उद्यमिता पर विचार क्यों करें

Share Us

6284
उद्यमिता पर विचार क्यों करें
13 Sep 2021
5 min read

Blog Post

उद्यमिता उस एक लक्ष्य को खोजने के बारे में है जिसे आप जीवन में प्राप्त करने के लिए हमेशा तरसते रहे हैं। उद्यमिता समाज की सेवा करने के बारे में है। सफल उद्यमी अपने और दूसरों के सपने को सच करने की क्षमता रखते हैं।

दूसरों के लिए काम करने के बजाय क्या यह अच्छा नहीं होगा कि आप खुद के लिए काम करें और अपना स्वयं का आदेश रखें? यह बिलकुल सही विचार है और आप सही जगह पर हैं। उद्यमिता उस एक लक्ष्य को खोजने के बारे में है जिसे आप जीवन में प्राप्त करने के लिए हमेशा तरसते रहे हैं। उद्यमिता एक ऐसा क्षेत्र है जो लोगों को अपने व्यक्तित्व को विकसित करने और बेहतर बनाने में मदद करता है। यह हमारे आस-पास हो रही बड़ी समस्याओं को हल करके दुनिया को बदलने के बारे में है। अगर आप विचार करें तो भारत में हमारे युवाओं के सामने सबसे बड़ी चुनौती यह है कि उन्हें भारत को एक आर्थिक रोल मॉडल या एक वैश्विक दिग्गज के रूप में बनाना है।

भारत एक युवा राष्ट्र होने के नाते, एक उभरती हुई अर्थव्यवस्था के साथ, निश्चित रूप से यह सुनिश्चित कर रहा है कि उद्यमिता युवाओं के लिए करियर विकल्प के रूप में शामिल हो। भारत एक अत्यधिक आबादी वाला देश है। युवाओं को आज रोजगार की आवश्यकता है। उद्यमिता लोगों के लिए रोजगार के अवसर बढ़ाएगी। हमें नौकरी के लिए सरकार या कुछ निजी कंपनियों पर पूर्ण रूप से निर्भर नहीं होना चाहिए। उद्यमिता के लिए आपको काफी क्रिएटिव होने की आवश्यकता है। इसलिए, जितना अधिक आप लीक से हटकर सोचते हैं, आपको उतना ही बेहतर परिणाम भी मिलता है। यह सिर्फ आपके लिए ही नहीं बल्कि समाज के लिए भी वेल्थ क्रिएशन के कई अवसर प्रदान करता है। कोई उद्यमी सफल व्यवसाय शुरू करते हैं, तो वे ज्यादा से ज्यादा रोजगार भी दे पाते हैं।

उद्यमिता समाज की सेवा करने के बारे में है।

अब आपका सवाल होगा, कैसे?

जवाब यह है कि उद्यमी समाज के लिए काम कर रहे हैं। उनका मुख्य मकसद समाज को खुश और संतुष्ट रखना है। क्योंकि वह अपने काम से लोगों को खुश रखते हैं तो दिन के अंत में वे भी खुश और संतुष्ट महसूस करते हैं। अगर उद्यमिता को आप एक करियर विकल्प के रूप में मानकर चलते हैं तो यह आपके जीवन को आसान और बेहतर बनाता है।

अपनी सामान्य नौकरी में कई व्यक्ति हमेशा सही अवसर न मिलने के डर में रहते हैं। कभी- कभी तो वे पहले से ही समझ जाते हैं कि उनकी नौकरी खतरे में है क्योंकि जिस कम्पनी में वो काम कर रहे हैं वह कंपनी बंद होने की कगार पर है। लेकिन उद्यमिता में नौकरी को खोने का डर नहीं होता क्योंकि आप खुद के लिए काम करते हैं। उद्यमिता में आप खुद के बॉस हैं और अपने लिए समय निकालकर किसी और महत्वपूर्ण काम को करने की आपको पूरी आजादी है। अपने सपने को पूरा करने के लिए पूरी मेहनत और जुनून के साथ काम करना आपको भी खुश रखता है। आपके पास चीजों को हमेशा बेहतर तरीके से पेश करने का मौका होता है। हमेशा कुछ न कुछ ऐसा होता है जिसमें आप सुधार ला पाएं। सफलता क्या है, अपने लिए यह परिभाषा भी आप स्वयं तय करते हैं। सफल उद्यमी अपने और दूसरों के सपने को सच करने की क्षमता रखते हैं।