पर्यावरण संरक्षण के साथ व्यवसाय के अवसर 

1482
17 Sep 2021
9 min read

Post Highlight

दुनिया ससाधनों से भरी हुई है। पर्यावरण को सुरक्षित रखते हुए लोगों को रोजगार का माध्यम देकर कई परेशानियों का निवारण करना, दोनों ही पहलुओं से लाभकारी प्रतीत होता है। बढ़ते पर्यावरण प्रदूषण को रोकने, सीमित प्राकृतिक संसाधनों के संरक्षण और लोगों को एक सतत जीवन प्रदान करने के लिए ऐसे व्यवसायों की शुरूआत करना बहुत आवश्यक है, ताकि आने वाले समय में सीमित संसाधनों की कमी की वजह से लोगों को परेशानियों का सामना ना करना पड़े। 

Podcast

Continue Reading..

पर्यावरण एक ऐसा विषय है, जो प्रत्येक व्यक्ति के साथ जुड़ा है। हम कह सकते हैं कि मानव भी पर्यावरण का हिस्सा है। मानव और पर्यावरण एक-दूसरे के पूरक हैं। जहाँ पर मानव पर्यावरण को सुरक्षित रखने के अनगिनत उपाय करता है। वहीं बदले में पर्यावरण मनुष्य को एक स्वस्थ्य जीवन प्रदान करता है। आधुनीकरण के इस दौर में कहीं ना कहीं हम मनुष्य और पर्यावरण के बीच के ताल-मेल को ख़त्म करते जा रहे हैं। जिसका असर लोगों के बिगड़ते स्वास्थ्य पर देखा जा सकता है। पर्यावरण के बदलते आवरण को देखते हुए इसे सुरक्षित रखने के लिए कई तरह के प्रयास किये जा रहे हैं। नए तरीकों से पर्यावरण को फिर से तंदुरुस्त करने की कोशिशों पर जोर दिया जा रहा है। इस परिपेक्ष्य में की जा रही कोशिशों से पर्यावरण के क्षेत्र में लोगों के लिए रोजगार के नए अवसर भी मिल रहे हैं। इस क्षेत्र में नए व्यवसाय के शुरू होने से पर्यावरण को सुरक्षित रखने के साथ-साथ हम लोगों के लिए बड़े स्तर से लेकर छोटे स्तर तक के लोगों को उनकी क्षमता के आधार पर रोजगार के दरवाजे खोल रहे हैं। पर्यावरण संरक्षण की बढ़ती मांग से क्षेत्रीय व्यवसाय के लम्बे समय तक टिकने के आसार नजर आते हैं। जिसके कारण इस क्षेत्र में प्रवेश करना किसी भी तरह से नुकसान का सौदा नहीं लगता है। दुनिया में कुछ ऐसे व्यवसाय हैं, जो अपनी रणनीतियों से आज पर्यावरण को सुरक्षित रखने में सफल हो रही हैं और इसके साथ ही उनकी कंपनी से लाखों लोगों को मुनाफा भी हो रहा है। 

जैव-ईंधन प्लांट से व्यवसाय के मिलते अवसर (Bio fuel Plant)

जैव-ईंधन पर्यावरण संरक्षण का एक सुगम माध्यम है। वाहनों में इस्तेमाल होने वाले ईंधन वातावरण को प्रदूषित करने में अहम रोल निभाते हैं। वाहनों से निकलने वाले धुएं से प्रत्येक बीमारियां जन्म लेती हैं। इसके साथ संसार में इन इंधनो की कमी होने के कारन इनके दामों में लगातार वृद्धि होती जा रही है, जो प्रत्येक वाहन चालक के लिए एक गंभीर समस्या है। ऐसे में जैव ईंधन प्लांट का निर्माण पर्यावरण के साथ आम नागरिकों को भी सरल जीवन देने का प्रयास कर रहा है। जैव-ईंधन प्लांट पर्यावरण को संरक्षित करने के साथ कम खर्च वाला व्यवसाय भी होता है। पेट्रोल, डीजल के कीमतों में वृद्धि होने से आने वाले समय में लोगों के जैव-ईंधन के इस्तेमाल की सम्भावना बढ़ती जा रही है। जिसके कारण विश्व स्तर पर, जैव ईंधन का उत्पादन 2021 के अंत तक लगभग 24.87 करोड़ लीटर प्रति वर्ष तक पहुंचने की संभावना है। जैव ईंधन प्लांट के व्यवसाय में आप कम लागत में दीर्घकालीन मुनाफा कमा सकते हैं।

