facebook-pixel

नेटवर्क मार्केटिंग में क्यों मिलती असफलता

Share Us

952
नेटवर्क मार्केटिंग में क्यों मिलती असफलता
08 Nov 2021
4 min read
TWN In-Focus

Post Highlight

किसी भी व्यवसाय की सफलता में फोकस का बड़ा योगदान होता है। निरंतर फोकस रखने और प्रयास करते रहने से किसी भी व्यवसाय को बढ़ाया जा सकता है। लेकिन इसके साथ-साथ किसी भी काम को करने के लिए वजह का होना भी आवश्यक है कि आखिर हम वह काम क्यों करना चाहते हैं। इसलिए वजह के साथ-साथ मनुष्य के अंदर एक चाह भी होनी चाहिए। नेटवर्क मार्केटिंग में अक्सर लोग यह सारी गलतियां करते हैं, जिसके कारण वह इसमें असफल होते हैं। अगर आप भी नेटवर्क मार्केटिंग व्यवसाय में अपने कदम रखना चाहते हैं तो इन गलतियों पर विशेष ध्यान देने की आवश्यकता है।

Podcast

Continue Reading..

वर्तमान समय में हर व्यक्ति घर बैठे काम करने की कोशिश करता है। वह ऐसे काम की तलाश करता है, जो घर बैठे आसानी से हो जाए। ऐसे में नेटवर्क मार्केटिंग एक बेहतर अवसर प्रदान करता है। लोग घर बैठे अपने मोबाइल फोन से अपने व्यवसाय को चलाते हैं। हालांकि कुछ ही लोग इसमें सफल हो पाते हैं, बाकि कुछ लोग अपनी कई गलतियों के कारण असफल होते हैं। चुनौतियां सभी के साथ आती हैं, लेकिन उन चुनौतियों से निकलने के लिए प्रयास न करना किसी काम को सफल‌‌ नहीं बनाता। निरंतर लगन से काम करना और परेशानियों से न भागना ही सफलता की कुंजी होती है। 

नेटवर्क मार्केटिंग में लोग क्यों होते हैं असफल?

आज के समय में घर बैठे व्यवसाय कौन नहीं शुरू करना चाहता। हर कोई घर बैठे काम करना पसंद करता है। इसी कारण आज नेटवर्क मार्केटिंग मॉडल के उपलब्ध होने से घर बैठे बिज़नेस करना आसान हो गया है। अनेक कंपनियां अपने उत्पादों को बेचने के लिए नेटवर्किंग मॉडल को अपनाती हैं और लोगों को घर बैठे व्यवसाय करने का अवसर देती हैं। नेटवर्क मार्केटिंग एक ऐसा व्यवसाय मॉडल है जहॉं उत्पादों  की बिक्री निर्माताओं से सीधा उपभोक्ताओं तक की जाती है जिसके लिए कई लोग एक नेटवर्क में काम करते हैं। आज डिजिटल युग में तो यह और भी आसान हो गया है, लोग केवल अपने मोबाइल इस्तेमाल करके फोन से घर बैठे काम कर सकते हैं। यह अवसर तो अच्छा है और इस नेटवर्किंग उद्योग में काम करने वाले लोगों की कमी भी नहीं है। लोग इस बिज़नेस मॉडल को देखकर इस उद्योग में कदम तो रख लेते हैं लेकिन सफलता कुछ ही लोगों के हाथ लग पाती है। आखिर ऐसा क्यों होता है कि ज़्यादातर लोग इसमें असफल हो जाते हैं।

1. ना पूरी होने वाली उम्मीदें

कुछ लोग यह व्यवसाय अनेक उम्मीदों के साथ शुरू करते हैं और अगर वह उम्मीदें पूरी नहीं होती तो वह बिज़नेस को दोष देने लगते हैं और उसे छोड़ देते हैं। वह चाहते हैं कि वे रातों-रात अमीर बन जाए। इसके लिए वे मात्र कुछ लोगों को बिज़नेस से जोड़कर खुद काम करना छोड़ देते हैं। कुछ लोग तो यह सोचते हैं कि अन्य लोग खुद उनके पास आएं और बिज़नेस करें। ऐसा ना होने पर उन्हें यह काम मुश्किल लगने लगता है और वह इस काम को बंद कर देते हैं।

2. सपनों की कमी

कई लोगों के पास बड़े सपने नहीं होते। हालांकि वह अपने मौजूदा हालातों में खुश नहीं रहते लेकिन फिर भी वह उसे ठीक करने का प्रयास भी नहीं करते। अधिकतर लोग नेटवर्क मार्केटिंग में केवल अपने सपनों में आधार की कमी होने के कारण असफल होते हैं। 

3. असावधानी

कुछ लोग अपने काम के साथ-साथ पार्ट टाइम में नेटवर्क मार्केटिंग को शुरू तो कर लेते हैं लेकिन उसे संभाल नहीं पाते। अपने काम, दोस्तों और परिवार के साथ व्यस्त होने के कारण वह इस बिज़नेस को समय नहीं दे पाते। इसी कारण व इस बिजनेस को नज़रअंदाज करने लगते हैं। इससे फर्क नहीं पड़ता कि कोई पेड़ कितना अच्छा है, अगर उसे रोज खाद और पानी ना दिया जाए तो निश्चित ही एक दिन वह मुरझा जाता है। यही नेटवर्क मार्केटिंग के साथ भी होता है कि इसे समय ना देने के कारण लोग इसमें असफल हो जाते हैं।

4. उत्पादों की जानकारी न होना

कुछ लोग बिज़नेस से जुड़ तो जाते हैं लेकिन उन्हें उत्पादों की उचित जानकारी ही नहीं होती। मार्केटिंग में उत्पादों की जानकारी एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है। इसकी कमी में व्यवसाय पर बुरा प्रभाव पड़ता है। उत्पादों की जानकारी न होने के बाद भी लोग जानकारी लेने में चाह नहीं रखते। इसी कारण उन्हें निराशा हाथ लगती है।