स्क्रीन टाइम कम करने और बच्चों को व्यस्त रखने के बेहतरीन तरीके

Share Us

560
स्क्रीन टाइम कम करने और बच्चों को व्यस्त रखने के बेहतरीन तरीके
09 Feb 2024
7 min read

Blog Post

आज के डिजिटल युग में, बच्चे तेजी से स्क्रीन के संपर्क में आ रहे हैं, चाहे वह टेलीविजन, कंप्यूटर, टैबलेट या स्मार्टफोन हो। जबकि टेक्नोलॉजी  सीखने और मनोरंजन के लिए  महत्वपूर्ण हो सकती है, पर बहुत अधिक स्क्रीन टाइम बच्चों के विकास के लिए बहुत नकारात्मक परिणाम दे सकता है।

अत्यधिक स्क्रीन समय के कारण नींद की समस्या, ध्यान केंद्रित करने में कठिनाई और यहां तक कि लत भी लग सकती है। इसलिए, स्क्रीन पर बिताए जाने वाले समय को कम करने और बच्चों को व्यस्त रखने के लिए रचनात्मक तरीके Creative Ways to Keep Kids Engaged खोजना बहुत ज़रूरी है।

हाल के अध्ययनों ने बच्चों के स्वास्थ्य और विकास पर अत्यधिक स्क्रीन टाइम के संबंधित प्रभावों effects of excessive screen time पर प्रकाश डाला है। अमेरिकन एकेडमी ऑफ पीडियाट्रिक्स के अनुसार, 2 से 5 साल की उम्र के बच्चे जो दिन में एक घंटे से अधिक समय स्क्रीन पर बिताते हैं, उनमें व्यवहार संबंधी और ध्यान संबंधी समस्याएं होने की संभावना अधिक होती है।

इसके अतिरिक्त, लंबे समय तक स्क्रीन पर रहने से शारीरिक गतिविधि का स्तर कम हो जाता है, जिससे बच्चों में मोटापे की दर में वृद्धि होती है। स्क्रीन से निकलने वाली नीली रोशनी नींद के पैटर्न को भी बाधित कर सकती है, जिससे नींद की कमी हो सकती है, मूड, संज्ञानात्मक कार्य और टोटल वेलबीइंग पर असर पड़ सकता है।

इन प्रतिकूल प्रभावों को शोधकर्ताओं और स्वास्थ्य देखभाल पेशेवरों द्वारा तेजी से प्रसारित किए जाने के साथ, स्वस्थ विकास को बढ़ावा देते हुए बच्चों के स्क्रीन समय को कम करने के लिए वैकल्पिक गतिविधियों और रणनीतियों की खोज करना अनिवार्य है।

इस विशेष लेख में हम ऐसे ही रचनात्मक तरीकों, गतिविधियों से आपको अवगत करायेगें जिनसे आप काफी हद तक अपने बच्चों को स्क्रीन पर बिताए जाने वाले समय को कम कर सकेंगे और उन्हें अधिक प्रोडक्टिव बना सकेंगे। 

आज के डिजिटल युग में, बच्चे तेजी से स्क्रीन के संपर्क में आ रहे हैं, चाहे वह टेलीविजन, कंप्यूटर, टैबलेट या स्मार्टफोन हो। जबकि प्रौद्योगिकी सीखने और मनोरंजन के लिए एक मूल्यवान उपकरण हो सकती है, बहुत अधिक स्क्रीन समय बच्चों के विकास के लिए नकारात्मक परिणाम दे सकता है।

अत्यधिक स्क्रीन समय के कारण नींद की समस्या, ध्यान केंद्रित करने में कठिनाई और यहां तक कि लत भी लग सकती है। इसलिए, स्क्रीन पर बिताए जाने वाले समय को कम करने और बच्चों को व्यस्त रखने के लिए रचनात्मक तरीके खोजना महत्वपूर्ण है।

