यह ग्राहकों को आपके पास आने के लिए सोचने पर मजबूर कर सकता है। इसके अलावा कई बार रेस्टोरेंट मालिक किसी थीम पर डिजाइनिंग, इंटीरियर बनवाते हैं, यह भी एक अच्छा विकल्प है। आप अपने रेस्टोरेंट को किस तरह डिजाइन करते हैं, यह आप पर निर्भर करेगा।

Also Read: स्टार्टअप्स के लिए फंडिंग के 14 आसान तरीके

8. अच्छा रेस्टोरेंट लोगो LOGO बनाएं Create Restaurant Logo

अपने रेस्टोरेंट बिजनेस के लिए लोगो logo डिजाइन करवाएं, ताकि आप इसे अपने मेन्यू, नैपकिन और व्यावसायिक कार्ड Business card पर इस्तेमाल कर सकें, इसकी मदद से मार्केटिंग Marketing भी होगी और अगर रेस्टोरेंट का लोगो आकर्षक है, तो यह ग्राहकों को आपकी तरफ खींच लाएगा।

आप इसके लिए किसी ग्राफिक डिजाइनर की मदद ले सकते हैं। आपको इस बात का ध्यान रखना होगा कि, आपका रेस्टोरेंट किस तरह की सेवाएं देता है और किस तरह की थीम पर चलता है, उसके मुताबिक ही लोगो Logo बनवाएं। आपके रेस्टोरेंट का लोगो आपकी पहचान का काम करता है। इसलिए इसे हल्के में ना लें।

9. रेस्टोरेंट की वेबसाइट Restaurant website

आजकल ऑनलाइन का जमाना है और अगर आप अपने रेस्टोरेंट की वेबसाइट बनाएंगे, तो यह काफी फायदे का सौदा होगा, क्योंकि आजकल लोग सारी चीजें ऑनलाइन चेक करके ही इस्तेमाल करते हैं, अगर आपकी बेहतरीन वेबसाइट Restaurant website है और उस पर पूर्ण जानकारी मौजूद है, तो लोग जरूर आपके रेस्टोरेंट पर आना पसंद करेंगे। वेबसाइट की मदद से लोगों का आप पर भरोसा भी बढ़ता है और आपके रेस्टोरेंट की जगह ढूंढने में भी आसानी होती है।

10. जरूरत का सामान मंगाए

जब आप ऊपर दी गई सभी जरूरतों को पूर्ण कर लेंगे, तो रेस्टोरेंट में इस्तेमाल की जाने वाली सामान की सूची बनाकर उसे मंगाना शुरू करें, आपके द्वारा मंगाया गया सामान उच्च गुणवत्ता वाला हो इस पर ध्यान लगाएं।

आप जितना अच्छा खाना लोगों को परोसेंगे, आपके लिए यह बेहतरीन होगा, क्योंकि जब लोग आपका खाना खाकर प्रसन्न होंगे और दूसरे लोगों को बताएंगे, तो कई ग्राहक भविष्य में आप के साथ जुड़ते जाएंगे। रेस्टोरेंट के बिजनेस में आपके द्वारा खिलाया जा रहा खाना ही आपकी पहचान होता है, इसलिए अपने खाने के सामान और अन्य सामान को इतना अच्छा रखें की लोग उसकी तारीफ जरूर करें।

एक सफल रेस्टोरेंट के प्रमुख एलिमेंट Key Elements Of A Successful Restaurant

इस लेख के माध्यम से आप इतना तो समझ गए होंगे कि एक रेस्टोरेंट शुरू कैसे करना है लेकिन आज हम आपको ये भी बताएंगे कि एक सफल रेस्टोरेंट के प्रमुख एलिमेंट क्या-क्या हैं। आपके रेस्टोरेंट की सफलता कुछ चीजों को सही तरह से करने पर निर्भर करती है, आइए उन पॉइंट्स को जानते हैं –

1. भोजन की क्वालिटी और उसका स्वाद Food quality and taste

रेस्टोरेंट बिजनेस की सफलता के पीछे सबसे बड़ा हाथ एक अच्छे मेनू menu का है। आप जिस तरह का भोजन अपने ग्राहक को पेश कर रहे हैं, उसे देखते ही आपके ग्राहक के मुंह में पानी आ जाना चाहिए। साफ, सुथरा और स्वादिष्ट भोजन ग्राहकों को आपके रेस्टोरेंट में बार-बार आने के लिए मजबूर करता है।

