फैशन डिजाइनिंग के फायदे और नुकसान

3541
09 Jan 2023
8 min read

Post Highlight

बदलते समय के साथ साथ फैशन उद्योग ने पनी चकाचौंध से लोगों को आकर्षित किया है। छात्रों की एक बड़ी संख्या फैशन डिजाइनिंग को अपने करियर के रूप में अपनाना चाहती है। फैशन उद्योग के ग्लैमर और चकाचौंध को देखकर लोग इसकी तरफ आकर्षित हो तो जाते हैं लेकिन इस क्षेत्र में सफ़लता सिर्फ कुछ लोगों को ही मिलती है। उतार-चढ़ाव प्रत्येक काम का अभिन्न हिस्सा होते हैं लेकिन किसी भी काम को शुरू करने से पहले उसके फायदे और नुकसान को जान लेना भी आवश्यक होता है। फैशन डिजाइनिंग के करियर में रचनात्मकता एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है।

ये एक रचनात्मक क्षेत्र है लेकिन इसमें आपको बहुत अनुशासित होकर पूरी जिम्मेदारी से हर काम को करने की आवश्यकता है क्योंकि आपको इस प्रोफेशन में समय के अनुसार चलना आना चाहिए और इसमें मार्केट रिसर्च की बहुत ज़रूरत है। आपका क्रिएटिव होना तो ज़रूरी है लेकिन आपके पास मैनेजमेंट स्किल्स भी होनी चाहिए तभी आप एक सफल फैशन डिजाइनर बन पायेंगे। 

क्या आपका भी न्यू फैशन और ट्रेंड्स को देखकर ये मन करता है कि मुझे भी फैशन डिजाइनर बनना है और फैशन इंडस्ट्री में अपनी एक आइडेंटिटी बनानी है? अगर आपका जवाब हां हैं तो ये ब्लॉग आपके लिए ही लिखा गया है क्योंकि आज हम आपको फैशन डिजाइनिंग के बारे में सब कुछ बताएंगे- जिसमे  फैशन डिजाइनिंग के फायदे और नुकसान Advantages and Disadvantages of Fashion Designing सब कुछ शामिल है। 

Podcast

Continue Reading..

आज का युग फैशन का युग है। हम सब फैशन के अनुसार चलना पसंद करते हैं और ऐसा नहीं है कि सिर्फ बड़े ही ऐसा कर रहे हैं। आज बच्चे भी फैशनेबल कपड़े पहनना पसंद करते हैं और उन्हें ट्रेंड के अनुसार चलना अच्छा लगता है। वह फैशन के मामले में किसी से कम नहीं रहना चाहते हैं। 

वैसे फैशन में तो कई चीज़ें आती हैं लेकिन सबसे पहले इसमें कपड़ो का जिक्र होता है। आप हॉलीवुड और बॉलीवुड सेलिब्रिटीज Hollywood and Bollywood celebrities को ही ले लीजिए, या अपने किसी पसंदीदा influencer को, ये सभी लोग आपको ट्रेंड को फॉलो करते हुए दिखेंगे। 

आपके साथ भी ऐसा ज़रूर हुआ होगा जब आपने किसी सेलेब्रिटी के किसी खास आउटफिट को देखा होगा और आपको लगा होगा कि इस तरह से भी किसी कपड़े को पहना जा सकता है, इस बात का मुझे आइडिया नहीं था पर अब मैं भी कुछ इसी तरह अपने ड्रेस को स्टाइल करूंगा। न्यू ट्रेंड्स और यूनिक फैशन एंड स्टाइल, New Trends and Unique Fashion and Style, फैशन इंडस्ट्री Fashion Industry का सबसे अहम हिस्सा हैं। 

क्या आपका भी न्यू फैशन और ट्रेंड्स को देखकर ये मन करता है कि मुझे भी फैशन डिजाइनर बनना है और फैशन इंडस्ट्री में अपनी एक आइडेंटिटी बनानी है? अगर आपका जवाब हां हैं तो ये ब्लॉग आपके लिए ही लिखा गया है क्योंकि आज हम आपको फैशन डिजाइनिंग के बारे में सब कुछ बताएंगे-

फैशन डिजाइनिंग के फायदे और नुकसान Advantages and Disadvantages of Fashion Designing

फैशन डिजाइनिंग क्या है? (What is Fashion Designing?)