आज की दुनिया में बच्चों को स्क्रीन से दूर रखना मुश्किल है। प्रौद्योगिकी हर जगह है, और यह अक्सर बच्चों का मनोरंजन करने का सबसे आसान तरीका है। हालाँकि, बहुत अधिक स्क्रीन समय बच्चों के विकास पर नकारात्मक परिणाम डाल सकता है।

अमेरिकन एकेडमी ऑफ पीडियाट्रिक्स के अनुसार, 18 महीने से कम उम्र के बच्चों को स्क्रीन टाइम से पूरी तरह बचना चाहिए, और 18-24 महीने की उम्र के बच्चों को प्रति दिन एक घंटे से अधिक उच्च गुणवत्ता वाला स्क्रीन टाइम नहीं देना चाहिए।

2-5 वर्ष की आयु के बच्चों के लिए, AAP स्क्रीन समय को प्रति दिन एक घंटे तक सीमित करने की सिफारिश करती है, और 5 वर्ष से अधिक उम्र के बच्चों के लिए, AAP स्क्रीन समय को प्रति दिन दो घंटे तक सीमित करने की सिफारिश करती है।

बच्चों पर अत्यधिक स्क्रीन टाइम के नकारात्मक प्रभाव Negative effects of excessive Screen Time for Kids 

अत्यधिक स्क्रीन समय माता-पिता और स्वास्थ्य देखभाल पेशेवरों के बीच एक प्रचलित चिंता बन गया है क्योंकि बच्चे स्मार्टफोन, टैबलेट, टेलीविजन और कंप्यूटर सहित विभिन्न इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों के साथ तेजी से जुड़ रहे हैं। जबकि प्रौद्योगिकी शैक्षिक और मनोरंजन के भरपूर अवसर प्रदान करती है, स्क्रीन पर लंबे समय तक रहने से बच्चे के शारीरिक, मानसिक और सामाजिक विकास पर हानिकारक प्रभाव पड़ सकता है।

शारीरिक स्वास्थ्य संबंधी चिंताएँ Physical Health Concerns

अत्यधिक स्क्रीन समय एक गतिहीन जीवन शैली को जन्म दे सकता है, जो मोटापा, हृदय रोग और अन्य पुरानी स्वास्थ्य स्थितियों में योगदान देता है। "पीडियाट्रिक्स" पत्रिका में प्रकाशित एक अध्ययन में पाया गया कि जो बच्चे प्रतिदिन दो घंटे से अधिक समय टेलीविजन देखने में बिताते हैं, उनमें अधिक वजन या मोटापा होने की संभावना अधिक होती है।

निद्रा संबंधी परेशानियां Sleep Disturbances

स्क्रीन से निकलने वाली नीली रोशनी मेलाटोनिन उत्पादन को बाधित कर सकती है, एक हार्मोन जो नींद के पैटर्न को नियंत्रित करता है। इससे नींद संबंधी समस्याएं हो सकती हैं, जैसे सोने में कठिनाई, रात में जागना और दिन में थकान महसूस होना। "स्लीप" पत्रिका में प्रकाशित एक अध्ययन में पाया गया कि जो बच्चे सोने से पहले इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों का उपयोग करते हैं उनमें नींद की समस्या होने का खतरा अधिक होता है।

ध्यान देने में कठिनाइयाँ Attention Difficulties

अत्यधिक स्क्रीन समय के कारण ध्यान केंद्रित करने में कठिनाई हो सकती है, जैसे अतिसक्रियता और असावधानी। "क्लिनिकल पीडियाट्रिक्स" पत्रिका में प्रकाशित एक अध्ययन में पाया गया कि जो बच्चे प्रतिदिन दो घंटे से अधिक समय तक इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों का उपयोग करते हैं, उनमें ध्यान संबंधी समस्याएं होने की संभावना अधिक होती है।

