इस साल 60 हजार कर्मचारियों की नौकरियों पर लटकी तलवार

190
01 Jul 2022
min read

News Synopsis

इस साल के अंत तक करीब 60 हजार से अधिक कर्मचारियों की नौकरी Employee Jobs खतरे में है। स्टार्टअप Startup कंपनियों के कर्मचारियों के लिए ये अच्छी खबर नहीं मानी जा सकती। इस साल ये कंपनियां अब तक करीब 12,000 कर्मचारियों को नौकरी से बाहर कर चुकी हैं और साल खत्म होते-होते यह संख्या 60 हजार के पार पहुंच सकती हैं।

ओला Ola, ब्लिंकिट Blinkit, बायजूस Byju's, अनएकेडमी Unacademy, वेदांतू Vedantu, कार्स24 Cars24, मोबाइल प्रीमियर लीग Mobile Premier League, लीडो लर्निंग Lido Learning, एमफाइन Mfine, ट्रेल Trell, फारआई farEye, फरलैंको Furlanco और कई दूसरी कंपनियां इस साल अब तक हजारों कर्मचारियों की छंटनी Thousands of Employees Layoffs कर चुकी हैं।

एडटेक और ई-कॉमर्स कंपनियां Edtech & E-Commerce Companies आगे भी हजारों कर्मचारियों को निकालने की तैयारी में जुटी हैं। ASK Private Wealth Hurun India Future Unicorn Index 2022 के अनुसार 25 शहरों की 122 स्टार्टअप कंपनियां यूनिकॉर्न Unicorn बनने की राह पर हैं। यूनिकॉर्न ऐसी कंपनियों को कहा जाता है जिनका वैल्यूएशन Valuation एक अरब डॉलर से अधिक होता है।

विडंबना यह है कि भारतीय स्टार्टअप कंपनियों में अब भी फंडिंग आ रही है लेकिन उनमें छंटनी का अनुपात भी तेजी से बढ़ता जा रहा है। इंडस्ट्री के जानकारों का मानना है कि इस साल रिस्ट्रक्चरिंग और कॉस्ट मैनेजमेंट Restructuring and Cost Management के नाम पर कम से कम 50,000 कर्मचारियों को बाहर किया जा सकता है। 

Podcast

TWN In-Focus