facebook-pixel

“जन समर्थ पोर्टल”- सरकारी योजनाओं का वन-स्टॉप डिजिटल प्लेटफॉर्म

Share Us

401
“जन समर्थ पोर्टल”- सरकारी योजनाओं का वन-स्टॉप डिजिटल प्लेटफॉर्म
08 Jun 2022
7 min read

Post Highlight

देशवासियों के जीवन को आसान बनाने के लिए केंद्र सरकार ने क्रेडिट लिंक्ड सरकारी योजनाओं के लिए राष्ट्रीय पोर्टल 'जन समर्थ पोर्टल' (Jan Samarth Portal) की शुरुआत की है। इस नेशनल डिजिटल पोर्टल को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 6 जून को लॉन्च किया है। अब लोगों के लिए सरकारी स्कीम के तहत लोन लेना आसान हो जाएगा। जन समर्थ पोर्टल (Jan Samarth Portal) सरकारी क्रेडिट योजनाओं को जोड़ने वाला एक वन-स्टॉप डिजिटल पोर्टल है। यह देश में ऐसे पहला पोर्टल है जिसमें लोन देने वाले और लोन लेने वाले सीधे एक-दूसरे से जुड़ते हैं। यह एक पोर्टल 13 क्रेडिट-लिंक्ड सरकारी योजनाओं को एक मंच पर जोड़ता है। इसका मुख्य उद्देश्य नागरिकों के लिए सभी योजनाओं को एक मंच पर लाकर सभी योजनाओं की पहुंच को डिजिटल माध्यमों से और आसान बनाना है। उन्होंने ये भी कहा कि हमारे युवा अपनी मनचाही कंपनी आसानी से खोल पाएंगे और वे अपने उद्यम को आसानी से स्थापित कर पाएंगे। यानि यह पोर्टल विभिन्न सेक्टरों के समावेशी विकास और प्रगति Inclusive Growth and Progress को बढ़ावा देगा। 

Podcast

Continue Reading..

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी PM Modi ने जन समर्थ पोर्टल Jan Samarth Portal लॉन्च launch किया है। पीएम मोदी ने कल यानी कि 6 जून को जन समर्थ पोर्टल लॉन्च किया। यह एक कॉमन प्लेटफॉर्म है जिससे लोगों को बैंक लोन Bank loan और कई सरकारी योजनाओं government schemes की जानकारी प्राप्त होगी और लोग घर बैठे कई प्रकार की योजनाओं का लाभ उठा पायेंगे। यानि प्रधानमंत्री मोदी ने जन समर्थ पोर्टल लॉन्च करके आम लोगों को एक ऐसा मंच दिया है, जहां वे ऑनलाइन लोन Online loan के लिए अप्लाई कर सकते हैं और वह भी 13 सरकारी योजनाओं के तहत। जनता के जीवन को सरल बनाने के लिए केंद्र सरकार ने 'जन समर्थ पोर्टल' (Jan Samarth Portal) की शुरुआत की है। विस्तार से जानते हैं क्या है ये जन समर्थ पोर्टल और इसके क्या फायदे हैं। 

जन समर्थ पोर्टल (Jan Samarth Portal) क्या है ?

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी Prime Minister Narendra Modi ने 6 जून को जन समर्थ पोर्टल Jan Samarth Portal लॉन्च launch किया है। इसको लॉन्च करने का मकसद देशवासियों के जीवन को आसान बनाना है। वित्त मंत्रालय और कॉर्पोरेट कार्य मंत्रालय के आइकॉनिक वीक समारोह Iconic Week Celebrations of Ministry of Finance and Corporate Affairs का उद्घाटन करने के बाद पीएम मोदी ने जन समर्थ पोर्टल की शुरुआत की। लाभार्थियों और क्रेडिटदाताओं को सीधे जोड़ने वाला यह भारत का पहला प्लेटफॉर्म होगा। यह एक पोर्टल 13 क्रेडिट-लिंक्ड सरकारी योजनाओं 13 Credit-Linked Government Schemes को एक मंच पर जोड़ता है। यानि जन समर्थ पोर्टल से 13 सरकारी स्कीम के तहत लोन लेने के लिए ऑनलाइन आवेदन किए जा सकेंगे और इससे लोगों को सरकारी स्कीम के तहत लोन लेना आसान हो जाएगा। यह देश में ऐसे पहला पोर्टल है जिसमें लोन देने वाले और लोन लेने वाले सीधे एक-दूसरे से जुड़ेंगे। हम कह सकते हैं कि जन समर्थ पोर्टल (Jan Samarth Portal) सरकारी क्रेडिट योजनाओं को जोड़ने वाला एक वन-स्टॉप डिजिटल पोर्टल A one-stop digital portal linking government credit schemes है। इस मौके पर लोगों को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि अब सारी समस्याओं का निदान एक ही जगह मिल जाएगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वित्त मंत्रालय Finance Ministry की तारीफ भी की। जन समर्थ पोर्टल का मुख्य उद्देश्य नागरिकों के लिए सभी योजनाओं को एक मंच पर लाकर सभी योजनाओं की पहुंच को डिजिटल माध्यमों से और आसान बनाना है। जिससे युवा अपनी मनचाही कंपनी आसानी से खोल पाएं और वे अपने उद्यम को आसानी से स्थापित कर आसानी से चला पाएं। जिससे भारत की कंपनियां न सिर्फ आगे बढ़ें, बल्कि नई ऊंचाई प्राप्त करें। यह पोर्टल सभी लिंक्ड योजनाओं की कवरेज सुनिश्चित करता है। 

क्या है इसकी खूबी ?