भावनात्मक और सामाजिक विकास Emotional and Social Development

अत्यधिक स्क्रीन टाइम बच्चों के भावनात्मक और सामाजिक विकास में बाधा डाल सकता है। जो बच्चे स्क्रीन के सामने बहुत अधिक समय बिताते हैं उन्हें सहानुभूति, सामाजिक कौशल और भावनात्मक विनियमन विकसित करने में कठिनाई हो सकती है। "चाइल्ड डेवलपमेंट" पत्रिका में प्रकाशित एक अध्ययन में पाया गया कि जो बच्चे प्रतिदिन दो घंटे से अधिक टीवी देखते हैं, उनमें व्यवहार संबंधी समस्याएं होने की संभावना अधिक होती है।

भाषा विकास Language Development

अत्यधिक स्क्रीन समय भी भाषा के विकास में देरी कर सकता है। जो बच्चे टेलीविजन देखने या इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों का उपयोग करने में बहुत अधिक समय बिताते हैं उन्हें नए शब्द सीखने और वाक्य बनाने में कठिनाई हो सकती है। "पीडियाट्रिक्स" पत्रिका में प्रकाशित एक अध्ययन में पाया गया कि जो बच्चे प्रतिदिन दो घंटे से अधिक समय टेलीविजन देखने में बिताते हैं, उनमें भाषा संबंधी देरी होने की संभावना अधिक होती है।

मानसिक और भावनात्मक कल्याण Mental and Emotional Well-being

स्क्रीन टाइम बच्चों की नींद के पैटर्न पर नकारात्मक प्रभाव डाल सकता है, जिससे नींद की कमी, चिड़चिड़ापन और ध्यान केंद्रित करने में कठिनाई हो सकती है। जर्नल ऑफ पीडियाट्रिक्स में प्रकाशित एक अध्ययन में पाया गया कि जो बच्चे सोने से पहले एक घंटे से अधिक समय तक इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों का इस्तेमाल करते हैं, उनकी नींद की गुणवत्ता खराब होती है और उनमें ध्यान संबंधी समस्याएं होने की संभावना अधिक होती है।

अत्यधिक स्क्रीन समय चिंता, अवसाद और सामाजिक अलगाव में भी योगदान दे सकता है। कैलिफोर्निया विश्वविद्यालय, सैन डिएगो के एक अध्ययन में पाया गया कि जो किशोर सोशल मीडिया पर प्रति दिन दो घंटे से अधिक समय बिताते हैं, उनमें अवसाद और चिंता के लक्षणों की रिपोर्ट करने की संभावना दोगुनी थी।

स्क्रीन टाइम सीमित करने के लिए सिफ़ारिशें Recommendations for Limiting Screen Time

अमेरिकन एकेडमी ऑफ पीडियाट्रिक्स (एएपी) की सिफारिश है कि 18 महीने से कम उम्र के बच्चों को स्क्रीन टाइम से पूरी तरह बचना चाहिए, और 18-24 महीने की उम्र के बच्चों को प्रति दिन एक घंटे से अधिक उच्च गुणवत्ता वाला स्क्रीन टाइम नहीं देना चाहिए। 2-5 वर्ष की आयु के बच्चों के लिए, AAP स्क्रीन समय को प्रति दिन एक घंटे तक सीमित करने की सिफारिश करती है, और 5 वर्ष से अधिक उम्र के बच्चों के लिए, AAP स्क्रीन समय को प्रति दिन दो घंटे तक सीमित करने की सिफारिश करती है।

दुनिया भर से अध्ययन के उदाहरण Examples of Studies from Around the World

कनाडा Canada: जर्नल पीडियाट्रिक्स में प्रकाशित एक अध्ययन में पाया गया कि जो कनाडाई बच्चे प्रतिदिन दो घंटे से अधिक समय स्क्रीन पर बिताते हैं, उनमें अवसाद और चिंता के लक्षण होने की संभावना अधिक होती है।

