एथलीट ने बेचा ओलंपिक मेडल, दिल छूने वाली वजह

Share Us

1328
एथलीट ने बेचा ओलंपिक मेडल, दिल छूने वाली वजह
19 Aug 2021
2 min read

News Synopsis

पोलैंड की जैवलिन थ्रोअर मारिया आंद्रेजक ने इंसानियत की एक ऐसी मिसाल कायम की है, जिसे जानकर आपको भी हैरानी होगी। 25 वर्षीय मारिया आंद्रेजक ने टोक्यो ओलंपिक के जैवलिन थ्रो इवेंट का सिल्वर मेडल अपने नाम किया। मारिया आंद्रेजक को कैंसर था और उन्होंने इससे उबरकर सिल्वर मेडल जीता। उन्होंने कुछ दिन बाद ही अपने ओलंपिक मेडल को नीलाम कर दिया। मारिया के मेडल की करीब 92 लाख 85 हजार रुपये की बोली लगाई गई। उन्होंने अपना मेडल 8 महीने के बच्चे मिलोश्क मलीसा के इलाज के लिए नीलाम किया है जिसे दिल की गंभीर बीमारी है और उसके इलाज़ के लिए फंडरेजर चलाया जा रहा है।

पर आपको पता है इसमें सबसे अच्छी बात यह हुई कि मारिया को अपनी मेहनत से कमाया गया मेडल किसी को नहीं देना पड़ा। नीलामी जीतने वाली कंपनी न केवल इस अभियान में शामिल हुई, बल्कि मारिया के अत्यंत नेक भाव से प्रभावित होकर उन्होंने ओलंपियन का मेडल वापस लौटा दिया। कंपनी ने कहा कि मेडल मारिया आंद्रेजक के पास ही रहेगा जिन्होंने साबित किया है कि वह एक महान चैंपियन हैं।