UPI: यूपीआई लेनदेन की तय होगी सीमा, गूगल पे और फोन पे पर ये होगा असर

Share Us

639
UPI: यूपीआई लेनदेन की तय होगी सीमा, गूगल पे और फोन पे पर ये होगा असर
21 Nov 2022
min read

News Synopsis

UPI: यूपीआई लेनदेन UPI Transactions को लेकर बड़ी खबर सामने आ रही है। खबर के मुताबिक यूपीआई लेनदेन की सीमासीमा UPI Transaction Limits तय हो सकती है। थर्ड पार्टी यूपीआई भुगतान सेवा UPI Payment Services के मामले में गूगल पे और फोन पे Google Pay & Phone Pay का एकाधिकार अगले महीने से खत्म हो सकता है।

भारतीय राष्ट्रीय भुगतान निगम National Payments Corporation of India (एनपीसीआई) थर्ड पार्टी यूपीआई भुगतान सेवा के लिए कुल लेनदेन की सीमा को 30 फीसदी तक सीमित करने के फैसले पर देश के केंद्रीय बैंक Central Banks यानी आरबीआई RBI से बात कर रहा है। एनपीसीआई इस फैसले को 31 दिसंबर से लागू करना चाहता है। मौजूदा वक्त में लेनदेन की कोई सीमा नहीं होने की वजह से दो कंपनियों गूगल पे और फोन पे की बाजार हिस्सेदारी बढ़कर करीब 80 फीसदी हो गई है।

एनपीसीआई ने नवंबर, 2022 में एकाधिकार के जोखिम से बचने को थर्ड पार्टी एप प्रदाताओं Third Party App Providers (टीपीएपी) के लिए 30 फीसदी लेनदेन की सीमा तय करने का प्रस्ताव दिया था। इस मामले की जानकारी रखने वाले सूत्रों ने बताया कि सभी पहलुओं पर व्यापक चर्चा के लिए एक बैठक बुलाई गई थी। इसमें एनपीसीआई के अधिकारियों के साथ वित्त मंत्रालय Ministry of Finance और आरबीआई के वरिष्ठ अधिकारी भी शामिल हुए।

वहीं एनपीसीआई NPCI इस महीने के अंत तक यूपीआई बाजार सीमा लागू करने के मुद्दे पर फैसला कर सकता है। सूत्रों की मानें तो, एनपीसीआई फिलहाल सभी संभावनाओं का मूल्यांकन कर रहा है। 31 दिसंबर की समय-सीमा को बढ़ाने पर कोई अंतिम फैसला नहीं लिया गया है। जबकि, एनपीसीआई को समय-सीमा बढ़ाने के लिए उद्योग के हितधारकों से अनुरोध मिले हैं और उनकी जांच हो रही है।