चीन China चाइनीज यूनिवर्सिटी ऑफ हांगकांग के एक अध्ययन में पाया गया कि जो चीनी बच्चे प्रतिदिन दो घंटे से अधिक समय स्क्रीन पर बिताते हैं, उनमें नींद की समस्या और ध्यान केंद्रित करने में कठिनाई होने की संभावना अधिक होती है।

यूनाइटेड किंगडम United Kingdom: ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय के एक अध्ययन में पाया गया कि ब्रिटेन के जो बच्चे प्रतिदिन दो घंटे से अधिक समय स्क्रीन पर बिताते हैं, उनमें मोटापे का अनुभव होने की संभावना अधिक होती है और उनकी शारीरिक गतिविधि का स्तर कम होता है।

संयुक्त राज्य अमेरिका United States: रोग नियंत्रण और रोकथाम केंद्र (सीडीसी) Centers for Disease Control and Prevention (CDC) के एक अध्ययन में पाया गया कि जो अमेरिकी बच्चे प्रतिदिन दो घंटे से अधिक समय स्क्रीन पर बिताते हैं, उनका शैक्षणिक प्रदर्शन खराब होने और जोखिम भरे व्यवहार में शामिल होने की संभावना अधिक होती है।

भारत India: इंडियन जर्नल ऑफ पीडियाट्रिक्स में प्रकाशित एक अध्ययन में पाया गया कि जो भारतीय बच्चे प्रतिदिन दो घंटे से अधिक समय स्क्रीन पर बिताते हैं, उनमें नींद में खलल, ध्यान संबंधी समस्याएं और मोटापा होने की संभावना अधिक होती है। पब्लिक हेल्थ फाउंडेशन ऑफ इंडिया Public Health Foundation of India के एक अध्ययन में पाया गया कि जो भारतीय बच्चे प्रतिदिन दो घंटे से अधिक समय स्क्रीन पर बिताते हैं, उनमें शारीरिक गतिविधि का स्तर कम और तनाव का स्तर अधिक होने की संभावना अधिक होती है।

Also Read: विश्व मानसिक स्वास्थ्य दिवस 2023: टीनएजर्स पर स्क्रीन टाइम का प्रभाव

स्क्रीन टाइम कम करने की रणनीतियाँ Strategies for Reducing Screen Time

स्क्रीन टाइम कम करने और बच्चों को व्यस्त रखने के रचनात्मक तरीके Creative Ways to Reduce Screen Time and Keep Kids Busy

बच्चों को सक्रिय बनाएं Get Kids Active

स्क्रीन टाइम कम करने का सबसे अच्छा तरीका बच्चों को सक्रिय बनाना है। बच्चों के शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य के लिए शारीरिक गतिविधि आवश्यक है। यह उन्हें मजबूत मांसपेशियों और हड्डियों को विकसित करने में मदद करता है, उनके समन्वय और संतुलन में सुधार करता है और उनके मूड को बेहतर बनाता है। बच्चों को सक्रिय बनाने के कई अलग-अलग तरीके हैं, जैसे बाहर खेलना, सैर या बाइक की सवारी के लिए जाना, या खेल खेलना।

व्यावहारिक गतिविधियों को प्रोत्साहित करें Encourage Hands-on Activities

व्यावहारिक गतिविधियाँ बच्चों को उनकी रचनात्मकता और समस्या-समाधान कौशल विकसित करने में मदद करने का एक शानदार तरीका है। कई अलग-अलग प्रकार की व्यावहारिक गतिविधियाँ हैं, जैसे पेंटिंग, ड्राइंग, ब्लॉकों के साथ निर्माण, या पहेलियों के साथ खेलना।

