नींद नहीं आ रही है तो करें ये 4 काम

Share Us

3951
नींद नहीं आ रही है तो करें ये 4 काम
13 Oct 2021
5 min read

Blog Post

नींद ना आने के कई कारण हो सकते हैं। सबसे पहले आप यह जानने का प्रयास करें कि आपको नींद क्यों नहीं आ रही है। आप अपने स्लीपिंग रूटीन को सही करें, धूम्रपान और अल्कोहल का सेवन ना करें और एक रूटीन बनाएं और उसका पालन करें। इसके साथ-साथ आप कुछ और तरीके अपना सकते हैं, जिनसे आपको नींद लेने में मदद मिलेगी ।

हमें अक्सर सिखाया जाता है कि वक्त पर सो, वक्त पर उठो, वक्त पर भोजन करो, लेकिन हम सभी को जिंदगी की रेस में सबसे आगे रहना है और इसीलिए हम इन सभी जरूरी चीज़ों को बिलकुल भी प्राथमिकता नहीं देते हैं। आज की भाग दौड़ भरी जिंदगी में लोग अपने काम के चलते सही समय पर खाना और सोना भी भूल जाते हैं। नींद को लेकर कई शोध हुए हैं और ऐसा पाया गया है कि जो लोग कम नींद लेते हैं उन्हें स्ट्रोक, मधुमेह और मोटापे जैसी बीमारियां होने की संभावना बढ़ जाती है। वहीं दूसरी ओर जो लोग सही मात्रा में नींद लेते हैं उनका इम्यून सिस्टम सही रहता है, उनका मूड अच्छा रहता है और उन्हें डिप्रेशन, मधुमेह और स्ट्रोक जैसी बीमारियां होने का कम खतरा होता है। 

नींद ना आने के कई कारण हो सकते हैं, जैसे- डिप्रेशन, व्यस्त जीवनशैली, तनाव, नियमित तौर पर दवाओं का सेवन, धूम्रपान करना, अल्कोहल लेना आदि। सबसे पहले आप यह जानने का प्रयास करें कि आपको नींद क्यों नहीं आ रही है। आप अपने स्लीपिंग रूटीन को सही करें, धूम्रपान और अल्कोहल का सेवन ना करें और एक रूटीन बनाएं और उसका पालन करें। इसके साथ-साथ आप कुछ और तरीके अपना सकते हैं जिनसे आपको नींद लेने में मदद मिलेगी-

1.ब्रेक के समय नैप लेना ना भूलें

एक बार में 6 से 8 घंटे की नींद लेना थोड़ा मुश्किल है और जिन लोगों का शेड्यूल काफी व्यस्त होता है वो एक बार में 8 घंटे की नींद नहीं ले पाते हैं। ऐसे लोग दोपहर के समय पावर नैप ले सकते हैं। 20 से 30 मिनट की नींद लेने से आपका मूड फ्रेश रहेगा और आप अपने काम पर ध्यान भी दे पाएंगे। 

2.सोने से पहले कैफीन को कहें ना

कैफ़ीन के सेवन से नींद नहीं आती है इसीलिए ध्यान रखें कि सोने के 4 से 5 घंटे पहले ऐसा कुछ भी ना सेवन करें जिसमें कैफ़ीन की मात्रा हो अधिक। इसके साथ-साथ कॉफी, चाय, चॉकलेट आदि चीज़ों का सेवन कम करें। 

ध्यान रखें कि सोने के कम से कम 3 घंटे पहले डिनर कर लें, डिनर करने के बाद आप 10 मिनट के लिए टहल सकते हैं।

3.स्लीप शेड्यूल बनाएं और उसका पालन करें

आप अपने काम को ध्यान में रखते हुए स्लीप शेड्यूल बनाएं। अगर आप एक शिफ्ट में नींद पूरी कर ले रहे हैं तो ये बहुत अच्छा है और अगर आप एक शिफ्ट में नींद नहीं ले पा रहे हैं तो कोशिश करें कि आप दो शिफ्ट में अपनी नींद पूरी कर पाएं। शेड्यूल बनाने का कोई मतलब नहीं होगा अगर आप उसको फॉलो नहीं करेंगे, इसीलिए ऐसा शेड्यूल बनाएं जिसे आप फॉलो कर पाएं।

4.टेलीविजन और फोन का इस्तेमाल कम करें

सोने से पहले अपने लिए समय निकालें और कोशिश करें कि इस समय आपका फोन स्विच ऑफ हो। अगर आपको किताबें पढ़ने का शौक है तो कोशिश करें कि ऐसी कोई किताब ना पढ़े जिसे पूरा करने के लिए आपको रात भर जागना पड़े। 

नींद ना आना कोई सामान्य बात नहीं है और इसे हल्के में ना लें। इन सब तरीकों को अपनाने के बाद भी अगर आपको नींद नहीं आ रही है तो आप नींद विकार विशेषज्ञ या अपने डॉक्टर से इस पर चर्चा करें।