facebook-pixel

एक बेहतर और सफल इंसान बनने के लिए पढ़ें ये किताब

Share Us

2564
एक बेहतर और सफल इंसान बनने के लिए पढ़ें ये किताब
04 Sep 2021
5 min read
TWN In-Focus

Post Highlight

अगर आपको भी लगता है कि आप अपना जीवन उस तरीके से नहीं जी पा रहे हैं जिसके आप हकदार हैं तो रॉबिन शर्मा द्वारा लिखी गई ये किताब आपकी बहुत मदद करेगी। किताब का नाम है- who will cry when you die? ( कौन रोएगा आपकी मृत्यु पर?) हमारा यकीन करें और इस पुस्तक को पढ़ें क्योंकि यह पुस्तक आपको जीवन जीने के नए तरीके बताएगी और आपकी ज़िन्दगी में एक मार्गदर्शक के रूप में साबित होगी।

Podcast

Continue Reading..

हम सब एक तेज़-तर्रार दुनियां में रहते हैं जहाँ समय तेजी से भाग रहा है। समय इतनी तेजी से फिसल रहा है कि कभी-कभी हम सभी को यह प्रतीत होता है कि क्या वास्तव में हम ज़िन्दगी जी रहे हैं या बस इस दुनियां में मौजूद हैं। अगर आपको भी लगता है कि आप अपना जीवन उस तरीके से नहीं जी पा रहे हैं जिसके आप हकदार हैं तो रॉबिन शर्मा द्वारा लिखी गई ये किताब आपकी बहुत मदद करेगी। किताब का नाम है- who will cry when you die? ( कौन रोएगा आपकी मृत्यु पर?) हमारा यकीन करें और इस पुस्तक को पढ़ें क्योंकि यह पुस्तक आपको जीवन जीने के नए तरीके बताएगी और आपकी ज़िन्दगी में एक मार्गदर्शक के रूप में साबित होगी। 

इस पुस्तक के लेखक रॉबिन शर्मा ने द मॉन्क हू सोल्ड हिज़ फेरारी, द ग्रेटनेस गाइड और द लीडर हू हैड नो टाइटल जैसी कई बेस्टसेलर पुस्तकें लिखी हैं, जो 92 से भी अधिक भाषाओं में प्रकाशित हो चुकी हैं।

हमारे जीवन में कई जटिल समस्याएं होती हैं, जिनका हम समाधान ढूंढने की कोशिश करते हैं और इसीलिए हमने आपको यह पुस्तक पढ़ने को कहा है। इस पुस्तक में रॉबिन शर्मा ने जीवन की कुछ जटिल समस्याओं का समाधान 101 छोटे पाठ के रूप में बताया है। इस पुस्तक के पहले ही पाठ में कुछ ऐसा लिखा है, जो आपको भी उसका उत्तर सोचने पर मजबूर कर देगा कि कौन रोएगा आपकी मृत्यु पर?

इस पुस्तक को पढ़ कर आपको लगेगा कि जीवन में बिना किसी उद्देश्य के रहने से अच्छा है कि उद्देश्य बनाओ और उसे पूरा करो। आपको महसूस होगा कि अपने आस पास के लोगों पर आप अपना प्रभाव कैसे डाल सकते हैं। ताकि जिस दिन आप इस दुनिया में ना रहें, उस दिन लोगों को भी एक कमी सी महसूस हो।

इस पुस्तक की कुछ प्रसिद्ध पक्तियां नीचे दी गई हैं-

  • जब तुम पैदा हुए थे तो तुम रोए थे जबकि पूरी दुनिया ने जश्न मनाया था। अपना जीवन ऐसे जियो कि तुम्हारी मौत पर पूरी दुनिया रोए और तुम जश्न मनाओ।
  • एक सीख जो मैंने अपने जीवन से ली है वह यह है कि अगर हम अपने जीवन का नियंत्रण अपने हाथ में नहीं लेते हैं तो जीवन हमें नियंत्रित करने लगता है। दिन हफ्तों में बीत जाते हैं, हफ्ते महीनों में और महीने सालों में। सब कुछ इतना जल्दी खत्म हो जाता है कि हम सब जीवन को पूर्णता के साथ ना जी पाने का अफसोस करते रह जाते हैं।
  • जिस तरह से आप अपने दिन की शुरुआत करते हैं, वही तय करता है कि आप अपने दिन को कैसे जीएंगे।

इस पुस्तक में रॉबिन शर्मा ने जीवन में होने वाली सभी गतिविधियों पर ध्यान केंद्रित किया है और आत्म अनुशासन, लक्ष्य, कठिनाइयों, परिवार, दोस्त, प्रकृति, लगभग सभी बातों का जिक्र किया है।

रॉबिन शर्मा ने कहा है अपना सर्वश्रेष्ठ देने के लिए हमें कुछ अलग करना पड़ता है तभी लोग हमें हमारे ना रहने पर भी याद करते हैं। अपने समय का सदुपयोग कर आप अपने जीवन में कई सकारात्मक बदलाव ला सकते हैं। तो अगर आप भी अपना जीवन बिना किसी उद्देश्य के जी रहे हैं तो ये पुस्तक जरूर पढ़ें।