facebook-pixel
Entrepreneurship Skill Development

भारत की अमीर और सफल उद्यमी बेटियाँ

Entrepreneurship Skill Development

भारत की अमीर और सफल उद्यमी बेटियाँ

rich-and-successful-entrepreneur-daughters-of-india

Post Highlights

आज बेटियां भी उड़ना चाहती हैं, ऊंचाइयों को छूना चाहती हैं। उनकी आंखों में भी एक चमक है, एक मुस्कान है। वो साबित कर रही हैं कि अगर हमें मौका दिया जाए तो हम नामुमकिन को भी मुमकिन में बदल सकते हैं और ये सच भी है अगर पाबंदियां हटा दी जाये तो मेरा मानना है कि फिर रोशनी के लिए चिरागों की जरूरत नहीं पड़ेगी बेटियां घर को, राष्ट्र को और पूरे संसार को भी रोशन कर सकती हैं जो वो कर भी रही हैं।

रोशनी नादर Roshni Nadar

रोशनी नादर मल्होत्रा ​​एचसीएल एंटरप्राइज HCL Enterprises की कार्यकारी निर्देशिका और सीईओ CEO हैं। वह भारतीय अरबपति और एचसीएल HCL के संस्थापक शिव नादर Shiv Nadar की बेटी है। रोशनी ये अच्छी तरह से जानती है कि यदि कोई काम करना है तो उसकी क्या तकनीक होनी चाहिये। रोशनी मल्होत्रा फोर्ब्स मैगज़ीन forbes magazine के अनुसार दुनिया की 100 सबसे शक्तिशाली महिलाओं में से एक हैं और साथ ही देश की सबसे अमीर महिलाओं में से भी एक हैं। 38 वर्षीय रोशनी नादर मल्होत्रा को भारत के तीसरे सबसे बड़े सॉफ्टवेयर निर्यातक एचसीएल टेक्नोलॉजीज HCL Technologies के अध्यक्ष के रूप में नियुक्त किया गया है। इस तरह रोशनी नादर मल्होत्रा देश की सबसे अमीर महिला होने के साथ काफी विलक्षण बुद्धि की भी हैं। रोशनी नादर आर्थिक रूप से वंचितों के लिए एक नेतृत्व अकादमी, विद्याज्ञान लीडरशिप अकादमी की अध्यक्षा भी हैं।

पिया सिंह Piya Singh

पिया सिंह डीएलएफ DLF की नॉन एग्जुक्य़ूटिव डायरेक्टर हैं। साथ ही वह डीएलएफ एंटरटेनमेंट की सीईओ भी हैं। पिया करीब 20 सालों से अपने पिता के साथ कारोबार में हाथ बंटा रही हैं। ये सारा काम उन्होंने महज 39 साल की उम्र में संभाला है। इनके काम को देखकर कोई ये नहीं कह सकता है कि ये अभी महज 39 साल की हैं। पिया, मशहूर रियल एस्टेट किंग केपी‌ सिंह K P Singh की बेटी हैं। ये 400 मिलियन डॉलर की मालकिन हैं। साल 2008 में पिया ने देश का पहला लग्जरी मॉल डीएलएफ एम्पोरिया खोला था। पिया ने देश की बड़ी आउटसोर्सिंग कंपनी जेनपैक्ट Genpact को डीएलएफ के साथ मिलाया था। पिया सिंह का नाम प्रतिष्ठित फोर्ब्स की शक्तिशाली और अमीर महिलाओं की लिस्ट में शामिल हो चुका है।

निशा गोदरेज Nisha Godrej

गोदरेज ग्रुप godrej group की कुल संपत्ति 75318 करोड़ की है। गोदरेज फैमिली की बेटी निशा गोदरेज इस कंपनी में एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर हैं और कंपनी की इनोवेशन और स्ट्रेटजी विभाग Innovation & Strategy Department की हेड हैं। निशा गरीबों के लिए भी कई तरह के सोशल काम करती हैं और वह 'निशा सोशल वेलफेयर' Nisha Social Welfare के कार्यक्रमों में भी अक्सर दिखाई देती हैं। उनके अंडर करीब 20,000 से ज्यादा लोग काम करते हैं। इसके अलावा निशा लड़कियों को शिक्षित करने वाली संस्था "दसरा" को भी चलाती हैं। कंपनी के वर्तमान पोर्टफोलियो को नया रूप देने में उनकी महत्वपूर्ण भूमिका है।

अक्षता मूर्ति Akshta Murthy
भारत की सबसे बड़ी आईटी कंपनियों में शुमार इन्फोसिस Infosys के संस्थापक नारायण मूर्ति Narayan Murthy की बेटी अक्षता की इन्फोसिस में 0.91% शेयर हैं। इनका मूल्य 4,300 करोड़ रुपए है। अक्षता इंफोसिस और उसकी दूसरी सहायक कंपनियों की शेयरहोल्डर और डायरेक्टर हैं। वे मॉरीशस जैसे टैक्स हेवन में एक लेटर बॉक्स कंपनी के माध्यम से निवेश कर रही हैं। यह एक ऐसा स्ट्रक्चर है जिससे वे भारत में टैक्स से बचने का उपाय दे सकती हैं। अक्षता सॉफ्टवेयर कंपनी सोरोको soroko की यूके यूनिट की डायरेक्टर हैं।