इसकी खासियत यह है कि भारत का कोई भी निवासी इस डिजिटल पोर्टल (Digital Portal) पर 13 सरकारी स्कीम के तहत लोन के लिए आवेदन कर सकता है और सबसे बड़ी बात लोन से संबंधित सभी काम जैसे लोन के लिए आवेदन करना, मंजूरी लेना apply for loan, get approval आदि सभी काम जनसमर्थ पोर्टल पर ऑनलाइन होंगे। अभी सरकार ने लोन देने के लिए 4 कैटेगरी तय की हैं। इनमें शिक्षा, कृषि इंफ्रास्ट्रक्चर, बिजनेस और आजिविका लोन कैटेगरी Agriculture Infrastructure, Business and livelihood loan categories शामिल है। एजुकेशन लोन के लिए 3 स्कीम उपलब्ध हैं। कृषि इंफ्रास्ट्रक्चर के लिए भी 3 स्कीम हैं, बिजनेस एक्टिविटी के लिए 6 स्कीम और आजिविका के लिए 1 स्कीम उपलब्ध है। पोर्टल पर 125 से ज्यादा ऋणदाता भी हैं जो अलग-अलग योजनाओं के तहत आपको लोन उपलब्ध कराएंगे। 

कौन कौन सी स्कीम्स हैं शामिल ?

इसमें निम्न स्कीम्स शामिल हैं-

  • सेंट्रल सेक्टर इंटरेस्ट सब्सिडी स्कीम Central Sector Interest Subsidy Scheme

  • पढ़ो प्रदेश Padho Pradesh 

  • एग्री-क्लीनिक एंड एग्री सेंटर्स स्कीम Agri-Clinics and Agri Centers Scheme

  • डॉ. अंबेडकर सेंट्रल सेक्टर स्कीम Dr. Ambedkar Central Sector Scheme

  • एग्रीकल्चर मार्केटिंग इंफ्रास्ट्रक्चर Agriculture Marketing Infrastructure

  • प्राइम मिनिस्टर एम्प्लॉयमेंट जनरेशन प्रोग्राम Prime Minister Employment Generation Program

  • एग्रीकल्चर इंफ्रास्ट्रक्चर फंड Agriculture Infrastructure Fund

  • मुद्रा स्कीम Mudra  scheme

  • प्रधानमंत्री स्ट्रीट वेंडर आत्मनिर्भर निधि योजना Prime Minister Street Vendor Self-Reliant Fund Scheme

  • प्रधानमंत्री मुद्रा योजना 

  • एम्पलॉयमेंट स्कीम फॉर रिहैबिलिटेशन ऑफ मैन्युअल स्केवैंजर्स Employment Scheme for Rehabilitation of Manual Scavengers

  • दीनदयाल अंत्योदय योजना- नेशनल रूरल लाइवलीहूड मिशन Deendayal Antyodaya Yojana - National Rural Livelihood Mission

  • स्टैंड अप इंडिया स्कीम Stand Up India Scheme

इस योजना का लाभ कोई भी उठा सकता है 

प्रधानमंत्री द्वारा लांच किए गए जन समर्थ पोर्टल (Jan Samarth Portal) के जरिए लोगों को लोन लेने के लिए सुविधा आसान हो जाएगी। सब काम ऑनलाइन हो जाएंगे। इस पोर्टल का लाभ कोई भी उठा सकता है। आप पोर्टल पर अपनी पूरी डिटेल्स डालकर देख सकते हैं कि आप इस योजना के Eligible हैं या नहीं। सबसे पहले आपको अपनी पात्रता चेक करनी है। इसके बाद आप ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। बस इसके लिए आपको कुछ जरूरी जानकारी और दस्तावेज लगाने होंगे जैसे आधार कार्ड, पैन नंबर, वोटर आईडी Aadhar Card, PAN Number, Voter ID आदि। इस प्रोसेस के बाद आप अलग-अलग ऋणदाता के ऑफर्स देख सकते हैं। फिर बैंक सेलेक्ट करके इसके लिए लोन की मंजूरी ले सकते हैं। इसके बाद बैंक से लोन की मंजूरी मिलने के कुछ दिनों बाद आपको लोन मिल जाएगा। साथ ही आप अपनी एप्लीकेशन ट्रैक Application Track कर सकते हैं। यदि मंजूरी मिलने के बाद आपको लोन नही मिल रहा है तो आप शिकायत दर्ज कर सकते हैं। यानि आप इसी पोर्टल के जरिए उसकी शिकायत भी ऑनलाइन कर सकेंगे। शिकायत का निपटान 3 दिनों के अंदर हो जाएगा।

