facebook-pixel
Entrepreneurship Motivation

इनके कारण बनी नायका एक सफल कंपनी

Entrepreneurship Motivation

इनके कारण बनी नायका एक सफल कंपनी

nykaa-became-a-successful-company-because-of-them

Post Highlights

सफलता‌ प्राप्त करने की कोई उम्र नहीं होती और न तो यह इस बात पर ‌निर्भर करती है कि वह पुरुष है अथवा महिला। इसका जीता-जागता उदाहरण हैं, फाल्गुनी नायर, जो हाल ही में भारत की सबसे धनी महिला अरबपति बनीं।

सफलता‌ प्राप्त करने की कोई उम्र नहीं होती और न तो यह इस बात पर ‌निर्भर करती है कि वह पुरुष है अथवा महिला। यह तो सिर्फ मेहनत और लगन पर निर्भर करती है। लेकिन इसके बावजूद लोग अपने मन में यह धारणाएं बना लेते हैं कि सफलता सिर्फ पुरुषों के लिए ही बनी है। लेकिन यह धारणा पूरी तरह से गलत है। आज दुनिया में ऐसा कोई काम नहीं, ऐसा कोई क्षेत्र नहीं जहां महिलाओं की भागीदारी न हो। इसका जीता-जागता उदाहरण हैं, फाल्गुनी नायर, जो हाल ही में भारत की सबसे धनी महिला अरबपति बनीं। मल्टी-ब्रांड ब्यूटी रिटेलर नायका Nykaa की संस्थापक Founder फाल्गुनी नायर की सफलता की कहानी इस बात का प्रमाण है कि सही प्रशिक्षण, शिक्षा और समर्थन से महिलाएं किसी भी ऊंचाई तक जा‌ सकती हैं। वाकई में इनकी सफलता की कहानी लाखों लोगों को प्रेरणा प्रदान कर सकती है। 

फाल्गुनी नायर बनी प्रेरणास्रोत

मुंबई शहर में जन्मी फाल्गुनी नायर एक गुजराती परिवार से ताल्लुक रखती हैं। उनके पिता एक व्यवसाई थे और यही कारण है कि व्यवसाय का बीज उनके दिमाग में बचपन से ही बो दिया गया था। उनके अनुसार उनके घर में शेयर मार्केट और व्यवसाय की चर्चा एक सामान्य विषय थी। जिसके कारण उन्हें भी व्यवसाय में रुचि आना स्वाभाविक था। लेकिन आईआईएम अहमदाबाद से स्नातक होने के बाद फाल्गुनी नायर ने कोटक महिंद्रा बैंक में निवेश बैंकर के रूप में 19 साल गुजार दिए। उन्होंने अपने उद्यमी बनने के सपने को आगे बढ़ाने के लिए छोड़ दिया था। लेकिन उनका मेकअप के प्रति प्यार और ऑनलाइन मार्केटिंग प्लेटफार्म के बारे में जानने की जिज्ञासा ने उन्हें अपने सपनों के पीछे भागने पर मजबूर कर दिया। वर्ष 2012 में उन्होंने 50 साल की उम्र में अपनी नौकरी छोड़ उद्यमिता की यात्रा शुरू करने का निर्णय लिया। 50 साल की उम्र में किसी व्यक्ति के लिए अपनी नौकरी छोड़कर नया व्यवसाय शुरू करना वास्तव में एक कठिन काम है।

ऑनलाइन बाज़ारों पर गौर करते हुए उन्होंने पाया कि भारत में कॉस्मेटिक और ब्यूटी बाज़ार काफी व्यापक है। ऐसे में उन्होंने अपने नायका ब्रांड का पूरे भारत में विस्तार करते हुए नायका के सीईओ CEO of Nykaa का टैग हासिल किया। यूटीवी UTV के रोनी स्क्रूवाला Ronnie Screwvala और पीवीआर सिनेमा PVR cinema के अजय बिजली Ajay Bijli जैसे उद्यमियों से प्रेरणा लेते हुए, उन्होंने मुंबई में अपनी कंपनी का मुख्यालय headquarters स्थापित किया। 