किसी भी ग्राहक की विशेष मांग के अनुसार उनके लिए कपड़े और उनके सम्पूर्ण लुक को बनाने में जुड़े सभी सामानों को डिज़ाइन design करना और अपने ग्राहक को एक क्रिएटिव और खूबसूरत लुक देने की कला को हम फैशन डिज़ाइनिंग fashion designing कह सकते हैं। एक समय में ये कला हुआ करती थी लेकिन आज ये एक ऐसा प्रोफेशन बन गया है, जहां अच्छा वेतन मिलता है और आप अपनी क्रिएटिविटी का पूरा इस्तेमाल भी कर पाते हैं। कहने का अर्थ है कि आपको उस काम के पैसे मिलते हैं, जिसे करना आपको अच्छा लगता है। 

ये एक रचनात्मक क्षेत्र है लेकिन इसमें आपको बहुत अनुशासित होकर पूरी जिम्मेदारी से हर काम को करने की आवश्यकता है क्योंकि आपको इस प्रोफेशन में समय के अनुसार चलना आना चाहिए और इसमें मार्केट रिसर्च की बहुत ज़रूरत है। आपका क्रिएटिव होना तो ज़रूरी है लेकिन आपके पास मैनेजमेंट स्किल्स भी होनी चाहिए तभी आप एक सफल फैशन डिजाइनर successful fashion designer बन पायेंगे। 

बदलते समय के साथ साथ फैशन उद्योग ने पनी चकाचौंध से लोगों को आकर्षित किया है। छात्रों की एक बड़ी संख्या Fashion Designing को अपने करियर के रूप में अपनाना चाहती है। फैशन उद्योग के ग्लैमर और चकाचौंध को देखकर लोग इसकी तरफ आकर्षित हो तो जाते हैं लेकिन इस क्षेत्र में सफ़लता सिर्फ कुछ लोगों को ही मिलती है। उतार-चढ़ाव प्रत्येक काम का अभिन्न हिस्सा होते हैं लेकिन किसी भी काम को शुरू करने से पहले उसके फायदे और नुकसान को जान लेना भी आवश्यक होता है। फैशन डिजाइनिंग के करियर में रचनात्मकता एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है। अगर आपके काम में नवीनता और अनोखापन दिखाई देता है तो आपके लिए यह क्षेत्र अच्छे परिणाम दे सकता है।

करियर के रूप में फैशन डिजाइनिंग | Fashion Designing Career

आधुनिक युग में युवाओं के बीच फैशन डिजाइनिंग का क्रेज़ काफी बढ़ता हुआ दिखाई दे रहा है। इसकी तरफ उनका आकर्षण साफ दिखाई देता है। बड़ी संख्या में छात्र फैशन डिजाइनिंग को अपने करियर के रूप में अपना रहे हैं। हालॉंकि फैशन उद्योग की चकाचौंध से आज कोई दूर तो नहीं है लेकिन करियर के रूप में इसका चुनाव अलग बात है। हर एक काम में फ़ायदे और नुकसान होते हैं, जो या तो व्यक्ति को ऊंचाइयों पर ले जाते हैं या गिरावट का कारण भी बन सकते हैं, फैशन डिजाइनिंग उन्हीं कामों में से एक है। इसलिए इस उद्योग की चकाचौंध को देखकर इसको करियर की तरह अपनाने के लिए इसके फ़ायदे और ‌नुकसान को ‌जान‌ लेना आवश्यक है। अगर आप‌ भी उनमें से एक हैं जो फैशन डिजाइनिंग को अपना करियर बनाना चाहते हैं तो यह लेख आपको इसके फ़ायदे और नुकसान को जानने में मदद करेगा। 

