facebook-pixel

राजस्थानी मोजरी को व्यवसाय के तौर पर शुरू करें

Share Us

2607
राजस्थानी मोजरी को व्यवसाय के तौर पर  शुरू करें
06 Oct 2021
4 min read

Post Highlight

राजस्थानी मोजरी पहनने में टिकाऊ, हल्की, कोमल और देखने में बहुत ही सुन्दर होती हैं और ये मोजरी पूरे विश्व में प्रसिद्ध है इसलिए इन सब गुणों को देखते हुए ये बिज़नेस शुरू करना फायदेमंद हो सकता है। किसी भी व्यवसाय का सीधे तौर पर देश के सामाजिक और आर्थिक विकास में बहुत बड़ा हाथ होता है।

Podcast

Continue Reading..

आजकल अधिकतम लोग बेरोजगारी से परेशान हैं, हर कोई चाहता है कि कुछ ऐसा करें जिससे कुछ कमाई का साधन मिल जाए। आजकल लोग किसी और के लिए काम करने की बजाय खुद का बिज़नेस शुरू करना चाहते हैं। परन्तु हर कोई इस उलझन में रहता है कि कौन सा बिजनेस शुरू करें। वैसे तो आजकल बहुत सारे बिजनेस हैं, जिन्हें आप शुरू कर सकते हैं पर एक बिज़नेस जिसमें आप अच्छी कमाई के साथ नाम भी कमा सकते हैं। क्योंकि ये पूरे विश्व भर में प्रसिद्ध हैं और इसकी मार्केट में अच्छी डिमांड भी रहती है। आइये बात करते हैं राजस्थानी मोजरी की। राजस्थानी मोजरी को आप व्यवसाय के तौर पर शुरू कर सकते हैं। ये वो नाम है जो रजवाड़ो की पसंद हुआ करते थे। राजस्थानी मोजरी की मांग बहुत दूर-दूर तक है। आज भी दूर-दूर से लोग राजस्थानी मोजरी लेने आते हैं या मंगा लेते हैं। इनकी एक अलग ही पहचान है, एक अलग ही रुतबा है। इसलिए इस बिज़नेस को एक स्टार्टअप के रूप में शुरू किया जा सकता है।

राजस्थान भारत का एक राज्य है। राजस्थान का नाम सुनते ही आंखो के सामने रेगिस्तान, ऊंट, बैलगाड़ी इत्यादि ये सब दिखता है, पर इन सब के अलावा एक बहुत ही प्रसिद्ध चीज़ है राजस्थान की, जिसको राजस्थानी जूती व मोजरी के नाम से जाना जाता है। शायद ही कोई ऐसा होगा जो राजस्थान की बनी जूतियों के बारे में न जानता हो। जोधपुर की जूतियां एवं नोहर की जूतियां काफी चर्चित हैं। इनमें से एक है लाखड़ती जूती। टिकाऊपन, कोमलता तथा वजन में हल्‍का होना इस जूती की खासियत है। इसलिए आप इस बिज़नेस को शुरू करके अच्छी कमाई का साधन बना सकते हैं। क्योंकि आजकल हर कोई टिकाऊ और हल्की जूतियां ही पहनना पसंद करता है। राजस्‍थान से बाहर भी इन जूतियों की खूब मांग है। लोग आर्डर देकर ये जूतियां मंगवाते हैं, विशेषकर राजस्‍थानी उत्‍पादों की जानकारी और पहचान रखने वाले लोग। रजवाड़ों की पहचान कहे जाने वाले इस राजस्थानी जूती के लोग दीवाने हो जाएंगे।

इसको कम पूँजी से शुरू किया जा सकता है और ये लम्बे समय तक चलने वाला व्यवसाय है। माइक्रो यूनिट्स डेवलपमेंट एंड पुनर्वित एजेंसी मुद्रा नामक योजना के अंतर्गत बहुत छोटे उद्यमियों को 50000 से लेकर 10 लाख तक के कर्ज मिल जाते हैं। लघु उद्योग, स्वरोजगार एवं प्रबंध क्षेत्रों में मार्गदर्शक का कार्य करते हैं। इस योजना से लघु, घरेलू उद्योग परियोजनाएं नए उद्यमियों को व्यवसाय की तरफ जाने के लिए प्रेरित करती हैं, जिससे वह आर्थिक रूप से मजबूत होकर देश के विकास में भी योगदान देते हैं। ऐसे ही कम पूँजी होने पर भी आप राजस्थानी मोजरी का व्यवसाय शुरू कर सकते हैं। ऐसे छोटे व्यवसाय से शुरू करके पिछले 50 सालों में लघु उद्योगों ने बहुत प्रगति की है। ये बिजनेस भी अच्छा चलेगा क्योंकि कई लोगों को रेडीमेड जूतियां पहनने में दिक्कत होती है। इन जूतियों से पसीना जलन और पैरों में साइड इफ़ेक्ट होते हैं पर राजस्थानी मोजरी हैंडमेड होती है और ये शुद्ध पदार्थों से बनायी जाती हैं, इसलिए इनकी डिमांड ज्यादा है और ये कीमत में भी ज्यादा महंगे नहीं होते हैं। देखने में भी बहुत खूबसूरत होती हैं इसलिए इनको पहनना हर कोई पसंद करता है तो कुल मिलकर ये कह सकते हैं कि ये व्यवसाय के रूप में एक अच्छा विकल्प साबित हो सकता है और राजस्थानी मोजरी को आप व्यवसाय के तौर पर चुन सकते हैं।

राजस्थानी मोजरी पहनने में टिकाऊ, हल्की, कोमल और देखने में बहुत ही सुन्दर होती हैं और ये मोजरी पूरे विश्व में प्रसिद्ध है इसलिए इन सब गुणों को देखते हुए ये बिज़नेस शुरू करना फायदेमंद हो सकता है। किसी भी व्यवसाय का सीधे तौर पर देश के सामाजिक और आर्थिक विकास में बहुत बड़ा हाथ होता है।