बेटियों के लिए कौन सी स्कीम है अच्छी

599
20 Aug 2021
8 min read

News Synopsis

भारत में ऐसी कई योजनाएं बनाई गई हैं जो लोगों के हित के बारे में सोचती हैं। इनके माध्यम से लोग अपने भविष्य की कुशलता के लिए कुछ पैसे सुरक्षित रखते हैं, जिसका इस्तेमाल वे समय आने पर जरूरत के आधार पर करते हैं। सुकन्या समृद्धि योजना और पब्लिक प्रोविडेंट फण्ड दो ऐसी स्कीम हैं जो बेटियों और बाकि लोगों को अपना भविष्य सुरक्षित करने का अवसर देती हैं। दोनों ही भिन्न योजनाएं हैं, जो अलग-अलग सुविधाएं मुहैया कराती हैं। सुकन्या योजना के माध्यम से आप अपनी बेटियों का भविष्य सुरक्षित कर सकते हैं, परन्तु इसके लिए बच्चियों की समय सीमा उन लोगों के लिए परेशानी है जिनकी बेटियों की उम्र 10 वर्ष से ज्यादा है। वो इस सुविधा का लाभ नहीं ले सकते हैं। जो इस योजना की बड़ी खामी है। सुकन्या योजना का फायदा यह है कि बेटियों के नाम पर पैसे जमा करने के साथ माता-पिता को अपनी तनख्वाह से टैक्स नहीं भरना पड़ता है। जबकि पब्लिक प्रोविडेंट फण्ड हर व्यक्ति के लिए खाता खुलवाने की सुविधा देकर अपनी योजना की मांग बढ़ा देता है। इस योजना का सबसे बड़ा फायदा यह है कि इसके लिए ना कोई उम्र की सीमा है और न ही किसी व्यक्तिगत के लिए यह योजना है। दोनों ही अपनी जगह पर बेहतर सुविधा देने की कोशिश कर रहे हैं, बस मुद्दा यह है कि ग्राहक क्या चाहते हैं।       

Podcast

TWN In-Focus