facebook-pixel

5 स्टेप्स में टीनएजर स्किनकेयर

Share Us

1648
5 स्टेप्स में टीनएजर स्किनकेयर
18 Oct 2021
8 min read
TWN In-Focus

Post Highlight

शरीर में काफी बदलाव के कारण इस उम्र में तैलीय त्वचा, मुंहासे, दाग-धब्बे आदि का होना बहुत आम बात है। अगर एक सही स्किनकेयर रूटीन फॉलो किया जाए तो युवा अपनी स्किन को पहले से बेहतर बना सकते हैं। स्किनकेयर करना बहुत जरूरी है, नहीं तो आगे चलकर त्वचा से जुड़ी ये समस्याएं बढ़ सकती हैं। अगर आपको भी तैलीय त्वचा, मुंहासे, दाग-धब्बे जैसी समस्याएं हैं, तो आप स्किनकेयर रूटीन बनाएं और उसे फॉलो करें।

Podcast

Continue Reading..

शरीर में काफी बदलाव के कारण युवाओं को अक्सर त्वचा से जुड़ी समस्या होती रहती है। दरअसल इस अवस्था में हार्मोन से जुड़े काफी बदलाव होते हैं और शरीर में कई शारीरिक और मानसिक बदलाव आने के कारण उनकी त्वचा पहले जैसी नहीं रहती। इस उम्र में तैलीय त्वचा, मुंहासे, दाग-धब्बे आदि का होना बहुत आम बात है। अगर एक सही स्किनकेयर रूटीन फॉलो किया जाए तो युवा अपनी स्किन को पहले से बेहतर बना सकते हैं। 

स्किनकेयर करना बहुत जरूरी है, नहीं तो आगे चलकर त्वचा से जुड़ी ये समस्याएं बढ़ सकती हैं। अगर आपको भी तैलीय त्वचा, मुंहासे, दाग-धब्बे जैसी समस्याएं हैं तो आप स्किनकेयर रूटीन बनाएं और उसे फॉलो करें। 

1.क्लींजिंग

इस उम्र में अक्सर युवा तैलीय त्वचा की समस्या से जूझते हैं और त्वचा की सफाई करना बेहद जरूरी है। इस उम्र में तैलीय त्वचा का होना बहुत आम बात है और आप इसे क्लींजिंग से सही कर सकते हैं। आप कोई हर्बल सौम्य फेसवॉश ले सकते हैं और उसे दिन में दो बार इस्तेमाल करें। दरअसल एक सही क्लींजर का इस्तेमाल आपके स्किन पीएच स्तर को बरकरार रखेगा और आपको ड्राई और ऑयली स्किन की समस्या नहीं होगी। एक बात का ध्यान रखें कि इस उम्र में आपकी त्वचा काफी संवेदनशील होती है इसीलिए हमेशा माइल्ड प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल करें। केमिकलयुक्त ब्यूटी प्रोडक्ट्स के इस्तेमाल से बचें, नहीं तो भविष्य में आपको कई दुष्प्रभाव देखने को मिल सकते हैं।

2.टोनिंग

अकसर लोग क्लींजिंग के बाद टोनिंग करना भूल जाते हैं। इस जरूरी स्टेप को भूलना आपके स्किन के लिए बिलकुल भी अच्छा नहीं है। टोनिंग का इस्तेमाल स्किन को हाइड्रेट करने के लिए होता है। टोनिंग करने से आपको कम उम्र में ओपन पोर्स और झुर्रियों की शिकायत नहीं होगी। ध्यान रखें कि आप ऐसे टोनर का प्रयोग करें जिसमें अल्कोहल की मात्रा ना हो और वो सुगंध रहित हो। आप नेचुरल टोनर जैसे गुलाब जल या एलोवेरा का इस्तेमाल कर सकते हैं।

3.मॉइस्चराइजिंग

टोनर में इस्तेमाल के बाद मॉश्चराइजर इस्तेमाल करना एक महत्वपूर्ण कदम है। आपको लगेगा कि तैलीय त्वचा वालों को मॉश्चराइजर की क्या जरूरत होगी लेकिन वास्तव में इस बात से फर्क नहीं पड़ता कि आपका स्किन प्रकार क्या है, मॉश्चराइजर का इस्तेमाल सभी को करना चाहिए। मॉश्चराइजर आपकी त्वचा को लंबे समय के ग्लोइंग रखता है। इसके इस्तेमाल से त्वचा कोमल और मुलायम रहती है।

4.फेस पैक

फेस पैक के नियमित इस्तेमाल से त्वचा साफ और सुंदर बनी रहती है। बाजार में आज कई फेस पैक उपलब्ध हैं और अगर आपके पास घर पर फेस पैक बनाने के समय नहीं है तो आप बाजार में उपलब्ध फेस पैक लगा सकते हैं। फेस पैक को 10 से 15 मिनट के लिए छोड़ दें और बाद में ठंडे पानी से धो लें। फेस पैक को रोज लगाने से बचें। फेस पैक का इस्तेमाल हफ्ते में ज्यादा से ज्यादा दो बार करें।

5.सनस्क्रीन

अगर आप सनस्क्रीन का इस्तेमाल नहीं करेंगे तो आपको स्किनकेयर रूटीन करने का ज्यादा फायदा नहीं मिलेगा। हानिकारक यूवी किरणें त्वचा के लिए बिलकुल अच्छी नहीं होती हैं इसीलिए सनस्क्रीन का इस्तेमाल करना ना भूलें। सिर्फ युवाओं को ही नहीं बल्कि हर उम्र के व्यक्ति को सनस्क्रीन का नियमित इस्तेमाल करना चाहिए।