facebook-pixel

लोगों की जुड़ती श्रृंखला से बनता व्यापार - multi level marketing

Share Us

1508
लोगों की जुड़ती श्रृंखला से बनता व्यापार - multi level marketing
10 Feb 2022
8 min read
TWN In-Focus

Post Highlight

आखिर क्या है यह मल्टी लेवल मार्केटिंग या बहु स्तरीय विपणन? हमारे आस-पास ऐसे बहुत से लोग मिलते हैं जो यह कहते मिलते हैं कि -अरे मैं तो ऐसा व्यवसाय करता/करती हूँ कि कुछ ही समय में पैसो की बारिश होने लगती है, गाड़ी, घर सबकुछ मैंने इसी व्यवसाय से तो लिया है। आप भी अचरज में पड़ जाते होंगें कि आखिर ऐसा कौन सा व्यवसाय है जिसमें पता ही नहीं चल रहा की व्यापार है किस चीज़ का क्योंकि मल्टी लेवल मार्केटिंग के नाम में ही इसकी पारदर्शिता झलकती है। मैं सिर्फ आपसे यही कहूँगी की कोई भी व्यवसाय हर प्रकार के लोगों से जुड़ा होता है। आप अपनी स्वतः इच्छा से चुनाव करें।

Podcast

Continue Reading..

आपने अक्सर MLM या नेटवर्क मार्केटिंग network marketing के विषय में सुना होगा। आखिर क्या है यह मल्टी लेवल मार्केटिंग या बहु स्तरीय विपणन? आज हम इस बारे में बात करेंगें। हमारे आस-पास ऐसे बहुत से लोग मिलते हैं जो यह कहते मिलते हैं कि अरे मैं तो ऐसा व्यवसाय करता/करती हूँ कि कुछ ही समय में पैसो की बारिश होने लगती है, गाड़ी, घर सबकुछ मैंने इसी व्यवसाय से तो लिया है। आप भी अचरज में पड़ जाते होंगें कि आखिर ऐसा कौन सा व्यवसाय है जिसमें पता ही नहीं चल रहा कि व्यापार है किस चीज़ का क्योंकि मल्टी लेवल मार्केटिंग के नाम में ही इसकी पारदर्शिता झलकती है। यहाँ कई लोगों के लेवल पर काम होता है। एक व्यक्ति के ऊपर कई और व्यक्तियों के समूह होते हैं जो उनका मार्गदर्शन करते है, आइये अब इसके विषय में समझ लें। 

क्या है बहु विपणन व्यापार या multi level marketing-

इसे कई और नामों से जाना जाता है, जैसे - नेटवर्क मार्केटिंग network marketing, डायरेक्ट सेलिंग direct selling, रेफ़रल मार्केटिंग referral marketing और पिरामिड सेलिंग pyramid selling, हम चाहे इसे जिस भी नाम से बुलाएँ इसकी कार्यशैली एक ही है - काम यह होता है कि इसमें कंपनी के डिस्ट्रीब्यूटर्स को ,और डिस्ट्रीब्यूटर्स (अपने बिज़नेस पार्टनर ) बनाने पड़ते है यानी अपनी टीम बनानी पड़ती है जिससे उस व्यक्ति का व्यवसाय अपनी टीम के ज़रिये और बढ़े और फिर उनके व्यवसाय से जुड़े उन साथियों को भी स्वयं के बिज़नेस पार्टनर बनाने पड़ते है इस प्रकार टीम बढ़ती रहती है और सबको पैसे आते रहते है। इसलिए इसे मल्टी लेवल या नेटवर्क मार्केटिंग कहतें हैं क्यूँकि इसमें सम्बंधित व्यक्ति, जिसने व्यवसाय शुरू किया है, उससे जुड़े हुए उसके सहयोगी या teammates या उसका अपना समूह ही उसके नेटवर्क कहे जातें हैं। यही नेटवर्क आगे अपना नेटवर्क बनाते हैं, जिससे व्यवसाय आगे बढ़ता है। यह व्यवसाय मानव जीवन से जुड़ी रोज़मर्रा की आवश्यकताओं का होता है, ताकि अधिक से अधिक लोग इसमें रूचि लें। 

