facebook-pixel

कौन थे देश के पहले आईएएस (IAS) ऑफिसर

Share Us

432
कौन थे देश के पहले आईएएस (IAS) ऑफिसर
12 Oct 2021
3 min read

Podcast

News Synopsis

संघ लोक सेवा आयोग 2020 का रिजल्ट घोषित हो चुका है। जिसमें बिहार के रहने वाले शुभम कुमार ने मेन एग्जाम 2020 में टॉप किया है। लेकिन क्या आपको पता है कि भारत का पहला आईएएस ऑफिसर कौन था और किसने ये शुरुआत की।

भारत में सबसे पहले साल 1854 में अंग्रेजों ने सिविल सर्विस एग्जाम की शुरुआत की थी। उसके लिए कम से कम उम्र 18 साल और अधिकतम उम्र 23 साल थी। पहले सेवकों का नामांकन ईस्ट इंडिया कंपनी के द्वारा किया जाता था पर बाद में लॉर्ड मैकाले की रिपोर्ट के बाद शुरू किया गया। उस दौरान भारतीयों के लिए ये परीक्षाएं काफी मुश्किल होती थी।

सबसे पहले 1864 में सत्येन्द्रनाथ टैगोर जो कि रविंद्रनाथ टैगोर के बड़े भाई थे, उन्होंने UPSC परीक्षा में सबसे पहले सफलता हांसिल की थी और तब उनकी उम्र 21 साल थी। यही वह पहले भारतीय थे जो आईएएस अफसर बने थे और आईएएस अफसर बनने के बाद उन्हें बॉम्बे प्रेसीडेंसी में तैनात किया गया। सत्येन्द्रनाथ टैगोर कलकत्ता यूनिवर्सिटी के लिए एग्जाम देने वाले भी पहले छात्र थे और उनको साहित्य से भी अत्यंत लगाव था।