facebook-pixel

गौतम अडानी से 10 कीमती बातें अमीर बनने के लिए जरूर सीखें

Share Us

109
गौतम अडानी से 10 कीमती बातें अमीर बनने के लिए जरूर सीखें
22 Sep 2022
9 min read
TWN Special

Post Highlight

कहते हैं कि यदि आप कुछ बड़ा करने का और सफल होने का सपना रखते हो तो आपको अपने लक्ष्य और मंजिल के प्रति समर्पित होना होगा। यदि आप ऐसा करते हैं तो तो आपको आगे बढ़ने से कोई नहीं रोक सकता है। क्योंकि लक्ष्य के प्रति समर्पित होने से आप सुनियोजित सोच के साथ आगे बढ़ोगे और आपकी सोच और भावनाएं भी उसी के अनुसार रहेंगी साथ ही आपके अंदर कुछ कर गुजरने का जज़्बा होगा जिससे आपकी राह मुश्किल नहीं होगी। ऐसा ही कुछ कर दिखाया है गौतम अडानी ने। गौतम अडानी पिछले कुछ सालों में एक के बाद एक कई कंपनियों का अधिग्रहण कर चुके हैं और वह जिन कंपनियों का अधिग्रहण कर लेते हैं, उनके शेयर रॉकेट हो जाते हैं। भारतीय उद्योगपति गौतम अडानी (Gautam Adani) दुनिया के Top-10 Billionaires की लिस्ट में लगातार दूसरे नंबर पर दूसरे नंबर पर आ गए हैं। उन्‍होंने दूसरे नंबर की स्थिति फोब्स और ब्‍लूमवर्ग दोनों की रैंकिंग में और मजबूत कर ली है। ब्‍लूमवर्ग की रैंकिंग में गौतम अडानी जेफ बेजोस को पछाडकर दूसरे नंबर पर काबिज हुए हैं तो वहीं फोब्‍स रीयल टाइम की रैंकिंग में अडानी ने बर्नार्ड अर्नाल्ट को पछाड़ा है। हाल ही में अडानी ग्रुप ने अंबुजा सीमेंट (Ambuja Cement) और एसीसी (ACC) के अधिग्रहण की प्रक्रिया को पूरा किया है। आगे भी गौतम अडानी कुछ और कंपनियों के अधिग्रहण कर सकते हैं। गौतम अडानी के सपने बड़े बनने और आगे बढ़ने के थे, जो उन्होंने हर कीमत पर पूरे किए। इसके लिए उन्होंने अपने जीवन में कुछ बातों पर हमेशा गौर किया और हर परिस्थिति में इन कुछ बातों पर अमल किया। तो चलिए आज इस आर्टिकल में गौतम अडानी की वो 10 कीमती बातें जानते हैं जिन्हें यदि आप भी अमीर बनना चाहते हैं तो इन बातों पर जरूर ध्यान दें और इन पर अमल करें। 

Podcast

Continue Reading..