फैशन डिज़ाइनर की ज़िम्मेदारियां Responsibilities of Fashion Designer

  • फैशन और ट्रेंड में चल रहे कपड़े और उनकी डिज़ाइन से मोटिवेशन लेने की प्रक्रिया से जुड़ना और मार्केट रिसर्च करना। 

  • मार्केट में पहले से मौजूद डिजाइंस को और बेहतर और खूबसूरत बनाना और नए डिज़ाइन बनाना।

  • डिज़ाइन के हिसाब से सही कपड़े का सिलेक्शन करना।

  • विशेष मांग पर तैयार होने वाले ड्रेसेज के डिज़ाइन तैयार करना।

फैशन डिजाइनिंग कोर्स फीस | Fashion Designing Course Fees

NIFT में Government Fashion Designing Course की फीस INR 2,00,000 - INR 4,00,000 प्रति वर्ष है। बीएससी फैशन डिजाइन, बीवीओसी फैशन डिजाइन और फैशन डिजाइनिंग कोर्स 12वीं के बाद सर्टिफिकेट और फैशन डिजाइनिंग में डिप्लोमा 12वीं के बाद कम फीस है, जो प्रति वर्ष 20,000 - 50,000 रुपये से लेकर है।

फैशन डिज़ाइनिंग कोर्सेज़

Diploma Courses

  1. डिप्लोमा इन फैशन डिजाइनिंग Diploma in Fashion Designing

  2. डिप्लोमा इन फैशन स्टाइलिस्ट Diploma in Fashion Stylist

  3. डिप्लोमा इन फैशन टेक्नीशियन Diploma in Fashion Technician

  4. डिप्लोमा इन वॉग फैशन सर्टिफिकेट Diploma in Vogue Fashion Certificate

  5. डिप्लोमा इन फैशन एंड टेक्सटाइल डिजाइन Diploma in Fashion and Textile Design

  6. डिप्लोमा इन फैशन स्टाइलिस्ट एंड इमेज कंसल्टेंट Diploma in Fashion Stylist and Image Consultant

Bachelor's Courses

  • बैचलर इन फैशन डिजाइनिंग Bachelor in Fashion Designing 

  • बीएससी फैशन डिजाइनिंग BSc Fashion Designing

  • बैचलर इन टेक्सटाइल डिजाइनिंग Bachelor in Textile Design

  • बैचलर ऑफ फैशन टेक्नोलॉजी Bachelor of Fashion Technology

  • बीए ऑनर्स इन फैशन डिजाइन एंड मैन्युफैक्चरिंग BA Honors in Fashion Design and Manufacturing

  • बैचलर इन डिजाइन एंड फैशन मैनेजमेंट Bachelor in Design and Fashion Management

  • बीए ऑनर्स इन फैशन जर्नलिज्म BA Honors in Fashion Journalism

Master's Courses

  • मास्टर इन फैशन डिजाइन Master in Fashion Design

  • मास्टर इन फैशन कलेक्शन मैनेजमेंट Master in Fashion Collection Management

  • मास्टर इन फैशन टेक्नोलॉजी Master in Fashion Technology

  • मास्टर इन सस्टेनेबल फैशन डिजाइन Master in Sustainable Fashion Design

  • मास्टर ऑफ फैशन मैनेजमेंट Master of Fashion Management

  • एमए इन फैशन फोटोग्राफी MA Fashion Photography

  • एमए फैशन डिजाइन टेक्नोलॉजी MA Fashion Design Technology

फैशन डिजाइनिंग के लिए टॉप इंडियन कॉलेज Top Indian Colleges for Fashion Designing

Rank

College 

1.

नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ फैशन टेक्नोलॉजी (निफ्ट), नई दिल्ली

2.

नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ फैशन टेक्नोलॉजी (निफ्ट), मुंबई

3.

नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ फैशन टेक्नोलॉजी (निफ्ट), बेंगलुरु

4.

नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ फैशन टेक्नोलॉजी (निफ्ट), चेन्नई

5.

नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ फैशन टेक्नोलॉजी (निफ्ट), गांधीनगर

6.

नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ फैशन टेक्नोलॉजी (निफ्ट), पटना

7.

नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ फैशन टेक्नोलॉजी (निफ्ट), हैदराबाद

8.

नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ फैशन टेक्नोलॉजी (निफ्ट), कोलकाता

9.

पर्ल एकेडमी, नई दिल्ली

10.

सिम्बायोसिस इंस्टीट्यूट ऑफ डिजाइन, पुणे

फैशन डिजाइनिंग करने के फायदे | Advantages Of Fashion Designing

1. आप जिस काम से प्यार करते हैं उसे करने में संतुष्टि अधिक होती है। जो लोग कला और रचनात्मकता में रुचि दिखाते हैं, यह क्षेत्र उन्हें अपनी कला को प्रदर्शित करने का अवसर‌ देता है।‌

2. अगर आप फैशन उद्योग में व्यवसाय शुरू करना चाहते हैं और आपके पास इसका पर्याप्त प्रशिक्षण है या अच्छा अनुभव है तो यह क्षेत्र आपके लिए ‌अच्छा विकल्प हो‌ सकता है। फैशन उद्योग में आपके लोगों से संपर्क आपको अपना ख़ुद का ब्रांड शुरू करने में मदद कर सकते हैं।

3. आपकी रचनात्मकता आपको इस करियर में तभी सफलता दिला सकती है, जब आप कुछ अलग कौशल का प्रदर्शन करते हैं। फैशन डिजाइनिंग मूल‌ रूप से नवाचारों के बारे में है। अगर आपके द्वारा बनाए गए डिज़ाइन अनोखे हैं तो आपके सफल होने की संभावना बढ़ जाती है।

4. हिंदी में फैशन डिजाइनिंग कई छात्रों द्वारा अधिक वेतन के कारण चुना जाता है। फैशन डिजाइनिंग में डिग्री हासिल करने के तुरंत बाद सबसे पहले अनुभवी डिजाइनरों के तहत काम करके पेशेवर अनुभव हासिल करना चाहिए। हालॉंकि इस स्तर पर व्यक्ति अधिक कमा नहीं सकता, लेकिन उसे अनुभव ज़रूर होगा। लेकिन बाद में कड़ी मेहनत करने पर इस उद्योग में प्रसिद्धि प्राप्त किया जा सकता है और अच्छी आय को अर्जित किया जा सकता है।

आज फैशन डिजाइनिंग, दुनिया में सबसे अधिक मांग demand वाले करियर में से एक है। एक क्रिएटिव फील्ड होने के नाते यह करियर चुनने पर आपको संस्कृतियों को मिश्रित करने में, नए डिजाइन बनाने में और विभिन्न कलर थीम के साथ कुछ हटकर करने में बेहद मज़ा आएगा। यह एक बेहतरीन करियर ऑप्शन है और इसमें कोई दोराय नहीं है इसीलिए अगर आप इस फील्ड में कुछ नया करना चाहते हैं तो आपको कोशिश ज़रूर करनी चाहिए। 

फैशन डिजाइनिंग में करियर के अवसर Career Opportunities in Fashion Designing

  • फैशन जर्नलिस्ट

  • फैशन स्टाइलिस्ट

  • रिटेल बायर

  • फैशन डिज़ाइनर

  • रिटेल मैनेजर

  • ज्वेलरी एंड फुटवियर डिज़ाइनर

  • मेकअप आर्टिस्ट

  • फैशन फोटोग्राफर

आती‌‌ हैं फैशन डिजाइनिंग क्षेत्र में यह चुनौतियॉं | Disadvantages Of Fashion Designing

