facebook-pixel

सकारात्मक सोच ही सफलता की कुंजी है

Share Us

1282
सकारात्मक सोच ही सफलता की कुंजी है
20 Jan 2023
9 min read
TWN Special

Post Highlight

जब आप चीजों की तरफ सकारात्मक दृष्टिकोण रखते हैं तब निराशाजनक स्थिति या विफलता के समय भी आपको मोटिवेशन मिलता है कि भविष्य अच्छा होगा और आप मेहनत करना नहीं भूलते हैं। कई अध्ययनों में यह साबित हुआ है कि सकारात्मक दृष्टिकोण सकारात्मक विचारों को उत्पन्न करने में मदद करता है। आप जैसा सोचते हैं आप वैसे ही बनते हैं, इसीलिए जिंदगी में सफलता पाने के लिए सकारात्मक विचारों का होना बहुत जरूरी है।

अपने जीवन में सकारात्मकता लाकर कोई भी व्यक्ति खुशी और सफलता की किसी भी ऊंचाईयों तक पहुंच सकता है। यह सिर्फ सोच की बात है। आप अपनी सोच में बदलाव लाकर जीवन में सफल हो सकते हैं और उन लोगों से बेहतर प्रदर्शन कर सकते हैं जो जिंदगी में नकारात्मक दृष्टिकोण रखते हैं। आइये जानते है की कैसे सकारात्मक सोच ही सफलता की कुंजी है Positive Thinking Is The Key To Success।

Podcast

Continue Reading..

जब भी आप किसी करियर काउंसलर से बात करते हैं, कोई मोटिवेशनल किताब motivational book पढ़ते हैं या कोई मोटिवेशनल वीडियो देखते हैं तो उसमें अक्सर सकारात्मक सोच की चर्चा होती है। हर कोई अपने जीवन में सफल होना चाहता है और इसके लिए हम निरंतर प्रयास और मेहनत करते रहते हैं। प्रयास और मेहनत तो अपनी जगह सही है, लेकिन इसके साथ-साथ आपको और भी कई बातों का ध्यान रखना जरूरी है। उन्हीं में से एक है- सकारात्मक सोच। जब आप चीजों की तरफ सकारात्मक दृष्टिकोण positive outlook रखते हैं तब निराशाजनक स्थिति या विफलता के समय भी आपको मोटिवेशन मिलता है कि भविष्य अच्छा होगा और आप मेहनत करना नहीं भूलते हैं।

मनुष्य ही एक ऐसा प्राणी है, जो अपने विचारों से बना है। एक व्यक्ति जैसा सोचता है, वह ठीक वैसा ही बन जाता है और यही कारण है कि हमें अक्सर ये सलाह दी जाती है कि हमें अपनी सोच के दायरे को बड़ा करना चाहिए क्योंकि अगर आप अपनी सोच को सीमित रखेंगे तो अपने सपनों को कभी पूरा नहीं कर पाएंगे। हमें हमेशा अपने सोच के दायरे को बड़ा रखना चाहिए क्योंकि ऐसा कहा जाता है कि आप जैसा सोचेंगे, आपको वैसा ही मिलेगा। किसी भी चीज़ को पाने से पहले आपको उसके बारे में सोचना पड़ेगा। सफलता और हमारे बीच की दूरी में ज्यादा फर्क नहीं है, यह दूरी बस कुछ कदम की ही है लेकिन सफलता उन्हीं को मिलती है जो नकारात्मक सोच को त्याग देते हैं और स्वयं को इस योग्य समझते हैं कि मेहनत करने पर वह सब कुछ हासिल कर लेंगे। मात्र बड़ी सोच रखने पर ही आपके जीवन में गजब का परिवर्तन आएगा इसीलिए अब समय आ गया है कि आप भी सकारात्मक सोच की ताकत को समझें। 

हमारा जीवन सतत प्रवाहशील है और यहां ढेर सारी खुशियों के बीच में दुखों का भी आना जाना लगा रहता है इसलिए ये मान लीजिए कि आप किसी भी परिस्थिति से बच नहीं सकते हैं। सुख मिला है तो दुख भी मिलेगा। हां, लेकिन आप स्वयं को इस परिस्थिति से भावनात्मक एवं आध्यात्मिकता के सहारे बचा सकते हैं।

