facebook-pixel

अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक दिवस 2022 (International Olympic Day)

Share Us

527
अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक दिवस 2022 (International Olympic Day)
23 Jun 2022
6 min read
TWN In-Focus

Post Highlight

अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक दिवस International Olympic Day 2022 हर साल 23 जून को मनाया जाता है इस साल के अंतर्राष्ट्रीय ओलंपिक दिवस की थीम - 'एक साथ, एक शांतिपूर्ण दुनिया के लिए है।  (Together, For a Peaceful World)

इस दिन को सर्वप्रथम 1948 मे परिचित करवाया गया था, इसका मुख्य उद्देश्य खेलों में अंतराष्ट्रीय स्तर पर और हर आयु वर्ग और लिंग के लोगों कि भागीदारी को बढ़ावा देना है।.

जब सर्वप्रथम ऑलिंपिक डे मनाया गया था, तो इसे अंतराष्ट्रीय ओलंपिक समितियों International Olympic Committees द्वारा  कुल 9 देशों में मनाया गया था, जिसमें आस्ट्रेलिया, बेल्जियम, कनाडा, ग्रेट ब्रिटेन, ग्रीस, पुर्तगाल, स्वीज़रलेंड, और वेनज़ुएला शामिल थे।

#InternationalOlympicDay
#TogetherForPeacefulWorld
#OlympicDay
#Peace&Gemes

Podcast

Continue Reading..

अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक दिवस International Olympic Day  के दिन का उद्देश्य खेलों के महत्व को बढ़ावा देना है और यह बताना कि कैसे कोई खेल किसी के जीवन को बदल सकता है। हर चार साल में ओलंपिक खेलों का आयोजन किया जाता है, जिसमें दुनिया भर से हजारों एथलीट #Athlete शामिल होते हैं। खेल व्यायाम का वह रूप है जो हमारे शरीर को स्वस्थ और फिट रखता है। पूरी दुनिया के सभी प्रतिभागी इस दिन को याद करते हैं, आज के दिन पेरिस के सोरबॉन Sorbonne of Paris  में अंतर्राष्ट्रीय ओलंपिक समिति की स्थापना की गई थी, इसी याद में अंतर्राष्ट्रीय ओलंपिक दिवस मनाया जाता है। आज के ही दिन यानी 23 जून, 1894 को पियरे डी कौबर्टिन Pierre de Coubertin ने प्राचीन ओलंपिक खेलों को फिर से जीवंत करने के लिए रैली की थी।

ओलंपिक दिवस 2022 की थीम क्या है? What is the theme of Olympic Day 

2022 में ओलंपिक दिवस की थीम एक साथ, एक शांतिपूर्ण विश्व के लिए है। साथ ही इसका सोशल मीडिया हैशटैग #शांति #peace के लिए बढ़ाएंगे कदम और #OlympicDay है। ओलंपिक दिवस लोगों को शांति से एक साथ लाने के लिए खेल की ताकत का जश्न मनाता है। ओलंपिक अभियान Olympic campaign ने शांति और खेल Peace and Games को एक साथ लेकर चलने में एक लंबा सफर तय किया है ,और हर ओलंपिक खेल के दौरान ओलंपिक Truce इसमें अपनी अहम भूमिका निभा रहा है। बीते कुछ समय से अंतर्राष्ट्रीय ओलंपिक समिति, IOC रिफ्यूजी एथलीट स्कॉलरशिप Refugee Athlete Scholarship और IOC रिफ्यूजी ओलंपिक टीम Refugee Olympic Team के जरिए रिफ्यूजी एथलीटों Refugee Athletes का भी समर्थन कर रही है।

ओलंपिक दिवस क्या होता है और इसे कब मनाया जाता है?

ओलंपिक दिवस खेल, स्वास्थ्य और एकजुटता का एक बड़ा जश्न है। यह हर साल 23 जून को मनाया जाता है। साथ ही यह पूरी दुनिया को क्रियाशील बनाने और उद्देश्य के साथ आगे बढ़ने के लिए सभी को आमंत्रित करता है। पूरी दुनिया के सभी प्रतिभागी इस दिन को याद करते हैं, जिस दिन पेरिस के सोरबॉन Sorbonne of Paris में अंतर्राष्ट्रीय ओलंपिक समिति की स्थापना की गई थी। 23 जून 1894 को पियरे डी कौबर्टिन ने प्राचीन ओलंपिक खेलों Ancient Olympic Games को फिर से जीवंत करने के लिए रैली की थी। ओलंपिक, खेल के जरिए दुनिया को एक बेहतर बनाने का प्रतिनिधित्व करता है। साल 1947 से पहले भी ओलंपिक दिवस का उत्सव मनाया जाता था।

अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक दिवस का  इतिहास History of International Olympic Day

अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति के एक सदस्य डॉक्टर ग्रस Doctor Gruss ने महसूस किया कि अंतरराष्ट्रीय खेलों में भाग लेने के लिए लोगों में जागरूकता पैदा करने के लिए एक दिन सेलिब्रेट किया जाना चाहिए, इसलिए उन्होंने सन् 1947 में स्टॉकहोम में आयोजित अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति के 41 वें सत्र में ओलंपिक दिवस के सेलिब्रेशन (Celebration of Olympic Day) के बारे में एक प्रस्ताव रखा। जिसके चलते सन् 1948 में स्विट्जरलैंड के सेंट मोरित्ज़ St. Moritz में आयोजित 42 वें अंतर्राष्ट्रीय ओलंपिक समिति (IOC) सत्र में डॉक्टर ग्रस  Doctor Gruss द्वारा दिए गए विचार को एग्ज़िक्यूट करने का निर्णय लिया गया था। अंततः समिति ने 23 जून को अंतर्राष्ट्रीय ओलंपिक दिवस या विश्व ओलंपिक दिवस (International Olympic Day or World Olympic Day) के रूप में मनाने का फैसला किया क्योंकि 23 जून को 1894 में पेरिस के सोरबोन में अंतर्राष्ट्रीय ओलंपिक समिति की स्थापना की गई थी। 

