facebook-pixel

एक नैतिक कंपनी का निर्माण

Share Us

1590
एक नैतिक कंपनी का निर्माण
16 Dec 2021
7 min read
TWN In-Focus

Post Highlight

नैतिक मूल्यों का समाज की उन्नति तथा पतन में एक महत्वपूर्ण स्थान होता है। एक कंपनी की अगर बात करें तो उसके साथ व्यावसायिक नैतिकता शब्द जुड़ जाता है। व्यावसायिक नैतिकता में वे नैतिक मूल्य हैं जो व्यवसाय को निर्णय लेने के तरीके का मार्गदर्शन करते हैं। जानते हैं कैसे हम एक नैतिक कंपनी का निर्माण कर सकते हैं।

Podcast

Continue Reading..

नैतिक Moral का मतलब होता है एक नीति के अनुरूप, यानि जो नीति समाज की भलाई और अच्छाई के लिए की गयी हो। नैतिकता या नैतिक व्यवहार का संबंध ऐसी मानसिक वृत्ति से है, जो मनुष्य को उचित-अनुचित का ज्ञान कराती है। जो बातें, सिद्धांत या नियम श्रेष्ठ मार्ग पर ले जाए वही नीति है और इस नीति को धारण करने वाली शिक्षा ही नैतिकता है। नैतिकता शब्द के साथ एक और शब्द भी जुड़ा है है वह है व्यावसायिक नैतिकता। व्यावसायिक नैतिकता professional ethics का अर्थ है नैतिक मानवीय आचरण के साथ व्यावसायिक क्षमता का विकास करना। नैतिक शब्द को हम एक कंपनी के साथ भी जोड़ कर देख सकते हैं कि कैसे नैतिकता का गुण एक कंपनी के लिए भी आवश्यक है। जानते हैं कैसे हम एक नैतिक कंपनी ethical company का निर्माण कर सकते हैं। 

व्यावसायिक नैतिकता क्या है 

यदि कोई कंपनी व्यावसायिक लेनदेन को संभालने के दौरान नैतिक मानकों का पालन करती है तो ये भी एक व्यावसायिक नैतिकता ही है। व्यक्तिगत नैतिकता personal ethics और व्यावसायिक नैतिकता में यह अंतर है कि व्यक्तिगत नैतिकता एक व्यक्ति के लिए सही और गलत व्यवहार को परिभाषित करती है। वहीँ व्यावसायिक नैतिकता का संबंध जीवन बनाने से है, न कि केवल जीवन जीने से। व्यावसायिक नैतिकता में वे विचार आते हैं जो व्यवसाय में कार्य करने के तरीके और उनका मार्गदर्शन करते हैं। किसी भी व्यवसाय का समाज पर बहुत बड़ा प्रभाव पड़ता है। किसी भी कंपनी या व्यवसाय को नैतिक तभी कहा जा सकता है जब उसके कार्य समाज के हित में हों। बिजनेसमैन businessman में भी नैतिकता की भावना होना अत्यंत आवश्यक है। इससे मार्केट market में एक दूसरे के प्रति आदरता और सम्मान का भाव आता है, जो कि बहुत जरूरी है। यदि एक कंपनी नैतिकता का प्रदर्शन करती है तो इससे जनता का उन पर विश्वास बढ़ता है इस वजह से एक कंपनी को अपने क्षेत्र में सफलता मिलती है। जिसके कारण कंपनी की growth अच्छी होती है। 

नैतिक कंपनी का निर्माण कैंसे करें 

आज कई कंपनियां अलग अलग प्रकार के शीर्षकों जैसे नैतिकता संहिता, या सामाजिक जिम्मेदारी social responsibility आदि के तहत सामाजिक मूल्यों को बढ़ावा देने की कोशिश करते हैं। यदि कंपनी में काम करने वाले कर्मचारियों को काम करने के बारे में कुछ जानना है, कुछ समझना है या फिर उनके मन में कोई चिंता या प्रश्न है तो कंपनी को कर्मचारी के साथ जांच करने के लिए प्रोत्साहित करना चाहिए। एक कंपनी के लिए नैतिक व्यवहार का अत्यधिक महत्व है। कंपनी को सार्वजनिक विश्वास बनाये रखना चाहिए। अमेज़ॅन (डॉट) कॉम अपने कर्मचारियों से हमेशा नैतिक रूप से और कंपनी के सर्वोत्तम हित में काम करने की उम्मीद करता है। यदि कोई बैंक, फर्म या कंपनी नैतिक मूल्यों का महत्व नहीं समझती है तो इससे व्यवसाय की अखंडता को खतरा रहता है और अधिकारियों के अनैतिक व्यवहार के कारण जनता का भरोसा टूट जाता है। नैतिकता एक व्यवसाय के विकास को निश्चित करती है।

कंपनी के लिए नैतिक आचरण के कुछ कार्य

यदि कंपनी ग्राहक को आवश्यक और सही जानकारी प्रदान करती है तो यह भी एक नैतिक आचरण के अंतर्गत आता है। कंपनी को उत्पादों products को ठीक से लेबल करना चाहिए। कर्मचारियों को उचित रूप से और समय से मुआवजा दें। जहाँ तक हो सके कर्मचारियों से अच्छा व्यवहार रखें। समय पर tax का भुगतान करें और जिम्मेदार नागरिक बनने की कोशिश करें। सरकारी एजेंसियों और संगठनों organizations को सही व्यावसायिक दस्तावेज documents दिखाएं। सबसे जरुरी यह है कि मिलावट किया हुआ सामान कभी भी न बेचें। माल की माप के लिए सही तौल का उपयोग करना चाहिए। कंपनी के धन का दुरूपयोग नहीं करना चाहिए। जमाखोरी, कालाबाजारी, रिश्वतखोरी और मुनाफाखोरी से दूर रहना चाहिए। गलत साधनों का उपयोग नहीं करना चाहिए। कर्मचारियों को प्रोत्साहित करना चाहिए न कि हतोत्साहित। कुछ नैतिक मुद्दे जैसे महिलाओं की सुरक्षा safety of women और भेदभाव discrimination, इन पर सख्त दिशा -निर्देश देने चाहिए। कार्य स्थल पर भेदभाव से बचना चाहिए।