facebook-pixel

करियर के लिए प्लान-बी के महत्त्व को जानें

Share Us

1345
करियर के लिए प्लान-बी के महत्त्व को जानें
04 Dec 2021
9 min read
TWN In-Focus

Post Highlight

क्षेत्र चाहे कोई भी हो जीवन में विकल्पों का बहुत महत्त्व होता है। इसलिए अपने मुख्य लक्ष्य के साथ-साथ व्यक्ति के पास एक अतिरिक्त विकल्प अवश्य होना चाहिए। यह आज की प्रतिस्पर्धी दुनिया में विशेष रूप से और आवश्यक हो गई है। आखिर प्लान-बी का होना इतना ज़रूरी क्यों है? या यूं कहें प्लान होना ही क्यों ज़रूरी है ?

Podcast

Continue Reading..

अपने सपनों को पूरा करना‌ हर‌ व्यक्ति की चाह होती है और इसे हासिल करने के लिए वह हर मुमकिन कोशिश करता है। लोग अपने भविष्य के लिए कई लक्ष्य निर्धारित करते हैं जो उन्हें जीवन में सफल बनाने में मदद कर सकते हैं। लेकिन सफलता हर किसी के हाथ लगे ऐसा जरूरी नहीं। हालॉंकि यह बात तो सही है कि सफलता अक्सर उसी को मिलती है जो उसे पाने के लिए कड़ी मेहनत करते हैं। लेकिन यह कहना गलत होगा कि अपने मनचाहे लक्ष्य को हासिल ना कर पाने वाले मेहनत नहीं करते। वास्तव में संघर्ष हर व्यक्ति करता है लेकिन अपनी मंजिल को हासिल कुछ ही कर पाते हैं। शायद यह किस्मत की बात हो सकती है, ख़ैर जो भी हो। ऐसी स्थिति में व्यक्ति के पास एक बैकअप प्लान का होना आवश्यक हो जाता है जिससे वह अपने जीवन की गाड़ी को आगे बढ़ा सके। विशेष रूप से यह छात्रों के लिए अधिक महत्त्वपूर्ण हो जाता है। हालांकि कैरियर के मामले में बहुत ही जरूरी है। खासकर आज की प्रतिस्पर्धी दुनिया में इसकी आवश्यकता अधिक महसूस होती है। कुछ लोगों को ऐसा कहना होता है कि बैकअप प्लान होने का अर्थ है प्रोत्साहन और आत्मविश्वास की कमी। प्लान-बी रखना हारने वालों की निशानी है। लेकिन यह कथन वास्तविकता में गलत ही लगता है। आखिर प्लान-बी Plan-B का होना इतना ज़रूरी क्यों है? या यूं कहें प्लान होना ही क्यों ज़रूरी है? 

क्या है प्लान-बी?

वास्तव में जीवन में योजनाओं प्लानिंग का होना बहुत ही जरूरी है क्योंकि ये योजनाएं ही होती हैं जो हमें भविष्य की ओर अग्रसर करती हैं और एक दिशा प्रदान करती हैं। लेकिन भविष्य का अनुमान कोई नहीं लगा सकता। जीवन में शायद ही सब कुछ व्यक्ति की बनाई गई योजनाओं के अनुसार चलता है फिर चाहे वह करियर हो या अन्य कोई काम। जब आपकी मुख्य योजना गड़बड़ा जाती है तो बैकअप प्लान की ज़रूरत समझ में आती है। ना सिर्फ मनचाहा करियर हासिल करने में बल्कि यदि किसी स्थिति में अगर व्यक्ति द्वारा चुने गए कैरियर, नौकरी अथवा व्यापार में गिरावट आती है तो वह बैकअप प्लान उसे एक नए रास्ते की ओर लेकर जाता है जिससे वह अपनी आजीविका को भली-भांति चला सकते हैं। दरअसल यह धारणा बिल्कुल गलत है कि बैकअप प्लान आत्मविश्वास की कमी को दर्शाता है बल्कि यह व्यक्ति को आगे बढ़ने का एक नया रास्ता दिखाता है। जीवन में ऐसी भी परिस्थिति आ सकती है कि यदि किसी कारणवश कोई व्यक्ति अपनी नौकरी खो देता है तो वह उसके बाद अपना सारा समय नई नौकरी को ढूंढने में लगाता है और जब यह संभव नहीं होता तो प्लान-बी उसे नौकरी की तलाश जारी रखते हुए अपने खर्चों को नियंत्रित करने में मदद करता है। इसके साथ साथ यह व्यक्ति के लिए एक नया करियर प्लान भी बन सकता है जिसे अपनाकर वह आगे बढ़ने में सक्षम होता है। 

क्षेत्र चाहे कोई भी हो जीवन में विकल्पों का बहुत महत्त्व होता है। इसलिए अपने मुख्य लक्ष्य के साथ-साथ व्यक्ति के पास एक अतिरिक्त विकल्प अवश्य होना चाहिए। यह आज की प्रतिस्पर्धी दुनिया में विशेष रूप से और आवश्यक हो गई है।