Also Read: मानवता की भावना को जगाता है विश्व मानवता दिवस

अंतर्राष्ट्रीय ओलंपिक दिवस का महत्व  Importance of International Olympic Day

अंतर्राष्ट्रीय ओलंपिक दिवस का उद्देश्य दुनिया भर के खेलों और खेलों में लोगों की भागीदारी को बढ़ावा देना है चाहे वे किसी भी उम्र, लिंग, जाति या धर्म के हों यह लोगों को शारीरिक व्यायाम करने के लिए प्रोत्साहित करता है इस मौके पर कई खेल आयोजन होते हैं एक सदी से भी अधिक समय के बाद, कई और खेलों को ओलंपिक आयोजन में जोड़ा गया है पिछले दो दशकों से अधिक समय से, राष्ट्रीय ओलंपिक समितियां (एनओसी) 150 देशों में अंतर्राष्ट्रीय ओलंपिक दिवस पर ओलंपिक दिवस दौड़ (Olympic Day Run) का आयोजना कुछ देशों में, स्कूल इस दिन को मनाने के लिए स्पोर्ट्स इवेंट Sports Event भी आयोजित करते हैं

पहला ओलंपिक दिवस कब मनाया गया था?  First International Olympic Day

पहला ओलंपिक दिवस 23 जून 1948 को मनाया गया था। पुर्तगाल, ग्रीस, ऑस्ट्रिया, कनाडा, स्विटजरलैंड, ग्रेट ब्रिटेन, उरुग्वे, वेनेजुएला और बेल्जियम Portugal, Greece, Austria, Canada, Switzerland, Great Britain, Uruguay, Venezuela and Belgium ने अपने-अपने देशों में ओलंपिक दिवस का आयोजन किया था। इस दौरान आईओसी के अध्यक्ष। सिगफ्रिड एडस्ट्रॉम ने युवाओं को एक संदेश दिया। ओलंपिक चार्टर Olympic Charter के 1978 के संस्करण में आईओसी ने इसकी सिफारिश पहली बार की थी कि सभी NOC, ओलंपिक अभियान को बढ़ावा देने के लिए ओलंपिक दिवस का आयोजन कराएं। वर्तमान में ओलंपिक चार्टर ने बताया: "यह सलाह दी जाती है कि NOC इसे नियमित रूप से ओलंपिक अभियान को बढ़ावा देने के उद्देश्य से हर साल ओलंपिक दिवस या सप्ताह का आयोजन कराएं।"

ओलंपिक दिवस पर लोग क्या करते हैं?

राष्ट्रीय ओलंपिक समितियां National Olympic Committees ओलंपिक दिवस के कार्यक्रमों को लेकर काफी क्रिएटिव हो रही हैं। ताकि इससे सभी लोग जुड़ सके। उम्र, जेंडर सामाजिक पृष्ठभूमि या खेलने की क्षमता की परवाह किए बिना वो भी इसका हिस्सा बन सकें। इस कार्यक्रम को कुछ देशों ने स्कूली पाठ्यक्रम में भी शामिल किया है।

हर कोई ओलंपिक दिवस में शामिल हो सकता है और जब बहुत सारे लोग ओलंपिक दिवस पर कई तरह का काम कर रहे हैं तो क्यों न इसे जश्न का हिस्सा बनाया जाए। इन दिनों कई लोग दुनिया भर में ओलंपिक दिवस मनाने के लिए ओलंपिक दिवस रन का आयोजन कराते हैं। इनमें ओलंपिक की राजधानी लुसाने Olympic capital Lausanne भी शामिल है, जहां से आईओसी जुड़ी हुई है। इसका आयोजन पहली बार 1987 में शुरू किया गया। यह रन सभी राष्ट्रीय ओलंपिक समितियों (एनओसी) को ओलंपिक दिवस मनाने और सामूहिक खेल को बढ़ावा देने के लिए प्रोत्साहित करने के उद्देश्य से आयोजित किया गया था। यह एक बड़ी सफलता के रूप में उभर कर सामने आया है।

Also Read: World Refugee Day-20 जून- विश्व बंधुत्व के विस्तार का संकल्प

अंतराष्ट्रीय ओलंपिक खेलों में प्रतिभागिता Competition in the International Olympic Games

2008 में बीजिंग में हुये ओलंपिक खेलों में विभिन्न देशों से कुल 3.8 मिलयन पुरुष, स्त्रियो ओर बच्चों ने भाग लिया था  यह इसकी और अंतराष्ट्रीय खेलों की बढ़ती लोकप्रियता का प्रतीक है, जिसमें हर खिलाड़ी हिस्सा लेकर अपनी प्रतिभा को साबित करना चाहता है और एक नया मुकाम हासिल करना चाहता है

मैकडॉनल्ड्स का सहयोग Collaboration with MCDONALD'S

MCDONALD’S के सपोर्ट और collaboration के बिना ओलंपिक खेलों का होना नामुमकिन सा है जो कि वर्ष 2003 से ओलंपिक इवैंट का वर्ल्डवाइड पार्टनर Worldwide Partner बन चुका है बहुत से देशों में राष्ट्रीय ओलंपिक समिति लोकल MCDONALD’S की ब्रांच से संपर्क करके और अधिक खिलाड़ियो को आकर्षित करने का प्रयास करती है 

#RefugeeOlympicTeam
#CelebrationOfOlympicDay
#Mcdonalds