facebook-pixel

स्थायी व्यवसाय ही भविष्य है।

Share Us

5793
स्थायी व्यवसाय ही भविष्य है।
01 Sep 2021
7 min read
TWN Special

Post Highlight

स्थायी व्यवसाय एक ऐसा उद्यम है जिसका वैश्विक या स्थानीय पर्यावरण , समाज, अर्थव्यवस्था या समुदाय पर कम नकारात्मक प्रभाव पड़ता है। हम यह कह सकते हैं कि यह व्यवसाय पर्यावरण और समाज पर सकारात्मक प्रभाव भी लाता है।स्थायी व्यवसाय एक अकेला व्यवसाय है जो ट्रिपल तल रेखा को पूरा करने का प्रयास करता है। आइये जाने और विस्तार से।

Podcast

Continue Reading..

स्थायी व्यवसाय क्या है?

स्थायी व्यवसाय एक ऐसा उद्यम है जिसका वैश्विक या स्थानीय पर्यावरण, समाज, अर्थव्यवस्था या समुदाय पर कम नकारात्मक प्रभाव पड़ता है। हम यह कह सकते हैं कि यह व्यवसाय पर्यावरण और समाज पर सकारात्मक प्रभाव भी लाता है। स्थायी व्यवसाय एक अकेला व्यवसाय है जो ट्रिपल तल रेखा को पूरा करने का प्रयास करता है।

स्थायी व्यवसाय के अन्य क्या नाम है?

स्थायी व्यवसाय को टिकाऊ व्यवसाय, सतत व्यापार, हरा व्यापार, हरित व्यवसाय आदि के नाम से जाना जाता है। पर्यावरण को कम हानि पहुंचाने के कारण इसे हरित व्यवसाय और हरा व्यापार कहा जाता है।

स्थायी व्यवसाय का महत्व

  • मानव प्रकृति को हानि पहुंचा रहा है,हम अपने फायदे और संतोष के लिए कुछ भी करने को तैयार हैं। प्रकृति, समाज, समुदाय हमें किसी से मतलब नहीं रहा है, हम अपने व्यवसाय को बढ़ते हुआ देखना चाहते हैं। हम सिर्फ अपने वर्तमान का सोच रहें हैं। स्थायी व्यवसाय सिर्फ हमारे वर्तमान के लिए ही नहीं बल्कि हमारे भविष्य के बारे में भी सोचता है। हम यह कह सकते है कि टिकाऊ व्यवसाय हमारे वर्तमान के साथ-साथ आने वाली पीढ़ी (भविष्य) की आवश्यकताओं को भी पूरा करता है।अर्थात वर्तमान में किए गए व्यवसाय का भविष्य पर बुरा प्रभाव नहीं पड़ेगा।
  • बॉब ब्राउन कहते हैं कि “भविष्य या तो हरा होगा या नहीं होगा”। हम जो भी व्यवसाय करते है उसका प्रभाव समाज और पर्यावरण पर सीधा पड़ता है। अगर हम पर्यावरण का ध्यान नहीं रखेंगे तो अपशिष्ट उत्सर्जन बढ़ेगा और ये हमारी आने वाली पीढ़ी के लिए बहुत हानिकारक है। हरित व्यापार से जुड़कर हम पर्यावरण से संबंधित बहुत सारी समस्याओं को कम कर सकते हैं| हरित व्यापार हानिरहित और कम प्रदूषण का प्रतिनिधित्व करता है।
  • टिकाऊ व्यवसाय कम ऊर्जा का प्रयोग कर अक्ष्य ऊर्जा(रिन्यूएबल एनर्जी) को भविष्य के लिए बचा कर रखता है। यह पर्यावरण के अनुकूल उत्पादों का प्रयोग करता है जिससे स्थानीय पर्यावरण, अर्थव्यवस्था, समुदाय और समाज पर न्यूनतम नकारात्मक प्रभाव पड़ता है।
 स्थायी व्यवसाय की आवश्यकता 
हम सबने कोरोना काल में ये तो महसूस किया ही होगा कि हमने प्रकृति को कितनी हानि पहुंचाई है और प्रकृति आज हमसे कोरोना के रुप में प्रतिशोध ले रही है। हम सभी अगर अभी टिकाऊ व्यवसाय का हिस्सा नहीं बनेंगे तो आगे यह हमारे लिए बहुत बुरा साबित होगा। हमें सतत व्यापार की आवश्यकता इसलिए है क्योंकि यह हमारे ग्रह पर जीवन की गुणवत्ता को सफलतापूर्वक बनाए रखने की क्षमता का एक बहुत महत्वपूर्ण हिस्सा है। हमें ये मानना पड़ेगा की प्रकृति के विनाश के हम इंसान ही जिम्मेदार है और अभी से भी हरित व्यापार से जुड़कर हम अपने पर्यावरण को बचा सकते है। व्यवसाय को टिकाऊ बनाने के कई अलग-अलग तरीके हैं जैसे टिकाऊ सामग्री का उपयोग करना, कचरे को कम करना, पानी का संरक्षण करना, पेड़ लगाकर ग्रह को हरा-भरा करना, आदि। व्यापार को टिकाऊ बनाने से न केवल पर्यावरण को लाभ होता है, बल्कि इससे कंपनी को भी लाभ होता है। यह न केवल कंपनी के व्यावसायिक मूल्य को बढ़ाता है, बल्कि ग्राहकों को आपको चुनने के लिए भी प्रोत्साहित करता है।
 
हमें यह ग्रह हमारे पूर्वजों से उत्तराधिकार में नहीं मिला, ये हमें अपने बच्चों से उधार में मिला है।- अमेरिकी कहाव