दरअसल, जब आप हर चीज की तरफ सकारात्मक दृष्टिकोण रखते हैं तो इसका असर आपके व्यक्तिगत जीवन के साथ-साथ व्यावसायिक जीवन professional life पर भी पड़ता है और आप अपने आप में एक सकारात्मक बदलाव महसूस करते हैं। सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि सकारात्मक सोच आपके दृष्टिकोण को बदल देती है जिससे कठिनाइयों के समय भी आप अपने आप को धैर्यवान और शांत पाते हैं। तो चलिए जानते हैं कि किन कारणों की वजह से सकारात्मक सोच सफलता की कुंजी है।

सकारात्मक सोच ही सफलता की कुंजी है Positive Thinking Is The Key To Success

1.सकारात्मक दृष्टिकोण रखने से सकारात्मक विचार आते हैं

कई अध्ययनों में यह साबित हुआ है कि सकारात्मक दृष्टिकोण सकारात्मक विचारों को उत्पन्न करने में मदद करता है। आप जैसा सोचते हैं आप वैसे ही बनते हैं, इसीलिए जिंदगी में सफलता पाने के लिए सकारात्मक विचारों का होना बहुत जरूरी है।

2.सकारात्मक सोच रखने वाले लोगों में कार्यभार संभालने का आत्मविश्वास होता है

हर चीज के प्रति सकारात्मक दृष्टिकोण रखने और अपनी सभी क्षमताओं पर विश्वास करने से आप जीवन में आसानी से सफलता प्राप्त कर सकते हैं। जब आप खुद पर भरोसा करेंगे, तभी दुनिया आप पर भरोसा करेगी। जब आप सकारात्मक दृष्टिकोण रखते हैं तब आप बेहतर नेतृत्व करते हैं और आपके अंदर अपने लक्ष्यों को प्राप्त करने का एक जुनून होता है और आगे चल कर आप लोगों के लिए मिसाल बनते हैं।

3.सकारात्मक दृष्टिकोण आपको तनाव से दूर रखता है

जब आप जीवन की हर स्थिति के प्रति सकारात्मक दृष्टिकोण रखते हैं तब आपको भविष्य की चिंता worry about the future नहीं होती क्योंकि आपको पता होता है कि परिणाम आपके हित में होगा। अगर अपना सर्वश्रेष्ठ देने के बाद भी परिणाम आपके हित में नहीं होता है तब आप फिर से एक सकारात्मक सोच के साथ और मेहनत करते हैं। सकारात्मकता पर विश्वास believe in positivity करके आप अपने सभी तनावों को दूर रख सकते हैं।

4.सकारात्मक दृष्टिकोण आपको सही निर्णय लेने में मदद करता है

जब आप हर चीज को सकारात्मक नज़रिए से देखते हैं तो आप जिंदगी में सही निर्णय ले पाते हैं। आप तनाव और सोच में पड़ने की बजाय सही मात्रा में सोच विचार करने पर ज्यादा ध्यान देते हैं।

5.सकारात्मक दृष्टिकोण रखने वालों लोगों का स्वास्थ नकारात्मक दृष्टिकोण रखने वाले लोगों से बेहतर होता है

नकारात्मक सोच रखने वाले लोग हमेशा दुखी और चिंतित रहते हैं वहीं दूसरी ओर सकारात्मक सोच रखने वाले लोग हमेशा खुश रहते हैं। हमेशा दुखी और चिंचित रहने से आपको डिप्रेशन, ब्लड प्रेशर जैसी समस्याएं हो सकती हैं, इसलिए अपने बेहतर स्वास्थ के लिए आज से ही नकारात्मक विचारों का त्याग letting go of negative thoughts कर सकारात्मक विचारों को अपनाना शुरू कर दीजिए।

6.सकारात्मक दृष्टिकोण रखने वाले लोग जिंदगी में ज्यादा सफल होते हैं

जाहिर सी बात है जब आपका स्वास्थ्य अच्छा है, आप सही निर्णय ले रहे है, आप तनावमुक्त जीवन जी रहे हैं और आपको खुद पर विश्वास है, तो भला आपको सफल होने से कौन रोकेगा। शोध में भी पाया गया है कि सकारात्मक दृष्टिकोण रखने वाले लोग नकारात्मक दृष्टिकोण रखने वाले लोगों की तुलना में जिंदगी में ज्यादा सफल होते हैं।

