वेब डिजाइनिंग क्या है ?

Share Us

6105
वेब डिजाइनिंग क्या है ?
14 Feb 2022
8 min read

Blog Post

यदि आप कंप्यूटर का नॉलेज रखते हैं तो आपको अपने करियर के लिए परेशान होने की जरुरत नहीं है। आज के समय में web designing वेब डिजाइनिंग के क्षेत्र में करियर या जॉब की बहुत बड़ी संभावना है। इसमें आप एक्सपर्ट होकर अपना भविष्य सुरक्षित कर सकते हैं। एक वेबसाइट के संपूर्ण स्वरूप को बनाने की जो प्रक्रिया ही वेब डिजाइनिंग कहलाती है। यह किसी वेबसाइट के layout लेआउट, कलर, text style टेक्स्ट स्टाइल, इमेज ग्राफ़िक graphics और content कंटेंट को व्यवस्थित करने की एक प्रक्रिया है। आज के इस डिजिटल युग में वेबसाइट किसी भी क्षेत्र में आगे बढ़ने के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण है। इस आर्टिकल के माध्यम से आप इसे बेहतर तरीके से समझ सकते हैं।

यदि आप कंप्यूटर में इंटरेस्ट रखते हैं तो आपके सामने आज के समय में बहुत सारे ऑप्शन हैं। इस कंप्यूटर और इंटरनेट के दौर में टेक्नोलॉजी बहुत बढ़ गयी है। यदि आप एक बेहतर करियर ऑप्शन की तलाश कर रहे हैं तो आप Web Designing वेब डिजाइनिंग में अपना करियर बना सकते हैं। इस क्षेत्र में न केवल पैसा है बल्कि बहुत बड़े करियर स्कोप की संभावना भी है। web designer वेब डिज़ाइनर बनने के लिए आपके पास क्रिएटिव स्किल creative skills और technical abilities तकनीकी योग्यता होनी आवश्यक है। तभी जाकर आप एक बेहतरीन वेबसाइट को बना सकते हैं। चलिए जानते है web designing वेब डिजाइनिंग क्या है और कैसे आप इसमें अपना बेहतर भविष्य बना सकते हैं। 

वेब डिजाइनिंग क्या है ?

वेब डिजाइनिंग, Website वेबसाइट बनाने की प्रक्रिया को कहा जाता है। इसमें बहुत सारी चीज़ें आती हैं जैसे - वेब पेज web page, layout लेआउट, content production कंटेंट प्रोडक्शन और graphic design ग्राफ़िक डिज़ाइन आदि बहुत सारी चीज़ें आती हैं। दरअसल एक Web designer वेब डिज़ाइनर किसी वेबसाइट को बनाने के लिये कई software tool सॉफ्टवेयर टूल और language लैंग्वेज का इस्तेमाल करते हैं। हम कह सकते हैं कि वेब डिजाइनिंग के अंतर्गत ग्राफ़िक, लेआउट, कंटेंट, font फॉन्ट और colors कलर्स ये पाँच एलिमेंट्स प्रमुख रूप से होते हैं जिसमें फोटोशॉप और illustrator इलस्ट्रेटर टूल के द्वारा एक वेबसाइट डिज़ाइन की जाती है। फिर HTML एच टी एम एल, CSS सी एस एस और JAVASCRIPT जावास्क्रिप्ट लैंग्वेज के द्वारा एक वेबसाइट बनायी जाती है। वेबसाइट को HTML एच टी एम एल नामक मार्कअप लैंग्वेज द्वारा बनाया जाता है। एच टी एम एल टैग एक वेबसाइट के structure संरचना को बनाने में मुख्य भूमिका निभाते हैं। सभी वेब पेज एच टी एम एल व सी एस एस के इस्तेमाल से ही बनाये गए हैं। कुल मिलाकर हम ये कह सकते हैं कि web designing वेब डिजाइनिंग में यह तय होता है कि कोई वेब पेज एक browser ब्राउज़र में कैसे दिखाई देगा।

वेब डिजाइनिंग के लिए योग्यता और कोर्स 

वैसे इसमें किसी विशेष डिग्री की आवश्यकता नही होती है आप इसकी शुरुआत 10 या 10+2 pass करने के बाद कर सकते हैं। अगर आप ग्रेजुएट हैं तो ये आपके लिए और भी अच्छा है। इसके अलावा आप अतिरिक्त diploma course डिप्लोमा कोर्स या Computer science कंप्यूटर साइंस में डिग्री भी ले सकते हैं। अगर आपके पास थोडा बहुत स्किल हो और इस काम को करने में रूचि हो तो आप एक वेब डिज़ाइनर Web designer बन सकते हैं। वेब डिज़ाइनर बनने के लिए आपको एच टी एम एल HTML, CSS सी एस एस, जावास्क्रिप्ट जैसी लैंग्वेज के बारे में भी नॉलेज होनी जरुरी है। Coding कोडिंग, scripting स्क्रिप्टिंग का ज्ञान और सॉफ्टवेयर के उपयोग की जानकारी भी आवश्यक है। वेब डिजाइनिंग का कोर्स करना काफी आसान है और एक्सपर्ट बनने के लिए यह जरूरी भी है। एक वेब डिज़ाइनर के रूप में अपने पेशे को शुरू करने से पहले आपको कुछ जरुरी कोर्स जरूर लेने चाहिए। इस कोर्स को सीखने के लिए आप किसी Private institutes प्राइवेट इंस्टिट्यूट या कोई कोचिंग ज्वाइन कर सकते हैं जो की Web-Designing Course वेब डिजाइनिंग कोर्स करवाते हों। इन कोर्स को आप अगर चाहें तो Online ऑनलाइन भी सीख सकते हैं। इस कोर्स के अलग-अलग लेवल होते हैं जैसे कि beginner शुरुआत वालों के लिए, एक्सपर्ट के लिए।.इसको करने के कई कोर्स उपलब्ध हैं, जो कि निम्न हैं -