रोशनी नादर Roshni Nadar

रोशनी नादर मल्होत्रा ​​एचसीएल एंटरप्राइज HCL Enterprises की कार्यकारी निर्देशिका और सीईओ CEO हैं। वह भारतीय अरबपति और एचसीएल HCL के संस्थापक शिव नादर Shiv Nadar की बेटी है। रोशनी ये अच्छी तरह से जानती है कि यदि कोई काम करना है तो उसकी क्या तकनीक होनी चाहिये। रोशनी मल्होत्रा फोर्ब्स मैगज़ीन forbes magazine के अनुसार दुनिया की 100 सबसे शक्तिशाली महिलाओं में से एक हैं और साथ ही देश की सबसे अमीर महिलाओं में से भी एक हैं। 38 वर्षीय रोशनी नादर मल्होत्रा को भारत के तीसरे सबसे बड़े सॉफ्टवेयर निर्यातक एचसीएल टेक्नोलॉजीज HCL Technologies के अध्यक्ष के रूप में नियुक्त किया गया है। इस तरह रोशनी नादर मल्होत्रा देश की सबसे अमीर महिला होने के साथ काफी विलक्षण बुद्धि की भी हैं। रोशनी नादर आर्थिक रूप से वंचितों के लिए एक नेतृत्व अकादमी, विद्याज्ञान लीडरशिप अकादमी की अध्यक्षा भी हैं।

पिया सिंह Piya Singh

पिया सिंह डीएलएफ DLF की नॉन एग्जुक्य़ूटिव डायरेक्टर हैं। साथ ही वह डीएलएफ एंटरटेनमेंट की सीईओ भी हैं। पिया करीब 20 सालों से अपने पिता के साथ कारोबार में हाथ बंटा रही हैं। ये सारा काम उन्होंने महज 39 साल की उम्र में संभाला है। इनके काम को देखकर कोई ये नहीं कह सकता है कि ये अभी महज 39 साल की हैं। पिया, मशहूर रियल एस्टेट किंग केपी‌ सिंह K P Singh की बेटी हैं। ये 400 मिलियन डॉलर की मालकिन हैं। साल 2008 में पिया ने देश का पहला लग्जरी मॉल डीएलएफ एम्पोरिया खोला था। पिया ने देश की बड़ी आउटसोर्सिंग कंपनी जेनपैक्ट Genpact को डीएलएफ के साथ मिलाया था। पिया सिंह का नाम प्रतिष्ठित फोर्ब्स की शक्तिशाली और अमीर महिलाओं की लिस्ट में शामिल हो चुका है।

निशा गोदरेज Nisha Godrej

गोदरेज ग्रुप godrej group की कुल संपत्ति 75318 करोड़ की है। गोदरेज फैमिली की बेटी निशा गोदरेज इस कंपनी में एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर हैं और कंपनी की इनोवेशन और स्ट्रेटजी विभाग Innovation & Strategy Department की हेड हैं। निशा गरीबों के लिए भी कई तरह के सोशल काम करती हैं और वह 'निशा सोशल वेलफेयर' Nisha Social Welfare के कार्यक्रमों में भी अक्सर दिखाई देती हैं। उनके अंडर करीब 20,000 से ज्यादा लोग काम करते हैं। इसके अलावा निशा लड़कियों को शिक्षित करने वाली संस्था "दसरा" को भी चलाती हैं। कंपनी के वर्तमान पोर्टफोलियो को नया रूप देने में उनकी महत्वपूर्ण भूमिका है।

अक्षता मूर्ति Akshta Murthy
भारत की सबसे बड़ी आईटी कंपनियों में शुमार इन्फोसिस Infosys के संस्थापक नारायण मूर्ति Narayan Murthy की बेटी अक्षता की इन्फोसिस में 0.91% शेयर हैं। इनका मूल्य 4,300 करोड़ रुपए है। अक्षता इंफोसिस और उसकी दूसरी सहायक कंपनियों की शेयरहोल्डर और डायरेक्टर हैं। वे मॉरीशस जैसे टैक्स हेवन में एक लेटर बॉक्स कंपनी के माध्यम से निवेश कर रही हैं। यह एक ऐसा स्ट्रक्चर है जिससे वे भारत में टैक्स से बचने का उपाय दे सकती हैं। अक्षता सॉफ्टवेयर कंपनी सोरोको soroko की यूके यूनिट की डायरेक्टर हैं।




Newsletter

Read and Subscribe