फैशन डिजाइनिंग के फायदे और नुकसान

2304
11 Nov 2021
6 min read

Post Highlight

बदलते समय के साथ साथ फैशन उद्योग ने पनी चकाचौंध से लोगों को आकर्षित किया है। छात्रों की एक बड़ी संख्या फैशन डिजाइनिंग को अपने करियर के रूप में अपनाना चाहती है। फैशन उद्योग के ग्लैमर और चकाचौंध को देखकर लोग इसकी तरफ आकर्षित हो तो जाते हैं लेकिन इस क्षेत्र में सफ़लता सिर्फ कुछ लोगों को ही मिलती है। उतार-चढ़ाव प्रत्येक काम का अभिन्न हिस्सा होते हैं लेकिन किसी भी काम को शुरू करने से पहले उसके फायदे और नुकसान को जान लेना भी आवश्यक होता है। फैशन डिजाइनिंग के करियर में रचनात्मकता एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है।

Podcast

Continue Reading..

फैशन डिजाइनिंग क्या है? (What is Fashion Designing?)

बदलते समय के साथ साथ फैशन उद्योग ने पनी चकाचौंध से लोगों को आकर्षित किया है। छात्रों की एक बड़ी संख्या Fashion Designing को अपने करियर के रूप में अपनाना चाहती है। फैशन उद्योग के ग्लैमर और चकाचौंध को देखकर लोग इसकी तरफ आकर्षित हो तो जाते हैं लेकिन इस क्षेत्र में सफ़लता सिर्फ कुछ लोगों को ही मिलती है। उतार-चढ़ाव प्रत्येक काम का अभिन्न हिस्सा होते हैं लेकिन किसी भी काम को शुरू करने से पहले उसके फायदे और नुकसान को जान लेना भी आवश्यक होता है। फैशन डिजाइनिंग के करियर में रचनात्मकता एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है। अगर आपके काम में नवीनता और अनोखापन दिखाई देता है तो आपके लिए यह क्षेत्र अच्छे परिणाम दे सकता है।

करियर के रूप में फैशन डिजाइनिंग | Fashion Designing Career

आधुनिक युग में युवाओं के बीच फैशन डिजाइनिंग का क्रेज़ काफी बढ़ता हुआ दिखाई दे रहा है। इसकी तरफ उनका आकर्षण साफ दिखाई देता है। बड़ी संख्या में छात्र फैशन डिजाइनिंग को अपने करियर के रूप में अपना रहे हैं। हालॉंकि फैशन उद्योग की चकाचौंध से आज कोई दूर तो नहीं है लेकिन करियर के रूप में इसका चुनाव अलग बात है। हर एक काम में फ़ायदे और नुकसान होते हैं, जो या तो व्यक्ति को ऊंचाइयों पर ले जाते हैं या गिरावट का कारण भी बन सकते हैं, फैशन डिजाइनिंग उन्हीं कामों में से एक है। इसलिए इस उद्योग की चकाचौंध को देखकर इसको करियर की तरह अपनाने के लिए इसके फ़ायदे और ‌नुकसान को ‌जान‌ लेना आवश्यक है। अगर आप‌ भी उनमें से एक हैं जो फैशन डिजाइनिंग को अपना करियर बनाना चाहते हैं तो यह लेख आपको इसके फ़ायदे और नुकसान को जानने में मदद करेगा। 

फैशन डिजाइनिंग कोर्स फीस | Fashion Designing Course Fees

NIFT में Government Fashion Designing Course की फीस INR 2,00,000 - INR 4,00,000 प्रति वर्ष है। बीएससी फैशन डिजाइन, बीवीओसी फैशन डिजाइन और फैशन डिजाइनिंग कोर्स 12वीं के बाद सर्टिफिकेट और फैशन डिजाइनिंग में डिप्लोमा 12वीं के बाद कम फीस है, जो प्रति वर्ष 20,000 - 50,000 रुपये से लेकर है।

फैशन डिजाइनिंग करने के फायदे | Advantages Of Fashion Designing

1. आप जिस काम से प्यार करते हैं उसे करने में संतुष्टि अधिक होती है। जो लोग कला और रचनात्मकता में रुचि दिखाते हैं, यह क्षेत्र उन्हें अपनी कला को प्रदर्शित करने का अवसर‌ देता है।‌

2. अगर आप फैशन उद्योग में व्यवसाय शुरू करना चाहते हैं और आपके पास इसका पर्याप्त प्रशिक्षण है या अच्छा अनुभव है तो यह क्षेत्र आपके लिए ‌अच्छा विकल्प हो‌ सकता है। फैशन उद्योग में आपके लोगों से संपर्क आपको अपना ख़ुद का ब्रांड शुरू करने में मदद कर सकते हैं।