पैसे बचाने के चक्कर में बेकार क्वालिटी का भोजन परोसने की गलती ना करें और इस बात का ध्यान दें कि ऑर्डर करने के बाद आपके ग्राहक को ज्यादा इंतजार ना करना पड़े। 

2. बेहतरीन ग्राहक सेवा Great customer service

आपको बता दें कि बेहतरीन ग्राहक सेवा की मदद से आप एक बार आने वाले ग्राहक को अपना रेगुलर कस्टमर बना सकते हैं और अगर यकीन नहीं है कि आप खुद इसके बारे में सोच कर देखिए। हमें अच्छा भोजन देने के लिए कई रेस्टोरेंट हैं फिर भी हम ऐसे रेस्टोरेंट में जाना पसंद करते हैं जहां बेहतरीन ग्राहक सेवा मिलती है।

सकारात्मक अनुभव के बाद आपके ग्राहक खुद अपने मित्रों और जान पहचान के लोगों को बताते हैं कि आपके रेस्टोरेंट की सर्विस कितनी अद्भुत है और उनके मित्रों को वहां क्यों जाना चाहिए।

किसी भी बिज़नेस को चलाने के लिए  मार्केटिंग की आवश्कता है लेकिन अपने ग्राहकों को एक अच्छी सर्विस देना भी मार्केटिंग का ही अहम पार्ट है।

3. मार्केटिंग Marketing

यह एक ऐसा एलिमेंट है, जिसके बारे में अगर हम आपको ना भी बताएं तब भी आपको पता होगा कि यह कितना महत्वपूर्ण है। 

एक अच्छी मार्केटिंग स्ट्रेटजी आपके बिज़नेस को दूसरों से अलग करती है। जब आप क्रिएटिव और शानदार विज्ञापन चलाते हैं, तो ग्राहक इस बात का ध्यान देते हैं और आपके रेस्टोरेंट को हर बार याद रखते  हैं, जब भी वे कुछ भी ऑर्डर करना चाहते हैं।

4. मूल्य निर्धारण Pricing

क्या कभी आप किसी खराब सेवा के लिए पैसे देना चाहते हैं। आपका जवाब ना होगा, तो आप ऐसा क्यों सोच लेते हैं कि आपकी खराब सेवा देने के बावजूद भी ग्राहक आपके यहां बार-बार आना चाहेंगे। 

मूल्य निर्धारण करना भी एक कला है इसीलिए जितने भी सफल व्यवसाय होते हैं वह सही बैलेंस बनाकर चलते हैं और इसीलिए ग्राहकों को पैसे देने में भी कोई आपत्ति नहीं होती है।

5. रेस्टोरेंट सजावट Restaurant Decoration

आपके रेस्टोरेंट के माहौल और सजावट का आपके ग्राहक अनुभव पर सीधा प्रभाव पड़ता है और खासकर तब जब आप कोई थीम रिलेटेड रेस्टोरेंट या कैफे शुरू करते हैं। अगर आप एक साफ-सुथरा, सुव्यवस्थित और अच्छा रेस्टोरेंट चलाते हैं तो ग्राहकों का आपके पास आना पक्का है। 

रेस्टोरेंट कैसे ढूंढते हैं? How to Search a Restaurant ?

भारत में रेस्टोरेंट खोजने के कुछ तरीके निम्नलिखित हैं:

  • इंटरनेट: आजकल, इंटरनेट पर रेस्टोरेंट की लिस्टिंग आसानी से उपलब्ध होती है। आप ऑनलाइन रेस्टोरेंट डायरेक्टरी वेबसाइट जैसे Zomato, Swiggy, Dineout आदि का उपयोग कर सकते हैं। इन वेबसाइटों पर आप रेस्टोरेंटों की जानकारी, समीक्षा, रेटिंग और सेवाओं के लिए खोज कर सकते हैं।
  • स्थानीय सलाह: आप अपने स्थानीय लोगों से भी रेस्टोरेंट के बारे में सलाह ले सकते हैं। अक्सर लोग अपने स्थान के सर्वश्रेष्ठ रेस्टोरेंट के बारे में अच्छी जानकारी रखते हैं।
  • ट्रैवल गाइड: यदि आप टूरिस्ट हैं तो आप ट्रैवल गाइड बुक का भी उपयोग कर सकते हैं। इन गाइड में रेस्टोरेंटों की जानकारी, समीक्षा, रेटिंग और सेवाओं के बारे में बताया जाता है।
  • सोशल मीडिया: आप सोशल मीडिया प्लेटफार्म जैसे Facebook, Instagram, Twitter आदि का भी उपयोग कर सकते हैं। 