आपके अंदर कुछ कर दिखाने का जज्बा है तो आपको आगे बढ़ने से कोई नहीं रोक सकता। क्योंकि अगर हम जीवन में हार नहीं मानते हैं तो वक्त भी हमारा साथ जरूर देता है। बस आपको सफल होने के लिए अपने लक्ष्य के प्रति एकचित्त भाव से समर्पित होना पड़ेगा। कुछ ऐसे लोग हैं जिन्होंने अपनी लगन और परिश्रम के दम पर सफलता की ऊंचाईयों को छुआ है और नामुमकिन को भी मुमकिन कर दिखाया है। यदि आप जीवन में सफल होना चाहते हैं तो आपको अपने अंदर कुछ परिवर्तन लाने जरुरी होते हैं और कुछ सिद्धांत बनाने होते हैं। इसके बाद इन पर अमल करना होता है। ऐसे ही एक शख़्स हैं Gautam Adani गौतम अडानी। गौतम अडानी जिस भी कंपनी को खरीद लेते हैं, उसके शेयर रॉकेट हो जाते हैं। हाल ही में अडानी ग्रुप Adani Group ने अंबुजा सीमेंट (Ambuja Cement) और एसीसी (ACC) के अधिग्रहण की प्रक्रिया को पूरा किया है। अब एनडीटीवी (NDTV) के अधिग्रहण acquisition की प्रक्रिया भी चल रही है और उसके शेयर share भी तेजी से चढ़ रहे हैं। इसी बीच ये कयास लगाए जा रहे हैं कि गौतम अडानी अब कुछ और कंपनियों के अधिग्रहण कर सकते हैं। गौतम अडानी ने अपनी सोच, कड़ी मेहनत और अपने सिद्धांतों पर अमल करके एक मिसाल कायम की है। गौतम अडानी मानते हैं कि अपने जीवन में हर परिस्थिति में इन कुछ बातों पर हर हाल में अमल करना चाहिए तो चलिए जानते हैं कि गौतम अडानी की वो 10 कीमती बातें जो अमीर बनने के लिए आप जरूर सीखें और साथ ही इन बातों पर अमल करके अपने जीवन में आजमाएं। 

10 Unpredictable Things About Gautam Adani

1. खूब संघर्ष किया है 

आज गौतम अडानी यूं ही देश के सबसे अमीर शख्स richest man नहीं बन गए, इसके लिए उन्होंने खूब संघर्ष किया है। कारोबार जगत के जानकार अडानी की तुलना मुकेश अंबानी Mukesh Ambani के पिता धीरूभाई अंबानी Dhirubhai Ambani के साथ करते हैं। क्योंकि धीरूभाई अंबानी की तरह गौतम अडानी भी पहली पीढ़ी के बिजनेसमैन हैं। उन्हें विरासत में विशाल कारोबारी साम्राज्य नहीं मिला बल्कि उन्होंने धीरूभाई की तरह अपनी मेहनत और संघर्ष hard work and struggle से यह मुकाम हासिल किया। गौतम अडानी कहते हैं जीवन में यदि हमें कोई बड़ा मुक़ाम हासिल करना है तो उसके लिए कड़ी मेहनत करनी होगी। क्योंकि बिना मेहनत के हम जिंदगी में आगे नहीं बढ़ सकते हैं। अडानी कहते हैं जितना हम संघर्ष करते हैं उतने ही मजबूत बनते हैं और साथ साथ अनुभव भी बढ़ता जाता है इसलिए जीवन में संघर्ष करते जाओ सफलता खुद आपको मिल जायेगी। 

2. परिवार के साथ ही बैठकर खाते हैं खाना

गौतम अडानी इतने बड़े बिजनेसमैन हैं तो जाहिर सी बात है कि वो बहुत व्यस्त रहते होंगे लेकिन इसके बावजूद भी वह अपने परिवार के साथ खाना खाते हैं। उनका मानना है कि हम चाहें कितने भी व्यस्त क्यों न हों लेकिन अपने परिवार को समय जरूर दें। गौतम अडानी का नियम है कि ऑफिस में लंच टेबल पर परिवार के सभी लोग एक साथ बैठ कर भोजन करते हैं। अडानी का कहना है कि माना कि जीवन में व्यस्तता होती है लेकिन परिवार के लिए समय निकालना भी अपनी प्राथमिकता में रखें। क्योंकि परिवार से बड़ा कोई धन नहीं है। 

