facebook-pixel

जानिए शीर्ष महिला उद्यमी वंदना लूथरा के बारे में

Share Us

2267
जानिए शीर्ष महिला उद्यमी वंदना लूथरा के बारे में
05 Jan 2022
6 min read
TWN In-Focus

Post Highlight

वंदना लूथरा Vandana Luthra सबसे बड़े और प्रतिष्ठित भारतीय उद्यमियों में से एक हैं। एक सफल ब्रांड बनाने के लिए कड़ी मेहनत और समर्पण.जरुरी है। वंदना लूथरा दृढ़निश्चयी और साहसी महिला हैं। वह मानती हैं कि महिलाओं के पास असाधारण व्यावसायिक क्षमताएं हैं और वे कुछ कर सकती हैं। दृढ़ संकल्प और कड़ी मेहनत से उन्होंने सफलता हासिल की है। वंदना कहती हैं कि उनकी यात्रा ने उन्हें कई तरह के सबक सिखाए हैं जो कई मायनों में जीवनदायी हैं। अपनी बचत की छोटी सी रकम से साल 1989 में दिल्ली में वीएलसीसी (VLCC Beauty & Wellness) की शुरूआत हुई। वह वीएलसीसी हेल्थ केयर लिमिटेड की संस्थापक और ब्यूटी एंड वेलनेस सेक्टर स्किल एंड काउंसिल (B & WSSP) की चेयरपर्सन भी हैं। 50 पावर बिजनेसवुमेन businesswomen के फोर्ब्स एशिया की सूची Forbes Asia list 2016 में लूथरा को 26 वां स्थान दिया गया। आज VLCC कंपनी सिर्फ भारत ही नहीं अंतराष्ट्रीय स्तर international level पर भी प्रसिद्ध है।

Podcast

Continue Reading..

जीवन में सबसे महत्वपूर्ण है कि चलते रहें और पीछे मुड़कर न देखें। अगर आप ऐसा करने में सक्षम हैं तो आप जीवन में कभी हार नहीं सकते, आपकी जीत निश्चित है। यह सच है कि सफलता की यात्रा कठिन है, लेकिन अगर आत्मनिर्णय बना रहे, तो सब कुछ संभव है। वंदना लूथरा Vandana Luthra आज इतना बड़ा नाम है कि आज के समय में वह किसी नाम की मोहताज नहीं है। Vandana Luthra सबसे लोक-प्रिय पद्मश्री अवार्ड Padma Shri Award से सम्मानित और VLCC Health Care Limited की Founder हैं। वह Beauty and Wellness Sector Skill Council ब्यूटी एंड वेलनेस सेक्टर स्किल काउंसिल (B & WSSC) की चेयरपर्सन भी हैं। ये सफलता उन्हें ऐसे ही नहीं मिली। इसके लिए उन्होंने जी-तोड़ मेहनत भी की है। जानते हैं कैसे पहुंची वंदना Vandana इस मुकाम तक। 

वीएलसीसी की शुरूआत VLCC Launched

1989 में दिल्ली में वीएलसीसी VLCC Beauty & Wellness की शुरूआत हुई थी। उस समय फिटनेस व ब्यूटी दोनों को मिलाकर वेलनेस मार्केट wellness market एक नया क्षेत्र था। आज यह सौंदर्य और स्वास्थ्य beauty and health की एक बड़ी कंपनी है। वीएलसीसी चिकित्सक, फिजियोथेरेपिस्ट physiotherapist, पोषण विशेषज्ञ nutritionist और कॉस्मेटोलॉजिस्ट cosmetologist नियुक्त करता है और वजन घटाने के समाधान और सौंदर्य उपचार के लिए चिकित्सीय दृष्टिकोण की दिशा में काम करता है। ब्यूटी एंड वेलनेस क्षेत्र की माहिर वंदना लूथरा को आज कौन नहीं जानता। वंदना लूथरा का यहाँ तक पहुंचना इतना आसान नहीं था, इसके लिए उन्होंने बहुत मेहनत भी की है। वह चाहती थीं कि उनका ब्रांड क्लिनिकल Brand clinical हो न कि ग्लैमर। भारत सरकार ने अपने सर्वोच्च नागरिक पुरस्कारों में से एक, पद्म श्री से वंदना लूथरा को सम्मानित किया है। वह कहती हैं कि भारत सरकार महिलाओं के विकास और उद्यमी बनने के लिए बहुत उत्सुक है।