3. आपकी रचनात्मकता आपको इस करियर में तभी सफलता दिला सकती है, जब आप कुछ अलग कौशल का प्रदर्शन करते हैं। फैशन डिजाइनिंग मूल‌ रूप से नवाचारों के बारे में है। अगर आपके द्वारा बनाए गए डिज़ाइन अनोखे हैं तो आपके सफल होने की संभावना बढ़ जाती है।

4. हिंदी में फैशन डिजाइनिंग कई छात्रों द्वारा अधिक वेतन के कारण चुना जाता है। फैशन डिजाइनिंग में डिग्री हासिल करने के तुरंत बाद सबसे पहले अनुभवी डिजाइनरों के तहत काम करके पेशेवर अनुभव हासिल करना चाहिए। हालॉंकि इस स्तर पर व्यक्ति अधिक कमा नहीं सकता, लेकिन उसे अनुभव ज़रूर होगा। लेकिन बाद में कड़ी मेहनत करने पर इस उद्योग में प्रसिद्धि प्राप्त किया जा सकता है और अच्छी आय को अर्जित किया जा सकता है।

आती‌‌ हैं फैशन डिजाइनिंग क्षेत्र में यह चुनौतियॉं | Disadvantages Of Fashion Designing

1. फैशन डिजाइनरों को कई अलग-अलग कार्य सौंपे जाते हैं, जिसे उन्हें एक निश्चित अवधि के अंदर पूरा करना होता है। इस कारण उन्हें ओवरटाइम या पूरी रात काम करना पड़ता है। यह पेशा काफी मेहनत और थका देने वाला होता है।

2. करियर की शुरुआत में अच्छी आय की उम्मीद करना व्यर्थ है। फैशन डिजाइनिंग का कोर्स करने के बाद इस उद्योग में नौकरी ढूंढना बहुत मुश्किल काम है। अगर‌ आपके डिजाइन बेस्ट हैं और अनोखे हैं तभी आपके नौकरी की संभावना अधिक होती है। यहां तक कि नौकरी मिलने के बाद भी आय स्थिर‌ नहीं होती। 

3. आलोचनाएं हर काम का एक हिस्सा होती है और इससे बचना काफी मुश्किल होता है। अक्सर फैशन डिजाइनिंग के क्षेत्र में लोगों को कई तरह की आलोचनाओं का सामना करना पड़ता है, जो उन्हें काफी हद तक निराश करती हैं।

4. फैशन डिजाइनिंग क्षेत्र में प्रतिस्पर्धा अधिक दिखाई देती है, जिसके कारण इसमें हर किसी को पहचान नहीं मिल पाती। इस क्षेत्र में अपनी पहचान बनाना बहुत मुश्किल और बाधाओं से भरा हुआ काम है। हालॉंकि दृढ़ संकल्प, प्रतिभा और कड़ी मेहनत से कोई भी अपने लक्ष्य को प्राप्त कर सकता है लेकिन यह चुनौतीपूर्ण कार्य अवश्य है।

5. बढ़ते दिनों के साथ फैशन उद्योग विस्तारित होता जा रहा है। एक फैशन डिज़ाइनर को लोगों की मांग के अनुसार काम करना पड़ता है, इसलिए उसे बदलते ट्रेंड के साथ अपडेट रहने की आवश्यकता होती है। अपने अद्वितीय डिज़ाइनों पर‌ काम करने के लिए उसे अपने कंफर्ट ज़ोन से बाहर निकलना पड़ता है।

ये भी पढ़े: सस्टेनेबल फैशन चुनने के प्रमुख कारण  

6. कभी-कभी फैशन डिज़ाइनर को ऐसे ग्राहकों से मिलना पड़ता है, जिन्हें संभालना और समझना एक कठिन काम हो जाता है। कभी-कभी ऐसी ग्राहकों की मांग को पूरा करना असंभव हो जाता है। हालॉंकि उतार चढ़ाव तो हर काम में आते हैं इसलिए अगर आप अपने काम के प्रति जुनूनी हैं तो आपको मुश्किलों से निपटने और सफल होने का रास्ता मिल ही जाएगा।

ऊपर दी गई कुछ बातें आपको अपने करियर को चुनने में मदद कर सकती हैं। आशा करते हैं कि यह लेख आपको फैशन डिजाइनिंग के संबंध में जानकारी देने में मदद करेगा।

TWN In-Focus