3. हमेशा देखते हैं बड़े सपने

भारत के मशहूर बिजनेसमैन famous businessman of India गौतम अडानी का परिवार अहमदाबाद Ahmedabad के पोल इलाके के शेठ चॉल में रहता था। बचपन से ही उनका सपना था कि वो कुछ ऐसा करें कि जिससे उनका एक नाम हो और लोग उनके काम की वजह से उन्हें पहचाने। आज गौतम अडानी किसी नाम के मोहताज नहीं हैं। एक समय ऐसा था जब आर्थिक तंगी के कारण उन्हें बीच में ही पढ़ाई छोड़नी पड़ी थी लेकिन आज ये एयरपोर्ट से लेकर बंदरगाह और कोयले से लेकर घर में इस्तेमाल होने वाले तेल तक से पैसा कमा रहे है। गौतम अडानी ने डायमंड सॉर्टर diamond sorter के रूप में बिजनेस की शुरुआत की और कुछ ही समय में मुंबई Mumbai में अपनी खुद की डायमंड ब्रोकरेज फर्म Diamond Brokerage Firm शुरू कर ली। आज ये एयरपोर्ट से लेकर बंदरगाह और कोयले से लेकर घर में इस्तेमाल होने वाले तेल तक से पैसा कमा रहे है। अडानी कहते हैं कि जब पैसा आए तो बहुत खुश या पैसा जाने पर दुखी नहीं होना चाहिए और सपने हमेशा बड़े देखने चाहिए। अडानी हर दिन नए-नए बेंच मार्क सेट कर रहे हैं और न सिर्फ भारत में बल्कि पूरी दुनिया में अपना दबदबा बना रहे हैं।

4. जन्मभूमि से करते हैं बहुत प्यार 

गौतम अडानी अपनी love the native land जन्मभूमि से बेहद प्यार करते हैं। गौतम अडानी का बिजनेस पूरी दुनिया में पैर पसार रहा है लेकिन उन्होंने अपने व्यवसाय के प्रधान कार्यालय के लिए अहमदाबाद को ही प्राथमिकता दी और उसे चुना, जबकि उनका व्यवसाय तो पूरी दुनिया में फैला हुआ है। गौतम अडानी के जन्म भूमि के बारे में बात करें तो गौतम अडानी की जन्मभूमि भारत के राज्य गुजरात Gujarat का अहमदाबाद शहर है। अडानी कहते हैं कि अहमदाबाद उनका जन्मस्थान है जहाँ वो बड़े हुए हैं और वहाँ की मिट्टी से उन्हें बेहद प्यार है। अडानी अपनी जन्मभूमि को अपना परिवार मानते हैं इसलिए वो अपने परिवार गुजरात से दूर नहीं जाना चाहते। ये भी सच है कि इस शहर ने उनके बिजनेस में उनका पूरा साथ दिया है। 

Also Read : राकेश झुनझुनवाला के इन निवेश मंत्रों को कभी मत भूलिए

5. कभी हिम्मत नहीं हारते हैं 

गौतम अडानी विकट परिस्थितियों में भी हिम्मत नहीं हारते हैं। एक इंटरव्यू में गौतम अडानी ने बताया था कि उन्होंने अपने बिजनेस को फैलाने के लिए काफी हिम्मत रखी थी। अपने बिजनेस को आगे ले जाने के लिए उन्होंने जल्दबाजी नहीं की और पूरा ध्यान काम पर लगाया। अडानी की जिंदगी में एक बड़ा भयावह किस्सा मुंबई के 2008 के आतंकी हमलों से जुड़ा है। अडानी अपनी हिम्मत की बदौलत मुंबई हमलों में मौत के मुंह से बचकर निकले थे। दरअसल 26 नवंबर 2008 को वह मुंबई के ताज होटल Taj Hotel in Mumbai में डिनर करने गए थे और वहाँ आतंकियों ने हमला कर दिया। अडानी उस दिन वैदर क्राफ्ट रेस्टोरेंट में दुबई पोर्ट के सीईओ मोहम्मद शराफ के साथ खाना खा रहे थे। तब आतंकियों ने 160 लोगों को मार दिया, लेकिन अडानी बचने में कामयाब रहे। अडानी ने बेहद नजदीक से मौत को देखा है, उनसे मौत महज 15 फुट दूर थी। अडानी ने 26 नवंबर की पूरी रात बेसमेंट में ही गुजारी। होटल स्टाफ ने मेहमानों की मदद की जिससे वह बेसमेंट में जा सकें। 

