facebook-pixel
News In Brief Success Stories
News In Brief Success Stories

उम्र को मात देकर भगवानी देवी ने विदेश में बजाया भारत का डंका

Share Us

771
उम्र को मात देकर भगवानी देवी ने विदेश में बजाया भारत का डंका
12 Jul 2022
7 min read

Podcast

News Synopsis

अगर आपके अंदर कुछ कर गुजरने की तमन्ना है तो उम्र आपके सिर्फ एक नंबर है और कुछ नहीं। 94 साल की भगवानी देवी डागर Bhagwani Devi Dagar ने कुछ ऐसा ही साबित करके दिखाया है। जिंदगी के जिस उम्र में आमतौर पर लोग ठीक से चल-फिर नहीं पाते हैं, भगवानी ने उस उम्र में विदेशों में भारत का डंका बजाया है। हरियाणा की रहने वालीं भगवानी देवी 94 साल की उम्र में वर्ल्ड मास्टर्स एथलेटिक्स चैंपियनशिप World Masters Athletics Championships 2022 में गोल्ड और दो ब्रॉन्ज Gold and Two Bronze जीतकर दुनिया के लिए अब प्रेरणास्रोत बन रही है। 

आपको बता दें कि बुजुर्ग महिला एथलीट ने वर्ल्ड मास्टर्स एथलेटिक्स चैंपियनशिप 2022 में तीन पदक अपने नाम किए हैं।  इसमें एक स्वर्ण और दो कांस्य पदक शामिल है। भगवानी देवी ने स्वर्ण पदक 100 मीटर स्प्रिंट रेस में हासिल किया है, जबकि शॉटपुट में कांस्य पदक अपने नाम किया है।  बुजुर्ग महिला एथलीट ने 100 मीटर स्प्रिंट रेस Sprint Race को 24.74 सेकंड में खत्म किया था। 

गौरतलब है कि यह पहला मौका नहीं है जब भगवानी देवी ने पदक अपने नाम किए हैं। इससे पहले भी वह कई पदक जीत चूकी हैं। इस महिला एथलीट ने चेन्नई में आयोजित राष्ट्रीय मास्टर्स एथलेटिक्स चैंपियनशिप National Masters Athletics Championship में तीन स्वर्ण पदक अपने नाम किए थे। जिसके बाद उन्हें वर्ल्ड मास्टर्स एथलेटिक्स चैंपियनशिप 2022 के लिए भी क्वालीफाई किया गया था। 

TWN In-Focus