पढ़ने को प्राथमिकता बनाएं Make Reading a Priority

पढ़ना बच्चों को उनकी भाषा कौशल और कल्पनाशीलता विकसित करने में मदद करने का एक शानदार तरीका है। बच्चों को किताबें, पत्रिकाएँ या कॉमिक्स पढ़ने के लिए प्रोत्साहित करें। आप उन्हें ज़ोर से पढ़कर या लाइब्रेरी में ले जाकर भी पढ़ने को मज़ेदार बना सकते हैं।

स्क्रीन टाइम पर सीमा निर्धारित करें Set Limits on Screen Time

स्क्रीन समय की सीमा निर्धारित करना और उन्हें लगातार लागू करना महत्वपूर्ण है। अपने बच्चों से स्क्रीन टाइम सीमित करने के महत्व के बारे में बात करें और समझाएं कि यह महत्वपूर्ण क्यों है। आप स्क्रीन टाइम के लिए एक शेड्यूल भी बना सकते हैं और उसका पालन कर सकते हैं।

एक अच्छे रोल मॉडल बनें Be a Good Role Model

बच्चे आपके नियमों की तुलना में आपके उदाहरण का अनुसरण करने की अधिक संभावना रखते हैं। इसलिए, एक अच्छे रोल मॉडल बनें और अपना स्क्रीन टाइम सीमित करें। जब आप अपने बच्चों के साथ समय बिता रहे हों, तो अपना फोन दूर रख दें और उनके साथ बातचीत करने पर ध्यान केंद्रित करें।

बच्चों के लिए स्क्रीन-मुक्त गतिविधियाँ Screen-free activities for toddlers

संवेदी खेल Sensory Play: अपनी इंद्रियों को फिंगर पेंटिंग, विभिन्न बनावटों से भरे संवेदी बिन की खोज, पानी या रेत से खेलना, या घर का बना आटा बनाने जैसी गतिविधियों में संलग्न करें।

भवन और निर्माण Building and Construction: ब्लॉकों, लकड़ी के तख्तों, पहेलियों या चुंबकीय टाइलों के साथ रचनात्मकता और समस्या-समाधान कौशल को प्रोत्साहित करें।

कल्पनाशील खेल Pretend Play: कल्पनाशील खेल के लिए सामान और पोशाकें प्रदान करें, जैसे कि खिलौना रसोई, खेल का भोजन, कार, गुड़िया, या ड्रेस-अप कपड़े।

कला और शिल्प Arts and Crafts: रंग भरने, ड्राइंग, पेंटिंग, कागज को फाड़ने और चिपकाने, या घर का बना शिल्प बनाने जैसी गतिविधियों के साथ रचनात्मकता और बढ़िया मोटर कौशल को बढ़ावा दें।

म्यूजिकल प्ले Musical Play: टॉय ड्रम, ज़ाइलोफोन, शेकर्स जैसे वाद्ययंत्रों के साथ संगीत पेश करें, या बस एक साथ गाएं और नृत्य करें।

गतिविधि और व्यायाम Movement and Exercise: बच्चों के लिए इनडोर या आउटडोर खेलों जैसे बॉल गेम, नृत्य, बाधा कोर्स या योग के साथ शारीरिक गतिविधि को प्रोत्साहित करें।

किताबें और कहानी सुनाना Books and Storytelling: कहानी कहने के सत्रों, आकर्षक चित्र पुस्तकों और इंटरैक्टिव गीतों या फ़िंगरप्ले के साथ भाषा के विकास और पढ़ने के प्रति प्रेम को बढ़ावा देना।

प्रकृति अन्वेषण Nature Exploration: प्रकृति का पता लगाने, पत्तियां या चट्टानें इकट्ठा करने, कीड़ों को देखने, या फूल लगाने के लिए पार्क, खेल के मैदान या पिछवाड़े की यात्राएं करें।

जल क्रीड़ा Water Play: अपनी इंद्रियों को जल क्रीड़ा गतिविधियों में व्यस्त रखें जैसे टब में पानी भरना, खिलौनों पर छींटाकशी करना, या स्प्रिंकलर या नली से खेलना।