मल्टी लेवल मार्केटिंग व्यवसाय में सक्रीय कम्पनियाँ - modicare, Amway, Vestige, Avon, Herbalife, Market America, Oriflame, Mary kay, Natura cosmetics, tupperware आदि बहुत वर्षों से इस व्यवसाय में अपनी कामयाबी दिखा चुकीं है। 

प्रक्रिया 

1. सीधी बिक्री, Direct selling- कम्पनियाँ अपने डायरेक्ट direct  सम्बंधित माध्यमों को सबसे पहले अपने उत्पाद पहुँचाती है ताकि वे सभी अपने नटवर्क में उनकी बिक्री का काम शुरू करें, इसी के बाद सभी स्थापित व्यक्तियों के अपने नेटवर्क का काम शुरू होता है। सभी उत्पादों की बिक्री के लिये उन सभी को कम्पनी की तरफ से कमीशन भी दिया जाता है और खुद के नेटवर्क से जो बिक्री होती है वो तो है ही। 

2. विक्रेता, Distributer- ऐसे बहुत सारे व्यक्ति होते हैं जो बजाय इनके salesman या woman, कंपनियों के उत्पादों की certified शाखा खोलकर विक्रेता बनना पसंद करतें हैं। इस तरह से उनका व्यापार भी शुरू होता है और यह सम्बंधित कंपनियों के member भी बन जातें है। इनकी शाखा को dp (distribution point ) कहा जाता है जहाँ यह अपने सभी ग्राहकों और members को वस्तुओं की बिक्री करते है। 

3. अपलाइन upline और डाउनलाइन downline सम्बन्ध- यही वह सम्बन्ध है जो MLM या नेटवर्क मार्केटिंग का सबसे बड़ा आधार है। अपलाइन upline यानी वह व्यक्तियों यानी डाउनलाइन downline  को जोड़कर अपने व्यवसाय की श्रृंखला या chain शुरू करता है। एक upline के साथ कई सारे कई सारे डाउनलाइन काम करते हैं , इन डाउनलाइन के साथ भी कई सारे लोग जुड़ें होतें हैं जिनके लिए यह खुद, अपलाइन upline का काम करते हैं। यह सीधा सा सम्बन्ध है, जिसने व्यवसाय में साथ जोड़ा वह upline और जो जुड़ा वह downline, अपलाइन की ज़िम्मेदारी होती है कि वह डाउनलाइन को व्यवसाय सिखाएं भी और व्यवसाय को स्थापित करने और उसके अपने नेटवर्क यानी डाउनलाइन्स बनने में उनकी सहायता करे। इस तरह से यह श्रृंखला एक बहुत बड़े स्तर पर लोगों के नेटवर्क में बदल जाती है, जिसे कहते हैं- मल्टी लेवल मार्केटिंग MULTI LEVEL MARKETING या नेटवर्क मार्केटिंग NETWORK MARKETING 

4. व्यवसाय योजना- 

यह किस प्रकार से व्यवसाय शुरू करेंगें, इस बात की पूरी योजना बनाई जाती है।  इसके लिए इनकी टीम को प्रशिक्षण भी दिया जाता है और इसके बाद सभी टीमों के मुख्य अपने-अपने समूहों को अपनी समझ से इसके लिए प्रशिक्षित करते हैं। किसी भी अन्य व्यवसाय की तरह यहॉँ भी हानि-लाभ का ढाँचा पूरी मेहनत और गंभीरता से तैयार किया जाता है। लोगों को अपने साथ कैसे जोड़ना है इसके लिए भी काफी मेहनत की जाती है और हर किसी की ज़िम्मेदारी होती है- नए लोगों को अपने साथ जोड़ते रहना ताकि नेटवर्क बड़ा हो सके। 