रेस्टोरेंट खोलने के तरीके (Process of Opening a Restaurant)

रेस्टोरेंट खोलने के कुछ प्रमुख तरीके निम्नलिखित हैं:

  • स्वदेशी रेस्टोरेंट: इस तरह के रेस्टोरेंट में आप अपने स्थान की खासियतों पर ध्यान देते हुए स्थानीय व्यंजनों की पेशकश करते हैं। इस तरह के रेस्टोरेंट आमतौर पर लोगों को स्वदेशी खाद्य पदार्थों का स्वाद निहित होता है जो उनके लिए अत्यंत आकर्षक होता है।
  • आधुनिक रेस्टोरेंट: इस तरह के रेस्टोरेंट में आप आधुनिक व्यंजनों की पेशकश करते हैं जो आमतौर पर पश्चिमी खाद्य पदार्थों से संबंधित होते हैं। इस तरह के रेस्टोरेंट आमतौर पर युवा जनता को आकर्षित करते हैं जो आधुनिक और विदेशी व्यंजनों का खाना पसंद करते हैं।
  • फ़ास्ट फ़ूड रेस्टोरेंट: इस तरह के रेस्टोरेंट में आप जल्दी से खाद्य पदार्थों की पेशकश करते हैं। इस तरह के रेस्टोरेंट में आप आमतौर पर बच्चों, युवा जनता और दूसरे जल्दी से खाना खाने के शौकीन लोगों को आकर्षित करते हैं।

रेस्टोरेंट स्टार्टअप लागत (Cost of Restaurant Start Up)

एक रेस्टोरेंट खोलने का खर्चा (ek restaurant kholne ka kharcha) अथवा रेस्टोरेंट स्टार्टअप की लागत कई तत्वों पर निर्भर करती है, जैसे कि स्थान, वर्कर, मेनू विकल्प, उपकरण और सुविधाएं आदि। यहाँ कुछ मुख्य खर्चे निम्नलिखित हैं:

स्थान: स्थान रेस्टोरेंट स्टार्टअप के लिए सबसे महत्वपूर्ण है। रेस्टोरेंट के लिए स्थान किराए पर या खरीद पर उपलब्ध हो सकता है। स्थान की लागत जगह के अनुसार भिन्न हो सकती है, लेकिन आमतौर पर स्थान के लिए लगभग 25% से 30% का बजट आवश्यक होता है।

कार्यकर्ता: रेस्टोरेंट के कामकाज के लिए कुशल व समर्थ कार्यकर्ता आवश्यक होते हैं। यदि आपने अपने रेस्टोरेंट में प्रशिक्षित शेफ को रखा है, तो आपको उन्हें अधिक वेतन देना होगा। आपको अपने रेस्टोरेंट के लिए वेटर, बार टेंडर, कूक, क्लीनर आदि भी रखने की आवश्यकता होगी। कुल मिलाकर, आपको लगभग 25% से 30% का बजट वेतन के रूप में आवश्यक हो सकता है।

  • रसोई और उपकरणों की लागत: रेस्टोरेंट के लिए रसोई और उपकरणों की लागत उपयोग किए जाने वाले उपकरणों और उनकी संख्या के आधार पर निर्भर करती है।
  • भोजन वस्तुओं की लागत: भोजन वस्तुओं की लागत भी रेस्टोरेंट स्टार्टअप के लिए महत्वपूर्ण होती है। यह विभिन्न खाद्य पदार्थों, मसालों, घी, मक्खन और अन्य आवश्यक भोजन सामग्री की लागत के आधार पर निर्भर करती है।
  • रेस्तरां खोलने से पहले की जाने वाली चीजों की सूची (List of things to do before opening a restaurant)