सौर ऊर्जा संबंधित व्यवसाय

जब भी हम किसी सरल तरीके से ऊर्जा को प्राप्त करने की बात करते हैं, तो हमारे दिमाग में सबसे पहला नाम सौर्य ऊर्जा का आता है। सौर्य ऊर्जा, ऊर्जा प्राप्त करने का ऐसा माध्यम है, जो किसी भी व्यक्ति के लिए बड़ी सुगमता से कम खर्च में मिल जाता है। सोलर एनर्जी रिटेल एक इको-फ्रेंडली व्यवसाय है। घरों एवं निर्माण इकाइयों में सौर ऊर्जा का उपयोग पर्यावरण में कार्बन उत्सर्जन की मात्रा को कम करने का एक शानदार तरीका है। सौर्य ऊर्जा को उत्पन्न करने का स्रोत सूर्य होने के कारण यह ऊर्जा बड़ी आसानी से उपलब्ध हो जाता है। जिसके फलस्वरूप प्रत्येक व्यक्ति की यह पहली पसंद बन जाता है। बाजार में इसके उपकरणों के बढ़ते डिमांड के साथ उन्हें बनाने के लिए कई व्यक्ति इसे अपना व्यवसाय बना रहे हैं। सौर्य ऊर्जा से सम्बंधित उपकरणों के व्यवसाय जैसे,      

सौर ऊर्जा सलाहकार

सौर पैनल रिटेल

सौर पैनल को इंस्टॉल करना

सौर पैनल का निर्माण 

सौर पैनल के भागों का निर्माण करना या उनकी खुदरा बिक्री करना

व्यवसाय की दुनिया में बड़ी तेजी से अपना पैर पसार रहा है। भारत के परिपेक्ष्य में चीन और अमेरिका के बाद यह तीसरा देश है, जो सौर्य ऊर्जा का सबसे अधिक इस्तेमाल करता है। सौर ऊर्जा वह ऊर्जा है, जो हमें निःशुल्क मिलती है और जीवनपर्यन्त मिलती रहेगी।  

वर्षा जल संचयन परियोजनाएं (Rain water Harvesting Projects)

हम जानते हैं कि पीने योग्य पानी की मात्रा दिन पर दिन कम होती जा रही है और भूमिगत जल भंडार का स्तर खतरनाक तरीके से तेजी से कम हो रहा है। इसका एक कारण यह भी है कि ग्लोबल वार्मिंग के कारण बारिश के दर में लगातार आती कमी। बरसात के पानी के संरक्षण से ही हम पीने योग्य पानी को संचित कर सकते हैं। पानी की समस्या को दूर करने के लिए हमें जल भंडारण करना होता है। जल संरक्षण ही इसका एकमात्र उपाय है। इस प्रक्रिया में सबसे अच्छी बात यह है कि इसमें बहुत सारे व्यवसायिक अवसर भी उपलब्ध नजर आते हैं। वर्षा जल संचयन जैसी परियोजनाएं व्यवसाय के अनोखे मार्ग खोलती है। इसके माध्यम से हम पर्यावरण को संरक्षित रखते हैं साथ में लोगों को रोजगार से भी जोड़ते हैं। जल संचयन परियोजना, ऐसे व्यक्ति के लिए के अनुकूल वातावरण बनता है, जो व्यवसायिक विचार रखते हैं और जल संरक्षण के मिशन को ध्यान में रखकर व्यवसाय में उतरना चाहते हैं। यह व्यवसाय भी कम लागत में शुरू किया जा सकता है। और ऐसे कई माध्यम हैं जिनसे हम जल संचित करते हैं और व्यवसाय के नए तरीके निजात करते हैं। 

पुर्नविनीकरण(Recycled) वस्तुओं की बिक्री-

हमारी रोजमर्रा की ज़िंदगी में कई ऐसी वस्तुएं होती हैं, जिन्हें हम बेकार समझ लेते हैं और उसे रद्दी समझ कर कचड़े के डिब्बे में फेंक देते हैं। जिन वस्तुओं को हम रद्दी समझ कर फेंक देते हैं, कभी-कभी कुछ लोगों को उसका इस्तेमाल इस तरह करते देखते हैं, जो हमारी कल्पना से परे होता है। बेकार सामानों का पुर्नवीनीकरण करना भी एक व्यावसायिक मार्ग है। यह उद्योग स्तर पर स्क्रैप के लिए एक बेहतर बाजार है। एल्यूमीनियम, पीतल, प्लास्टिक, कागज, सुई, कपड़े प्लास्टिक, जूते, इलेक्ट्राॅनिक उत्पाद, जो हम अपने घरों में उपयोग करते हैं, सभी को पुर्नविनीकरण के माध्यम से पुनः उपयोग किया जा सकता है। यह सबसे आधुनिक, कम लागत वाला, कम शिक्षित या अशिक्षित लोगों के लिए रोजगार पैदा करने वाला व्यवसाय है। इस व्यवसाय को चुनने के लिए आपको बुनियादी ढांचे की आवश्यकता होती है। इसमें लगने वाली पूंजी आपके द्वारा चुने पुर्नविनीकरण उत्पाद पर निर्भर करती है। फिर से इस्तेमाल हो जाने के कारण  वातावरण में काम कचरा इकठ्ठा होगा, इस माध्यम से हम पर्यावरण को भी भी सुरक्षित रख सकते हैं।  

TWN In-Focus