1- Online Course ऑनलाइन कोर्स - आज के समय में ऐसे कई ऑनलाइन कोर्स हैं जिनकी मदद से आप web designing वेब डिजाइनिंग सीख सकते हैं। आप किसी वेबसाइट के माध्यम से या ऑनलाइन टुइटोरिअल online tutorial से वेब डिजाइनिंग सीख सकते हैं। इसके अलावा paid course पेड कोर्स खरीदकर भी वेब डिजाइनिंग सीख सकते हैं। इन कुछ वेबसाइट से आप ऑनलाइन कोर्स कर सकते हैं जैसे -HTML Online एच टी एम एल ऑनलाइन , Udemy उदमी, LinkedIn Learning लिंकेडीन लर्निंग, Javatpoint जावापॉइंट ,HTML Drive एच टी एम एल ड्राइव, Lynda.com लिंडा डॉट कॉम आदि। 

2- Degree Courses डिग्री कोर्स -अगर आपको इस क्षेत्र में अच्छा नॉलेज प्राप्त करना है तो किसी अच्छे वेब डिज़ाइन कॉलेज में एडमिशन लेना जरुरी है। यहां से बैचलर्स डिग्री करने पर आप वेबसाइट से संबंधित हर चीज का नॉलेज प्राप्त कर लेते हैं जैसे किसी वेबसाइट को कैसे बनाते हैं। इसके अलावा ग्राफ़िक डिज़ाइन आदि के विषय में भी जानकारी हासिल कर सकते हैं। इसका एक फायदा यह होता है कि यदि आप किसी अच्छे कॉलेज से डिग्री लेते हैं तो आपको अच्छी जॉब मिल जाती है। 

3 - Certificate Course सर्टिफिकेट कोर्स - इस सर्टिफिकेट कोर्स को आप किसी छोटे इंस्टिट्यूट से 6 महीने या 1 साल का कोर्स कर सकते हैं। यहाँ पर आप काफी कुछ सीख सकते हैं। क्योंकि यहाँ पर शुरुआत से छोटी-छोटी सभी चीज़ें सिखायी जाती हैं। इस सर्टिफिकेट के द्वारा आपको कहीं जॉब भी मिल सकती है। इस कोर्स को करके आप वेबसाइट लैंग्वेज भी सीख जाते हैं। 

4 - Diploma Course डिप्लोमा कोर्स- इन सब कोर्स के अलावा वेब डिजाइनिंग करने के लिए आप डिप्लोमा कोर्स भी ले सकते हैं। यह कोर्स 1 से 2 साल तक का हो सकता है। डिप्लोमा कोर्स में वेबसाइट डिज़ाइन website design, HTML एच टी एम एल, CSS सी एस एस, JavaScript जावास्क्रिप्ट की जानकारी हासिल कर सकते हैं। साथ ही डिज़ाइन सॉफ्टवेयर जैसे अलग-अलग प्रकार के पाठयक्रम भी शामिल होते हैं। साथ ही सॉफ्टवेयर टूल के बारे में भी आपको जानकारी दी जाती है। 

वेब डिजाइनिंग में जॉब ऑप्शन क्या हैं 

वेब डिज़ाइन एक बहुत ही बेहतर करियर है। इस क्षेत्र में इतने सारे विकल्प हैं कि आप सरकारी और गैर सरकारी संस्था में आसानी से एक अच्छी और प्रतिष्ठित जॉब पा सकते हैं। वेब डिज़ाइन एक रोमांचक और आकर्षक करियर विकल्प है। वेब डिजाइनिंग में आपके पास जॉब की कोई कमी नहीं रहती है। इस जॉब में वेब डिज़ाइनर को समय-समय पर अपनी स्किल को अपडेट करना होता है। वेब डिज़ाइनर को Internet technology इंटरनेट टेक्नोलॉजी से भी पूरी तरह परिचित होना पड़ता है और यदि आपके पास बढ़िया कंप्यूटर प्रोग्रामिंग computer programming के साथ कोडिंग स्किल की नॉलेज है तो आपको अच्छी जॉब मिल सकती है। वेब डिज़ाइनर के पास problem solving skill प्रॉब्लम सॉल्विंग स्किल जरुर होनी चाहिए, जिससे वो समय-समय पर उत्पन्न हो रही प्रॉब्लम को सॉल्व कर सके, जैसे वेबसाइट में bugs बग्स या errors एर्रस का आना। अगर वेब डिजाइनिंग के क्षेत्र में करियर की बात की जाए तो इसका कोर्स पूरा करने के बाद आपको किसी वेब डिजाइनिंग कंपनी में आराम से नौकरी मिल सकती है या फिर आप अगर आप चाहे तो खुद की एक freelance company फ्रीलांस कंपनी भी खोल सकते है। वेब डिजाइनिंग का कोई कोर्स करने के बाद आपके पास जॉब करने के लिए कुछ ऑप्शन हैं जैसे - Web designer वेब डिज़ाइनर, UX analyst यू एक्स एनालिस्ट, Applications developer एप्लीकेशन डेवेलपर, UX designer यू एक्स डिज़ाइनर , Web developer वेब डेवेलपर, Multimedia programmer मल्टीमीडिया प्रोग्रामर, Multimedia specialist मल्टीमीडिया स्पेशलिस्ट , Web content manager वेब कंटेंट मैनेजर आदि।