  • रेस्टोरेंट खोलने से पहले कुछ चीजों को ध्यान में रखना बहुत जरूरी है। निम्नलिखित हैं कुछ महत्वपूर्ण चीजें जो आपको रेस्टोरेंट खोलने से पहले करनी चाहिए:
  • रेस्टोरेंट बिजनेस का अध्ययन करें: रेस्टोरेंट व्यवसाय को अच्छी तरह समझने के लिए आपको उससे संबंधित सभी जानकारी जाननी चाहिए, जैसे कि विभिन्न भोजन शैलियां, लोगों की पसंद, खर्च आदि।
  • रेस्टोरेंट के लिए एक बिजनेस प्लान बनाएं: रेस्टोरेंट के लिए एक बिजनेस प्लान तैयार करें जिसमें स्थान, वित्त, स्थापना, भोजन, प्रबंधन और मार्केटिंग सहित सभी विवरण हों।
  • रेस्टोरेंट के लिए उपयुक्त स्थान ढूंढें: रेस्टोरेंट के लिए उपयुक्त स्थान ढूंढना बहुत महत्वपूर्ण है। आपको उस स्थान के लिए किराया, बीमा और अन्य खर्चों का भी ख्याल रखना होगा।
  • अपने रेस्टोरेंट की शैली चुनें: रेस्टोरेंट की शैली चुनना बहुत महत्वपूर्ण होता है, जैसे आप उसे इंडियन बनाना चहिते हैं या कॉन्टिनेंटल अथवा मुग़लई। 

रेस्टोरेंट के नियम (Rules of Restaurant)

रेस्टोरेंट में कुछ महत्वपूर्ण नियम होते हैं जो कि निम्नलिखित हैं:

  • हाइजीन नियम: रेस्टोरेंट में हाइजीन नियमों का पालन करना बहुत महत्वपूर्ण होता है। इसमें समायोजित खाद्य सुरक्षा विनियम, खाद्य सम्बन्धित स्वास्थ्य और सुरक्षा अधिनियम शामिल होते हैं। इन नियमों के अंतर्गत रेस्टोरेंट में स्वच्छता और स्वच्छता से खाद्य तैयार किया जाता है।
  • आदर-सत्कार नीति: रेस्टोरेंट में समस्त ग्राहकों को आदर-सत्कार से संबोधित करना चाहिए। सभी ग्राहकों को उनकी भाषा में आदर-सत्कार से बात करना चाहिए।
  • खाद्य सुरक्षा नीति: रेस्टोरेंट में खाद्य सुरक्षा नीति का पालन करना बहुत महत्वपूर्ण होता है। इसमें खाद्य संबंधित समस्याओं, खाद्य तैयारी के नियम और संबंधित स्वास्थ्य और सुरक्षा नियमों को शामिल किया जाता है।
  • आग नियंत्रण नीति: रेस्टोरेंट में आग नियंत्रण नीति का पालन करना बहुत महत्वपूर्ण होता है। इसमें आग सम्बन्धी सर्टिफिकेट सरकार से प्राप्त कर लेना चाहिए। 

रेस्तरां लाइसेंस और परमिट की लागत (Restaurant licenses and permits cost)

एक रेस्टोरेंट शुरू करने के लिए कुछ लाइसेंस और परमिट की आवश्यकता होती है। यहाँ कुछ लाइसेंस और परमिट की सामान्य लागतों की जानकारी है:

  • फसल उत्पादन लाइसेंस: लागत लगभग 2,000 से 3,000 रुपये हो सकती है।
  • खाद्य सुरक्षा लाइसेंस: लागत लगभग 2,000 से 5,000 रुपये हो सकती है।
  • फायर सेफ्टी परमिट: लागत लगभग 1,000 से 3,000 रुपये हो सकती है।
  • GST रजिस्ट्रेशन: लागत लगभग 2,000 से 7,000 रुपये हो सकती है।
  • ट्रेड लाइसेंस: लागत लगभग 1,000 से 5,000 रुपये हो सकती है।
  • शराब लाइसेंस: लागत इस परमिट के अनुसार अलग-अलग हो सकती है। इसे प्राप्त करने के लिए अतिरिक्त फीस और कर भी देने होते हैं।

यह सभी लाइसेंस और परमिट की लागत स्थान और राज्य के अनुसार भिन्न हो सकती है।

निष्कर्ष 

इन सभी जरूरतों की पूर्ति के बाद आप आखरी चरण में प्रवेश कर चुके हैं, अब आप अपने रेस्टोरेंट खोलने के लिए तैयार हैं।इसके साथ ही अपने रेस्टोरेंट में काम कर रहे कर्मचारियों का भी ध्यान रखें और रेस्टोरेंट का वातावरण सुखद और उत्साह से भरा हुआ रखें।

इस बात का ध्यान रखें कि, आपके कर्मचारी इस काम को पसंद करते हों। उम्मीद करते हैं कि, इन सभी बातों का ध्यान और ख्याल रखकर आप अपने रेस्टोरेंट बिजनेस को सफल जरूर बनाएंगे।