Also Read : इन लोगों ने तय किया असफलता से सफलता का सफर

अब जब आप जान चुके हैं कि सकारात्मक सोच आपको सफलता की ओर ले जा सकती है। तो चलिए जानते हैं कि- 

जिंदगी में सकारात्मक नजरिया कैसे रखें how to have a positive attitude in life

1. आप क्या बोल रहे हैं और क्या सोच रहे हैं, यह एक बड़ा बदलाव ला सकता है। मैं ये काम नहीं कर सकता, मैं इस काम के लिए नहीं बना हूं, अरे! ये तो संभव ही नहीं है जैसे वाक्यों का प्रयोग करना अब बंद कर दीजिए। हमेशा सकारात्मक वाक्यों का प्रयोग करें। जैसे- ये काम किया जा सकता है, ये संभव है, मैं ये काम कर सकता हूं और अपना सर्वोत्तम प्रदर्शन दूंगा आदि।

2. ऐसे लोगों से ज्यादा दोस्ती ना रखें जो हमेशा नकारात्मक सोचते हैं और आपको भी नकारात्मक महसूस कराते हों। ऐसे लोगों के साथ अपना समय बिताएं, जो सकारात्मक सोचते हैं।

3. जब भी आपको नकारात्मक ख्याल आएं, तो अपनी उपलब्धियों को याद करें और नकारात्मक सोच को सकारात्मक दृष्टिकोण में बदलें।

4. कोई भी नया काम शुरू करने से पहले यह दृष्टिकोण रखें कि यह कार्य भविष्य में सफल होगा और अब तक का आपका सबसे बेहतरीन काम साबित होगा। फिर उस काम में अपना 100 प्रतिशत दीजिए।

5. किताबें आपकी जिंदगी बदल सकती हैं। अगर आप व्यस्त रहते हैं और आपके पास पढ़ने का समय नहीं है तो कम से कम किसी भी अच्छी मोटिवेशकल बुक का दो पृष्ठ अवश्य पढ़े।

ऐसा कहते हैं कि सफलता की कोई मंजिल नहीं है, यह तो एक यात्रा है जो कभी खत्म ही नहीं होती है। इस यात्रा में वही व्यक्ति खुशहाल रहता है जो सदैव खुश रहता है और सकारात्मक सोच रखता है। आइए सुखी और संपन्न जीवन के कुछ सूत्रों को जानते हैं -

सुखी और संपन्न जीवन के कुछ सूत्र Some tips for a happy and prosperous life

  • अपने जीवन की प्राथमिकताएं निश्चित करें और उन्हें एक कागज पर लिखें और पूरे मन से उन प्राथमिकताओं को पूरा करने में लग जाएं।
  • आदर्श स्थापित करने के लिए सफल और खुश व्यक्तियों की जीवनियों को पढ़ें। 
  • अपनी और दूसरों की गलतियों से सबक लेना ना भूलें।
  • जब तक आप जो चाहते हैं उसके लिए एकाग्र नहीं हैं, तब तक आप उस चीज़ को नहीं पा सकते हैं। 
  • कुछ पाने के लिए कुछ खोना भी पड़ता है इसीलिए जीवन में आगे बढ़ना है तो खतरा उठाओ।
  • जब हम कुछ नया सीखते हैं तो हमें अच्छा लगता है और हम ज्यादा खुश रहते हैं इसीलिए रोज़ कुछ नया सीखो।
  • अपनी तुलना किसी अन्य व्यक्ति से ना करें। 

निष्कर्ष

अपने जीवन में सकारात्मकता लाकर कोई भी व्यक्ति खुशी और सफलता की किसी भी ऊंचाईयों तक पहुंच सकता है। यह सिर्फ सोच की बात है। आप अपनी सोच में बदलाव लाकर जीवन में सफल हो सकते हैं और उन लोगों से बेहतर प्रदर्शन कर सकते हैं जो जिंदगी में नकारात्मक दृष्टिकोण रखते हैं।

आगाह रहें, आभारी रहें, सकारात्मक रहें, सच रहें, दयालु बनें (Be mindful. Be grateful. Be positive. Be true. Be kind.) - Roy T. Bennett