.एक आवश्यक बात आपको बता दें की यह श्रृंखला आने और जाने के लिए हमेशा खुली रहती है यानी इसमें व्यक्तियों का आना या जाना उनकी अपनी इच्छा पर निर्भर करता है, फिर भी मल्टी लेवल मार्केटिंग को काफी सारी उलझनों का सामना करना पड़ता है। इसके कुछ उलझे हुए पहलुओं से भी आपको रूबरू करा देते हैं-

संघीय व्यापार आयोग (federal trade commission ) का कथन है "उस बहु-स्तरीय विपणन योजना से बच कर निकलिए, जो नए वितरकों की भर्ती के लिए कमीशन का भुगतान करती है। वे वास्तव में अवैध पिरामिड योजनाएं हैं। पिरामिड निर्माण खतरनाक क्यों है? क्योंकि ऐसी योजनाएं जो नए वितरकों की भर्ती के लिए कमीशन का भुगतान करती हैं, अनिवार्यतः तब ढह जाती हैं जब कोई नया वितरक भर्ती नहीं किया जाता और जब एक योजना ढहती है, तो उन चंद लोगों को छोड़कर जो शायद पिरामिड में बहुत ऊपर हैं, अधिकांश लोगों को कुछ हासिल नहीं होता है।" यह बात काफी हद तक सही भी है। 

वर्षों के संघर्ष से जिन लोगों ने इस व्यापार में ऊँचाइयाँ प्राप्त की हैं उनके स्तर तक पहुंचने में शुरूआती व्यक्ति को अत्यधिक संघर्षों का सामना करना पड़ता है और इसमें अक्सर चलते रहने वाली मीटिंग्स आपको कभी-कभी समय की बर्बादी लगतीं हैं। 

.मल्टी लेवल मार्केटिंग के नाम पर किसी का छलने के भी cases मिलें हैं। 

-यहाँ कहा जाता है कि बिना धन के आपका व्यापार बढ़ेगा लेकिन भला अर्थव्यवस्था में अर्थ की कल्पना का ना होना कैसी बात हुई? जब आप धीरे-धीरे इस व्यवसाय से जुड़ते हैं और आपको पता चलता है कि आपको कम्पनी के उत्पाद खुद तो खरीदने हैं ही, दूसरों को भी कहना है खरीदने को, तो कहीं न कहीं आप खुद को ठगा हुआ अनुभव करते हैं, क्यूँकि कुछ लोग यहाँ यह सबकुछ सोचकर नहीं आते। 

- बार बार इच्छा ना होने पर भी वस्तुओं को खरीदने और बिक्री कराने का दबाव नकारात्मक परिस्थिति उतपन्न कर देता है। हर व्यवसाय में कुछ लक्ष्य होते हैं।  MLM में लक्ष्यों को पूरा करने का दबाव हर व्यक्ति सकारत्मक तौर पर नहीं लेता। 

सऊदी अरब, बांग्लादेश, ऐसे बहुत से स्थान हैं जहाँ एक समय में MLM पर प्रतिबंध लगा दिया गया था। 

MLM की क्षमताएँ -

मैं आपसे यह नहीं कह रही कि मल्टी लेवल मार्केटिंग एक अच्छा व्यवसाय है या बुरा, मैं सिर्फ आपसे यही कहूँगी की कोई भी व्यवसाय अच्छे या बुरे, सकारात्मक या नकारात्मक, हर प्रकार के लोगों से जुड़ा होता है। आप अपनी स्वतः इच्छा से चुनाव करें। यदि आपकी रूचि इसमें है और आप एक सही टीम और अपलाइन ला चुनाव करेंगें तो बहुत आगे भी जा सकतें हैं, क्यूँकि साधारण तौर पर अच्छी कम्पनियाँ अपने साथ जुड़ने वालो को पूरा समर्थन देती हैं। हो सकता है आपको मनचाही तरक्की भी मिल जाए, पर जब भी यह कदम लें पूरी तरह जाँच-परखकर ही लें ताकि आगे की आपकी सभी प्रकार की व्यावसायिक योजनाएँ सफल हों।