6. मदद के लिए हमेशा तैयार रहते हैं 

अडानी फाउंडेशन Adani Foundation 40 लाख बच्चों की मदद भी करता है। गौतम अडानी परोपकार सेवा भी करते हैं। गौतम अडानी की फाउंडेशन देश के लगभग 16 राज्यों में है। इन जगहों पर अडानी फाउंडेशन 2400 से ज्यादा गांवों की 40 लाख से ज्यादा आबादी को गुणवत्तापूर्ण प्राथमिक शिक्षा मुहैया कराते है। अडानी फाउंडेशन 11 राज्यों के एक लाख लड़के-लड़कियों को कौशल विकास के तहत प्रशिक्षण training under skill development भी देता है। अडानी फाउंडेशन साथ ही जन स्वास्थ्य, स्वरोजगार और कुपोषण उन्मूलन Public health, self-employment and eradication of malnutrition का भी काम करता है।

7. जो भी धंधा मिला उसे पूरे समर्पण के साथ किया

आज अडानी समूह देश के प्रमुख इंफ्रास्ट्रक्चर ग्रुप Infrastructure group में से एक है। अडानी का मानना है कि जो भी धंधा करो उसे पूरे मन से करो। गौतम अडानी ने भी यही किया। वर्ष 1991 में अडानी के व्यवसाय में तेजी से विविधता आई और वे एक बहुराष्ट्रीय व्यवसायी बन गए। साल 1995 में गौतम अडानी की कंपनी को मुंद्रा पोर्ट के संचालन का ठेका मिला। गौतम अडानी ने अपने व्यवसाय का विविधीकरण जारी रखा और 1996 में अडानी पावर लिमिटेड Adani Power Limited अस्तित्व में आया। अडानी का कारोबार माइंस, पोर्ट्स, पावर प्लांट्स, एयरपोर्ट्स, डेटा सेंटर्स और डिफेंस सेक्टर Mines, Ports, Power Plants, Airports, Data Centers and Defense Sectors तक फैला है। इस वक्त अडानी ग्रुप की कई कंपनियां शेयर बाजार में लिस्ट हैं, जिससे निवेशकों की खूब कमाई हो रही है। आज अडानी ग्रुप के चेयरमैन गौतम अडानी एक बार फिर दुनिया के टॉप अरबपतियों की लिस्‍ट में List of world's top billionaires दूसरे नंबर second number पर पहुंच चुके हैं। कुल मिलाकर हम कह सकते हैं कि समय के साथ अडानी को जो भी धंधा मिला उन्होंने उसे पूरे समर्पण के साथ किया और हर कदम पर सफल होते चले गए। आज अडानी समूह देश के प्रमुख इंफ्रास्ट्रक्चर ग्रुप में से एक है उनकी अडानी पोर्ट देश की सबसे बड़ी पोर्ट मैनेजमेंट कम्पनी Adani Port is the country's largest port management company है और गुजरात, महाराष्ट्र, गोवा, केरला, आंध्र प्रदेश, तमिलनाडु, और ओडिशा Gujarat, Maharashtra, Goa, Kerala, Andhra Pradesh, Tamil Nadu, and Odisha जैसे सात समुद्री राज्यों में इनके 13 डोमेस्टिक पोर्ट्स है। गौतम अडानी ने सिद्ध किया कि कोई भी धंधा छोटा या बड़ा नहीं होता और धंधे से बड़ा कोई धर्म नहीं होता है। 