पहले खुद कारोबार की बारीकियाँ सीखी

वंदना अपने पिता के साथ जर्मनी Germany की यात्राओं पर जाती थी। उन्होंने देखा कि स्वास्थ्य और कल्याण उद्योग health and wellness industry जर्मनी में तब अच्छी तरह से चल रहा था और यह अभी भी भारत में लगभग एक अछूता विषय था इसलिए उन्होंने नई दिल्ली New Delhi में पॉलिटेक्निक फॉर वूमेन से डिग्री हासिल की। इसके लिए उन्होंने भारत में स्वास्थ्य और कल्याण के लिए एक आउटलेट शुरू करने का सोचा। तब उन्होंने जर्मनी में पोषण और कॉस्मेटोलॉजी Nutrition and Cosmetology में अपनी पढ़ाई पूरी की और इसके बाद लंदन London, म्यूनिख Munich और पेरिस Paris में ब्यूटी केयर beauty care, फिटनेस, फूड एंड न्यूट्रीशन Food and Nutrition और स्किन केयर में कई स्पेशलाइज्ड कोर्स और माॅड्यूल Specialized courses and modules किए। वंदना लूथरा ने फिटनेस और ट्रांसफोर्मेशन के व्यवसाय में कदम रखने से पहले कारोबार की बारीकियों को समझने के लिए इस क्षेत्र में पहले खुद पढ़ाई की। क्योंकि उन्हें पता था कि बिना पढ़ाई के वह इसमें सफलता हासिल नहीं कर पायेगी। इस तरह से उन्हें कारोबार की बारीकियाँ काफी कुछ समझ में आ गयी थी। फिर जाकर उन्होंने 1989 में नई दिल्ली में सफदरजंग एन्क्लेव Safdarjung Enclave में पहला वीएलसीसी VLCC केंद्र स्थापित किया।

वीएलसीसी के लिए वंदना लूथरा का सफर Vandana Luthra's Journey for VLCC

जब वंदना लूथरा ने अपना व्यवसाय शुरू किया था, तब कोई भी महिला उद्यमी नहीं होती थी। उन दिनों कुछ गिनी-चुनी महिलाएं ही उद्यमी entrepreneur के रूप में दिखाई देती थीं। इसलिए उन्हें कई बार लोगों की आलोचनाओं का भी सामना करना पड़ा लेकिन उन्होंने इन सब बातों पर ध्यान नहीं दिया और अपना सफर जारी रखा। उन्हें पता था कि उन्होंने एक अलग और ऐसे क्षेत्र में कदम रखा है जो भविष्य में अपनी एक पहचान बनाएगा और ऐसा हुआ भी। वंदना की जेब में सिर्फ दो हजार रुपये थे। बैंक से लोन लेकर वंदना ने VLCC में कदम रखा। उस समय लोग ब्यूटी पार्लर को तो जानते थे, लेकिन ट्रांस्फाॅर्मेशन सेंटर transformation center के बारे में लोगों को अंदाजा भी नहीं था लेकिन उनकी मेहनत रंग लाई और दिल्ली Delhi के सफदरजंग Safdarjung में खोला गया उनका पहला सैलून Salon लोगों को पसंद आ गया। अपने पहले आउटलेट Outlet की स्थापना के एक महीने के बाद ही ग्राहक customer उनके काम से संतुष्ट थे और वह ग्राहकों को अपनी ओर आकर्षित करने में सफल हो रही थी। 

Related: महिलाएं – जिन्होंने लिखी सफलता की नयी परिभाषा

VLCC आज वेलनेस कम्पनियों में शुमार

आज VLCC कंपनी देश के साथ-साथ विश्व स्तर पर भी फेमस है। वर्तमान में संगठन स्लिमिंग slimming, ब्यूटी ट्रीटमेंट beauty treatment, लेजर, हेयर ट्रांसप्लांट hair transplant जैसी सर्विस प्रदान करता है। स्वास्थ्य और कल्याण health and wellness के साथ काम करने के लिए डॉक्टरों को आश्वस्त करने में पहले तो उन्हें परेशानी हुई। उनका मानना है कि महिलाओं के पास असाधारण व्यावसायिक क्षमताएं हैं और वे कुछ भी हो सकती हैं। आज उनके सपने और विज़न dreams and vision ने दुनिया भर के लोगों को प्रभावित किया है। VLCC नाम के प्रोडक्ट आज हर किसी के घर में देखने को मिल जाएंगे। VLCC के सेंटर 18 देशों के 125 शहरों में 350 से अधिक जगहों पर मौजूद है। 39 देशों के स्टाफ VLCC में काम करते हैं। भारत और सिंगापुर में वीएलसीसी के अपने प्लांट हैं जिनमें स्किन केयर, हेयर केयर और बाॅडी-केयर Skin Care, Hair Care & Body Care प्रोडक्ट product का उत्पादन भी होता है। VLCC में पूरी दुनिया के 39 देशों के 6,000 से अधिक लोग काम करते हैं। इनमें डाॅक्टर doctor, न्यूट्रीशनिस्ट nutritionist, साइकोलाॅजिस्ट Psychologist, काॅस्मेटोलाॅजिस्ट Cosmetologist, ब्यूटीशियन Beautician, फीजियोथिरेपिस्ट Physiotherapist आदि हैं। VLCC आज एशिया Asia की सबसे बड़ी वेलनेस कम्पनियों wellness companies में शुमार हो गई है।