1. फैशन डिजाइनरों को कई अलग-अलग कार्य सौंपे जाते हैं, जिसे उन्हें एक निश्चित अवधि के अंदर पूरा करना होता है। इस कारण उन्हें ओवरटाइम या पूरी रात काम करना पड़ता है। यह पेशा काफी मेहनत और थका देने वाला होता है।

2. करियर की शुरुआत में अच्छी आय की उम्मीद करना व्यर्थ है। फैशन डिजाइनिंग का कोर्स करने के बाद इस उद्योग में नौकरी ढूंढना बहुत मुश्किल काम है। अगर‌ आपके डिजाइन बेस्ट हैं और अनोखे हैं तभी आपके नौकरी की संभावना अधिक होती है। यहां तक कि नौकरी मिलने के बाद भी आय स्थिर‌ नहीं होती। 

3. आलोचनाएं हर काम का एक हिस्सा होती है और इससे बचना काफी मुश्किल होता है। अक्सर फैशन डिजाइनिंग के क्षेत्र में लोगों को कई तरह की आलोचनाओं का सामना करना पड़ता है, जो उन्हें काफी हद तक निराश करती हैं।

4. फैशन डिजाइनिंग क्षेत्र में प्रतिस्पर्धा अधिक दिखाई देती है, जिसके कारण इसमें हर किसी को पहचान नहीं मिल पाती। इस क्षेत्र में अपनी पहचान बनाना बहुत मुश्किल और बाधाओं से भरा हुआ काम है। हालॉंकि दृढ़ संकल्प, प्रतिभा और कड़ी मेहनत से कोई भी अपने लक्ष्य को प्राप्त कर सकता है लेकिन यह चुनौतीपूर्ण कार्य अवश्य है।

5. बढ़ते दिनों के साथ फैशन उद्योग विस्तारित होता जा रहा है। एक फैशन डिज़ाइनर को लोगों की मांग के अनुसार काम करना पड़ता है, इसलिए उसे बदलते ट्रेंड के साथ अपडेट रहने की आवश्यकता होती है। अपने अद्वितीय डिज़ाइनों पर‌ काम करने के लिए उसे अपने कंफर्ट ज़ोन से बाहर निकलना पड़ता है।

ये भी पढ़े: सस्टेनेबल फैशन चुनने के प्रमुख कारण  

6. कभी-कभी फैशन डिज़ाइनर को ऐसे ग्राहकों से मिलना पड़ता है, जिन्हें संभालना और समझना एक कठिन काम हो जाता है। कभी-कभी ऐसी ग्राहकों की मांग को पूरा करना असंभव हो जाता है। हालॉंकि उतार चढ़ाव तो हर काम में आते हैं इसलिए अगर आप अपने काम के प्रति जुनूनी हैं तो आपको मुश्किलों से निपटने और सफल होने का रास्ता मिल ही जाएगा।

भारत के टॉप 10 फैशन डिज़ाइनर Top 10 Fashion Designers of India

  • सब्यसांची मुखर्जी Sabyasanchi Mukherjee

  • मनीष मल्होत्रा Manish Malhotra

  • रोहित बाल Rohit Bal

  • अंजू मोदी Anju Modi

  • नीता लुल्ला Neeta Lulla

  • तरुन तहिलयानी tarun tahilyani

  • ऋतू कुमार ritu kumar

  • मसाबा masaba

  • अनामिका खन्ना Anamika Khanna

  • अबू जानी और संदीप खोसला Abu Jani and Sandeep Khosla

ऊपर दी गई कुछ बातें आपको अपने करियर को चुनने में मदद कर सकती हैं। आशा करते हैं कि यह लेख आपको फैशन डिजाइनिंग के संबंध में जानकारी देने में मदद करेगा।

TWN Special