News In Brief Education
News In Brief Education

हिंदी दिवस 2023 के बारे में 10 रोचक तथ्य

Share Us

1217
हिंदी दिवस 2023 के बारे में 10 रोचक तथ्य
14 Sep 2023
min read

News Synopsis

Hindi Diwas 2023: विश्व भर में अंग्रेजी और मंदारियन भाषा के बाद हिन्दी सबसे अधिक बोली जाने वाली भाषा है। भारत के सभी प्रदेशों में हिन्दी बोली, लिखी और पढ़ी जाती है। भारत में हिन्दी को आधिकारिक भाषा का दर्जा दिया गया है। प्रत्येक वर्ष हिन्दी भाषा के गौरव को उत्सव की तरह मनाने के लिए हिन्दी दिवस बड़े ही धूमधाम से मनाया जाता है।

भारत में कई लोगों को इस बात की जानकारी नहीं है, कि हिन्दी भाषा को राष्ट्र भाषा में रूप में कभी स्वीकार नहीं किया गया। हर साल 14 सितंबर को हिन्दी दिवस मनाया जाता है। हिन्दी हमारे देश की राजभाषा है, अर्थात राज्यों के कामकाज में प्रयोग की जाने वाली भाषा। 14 सितंबर 1949 को हिन्दी को राजभाषा का दर्जा दिया गया। संविधान की आठवीं अनुसूची में शामिल अन्य इक्कीस भाषाओं के साथ हिंदी को एक विशेष स्थान प्राप्त है। देश में 14 सितंबर 1953 को पहला हिन्दी दिवस मनाया गया था।

हिन्दी भाषा का इतिहास गौरवपूर्ण रहा है। हिन्दी भाषा चार अलग-अलग कालों में से होकर गुजरी है। इनमें मुख्य रूप से आदिकाल (1000-1300 ई), भक्तिकाल (1300-1650 ई), रीतिकाल (1650-1850 ई), आधुनिक काल (1850 से लेकर अब तक) शामिल हैं। कि इनमें से भक्तिकाल में हिन्दी काव्य को एक स्वर्णिम युग देखने को मिला।

विश्व भर में करीब 600 मिलियन से अधिक लोग अपनी पहली भाषा के रूप में हिन्दी बोलते हैं। वहीं करीब 120 मिलियन से अधिक लोग ऐसे हैं, जो अपनी दूसरी भाषा के रूप में हिन्दी बोलते हैं। आइए इस हिन्दी दिवस जानते हैं, हिन्दी भाषा से जुड़े ऐसे ही कुछ रोचक तत्थों के बारें में-

1. अंग्रेजी और मंदारियन भाषा के बाद हिन्दी विश्व भर में तीसरी सबसे अधिक बोली जाने वाली भाषा है।

2. हिंदी शब्द की उत्पत्ति फ़ारसी शब्द 'हिन्द' से हुई है। इसका अर्थ है, सिंधु नदी की भूमि। 11वीं शताब्दी की शुरुआत में सिंधु नदी के किनारे बोली जाने वाली भाषा को हिन्दी का नाम दिया था। 

3. 14 सितंबर 1949 को भारत के संविधान को पहली बार हिन्दी अर्थात देवनागरी लिपि में लिखी गई। इसके साथ ही हिन्दी भाषा को वर्ष 1950 में 26 जनवरी को संविधान के अनुच्छेद 343 में हिंदी को आधिकारिक भाषा का दर्जा दिया गया और इसे आधिकारिक भाषा के तौर पर स्वीकार किया गया। 

4. भारत में हिन्दी आधिकारिक भाषा के तौर पर स्वीकार्य है, और इसे कामकाज की भाषा के रूप में उपयोग किया जाता है।

5. भारत में पहली बार हिन्दी दिवस 14 सितंबर 1953 को मनाया गया। यह पहल देश के पहले प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरू Prime Minister Pandit Jawaharlal Nehru द्वारा की गई थी। 

6. विश्व भर में करीब 600 मिलियन लोग ऐसे हैं, जो अपनी पहली भाषा के रूप में हिन्दी बोलते हैं। 

7. विश्व भर में हिन्दी भाषा को लोकप्रियता के मद्देनजर और हिन्दी भाषा के महत्व को बढ़ावा देने के लिए 10 जनवरी 2006 को पहली बार विश्व हिन्दी दिवस मनाया गया। 

8. पहली हिन्दी वेब पत्रिका 2000 में प्रकाशित हुई थी। यह वर्ल्ड वाइड वेब World Wide Web पर हिंदी भाषा की पहली पत्रिका थी। धीरे-धीरे इंटरनेट पर हिन्दी भाषा की लोकप्रियता बढ़ी और विश्व स्तर पर इसे पसंद किया जाने लगा। 

9. 1930 में पहला हिन्दी टाइपराइटर बनाया गया था। 

10. बिहार राज्य भारत का पहला वह राज्य है, जिसने सन् 1881 में उर्दू भाषा के विपरीत हिन्दी को अपनी आधिकारिक भाषा घोषित किया।