रचनात्मक गतिविधि Creative Movement: उन्हें नृत्य करके, जानवरों की नकल करके, या सरल योग मुद्राओं का अनुसरण करके गतिविधि के माध्यम से खुद को अभिव्यक्त करने के लिए प्रोत्साहित करें।

पहेलियाँ और दिमागी खेल Puzzles and Brain Games: सरल पहेलियाँ, स्मृति खेल, या मिलान गतिविधियों के साथ उनके दिमाग को उत्तेजित करें।

इंटरएक्टिव गेम्स Interactive Games: लुका-छिपी, साइमन सेज़, या जानवरों के नाटक जैसे इंटरैक्टिव गेम्स में व्यस्त रहें।

गायन और गाना बजाना Singing and Song Play: उनके साथ गाएं, साथ में नए गाने बनाएं, या परिचित धुनों के साथ ताल वाद्ययंत्रों का उपयोग करें।

कहानी सुनाना और दिखावा करना Storytelling and Make-believe: कल्पनाशील कहानी सुनाने के सत्रों में संलग्न रहें, साथ में पात्रों और परिदृश्यों का निर्माण करें।

पुनर्नवीनीकरण सामग्री के साथ कला और शिल्प Arts and Crafts with Recycled Materials: रोजमर्रा की वस्तुओं को रचनात्मक परियोजनाओं में बदलें, जैसे मोजे से कठपुतलियाँ बनाना, पत्रिकाओं से कोलाज बनाना, या कार्डबोर्ड बक्से से मूर्तियां बनाना।

आउटडोर अन्वेषण Outdoor Exploration : प्राकृतिक दुनिया की खोज के लिए प्रकृति की सैर पर जाएं, स्थानीय पार्कों का पता लगाएं, या पालतू चिड़ियाघर का दौरा करें।

संवेदी अन्वेषण Sensory Explorations: उनकी इंद्रियों को संलग्न करने के लिए विभिन्न बनावट, गंध और ध्वनियों से भरे संवेदी डिब्बे बनाएं।

काल्पनिक दोस्तों के साथ नाटकीय खेल Dramatic Play with Imaginary Friends: कठपुतलियों, गुड़िया, या भरवां जानवरों जैसे प्रॉप्स के साथ कल्पनाशील खेल को प्रोत्साहित करें।

2-5 वर्ष के बच्चों के लिए स्क्रीन-मुक्त गतिविधियाँ Screen-free activities for 2-5-year-olds

  • संवेदी खेल Sensory Play

संवेदी बिन Sensory Bin: विभिन्न बनावटों से भरा एक संवेदी बिन बनाएं, जैसे सूखी फलियाँ, चावल, पास्ता, या पानी के मोती।

आटे का मज़ा Playdough Fun: प्राकृतिक सामग्री का उपयोग करके अपना खुद का आटा बनाएं और विभिन्न रंगों और सुगंधों का पता लगाएं।

पानी का खेल Water Play: पानी के टब में छींटे मारें और खेलें, अतिरिक्त मनोरंजन के लिए खिलौने और कंटेनर जोड़ें।

फिंगर पेंटिंग Finger Painting: धोने योग्य पेंट और कागज का उपयोग करके गन्दी लेकिन रचनात्मक फिंगर पेंटिंग में संलग्न रहें।

बनावट कोलाज Texture Collage: विभिन्न बनावट वाली सामग्रियों को इकट्ठा करें और कार्डबोर्ड या कागज के टुकड़े पर एक कोलाज बनाएं।

  • भवन और निर्माण Building and Construction

ब्लॉक बिल्डिंग Block Building: लकड़ी के ब्लॉक, डुप्लो, या लेगो सहित विभिन्न प्रकार के बिल्डिंग ब्लॉक प्रदान करें, और उनकी रचनात्मकता को उड़ान दें।

