facebook-pixel

पत्रकारिता में सोशल मीडिया मार्केटिंग का भविष्य

Share Us

1040
पत्रकारिता में सोशल मीडिया मार्केटिंग का भविष्य
24 Nov 2021
8 min read
TWN In-Focus

Post Highlight

सोशल मीडिया का भविष्य हर तरह से उज्ज्वल है, अगर हम तस्वीरों में 'न्यूज' एंगल News Angle पर विचार करें, तो सभी एजेंसीयों की सफलता देख सकते हैं। यह कहा जा सकता है की बेशक हमारे दिमाग में हर खबर को अलग ढग से देखने के विचार चलते रहते हैं।

Podcast

Continue Reading..

आजकल हमें हर जगह से ख़बरों की जानकारी मिलती है, सोशल मीडिया ने हमारे जीवन को काफी बदल दिया है। जहां कुछ लोग सोशल मीडिया के गलत प्रभाव में डूब जाते हैं, वहीं कुछ लोग इसके अच्छे प्रभावों पर ही ध्यान देते हैं। Netizens द्वारा किए गए प्रयासों के लिए धन्यवाद है की सच्ची खबरों को सोशल मीडिया से अन्य समाचार पोर्टलों तक बहुत आसानी से पहुँचाया जाता है। यह सोशल मीडिया Social Media को सबसे क़ीमती बनाता है। यहां हम आपको समाचार उद्योग News Industry के लिए सोशल मीडिया मार्केटिंग के भविष्य के बारे में बता रहे हैं।  

जैसे-जैसे दिन बीतता है, समाचारों को नज़रअंदाज करना कठिन होता जाता है। आप अपने आप से पूछ सकते हैं कि ऐसा क्यों होता है? इस प्रश्न का सही उत्तर आपके मोबाइल उपकरणों में है। क्योंकि कुछ हैशटैग Hashtag जल्दी से फैल जाते हैं, सोशल मीडिया किसी भी जानकारी को फैलाना आसान बना देता है। आजकल इस बात की संभावना भी होती है कि सुर्खियों में आने वाला अगला प्राणी आपका पालतू जानवर भी हो सकता है, जरा सोचिए सोशल मीडिया की ताकत कितनी बड़ी है।

 फैशनेबल Trendy

 सोशल मीडिया पर युवा लगातार बढ़ रहे हैं। इसलिए समाचार एजेंसियां News Agencies ​​अपने लाभ के लिए उपभोक्ता व्यवहार को सबसे अधिक जोड़ रही है। सोशल मीडिया पर समाचार देखने वाले दर्शकों को बड़े उपभोक्ता के रूप में जाना जाता है। जिस तरह ऋतुओं की तरह रुझान बदलते रहते हैं। समाचार एजेंसियों को हर बार बढ़ती प्रतिस्पर्धा का सामना करना पड़ता है, अगर आप चाहते हैं कि आपका न्यूज बिजनेस चलता रहे तो हर ट्रेंड Trend से खुद को अवगत जरुर कराएं।

 विज्ञापन नहीं No advertisement

 प्रिंट मिडिया print media में जहां पाठकों को समाचार पत्रों के लिए एक निश्चित राशि payment  का भुगतान करना पड़ता है, सोशल मीडिया विज्ञापनों पर यह नहीं चलता। यही बात इंटरनेट मीडियम को खास बनाती है। यदि कोई चैनल जो उपयोगकर्ताओं को सूचना तक सीधे पहुँचने हेतु भुगतान नहीं लेता, तो वह सोशल मीडिया ही है।

 बेहतर पहुंच Better reach

 15-19 वर्ष के बीच के युवाओं को लगता है कि अखबार के पन्ने पलटना एक बड़ी दिक्कत है, युवा लोगों का यह रवैया समाचार उद्योग के लिए अधिक लाभ देता है, क्योंकि सोशल मीडिया सभी आयु समूहों और समुदायों के लोगों से भरा पड़ा है। इससे एजेंसियों के लिए सोशल मीडिया पर दर्शकों तक पहुंचना आसान हो जाता है। हालांकि जब तक वे प्रत्येक पोस्ट के लिए शुल्क लेने का निर्णय नहीं लेते, तब तक आय उत्पन्न नहीं हो सकती।

 ग्राफिक्स Graphics

 जब तक सोशल मीडिया पोस्ट आकर्षक डिजाइनों Designs के साथ नहीं दिखते, साथ ही अच्छी टैगलाइन Tagline नहीं होती, तो उपयोगकर्ता का ध्यान आकर्षित करना लगभग असंभव हो जाता है। यहां तक ​​कि जीआईएफ GIF का इस्तमाल भी काफी तेजी से हो रहा है, जो काफी ध्यान खींचता है। यह समय बचाने वाला भी है और साथ ही साथ अनोखा भी है।

सोशल मीडिया का भविष्य हर तरह से उज्ज्वल है, अगर हम तस्वीरों में 'न्यूज' एंगल News Angle पर विचार करें, तो सभी एजेंसी की सफलता देख सकते हैं। यह कहा जा सकता है की बेशक हमारे दिमाग में हर खबर को अलग ढ़ग से देखने के विचार चलते रहते हैं।