मेकअप में उनकी खास रुचि तो थी ही इसलिए उन्होंने एक मल्टी ब्रांड ब्यूटी स्टोर सिपोरा के साथ उचित प्रशिक्षण लिया। सौंदर्य उत्पादों की नियमित उपभोक्ता ना होने के बावजूद भी उन्होंने महसूस किया कि भारत को सौंदर्य प्रसाधन और स्वास्थ्य के लिए एक ऑनलाइन प्लेटफॉर्म की जरूरत है। इसके चलते उन्होंने 850 से अधिक ब्रांड और 35,000 उत्पादों को सफलतापूर्वक तैयार किया। पूरे भारत में कंपनी के 17 स्टोर मौजूद हैं। मौजूदा समय में इस मशहूर कंपनी नायका के पास 22-35 वर्ष की आयु के लक्षित दर्शकों की संख्या सबसे अधिक है। 

नायका की अपार सफलता

अपने उत्कृष्ट सौंदर्य प्रसाधनों के साथ नायका ने धीरे-धीरे पूरे भारत की महिलाओं के बीच अपनी विशेष जगह बना ली। वास्तव में नायका प्रोडक्ट्स की मांग में काफी बढ़ोतरी हुई जिसके कारण फाल्गुनी नायर बाज़ार में एक अनोखी पहचान बन गईं हैं। अपनी किसी इंटरव्यू में फाल्गुनी नायर ने बताया कि वह चाहती हैं कि भारत की प्रत्येक महिला सशक्त बने। वह कहती हैं कि दृढ़ निश्चय और इच्छा शक्ति वाली महिला अगर कुछ करने का लक्ष्य रखती है, तो वह उसे जरूर हासिल करेगी। देखा जाए तो यह सच भी है और यह स्वयं फाल्गुनी नायर Falguni Nayar के जीवन से पता चलता है कि वह अपने जीवन में अपने लक्ष्य को लेकर कितनी दृढ़ निश्चय रही हैं। फाल्गुनी नायर की इस सफलता के साथ कंपनी की आने वाले वर्षों में और अधिक सफलता प्राप्त करना निश्चित ही है।

सफलता‌ प्राप्त करने की कोई उम्र नहीं होती और न तो यह इस बात पर ‌निर्भर करती है कि वह पुरुष है अथवा महिला। यह तो सिर्फ मेहनत और लगन पर निर्भर करती है। लेकिन इसके बावजूद लोग अपने मन में यह धारणाएं बना लेते हैं कि सफलता सिर्फ पुरुषों के लिए ही बनी है। लेकिन यह धारणा पूरी तरह से गलत है। आज दुनिया में ऐसा कोई काम नहीं, ऐसा कोई क्षेत्र नहीं जहां महिलाओं की भागीदारी न हो। इसका जीता-जागता उदाहरण हैं, फाल्गुनी नायर, जो हाल ही में भारत की सबसे धनी महिला अरबपति बनीं। मल्टी-ब्रांड ब्यूटी रिटेलर नायका Nykaa की संस्थापक Founder फाल्गुनी नायर की सफलता की कहानी इस बात का प्रमाण है कि सही प्रशिक्षण, शिक्षा और समर्थन से महिलाएं किसी भी ऊंचाई तक जा‌ सकती हैं। वाकई में इनकी सफलता की कहानी लाखों लोगों को प्रेरणा प्रदान कर सकती है। 

