फुटवियर का होल सेल का व्यापार

Share Us

3966
फुटवियर का होल सेल का व्यापार
19 Oct 2021
9 min read

Blog Post

अपनी दिनचर्या के हिसाब से लोगों द्वारा कई प्रकार के फुटवियर खरीदने के कारण बाज़ार में फुटवियर की बहुत मांग रहती है। जूते, चप्पल, सैंडल्स में फैशन के अनुसार कई विकल्प रहते हैं। इस कारण व्यक्ति फुटवियर के क्षेत्र में यदि होलसेल मार्केटिंग का व्यवसाय शुरू करता है तो वह एक सफल व्यापारी बन सकता है। होलसेल का बाज़ार बड़े शहरों से लेकर छोटे शहरों तक समान मात्रा में प्रभावी रहता है।

आधुनिक दुनिया का रूप चकाचौंध से भरा हुआ है। यहां पर आज मनुष्य को प्रत्येक वस्तु में अनगिनत विविधता मिलती है। आज के समय में प्रत्येक वस्तु में इतने ज़्यादा विकल्प हैं कि व्यक्ति किसी एक का चुनाव कैसे करे यह समझ नहीं पाता। मनुष्य एक जीव है और क्रियाशील रहना इसका व्यवहार। मनुष्य शारिरिक रूप से जब क्रियाशील रहता है, तो अपने पैर को सुरक्षित रखने के लिए वह फुटवेअर का प्रयोग करता है। इस आधुनिक काल में आज फुटवियर में भी लोग कई विकल्प ढूंढ़ते हैं। मनुष्य फुटवियर में अपनी पसंद नापसंद देखता है और फिर उसे खरीदता है। अपनी दिनचर्या के हिसाब से लोगों द्वारा कई प्रकार के फुटवियर खरीदने के कारण बाज़ार में फुटवियर की बहुत मांग रहती है। जूते, चप्पल, सैंडल्स में फैशन के अनुसार कई विकल्प रहते हैं। इस कारण व्यक्ति फुटवियर के क्षेत्र में यदि होलसेल मार्केटिंग का व्यवसाय शुरू करता है तो वह एक सफल व्यापारी बन सकता है। होलसेल का बाज़ार बड़े शहरों से लेकर छोटे शहरों तक समान मात्रा में प्रभावी रहता है।

होलसेल के व्यवसाय में व्यापारी बड़ी दुकानों से ज़्यादा मात्रा में सामान खरीदकर उसे छोटी दुकानों को बेचता है। होलसेल में जब कोई व्यक्ति सामान खरीदता है तो उसे सस्ते दाम पर सामान मिलता है, जिसे वह छोटी दुकानों पर अधिक दाम में बेचकर उससे लाभ लेता है। शहरों में कई ऐसे स्थान होते हैं जो होलसेल में सामान बेचते हैं। चूंकि फुटवियर में अधिक विविधताएं रहती हैं, इसलिए इसका बाज़ार भी बड़े स्तर पर रहता है। 

हालांकि यह बाज़ार दो भागों में बंटकर व्यवसाय के दो तरीके देता है। एक में आप चाहें तो लोकल बाज़ार के आधार होलसेल में फुटवियर खरीद कर दुकानदारों को बेच सकते हैं या फिर किसी एक फुटवियर कंपनी के साथ डील करके उसके उत्पादों को होलसेल में खरीदकर दुकानों को बेच सकते हैं।

कोई भी व्यक्ति यदि होलसेल फुटवियर का व्यापार करना चाहता है, तो उसे कुछ बातों का ध्यान अवश्य देना चाहिए, क्योंकि छोटी सी मनुष्य के व्यवसाय को नुकसान पहुंचाती है।

 चूंकि आप इस कार्य को व्यवसाय की तरह अपनाना चाहते हैं इसलिए कागज़ी कार्रवाई जैसे लाइंसेंस की प्रक्रिया को अवश्य पूरा कर लें ताकि आपको आगे कोई परेशानी ना हो। साथ ही इस तथ्य की भी व्यवस्था करना ज़रूरी है कि होलसेल फुटवियर के लिए आपके पास उचित गोदाम हो अपने सामान को संरक्षित करने के लिए। इसके साथ ही अपने व्यवसाय को कई माध्यमों से प्रचारित करने का प्रयत्न करें। इससे आपके व्यवसाय का दायरा बढ़ेगा तथा दुकानदार उसकी तरफ आकर्षित होंगे।

फुटवियर होलसेल का व्यापार व्यवसाय के लिए सही इसलिए है, क्योंकि प्रत्येक दुकानदार होलसेल के माध्यम से ही दुकान के लिए फुटवियर खरीदता है। समय-समय पर फैशन बदलने का भी प्रभाव इस पर नहीं पड़ेगा, क्योंकि यह बाज़ार समय के अनुरूप खुद को परिवर्तित करता रहता है। 

फुटवियर होलसेल में सस्ते दाम में फुटवियर खरीदकर अधिक दाम में दुकानों में बेचने के कारण व्यवसायी को 50-60% तक फायदा होता है। इस काम में अच्छी बात यह रहती है कि इसको आप अपनी पूंजी के आधार पर शुरू कर सकते हैं। यह काम छोटे स्तर पर भी शुरू किया जा सकता है और बड़े स्तर पर भी।

अपनी दिनचर्या के हिसाब से लोगों द्वारा कई प्रकार के फुटवियर खरीदने के कारण बाज़ार में फुटवियर की बहुत मांग रहती है। जूते, चप्पल, सैंडल्स में फैशन के अनुसार कई विकल्प रहते हैं। इस कारण व्यक्ति फुटवियर के क्षेत्र में यदि होलसेल मार्केटिंग का व्यवसाय शुरू करता है तो वह एक सफल व्यापारी बन सकता है। होलसेल का बाज़ार बड़े शहरों से लेकर छोटे शहरों तक समान मात्रा में प्रभावी रहता है।