जी20 देशों के विदेशी यात्री भारत में यूपीआई भुगतान कर सकते हैं - भारतीय रिजर्व बैंक

Share Us

390
जी20 देशों के विदेशी यात्री भारत में यूपीआई भुगतान कर सकते हैं - भारतीय रिजर्व बैंक
10 Feb 2023
7 min read

News Synopsis

भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने घोषणा की है, कि भारत आने वाले G20 देशों के यात्री अब देश के अग्रणी मोबाइल भुगतान प्लेटफॉर्म Mobile Payment Platform, UPI का उपयोग करके भुगतान कर सकते हैं। भारत में अंतरराष्ट्रीय पर्यटकों के लिए लेनदेन की प्रक्रिया को आसान बनाने और डिजिटल लेनदेन को प्रोत्साहित करने के लिए उठाया गया है।

RBI के अनुसार नागरिकों और पर्यटकों सहित सभी G20 देशों के यात्री अब अपने विदेशी बैंक खातों को UPI प्लेटफॉर्म से जोड़ सकते हैं, जिससे वे देश में रहते हुए लेनदेन कर सकते हैं। भारत में डिजिटल लेनदेन और कैशलेस अर्थव्यवस्था को बढ़ावा देने Promoting Digital Transactions and Cashless Economy in India और अंतरराष्ट्रीय आगंतुकों के लिए वस्तुओं और सेवाओं के भुगतान को आसान बनाने की दिशा में एक बड़ा कदम है।

UPI एक रीयल-टाइम भुगतान प्रणाली है। जो एक मोबाइल फोन का उपयोग करके दो बैंक खातों के बीच तत्काल धन हस्तांतरण को सक्षम बनाती है। प्लेटफ़ॉर्म को 2016 में लॉन्च किया गया था भारत में लाखों लोगों के लिए डिजिटल भुगतान Digital Payment का पसंदीदा तरीका बन गया है। इस कदम के साथ अंतर्राष्ट्रीय यात्री अब होटल में ठहरने, भोजन और परिवहन जैसी चीजों के भुगतान के लिए UPI App का उपयोग कर सकते हैं।

आरबीआई (RBI) का यह कदम ऐसे समय में आया है। जब भारत डिजिटल लेनदेन और कैशलेस अर्थव्यवस्था Digital Transactions and Cashless Economy की बढ़ती प्रवृत्ति देख रहा है। सरकार नकदी पर निर्भरता को कम करने के लिए नागरिकों को डिजिटल भुगतान अपनाने और डिजिटल वॉलेट Digital Wallets और अन्य भुगतान प्रणालियों का उपयोग करने के लिए प्रोत्साहित कर रही है। इससे कई फिनटेक कंपनियों का विकास हुआ है, जो उपभोक्ताओं को अभिनव भुगतान समाधान प्रदान करती हैं।

आरबीआई (RBI) का यह कदम भारत में अधिक विदेशी पर्यटकों को आकर्षित करने के सरकार के प्रयासों के अनुरूप भी है। डिजिटल भुगतान में आसानी न केवल पर्यटकों के अनुभव को बेहतर बनाएगी, अंतर्राष्ट्रीय आगंतुकों को पूरा करने वाले व्यवसायों के लिए अधिक अनुकूल वातावरण भी बनाएगी।

भारतीय रिज़र्व बैंक (RBI) का G20 देशों के यात्रियों को भारत में लेन-देन के लिए UPI का उपयोग करने की अनुमति देने का निर्णय देश की डिजिटल अर्थव्यवस्था की दिशा में एक प्रमुख मील का पत्थर है। अंतरराष्ट्रीय यात्रियों के लिए भुगतान प्रक्रिया को सरल करेगा, डिजिटल लेनदेन को प्रोत्साहित करेगा और भारत में फिनटेक कंपनियों Fintech Companies के विकास को बढ़ावा देगा।

UPI भारत में खुदरा डिजिटल भुगतानों के लिए बेहद लोकप्रिय हो गया है। अब यह प्रस्तावित है कि भारत आने वाले सभी यात्रियों को अपने मर्चेंट भुगतान Merchant Payment के लिए UPI का उपयोग करने की अनुमति दी जाए, RBI के गवर्नर शक्तिकांत दास Governor Shaktikanta Das ने कहा। बुधवार को द्विमासिक मौद्रिक नीति समिति Bi-Monthly Monetary Policy Committee के नतीजों की घोषणा करते हुए।

यह सुविधा जी20 शिखर सम्मेलन 20 Summit से पहले भारत में अन्य सभी प्रवेश बिंदुओं पर सक्षम हो जाएगी और आरबीआई जल्द ही बहुत आवश्यक परिचालन निर्देश जारी करेगा।

 

#ReserveBankOfIndia #G20Nations
#G20Summit 
#OverseasTravelers #UPIPayments 
#DigitalTransactions 
#GrowthOfFintechCompaniesInIndia 
#RBIGovernorShaktikantaDas 
#MonetaryPolicyCommittee 
#UnifiedPaymentsInterface