facebook-pixel

कार्यस्थल को सहज ‌कैसे बनाएं?

Share Us

1449
कार्यस्थल को सहज ‌कैसे बनाएं?
06 Oct 2021
7 min read
TWN In-Focus

Post Highlight

कार्यस्थल में लचीलापन इस बात को प्रभावित करता है कि व्यक्ति कार्यस्थल में शीर्ष प्रतिभाओं को कैसे आकर्षित करता है, नियुक्त करता है और बनाए रखता है। कर्मचारियों के लिए एक ठोस कार्य-जीवन संतुलन स्थापित करने में निवेश करने की जगह, कर्मचारियों की संतुष्टि बढ़ाने के लिए लचीला शेड्यूलिंग लागू करने पर विचार करना ज्यादा ज़रूरी होता है, जो कार्यस्थलों ‌में शीर्ष प्रतिभाओं की भर्ती में मदद करता है।

Podcast

Continue Reading..

कोई भी व्यक्ति एक कठोर नीतियों वाले कार्यस्थल में काम नहीं करना चाहता। एक स्वस्थ और सकारात्मक वातावरण का‌ होना‌ अति‌ आवश्यक है अच्छी प्रतिभाओं को संगठन की ओर आकर्षित करने के लिए। इसके लिए वहां के कार्य में लचीलापन होना आवश्यक है। इससे लोगों को बेहतर काम करने और उचित लक्ष्य प्राप्त करने में मदद मिलती है। इसी कारण कार्यस्थल पर लचीले नीति विकसित होनी चाहिए। इससे ‌कर्मचारियों को कार्य से जोड़े रखने में ‌मदद‌ मिलती है। 

कार्यस्थल में सहजभाव

कोई भी ऐसे संगठन के लिए काम नहीं करना चाहता जो नीतियों के बारे में कठोर या अत्यधिक सख्त हो। कर्मचारी एक ऐसी कंपनी के लिए काम करना चाहते हैं जो स्वस्थ कार्य-जीवन संतुलन के महत्व को समझती हो। अगर नियोक्ता तेजी से बदलते कार्यबल में प्रतिस्पर्धी बने रहना चाहते हैं, तो उन्हें कार्यस्थल में अपनी टीम को माहौल में लचीलापन पेश करने की आवश्यकता है। कार्यस्थल का लचीलापन काम करने के लिए एक संगठन के भीतर बदलती परिस्थितियों के अनुकूल होने में सक्षम और इच्छुक होने पर जोर देता है। यह लचीलापन कंपनी और उसके कर्मचारियों दोनों की जरूरतों को पूरा करता है। यदि कोई संगठन ‌या उद्योग सफलता देखना चाहते हैं और अपने मूल्यवान कर्मचारियों को खुश रखना चाहते हैं तो अपने कर्मचारियों को एक लचीला कार्य वातावरण प्रदान करना सबसे प्रथम प्राथमिकता होनी चाहिए। 

कार्य में ‌लचीलापन‌ क्या है?

लचीलेपन का‌ अर्थ ‌है अल्पकालिक परिवर्तन को जल्दी और शांति से समायोजित करने की क्षमता, जिससे कि व्यक्ति अप्रत्याशित समस्याओं या कार्यों से प्रभावी ढंग से निपट सके। इसे प्रदर्शित करने ‌के‌ कई‌ तरीके ‌हैं। जैसे - टीम के किसी अन्य सदस्य की मदद करने की पेशकश, एक सहयोगी यदि छुट्टी पर हो तो‌ उसके काम को कवर करना, लोगों को बेहतर कार्य प्राप्त करने में मदद करना इत्यादि।

सहजभाव क्यों आवश्यक है?