फाल्गुनी नायर बनी प्रेरणास्रोत

मुंबई शहर में जन्मी फाल्गुनी नायर एक गुजराती परिवार से ताल्लुक रखती हैं। उनके पिता एक व्यवसाई थे और यही कारण है कि व्यवसाय का बीज उनके दिमाग में बचपन से ही बो दिया गया था। उनके अनुसार उनके घर में शेयर मार्केट और व्यवसाय की चर्चा एक सामान्य विषय थी। जिसके कारण उन्हें भी व्यवसाय में रुचि आना स्वाभाविक था। लेकिन आईआईएम अहमदाबाद से स्नातक होने के बाद फाल्गुनी नायर ने कोटक महिंद्रा बैंक में निवेश बैंकर के रूप में 19 साल गुजार दिए। उन्होंने अपने उद्यमी बनने के सपने को आगे बढ़ाने के लिए छोड़ दिया था। लेकिन उनका मेकअप के प्रति प्यार और ऑनलाइन मार्केटिंग प्लेटफार्म के बारे में जानने की जिज्ञासा ने उन्हें अपने सपनों के पीछे भागने पर मजबूर कर दिया। वर्ष 2012 में उन्होंने 50 साल की उम्र में अपनी नौकरी छोड़ उद्यमिता की यात्रा शुरू करने का निर्णय लिया। 50 साल की उम्र में किसी व्यक्ति के लिए अपनी नौकरी छोड़कर नया व्यवसाय शुरू करना वास्तव में एक कठिन काम है।

ऑनलाइन बाज़ारों पर गौर करते हुए उन्होंने पाया कि भारत में कॉस्मेटिक और ब्यूटी बाज़ार काफी व्यापक है। ऐसे में उन्होंने अपने नायका ब्रांड का पूरे भारत में विस्तार करते हुए नायका के सीईओ CEO of Nykaa का टैग हासिल किया। यूटीवी UTV के रोनी स्क्रूवाला Ronnie Screwvala और पीवीआर सिनेमा PVR cinema के अजय बिजली Ajay Bijli जैसे उद्यमियों से प्रेरणा लेते हुए, उन्होंने मुंबई में अपनी कंपनी का मुख्यालय headquarters स्थापित किया। 

मेकअप में उनकी खास रुचि तो थी ही इसलिए उन्होंने एक मल्टी ब्रांड ब्यूटी स्टोर सिपोरा के साथ उचित प्रशिक्षण लिया। सौंदर्य उत्पादों की नियमित उपभोक्ता ना होने के बावजूद भी उन्होंने महसूस किया कि भारत को सौंदर्य प्रसाधन और स्वास्थ्य के लिए एक ऑनलाइन प्लेटफॉर्म की जरूरत है। इसके चलते उन्होंने 850 से अधिक ब्रांड और 35,000 उत्पादों को सफलतापूर्वक तैयार किया। पूरे भारत में कंपनी के 17 स्टोर मौजूद हैं। मौजूदा समय में इस मशहूर कंपनी नायका के पास 22-35 वर्ष की आयु के लक्षित दर्शकों की संख्या सबसे अधिक है। 

नायका की अपार सफलता

अपने उत्कृष्ट सौंदर्य प्रसाधनों के साथ नायका ने धीरे-धीरे पूरे भारत की महिलाओं के बीच अपनी विशेष जगह बना ली। वास्तव में नायका प्रोडक्ट्स की मांग में काफी बढ़ोतरी हुई जिसके कारण फाल्गुनी नायर बाज़ार में एक अनोखी पहचान बन गईं हैं। अपनी किसी इंटरव्यू में फाल्गुनी नायर ने बताया कि वह चाहती हैं कि भारत की प्रत्येक महिला सशक्त बने। वह कहती हैं कि दृढ़ निश्चय और इच्छा शक्ति वाली महिला अगर कुछ करने का लक्ष्य रखती है, तो वह उसे जरूर हासिल करेगी। देखा जाए तो यह सच भी है और यह स्वयं फाल्गुनी नायर Falguni Nayar के जीवन से पता चलता है कि वह अपने जीवन में अपने लक्ष्य को लेकर कितनी दृढ़ निश्चय रही हैं। फाल्गुनी नायर की इस सफलता के साथ कंपनी की आने वाले वर्षों में और अधिक सफलता प्राप्त करना निश्चित ही है।




Newsletter

Read and Subscribe