किले का निर्माण Fort Building: एक आरामदायक किला या खेल का घर बनाने के लिए कंबल, चादरें और तकिए इकट्ठा करें।

चुंबक टाइल निर्माण Magnet Tile Creations: चुंबकीय टाइलों, दीवारों, आकृतियों और संरचनाओं के निर्माण की अनंत संभावनाओं का पता लगाएं।

कार्डबोर्ड रचनाएँ Cardboard Creations: कल्पना और थोड़े से टेप की मदद से कार्डबोर्ड बक्सों को रॉकेट, कार या प्लेहाउस में बदलें।

निर्माण प्लेसेट Construction Playsets: खिलौना ट्रकों, क्रेनों, उत्खननकर्ताओं और निर्माण श्रमिकों के साथ भूमिका निभाने और निर्माण में संलग्न रहें।

  • दिखावा करना: Pretend Play

प्ले किचन Play Kitchen: खिलौनों के उपकरणों, खेलने के भोजन और कल्पनाशील खाना पकाने और बेकिंग के लिए बर्तनों के साथ एक प्ले किचन स्थापित करें।

गुड़ियाघर का रोमांच Dollhouse Adventures: एक गुड़ियाघर या गुड़िया फर्नीचर प्रदान करें और उन्हें अपनी गुड़िया के साथ परिदृश्य और कहानियां बनाने दें।

ड्रेस-अप मज़ा Dress-up Fun: ड्रेस-अप बिन को विभिन्न कपड़ों की वस्तुओं, टोपी, सहायक उपकरण और भूमिका निभाने के लिए प्रॉप्स से भरें।

डॉक्टर या पशुचिकित्सक खेल Doctor or Veterinarian Play: डॉक्टर की किट या नकली पशु देखभाल आपूर्ति का उपयोग करके नाटक खेल में संलग्न रहें।

सुपरहीरो एडवेंचर्स Superhero Adventures: अपने स्वयं के सुपरहीरो व्यक्तित्व का निर्माण करते हुए, टोपी, मुखौटे और प्रॉप्स के साथ कल्पनाशील खेल को प्रोत्साहित करें।

  • कला और शिल्प Arts and Crafts

फिंगर पेंटिंग और रंग Finger Painting and Coloring: रचनात्मक अभिव्यक्ति के लिए भरपूर कागज, धोने योग्य पेंट, क्रेयॉन और मार्कर प्रदान करें।

प्रकृति के साथ पेंटिंग Painting with Nature: अद्वितीय प्रकृति-प्रेरित कला बनाने के लिए पत्तियों, फूलों या फलों के टिकटों का उपयोग करें।

कागज को फाड़ना और चिपकाना Tearing and Gluing Paper: रंगीन कागज को टुकड़ों में फाड़ें और कोलाज बनाने के लिए उन्हें पृष्ठभूमि पर चिपका दें।

घरेलू शिल्प Homemade Crafts: टॉयलेट पेपर रोल, कार्डबोर्ड बॉक्स, या अंडे के डिब्बों जैसी पुनर्चक्रण योग्य सामग्रियों का उपयोग करके शिल्प बनाएं।

आटे की मूर्तियां Playdough Sculptures: रंगीन आटे से आकृतियों, जानवरों या आकृतियों को तराशें।

  • म्यूजिकल प्ले Musical Play

वाद्ययंत्र अन्वेषण Instrument Exploration: ड्रम, ज़ाइलोफोन, शेकर्स जैसे खिलौना वाद्ययंत्र प्रदान करें, या बस एक साथ गाएं और नृत्य करें।

म्यूजिक और मूवमेंट गेम्स Music and Movement Games: फ्रीज़ डांस, फॉलो लीडर या साइमन सेज़ जैसे म्यूजिकल गेम्स में शामिल हों।

संगीतमय कहानी सुनाना Musical Storytelling: कथा को बढ़ाने के लिए ध्वनि प्रभाव, वाद्ययंत्र और गायन का उपयोग करके कहानियां बनाएं।