कार्यस्थलों पर अक्सर कई तरह के परिवर्तन देखने को मिलते हैं। हमेशा इन परिवर्तनों का अनुमान नहीं लगाया जा सकता। इसी कारण मनुष्य के व्यवहार में लचीलापन आवश्यक हो जाता है। कार्यस्थलों पर लचीलापन और ‌कनेक्टीविटी लाने से लोग अप्रत्याशित मांगों के अनुकूल हो सकते हैं। काम में अचानक उछाल, तत्काल समस्याएं यह एक अप्रत्याशित घटनाओं से निपटने के लिए ‌मददगार साबित होता है। लचीले लोगों को प्रबंधकों और व्यवसायों द्वारा अत्यधिक मूल्यवान माना जाता है। वे संकट आने पर स्थितियों को स्थिर करने में मदद करते हैं। वे उद्देश्यों को प्राप्त करने योग्य और पहुंच के भीतर रखते हैं, वे अक्सर उन सहयोगियों का समर्थन करने के लिए तैयार रहते हैं, जिन्हें सलाह या सहायता की आवश्यकता होती है।

 सहज कैसे बनें?

लचीलेपन में एक खुला, टीम-केंद्रित रवैया और पहचान और उद्देश्य की मजबूत भावना को बनाए रखना आवश्यक है। इसे हासिल करने ‌के‌‌ कुछ तरीके ‌हैं।

1. अपेक्षाएं और उद्देश्य निर्धारित करना

काम में लचीलापन तभी काम कर सकता है जब व्यक्ति स्पष्ट अपेक्षाएं और उद्देश्य निर्धारित करता है। कार्यस्थल में लचीलापन मात्रा से अधिक गुणवत्ता को निर्धारित करता है। अपने कर्मचारियों के साथ छोटे और दीर्घकालिक लक्ष्य निर्धारित करते हुए काम करना और उन्हें उन लक्ष्यों तक सीमित रखना ही लचीलेपन को दर्शाता है। यदि कोई उच्च प्रदर्शन प्रदान करने और निर्धारित लक्ष्यों को प्राप्त करने में सक्षम है, तो वह उस कार्यस्थल को लाभ पहुंचा सकता है।

2. विश्वास और पारदर्शिता का वातावरण बनाना

एक सुगम कार्यसूची की अनुमति देते समय विश्वास महत्वपूर्ण है। कर्मचारियों को अपने समय का प्रबंधन करने की अनुमति देना महत्वपूर्ण है, जिससे कर्मचारी उत्पादक होंगे। कर्मचारियों के प्रति विश्वास उन्हें सशक्त बनाता है और एक खुश, अधिक उत्पादक कर्मचारी बनाने में मदद करता है। अपेक्षाओं में पारदर्शिता आवश्यक है। खुला संचार लचीलापन संभव बनाता है।

3. कार्य-जीवन संतुलन पर जोर

हर किसी का शेड्यूल अलग होता है और अब पहले से कहीं अधिक कर्मचारी एक स्वस्थ कार्य-जीवन संतुलन की तलाश में होते हैं। अपने कर्मचारियों को घर से काम करने की अनुमति देने से उन्हें अपने समय का उपयोग उनको अपने कार्य के प्रति लचीलापन प्रदान करता है, जिससे वे अपने लक्ष्य को पूरा कर सकें। इससे काम पर जाने वाले कर्मचारियों के तनाव दूर हो सकते हैं।

4. प्रतिक्रिया पर विचार करना

एक लचीले कार्य वातावरण को बढ़ावा देने के लिए खुला संचार महत्वपूर्ण है। यह देखने के लिए कर्मचारियों से बात करना चाहिए कि वह कार्यस्थल पर किस प्रकार का लचीलापन चाहते हैं। अपने कर्मचारियों से प्रतिक्रिया लेने‌ से उनकी ज़रूरतों और अपने लक्ष्यों के अनुसार योजना बनाने में मदद मिल सकती है।

कार्यस्थल में लचीलापन इस बात को प्रभावित करता है कि व्यक्ति कार्यस्थल में शीर्ष प्रतिभाओं को कैसे आकर्षित करता है, नियुक्त करता है और बनाए रखता है। कर्मचारियों के लिए एक ठोस कार्य-जीवन संतुलन स्थापित करने में निवेश करने की जगह, कर्मचारियों की संतुष्टि बढ़ाने के लिए लचीला शेड्यूलिंग लागू करने पर विचार करना ज्यादा ज़रूरी होता है, जो कार्यस्थलों ‌में शीर्ष प्रतिभाओं की भर्ती में मदद करता है।