जीएसटी में एक लाख करोड़ संग्रह की बात भी की 

प्रधानमंत्री ने कहा कि केंद्र और राज्य के अनेक करों के जाल की जगह अब वस्तु एवं सेवा कर Goods and Services Tax यानी (जीएसटी) ने ले ली है। उन्होंने कहा कि सुधार के साथ ही सरकार ने जिस बात पर ध्यान केंद्रित किया है, वह है सरलीकरण। प्रधानमंत्री मोदी ने ये बात स्पष्ट रूप से कही है कि इस सरलीकरण का नतीजा भी देश देख रहा है। अब हर महीने जीएसटी संग्रह एक लाख करोड़ रुपये GST collection Rs 1 lakh crore के पार जाना सामान्य बात हो गई है। प्रधानमंत्री ने कहा कि भारत ने पिछले आठ वर्षों में अलग-अलग आयामों पर काम किया है और इस दौरान जो जनभागीदारी बढ़ी, उससे देश का विकास हुआ है तथा गरीब से गरीब नागरिक मजबूत बना है।

उन्होंने वित्त मंत्रालय की भी तारीफ करते हुए कहा कि बीते सालों में वित्त मंत्रालय और कॉरपोरेट मंत्रालय Ministry of Finance and Ministry of Corporate Affairs ने अपने कामों के द्वारा सही समय पर सही निर्णयों के द्वारा अपनी एक लीगसी बनाई है और एक बेहतरीन सफर तय किया है। इसके लिए आप सभी इस विरासत का हिस्सा हैं। 

अब एक प्लेटफॉर्म पर मिलेंगी कई सरकारी योजनाएं 

पीएम ने कहा कि हर पात्र व्यक्ति तक लाभ पहुंचाना ये दायित्व हम पर है। इसका लक्ष्य यह है कि आप भारत सरकार के एक पोर्टल तक पहुंचें और आपकी समस्या का समाधान हो। उन्होंने कहा कि ये हमारी सर्वोच्च प्राथमिकता है कि हम जनता तक स्वयं पहुंचे। प्रधानमंत्री द्वारा लांच किए गए जन समर्थ पोर्टल (Jan Samarth Portal) के जरिए लोगों को लोन लेने के लिए सुविधा आसान हो जाएगी। पीएम मोदी ने जन समर्थ पोर्टल की शुरुआत के साथ सिक्कों की नई सीरीज New series of coins भी जारी की। प्रधानमंत्री ने जिस जन समर्थ पोर्टल को लॉन्च किया है उसका मुख्य उद्देश्य नागरिकों के लिए सभी योजनाओं को एक प्लेटफॉर्म पर लाकर सभी योजनाओं की पहुंच को डिजिटल माध्यमों से जनता तक पहुँचाना है। 

अभी 12 सरकारी योजनाओं का एक्सेस

 प्रधानमंत्री मोदी ने जन समर्थन पोर्टल के बारे में बोलते हुए कहा कि अलग-अलग मंत्रालयों की वेबसाइट पर जाने की बजाय अब लोग भारत सरकार की एक वेबसाइट पर जाएंगे। इस दौरान वहाँ वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण Finance Minister Nirmala Sitharaman भी मौजूद थी। प्रधानमंत्री ने कहा कि 12 सरकारी योजनाओं में से प्रत्येक योजना को पोर्टल पर प्रदर्शित किया जाएगा। उनका कहना था कि जन समर्थन पोर्टल से लोगों को आसानी रहेगी और दिक्कतों का सामना नहीं करना पड़ेगा। 

ये भी पढ़े: पीएम किसान योजना लिस्ट 

रुपये की गौरवशाली यात्रा को भी दिखाया गया

जन समर्थ पोर्टल के अलावा प्रधानमंत्री ने कहा कि आज यहां रुपये की गौरवशाली यात्रा को भी दिखाया गया है। पोर्टल लॉन्च के अलावा प्रधानमंत्री ने एक डिजिटल प्रदर्शनी का भी शुभारंभ किया। इस सफर से परिचित कराने वाली डिजिटल प्रदर्शनी भी शुरू हुई और आजादी के अमृत महोत्सव Azadi Ka Amrit Mahotsav के लिए समर्पित नए सिक्के भी जारी हुए। पीएम ने कहा आजादी का ये अमृत महोत्सव सिर्फ 75 वर्षों का उत्सव मात्र नहीं है बल्कि आज़ादी के नायक, नायिकाओं ने आज़ाद भारत के लिए जो सपने देखे थे, उन्ही सपनों को पूरा करना, उन सपनों में नयी जान भरना और नए संकल्पों को लेकर आगे बढ़ने का ये समय है।