facebook-pixel
News In Brief Business and Economy

स्टार9 मोबिलिटी को मिली पवन हंस की कमान

News In Brief Business and Economy

स्टार9 मोबिलिटी को मिली पवन हंस की कमान

star-9-mobility-gets-the-command-of-pawan-hans

News Synopsis

सरकार ने हेलीकाप्टर सेवा प्रदाता Helicopter Service Provider पवन हंस लिमिटेड Pawan Hans Limited में अपनी 51 फीसदी हिस्सेदारी प्रबंधकीय नियंत्रण के साथ 211.4 करोड़ में स्टार9 मोबलिटी प्राइवेट लिमिटेड Star 9 Mobility Private Limited को बेचने की मंजूरी दे दी है। वित्त मंत्रालय के मुताबिक आर्थिक मामलों की मंत्रिमंडलीय समिति से अधिकार प्राप्त एक समूह ने पीएचएल में सरकार की समूची 51 फीसदी हिस्सेदारी की बिक्री के लिए मेसर्स स्टार9 मोबिलिटी प्राइवेट लिमिटेड की उच्चतम बोली को मंजूरी दी। सीसीईए द्वारा बनाए गए समूह में सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी Nitin Gadkari वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण Finance Minister Nirmala Sitharaman और विमानन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया Aviation Minister Jyotiraditya Scindia शामिल हैं।

पीएचएल की 51 फीसदी हिस्सेदारी के लिए आरक्षित मूल्य 199.92 करोड़ रुपये तय किया गया था, जिसमें पवन हंस की बिक्री के लिए सरकार को तीन कंपनियों से बोली मिली थी। इनमें से स्टार9 मोबिलिटी 211.14 करोड़ रुपये की बोली के साथ सबसे बड़ी बोलीकर्ता के तौर पर सामने आई। बाकी दो बोलियां 181.05 करोड़ रुपये एवं 153.15 करोड़ रुपये की थी। हेलीकाप्टर सेवाएं देने वाली कंपनी पीएचएल केंद्र सरकार और ओएनजीसी ONGC का संयुक्त उद्यम है और यह देश की इकलौती सरकारी हेलीकॉप्टर सेवा प्रदान करने वाली कंपनी है। हालांकि ओएनजीसी पहले ही कह चुकी है कि वह रणनीतिक विनिवेश सौदे में सफल बोलीकर्ता को अपनी हिस्सेदारी समान भाव पर दे देगी।



Related Post




Newsletter

Read and Subscribe