घरेलू उपकरण Homemade Instruments: पुनर्चक्रण योग्य सामग्रियों का उपयोग करके घरेलू उपकरण बनाएं और विभिन्न ध्वनियों का पता लगाएं।

डांस पार्टी Dance Party: कुछ संगीत बजाएं और एक डांस पार्टी रखें, जिससे उन्हें स्वतंत्र रूप से घूमने और खुद को अभिव्यक्त करने के लिए प्रोत्साहित किया जा सके।

  • चाल और व्यायाम Movement and Exercise

इनडोर बाधा कोर्स Indoor Obstacle Course: तकिए, कुर्सियाँ, कंबल और अन्य घरेलू वस्तुओं का उपयोग करके एक इनडोर बाधा कोर्स बनाएं।

आउटडोर एडवेंचर्स Outdoor Adventures: शारीरिक गतिविधि को बढ़ावा देने के लिए सैर पर जाएं, पार्क में खेलें या स्थानीय पगडंडियों का पता लगाएं।

बच्चों के लिए योग Yoga for Kids: बच्चों के लिए डिज़ाइन किए गए सरल योग आसन और व्यायाम में संलग्न रहें।

पशु मूवमेंट गेम्स  Animal Movement Games: जानवरों की गतिविधियों का अनुकरण करें जैसे केकड़े की तरह रेंगना, खरगोश की तरह उछलना, या पक्षी की तरह उड़ना।

बॉल गेम्स: कैच, थ्रो और रोल बॉल खेलें, या बॉलिंग या सॉकर जैसे मज़ेदार बॉल गेम्स में शामिल हों।

  • किताबें और कहानी सुनाना Books and Storytelling

ज़ोर से पढ़ें सत्र Read-Aloud Sessions: भरपूर अभिव्यक्ति और ध्वनि प्रभाव वाली आकर्षक चित्र पुस्तकें, कहानियाँ और कविताएँ पढ़ें।

इंटरएक्टिव स्टोरीटेलिंग Interactive Storytelling: एक साथ कहानियां बनाएं, बारी-बारी से कहानी को जोड़ते रहें।

कठपुतलियों के साथ कहानी सुनाना Storytelling with Puppets: भाषा के विकास और कल्पना को बढ़ावा देने के लिए कहानियों को अभिनय करने के लिए कठपुतलियों या भरवां जानवरों का उपयोग करें।

गाना बजाना और फ़िंगरप्ले Song Play and Fingerplays: भाषा कौशल और रचनात्मकता को बढ़ाने के लिए इंटरैक्टिव गाना बजाना और फ़िंगरप्ले में संलग्न रहें।

अपनी खुद की स्टोरीबुक बनाएं Create Your Own Storybook: व्यक्तिगत स्टोरीबुक बनाते हुए एक साथ कहानियां बनाएं और लिखें।

  • प्रकृति अन्वेषण: Nature Exploration:

प्रकृति की सैर Nature Walks: पौधों, जानवरों और प्राकृतिक परिवेश का अवलोकन करते हुए पार्कों, जंगलों या प्रकृति की पगडंडियों पर सैर करें।

पत्ती और चट्टान संग्रह Leaf and Rock Collection: दिलचस्प पत्तियां, चट्टानें, या सीपियाँ एकत्र करें और एक प्रकृति संग्रह बनाएं।

बागवानी खेल Gardening Play: बीज बोने, पौधों को पानी देने और विकास चक्र का निरीक्षण करने में शामिल हों।

इन युक्तियों का पालन करके, आप अपने बच्चों को उनके स्क्रीन समय को कम करने और स्वस्थ आदतें विकसित करने में मदद कर सकते हैं। याद रखें, धैर्यवान और सुसंगत रहना महत्वपूर्ण है। बच्चों को नए नियमों से तालमेल बिठाने में समय लगता है ।