Domino's ने भारत में 2,000 स्टोर का आंकड़ा पार किया

Share Us

73
Domino's ने भारत में 2,000 स्टोर का आंकड़ा पार किया
11 Jun 2024
7 min read

News Synopsis

लीडिंग अमेरिकी पिज़्ज़ा रेस्टोरेंट चेन डोमिनोज़ Domino's ने अगले 5-6 वर्षों में भारत में अपने स्टोर की संख्या दोगुनी करके 4,000 करने की योजना बनाई है, जिसने 1996 में यहाँ ऑपरेशन्स शुरू किया था, और अपना 2,000वाँ स्टोर लॉन्च किया है।

"यह पहली बार है, कि अमेरिका के बाहर किसी देश में 2,000 से अधिक स्टोर्स तक पहुंच बनाई गई है।"

उन्होंने कहा कि ऑपरेशनल स्टोरों की संख्या के मामले में भारत अब डोमिनोज़ के लिए अमेरिका के बाद दूसरा सबसे बड़ा मार्केट है, और राजस्व के मामले में ग्लोबल स्तर पर टॉप फाइव में शामिल है।

भारतीय बाजार में डोमिनोज़ के लिए "बढ़ते विकास के बहुत अवसर" हैं, जिसमें बढ़ती अर्थव्यवस्था और मध्यम वर्ग का भी योगदान है। डोमिनोज़ ने भारत में ज़्यादा से ज़्यादा लोगों के लिए पिज़्ज़ा सुलभ बना दिया है।

उन्होंने कहा "इसलिए हम उम्मीद करते हैं, कि भारत दुनिया में सबसे तेजी से बढ़ते मार्केट्स में से एक बना रहेगा। यह आज टॉप फाइव मार्केट्स में से एक है,  कि अमेरिका के बाहर हमारे मार्केट्स के आकार में यह आगे भी बढ़ता रहेगा।"

भारत में डोमिनोज़ के स्टोर जुबिलेंट फ़ूडवर्क्स लिमिटेड द्वारा संचालित किए जाते हैं, जिसके पास यहाँ इस ब्रांड के लिए मास्टर फ़्रैंचाइज़ी है। इसके अलावा भरतिया परिवार द्वारा प्रवर्तित 5,654 करोड़ की इस कंपनी के पास पाँच अन्य मार्केट्स - तुर्की, बांग्लादेश, श्रीलंका, अज़रबैजान और जॉर्जिया के लिए लाइसेंस हैं।

जेएफएल के सीईओ और एमडी समीर खेत्रपाल CEO and MD Sameer Khetarpal ने कहा कि कंपनी इस वित्त वर्ष में करीब 180-200 स्टोर जोड़ेगी और वित्त वर्ष 25 के लिए 250 करोड़ का बजट निर्धारित किया है, जिसका अधिकांश हिस्सा पिज्जा बिज़नेस के विस्तार पर खर्च किया जाएगा।

उन्होंने कहा "मुझे लगता है, कि 1970 के दशक के आरंभ में क्यूएसआर के मामले में अमेरिकी मार्केट में और 2007-2008 के बाद चीन में जो हुआ, मुझे उम्मीद है, कि भारत में भी वही होगा।"

समीर खेत्रपाल ने कहा "हम अगले 5 से 6 वर्षों में दुकानों की संख्या 4,000 तक पहुंचाने जा रहे हैं।"

जेएफएल जो 421 शहरों में डोमिनोज़ स्टोर संचालित करता है, प्रतिवर्ष 200 मिलियन से अधिक पिज्जा सेर्वेस है।

समीर खेत्रपाल के अनुसार वे विकास के प्रति "cautiously optimistic" हैं, लेकिन उन्होंने गेहूं और दूध की बढ़ती कीमतों पर भी चिंता जताई है, जो पिज्जा बिज़नेस के प्रमुख घटक हैं।

जुबिलैंट भरतिया ग्रुप के पास अमेरिकी फ्राइड चिकन ब्रांड पोपेयस, डंकिन और हांग्स किचन के लिए भी फ्रेंचाइजी अधिकार हैं।

31 मार्च 2024 तक JFL ग्लोबल स्तर पर 2,793 स्टोर संचालित कर रहा था।

समीर खेत्रपाल ने कहा "इस वित्तीय वर्ष में हम केवल अपने छह मौजूदा मार्केट्स पर ध्यान केंद्रित करेंगे।"

JFL मौजूदा बड़े मार्केट्स में विस्तार करके और नए छोटे टियर III और IV स्थानों में प्रवेश करके एक संतुलित दृष्टिकोण अपनाएगा।