8. लक्ष्य निर्धारित करते हैं और हमेशा आगे बढ़ने के बारे में सोचते हैं 

गौतम अडानी हमेशा अपने लक्ष्य के प्रति समर्पित रहते हैं। यही वजह है कि वो आज इतने बड़े मुक़ाम पर हैं। गौतम अडानी हमेशा ये सोचते हैं कि जिंदगी में आगे कैसे बढ़े, उन्हें रुकना पसंद नहीं है। जब भी वो किसी परेशानी में होते तो कभी भी निराश नहीं होते हैं। निराशा को उन्होंने कभी अपने ऊपर हावी होने नहीं दिया। वो बस कठिन परिश्रम करते हैं और आगे बढ़ते हैं। आज भी वह आगे बढ़ने के लिए काफी मेहनत करते हैं। इसी का परिणाम है कि उनकी कुल संपत्ति 150 बिलियन डॉलर हो चुकी है। वहीं फोर्ब्स रियल टाइम बिलेनियर लिस्ट Forbes real time billionaire list की बात करें तो मंगलवार को गौतम अडानी की संपत्ति में 2 बिलियन डॉलर की बढ़ोतरी हुई है। अब अडानी और उनकी फैमिली की कुल संपत्ति 158.3 बिलियन डॉलर हो चुकी है। 

9. मुसीबतों का करते हैं डटकर सामना

वही इंसान सफल होता है जो मुसीबतों का डटकर सामना करते हैं। साल 1997 में कुछ लोगों ने गौतम अडानी को किडनैप किया था, गौतम अडानी को रिहा करने के बदले किडनैप करने वालों ने 11 करोड़ की मांग की थी। रास्ते में एक स्कूटर ने जबरदस्ती उनकी गाड़ी रुकवाई और फिर बहुत सारे लोग एक वैन से आए और दोनों को किडनैप कर लिया। इतने बुरे वक्त का सामना भी गौतम अडानी ने डटकर किया। मतलब मुसीबत को देखकर पहले ही डरना नहीं चाहिए क्योंकि डरकर हार मानने से कुछ भी हासिल नहीं होता है। कितनी भी मुसीबत जीवन में आ जाये उसका सामना करने की हिम्मत होनी चाहिए तभी जाकर हम जीवन में सफलता हासिल कर पाएंगे। 

10. हमेशा जमीन से जुड़े रहे और घमंड नहीं किया 

आज गौतम अडानी विश्व स्तर पर जाने माने बिजनेसमैन world renowned businessman और सबसे अमीर व्यक्तियों में से एक हैं। अडानी ग्रुप 100 अरब डॉलर से भी ज्यादा का बाजार पूंजीकरण हासिल करने वाला देश का एक अमीर कारोबारी घराना है। गौतम अडानी पिछले कुछ सालों में एक के बाद एक कई कंपनियों का अधिग्रहण कर चुके हैं और वह जिन कंपनियों का अधिग्रहण कर लेते हैं, उनके शेयर रॉकेट हो जाते हैं। भारतीय उद्योगपति गौतम अडानी Gautam Adani दुनिया के Top-10 Billionaires की लिस्ट में लगातार दूसरे नंबर पर आ गए हैं। उन्‍होंने दूसरे नंबर की स्थिति फोब्स और ब्‍लूमवर्ग दोनों की रैंकिंग में और मजबूत कर ली है। ब्‍लूमवर्ग की रैंकिंग में गौतम अडानी जेफ बेजोस Jeff Bezos को पछाडकर दूसरे नंबर पर काबिज हुए हैं तो वहीं फोब्‍स रीयल टाइम की रैंकिंग में अडानी ने बर्नार्ड अर्नाल्ट Bernard Arnault को पछाड़ा है। अडानी का व्यवसाय हर क्षेत्र में है उनका व्यवसाय खानों, बंदरगाहों, बिजली संयंत्रों, हवाई अड्डों, डेटा केंद्रों और रक्षा क्षेत्रों में फैला हुआ है। लेकिन गौतम अडानी ने कभी घमंड नहीं किया और वह हमेशा परिवार और जमीन से जुड़े रहे।